Submit your post

Follow Us

महिला का दावा, 'डिलीवरी बॉय ने मुझे सम्मोहित किया, आंख खुली तो रेप की कोशिश कर रहा था'

Amazon से सामान मंगवाने वाली एक महिला ने डिलीवरी बॉय पर बेहद गंभीर आरोप लगाए हैं. महिला ने बताया कि अमेजन के डिलीवरी बॉय ने महिला को पहले हिप्नोटाइज किया और फिर उसके साथ रेप करने की कोशिश की. लेकिन इसी बीच महिला को होश आ गया. महिला ने आरोपी का विरोध किया और बाथरूम में पड़े वाइपर से उसकी पिटाई कर दी. जिसके बाद आरोपी वहां से फरार हो गया. फिलहाल पीड़ित महिला ने सेक्टर 39 थाने में एफआईआर दर्ज कराई है. हालांकि बाद में महिला ने केस वापस लेने का फैसला ले लिया.

# हुआ क्या

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, नोएडा की एक सोसायटी में रहने वाली 44  साल की महिला ने पुलिस को बताया कि Amazon के डिलिवरी बॉय ने उसे हिप्नोटाइज कर लिया था. इसके बाद महिला जब अपने होश में आईं तो उन्होंने देखा कि आरोपी अपनी पैंट उतार रहा था. डरी हुई महिला ने शोर मचाया और बाथरूम की ओर भागी. वाइपर से आरोपी को पीटना शुरू कर दिया. इसके बाद आरोपी वहां से फरार हो गया.

# और क्या बताया

पीड़ित महिला ने पुलिस को बताया कि उसने अमेजन से कुछ सामान मंगवाया था. इनमें से पांच बॉक्स उसे वापस करने थे. इसको लेने के लिए सोमवार सुबह 11.20 बजे भुपेंद्र पाल नाम का अमेजन डिलीवरी बॉय पीड़िता के फ्लैट पर पहुंचा. इस दौरान उसने चार ही बॉक्स वापस ले जाने की बात कही. इसको लेकर दोनों के बीच बहस भी हुई. बाद में पीड़िता ने कस्टमर केयर पर फोन किया तो वहां से सामान पिक अप की के लिए 9 अक्टूबर की तारीख दी गई.

# फिर फोन उठाया

इसके बाद पीड़िता की बहन घर पहुंची तो सिक्योरिटी गार्ड के पास मौजूद रजिस्टर से भूपेंद्र का नंबर लेकर कॉल किया. भूपेंद्र ने बताया कि वह अमेजन के पिकअप ऑफिस में काम करता है जो सेक्टर 58 में है. इसके बाद उसने फोन काट दिया. पुलिस ने बताया कि एंट्री रजिस्टर में जो जानकारी डिलीवरी बॉय ने दी है उसकी जांच कर ली गई है और वह सही है. आरोपी के खिलाफ दुष्कर्म और अन्य धाराओं में मामला दर्ज कर लिया गया है.

अमेजन के प्रवक्ता ने मीडिया को बताया कि सुरक्षा हमारी प्राथमिकता है और ऐसे आरोप परेशान करने वाले हैं. हम अपने डिलीवरी सर्विस प्रोवाइडर पर तत्काल कार्रवाई कर रहे हैं, साथ ही पुलिस जांच में भी पूरा सहयोग दिया जाएगा.


ये भी देखें:

सलमान खुर्शीद क्या राहुल गांधी के कांग्रेस प्रेसिडेंट पद से हटने से खुश नहीं हैं?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

नॉलेज

कोरोना कहकर लड़की पर थूकने के पीछे दो सौ साल पुरानी नफरत बोल रही है

चमड़ी के रंग से लेकर आंखों के साइज तक- नस्लभेद, वो जो हमने देख कर भी नहीं देखा.

जन्मदिन विशेष: स्मृति ईरानी जैसी मजबूत महिलाओं का पॉलिटिक्स में होना क्यों जरूरी है?

क्योंकि इसी पॉलिटिक्स में संजय निरुपम जैसे लोग भी मौजूद हैं.

जस्टिस भानुमती : रात ढाई बजे कोर्ट खोलकर निर्भया के दोषियों को फांसी तक पहुंचाने वाली जज

इससे पहले भी कई महत्वपूर्ण फैसले सुना चुकी हैं.

सीमा कुशवाहाः पायल बेचकर कॉलेज की फीस भरी थी, अब निर्भया के दोषियों को फांसी तक पहुंचा दिया

असल में चर्चा एपी सिंह के बजाए इस वकील की होनी चाहिए.

आज निर्भया होती तो इतने दिन में उसने ये बड़ी घटनाएं देख ली होतीं

गैंगरेप से दोषियों की फांसी तक इंडिया, 17 तस्वीरों में.

क्या है रेप के खिलाफ बना दिशा कानून जिसमें POCSO से भी कड़े नियम हैं?

सबूत पक्का तो 21 दिन में मिलेगी फांसी की सज़ा.

इस औरत को लगा इंजेक्शन सही निकला तो पूरी दुनिया कोरोना वायरस से बच जाएगी

ये बहादुर महिला खुदपर ट्राय करवा रही है कोरोना का पहला संभावित टीका.

रात के 3 बजे घने जंगलों में मीट के टुकड़े लेकर बाघ पकड़ने वाली अफ़सर से मिलिए

इसलिए कि उन जानवरों को बेहतर जीवन मिल सके.

कोरोना तो उम्मीद है एक दिन चला जाएगा, आपके इनबॉक्स में आई बकवास का क्या इलाज है?

ह्यूमर के नाम पर कुछ भी ठेले जा रहे हैं.

एक दशक पुरानी लड़ाई के बाद नेवी में औरतों को अब आदमियों की बराबरी का हक मिला

सुप्रीम कोर्ट ने कहा- परमानेंट कमीशन में जेंडर के आधार पर भेदभाव न हो.