Submit your post

Follow Us

चेहरे पर लाल रंग की नसें क्यों दिखने लगती हैं?

यहां बताई गई बातें, इलाज के तरीके और खुराक की जो सलाह दी जाती है, वो विशेषज्ञों के अनुभव पर आधारित है. किसी भी सलाह को अमल में लाने से पहले अपने डॉक्टर से ज़रूर पूछ लें. लल्लनटॉप आपको अपने आप दवाइयां लेने की सलाह नहीं देता.

वेदिका दिल्ली की रहने वाली हैं. 31 साल की हैं. इनके चेहरे पर लाल रंग की नसें दिखती हैं. ये दिक्कत कई सालों से थी. पर उम्र के साथ ये नसें और ज़्यादा साफ़ दिखने लगी हैं. वेदिका मॉडलिंग करती हैं. अब ये नसें उनके लिए एक परेशानी का सबब बन गई हैं. पहले वो फाउंडेशन की मदद से इन्हें ढकने की कोशिश करती थीं. पर अब ये नसें फाउंडेशन लगाकर भी दिखती हैं. वेदिका को कोई ख़ास हेल्थ प्रॉब्लम नहीं है, इसलिए उन्हें समझ में नहीं आ रहा कि ऐसा क्यों हो रहा है. वो चाहती हैं हम इस बारे में अपने रीडर्स को बताएं. तो चलिए, आज इसी पर बात करते हैं.

क्यों दिखती हैं चेहरे पर लाल नसें?

ये हमें बताया डॉक्टर प्रांजल ने.

Dr Pranjal Joshi
डॉक्टर प्रांजल जोशी, डर्मेटॉलजिस्ट, वार्सिटी स्किन एंड वेलनेस क्लिनिक, नई दिल्ली

शरीर या चेहरे पर दिखने वाली लाल नसों को आमतौर पर ब्रोकन कैपिलरीज़ कहा जाता है. मेडिकल भाषा में इसे टेलंगीक्टेसिया कहा जाता है. ब्रोकन कैपिलरीज़ दरअसल कैपिलरीज़ के टूटने से नहीं होतीं. हमारी स्किन में ब्लड वेसल्स होती हैं यानी धमनियां. जब ये धमनियां बड़ी हो जाती हैं तो इसे डायलेटेड ब्लड वेसल्स कहते हैं. इस कंडीशन से सेहत को कोई नुकसान नहीं पहुंचता. कई बीमारियों में भी ऐसा देखने को मिलता है. स्किन कैन्सर्स में भी कई बार लाल नसें देखने को मिलती हैं. अगर ब्रोकन कैपिलरीज़ साइज़ या नंबर में बढ़ रही हैं तो डॉक्टर से ज़रूर मिलें.

 

How to Treat and Prevent Broken Capillaries on Your Face | Allure
अगर ब्रोकन कैपिलरीज़ साइज़ या नंबर में बढ़ रही हैं तो डॉक्टर से ज़रूर मिलें

कारण

-सबसे आम कारण है जेनेटिक

-दूसरा कारण है धूप में बहुत देर रहना, इससे कॉलाजेन और इलास्टिन नाम के प्रोटीन स्किन में कम हो जाते हैं

-प्रेग्नेंसी में हॉर्मोनल बदलाव होते हैं. ब्लड प्रेशर में बदलाव आता है. इस कारण भी लाल नसें दिखने लगती हैं

-प्रदूषण

-चेहरा ज़्यादा स्क्रब करना

-रोज़ेशिया से भी चेहरा लाल दिखता है

-शराब ज़्यादा पीना

-मिर्च, कॉफ़ी, चाय ज़्यादा पीने से

किन कारणों से आपके चेहरे या शरीर पर लाल रंग की नसें दिख रही हैं, ये आपने जान लिया. अब बात करते हैं बचाव और इलाज की.

बचाव

जेनेटिक कारणों पर ख़ास कंट्रोल नहीं है. लेकिन उसके अलावा जितने भी कारण हैं, उन्हें कंट्रोल किया जा सकता है. जैसे धूप से बचें, सनस्क्रीन का इस्तेमाल करें. जिन लोगों में ये दिक्कत है वो स्टीम लेने से बचें. चेहरे को बहुत गर्म पानी से न धोएं और मिर्च, कॉफ़ी, शराब चाय से परहेज़ करें.

Broken blood vessels on face: Causes, treatment, and home remedies
अगर किसी कारण से ब्लड प्रेशर बहुत ज़्यादा बढ़ जाता है या इन धमनियों की वॉल किसी कारण से ख़राब हो जाती हैं

इलाज

-कुछ घरेलू उपचार हैं जैसे ठंडे पानी से मुंह धोना

-एलोवेरा जेल लगाना

-कैलेमाइन और विटामिन सी के इस्तेमाल से मदद मिलती है

rosacea broken capillaries | Christian school, Broken capillaries, Rosacea

कैलेमाइन और विटामिन सी के इस्तेमाल से मदद मिलती है

 

-पर ये कारगर उन केसेज़ में होता है जब बिलकुल शुरुआत हुई हो. अगर ये नसें बढ़ जाती हैं तो घरेलू उपचार ज़्यादा कारगर नहीं होते. इसके लिए लेज़र ट्रीटमेंट की मदद ली जाती है. कुछ लेज़र खून में मौजूद हीमोग्लोबिन को टारगेट करते हैं. इससे खून गाढ़ा हो जाता है. वेसल्स की वॉल बिखर जाती हैं और ये ब्लड वेसल्स खत्म हो जाती हैं.

-एक आईपीएल सिस्टम आता है जो लेज़र की तरह ही काम करता है पर वो कम असरदार होता है

चलिए, उम्मीद है डॉक्टर ने जो टिप्स बताई हैं वो वेदिका और इस परेशानी से जूझ रहे बाकी लोगों के ज़रूर काम आएंगी.


वीडियो

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

क्राइम

'लव जिहाद' के आरोपों के बीच निकिता तोमर के हत्यारों को हुई सजा

निकिता को गोली मारने वाले तौसीफ का कांग्रेस कनेक्शन क्या है?

UP में सरकारी टीचर ने आत्महत्या की, सुसाइड नोट देखकर लोगों की रूह कांप गई

पढ़ने-पढ़ाने वाले, पेशे से टीचर पड़ोसियों पर गंभीर आरोप लगे हैं.

औरत ने अपने पिता को खूब दारू पिलाई, फिर जलाकर क्यों मार डाला?

आरोपी बेटी तक कैसे पहुंची कोलकाता पुलिस?

यौन शोषण करता था पुलिस वाला, लड़की ने आवाज़ उठाई तो घिनापे की हद ही पार कर दी

एक लड़की का पूरा परिवार बर्बादी की कगार पर आ गया.

आठ साल की बच्ची ने अपने रेपिस्ट को ऐसे पकड़वाया, आप भी बहादुरी की दाद देंगे

घटना के बाद शहर से भागने वाला था आरोपी, लॉकडाउन ने रोक दिया.

दूसरे आदमी से संबंध होने का शक में पति ने तांबे के तार से पत्नी का प्राइवेट पार्ट सिल दिया!

मामला यूपी के रामपुर का है.

महिला ने कहा- रेप का प्रयास किया, इसलिए प्राइवेट पार्ट काट दिया

आरोपी ने कुछ और ही कहानी बताई.

मुस्लिम बच्चे से मिलने पहुंची कांग्रेस नेता को मिया खलीफा की मुंहबोली बहन बता दी धमकी

गाजियाबाद पुलिस ने केस दर्ज कर आगे की कार्रवाई शुरू की.

रेप के 17 साल बाद महिला ने फेसबुक से आरोपी को पहचाना, केस दर्ज

मामला मध्य प्रदेश के इंदौर का है.

वॉट्सऐप का खतरनाक स्कैम: वीडियो कॉल कर लड़की उतारने लगती है कपड़े, बचना मुश्किल

इस स्कैम की सच्चाई जान माथा पीट लेंगे.