Submit your post

Follow Us

सुशांत की मौत के एक साल बाद रिया चक्रवर्ती क्या कर रही हैं?

रिया चक्रवर्ती. बॉलीवुड एक्ट्रेस हैं. एंटरटेनमेंट इंडस्ट्री में 2009 से एक्टिव हैं. MTV के एक शो से बतौर कंटेस्टेंट उन्होंने अपना करियर शुरू किया. फर्स्ट रनर अप रहीं. फिर MTV के ही अलग-अलग शोज़ उन्होंने होस्ट किए. 2012 में तेलुगु फिल्म ‘तुनिगा-तुनिगा’ से फिल्मों में कदम रखा और 2013 में ‘मेरे डैड की मारुति’ से बॉलीवुड डेब्यू किया. रिया के खाते में गिनाने को बहुत फिल्में नहीं हैं, न ही ऐसी कोई फिल्म है जिसके लिए उन्हें स्पेशल क्रेडिट दिया जा सके. पर उनका काम चल रहा था, अपनी गति से.

फिर 14 जून, 2020 की तारीख आई, और उनकी ज़िंदगी पूरी तरह बदल गई. उनके बॉयफ्रेंड सुशांत सिंह राजपूत, जिनका घर छोड़कर वो छह दिन पहले ही अपने घर में शिफ्ट हुई थीं, उन्होंने 14 जून को सुसाइड कर लिया था. इसके बाद शुरू हुआ सोशल मीडिया ट्रायल्स और विच हंट का सिलसिला.

एक नज़र डालते हैं, इस एक साल में रिया के साथ जो कुछ भी हुआ उस पर

– सुशांत की मौत की खबर शेयर करते हुए पुलिस ने 14 जून को ही बताया कि सुसाइड से पहले सुशांत एक एक्ट्रेस को बार-बार कॉल कर रहे थे. लेकिन उन एक्ट्रेस ने उनका फोन नहीं उठाया. इसके  बाद सुशांत के एक रिश्तेदार ने बताया कि एक एक्ट्रेस के साथ सुशांत रिलेशनशिप में थे. दोनों की शादी की तैयारी चल रही थी, पता नहीं उनके बीच  क्या हुआ, कि सुशांत ने सुसाइड कर लिया. इसके बाद रिया चक्रवर्ती का वीडियो वायरल हुआ, जिसमें सुशांत की डेड बॉडी के देखकर वो रोते हुए सॉरी बाबू कह रही थीं. रिया का वीडियो आया और जनता सुशांत की मौत का जिम्मेदार उन्हें ही ठहराने लगी. बेवफा औरत, जिसने लड़के को छोड़ा और गम में डूबकर लड़के ने सुसाइड कर लिया.

– सुशांत की मौत के ठीक एक महीने बाद, यानी 14 जुलाई, 2020 को रिया चक्रवर्ती ने इंस्टाग्राम पर एक इमोशनल पोस्ट लिखा. सुशांत के नाम. कि उनके बिना रहना मुश्किल है. हर दिन उनसे कुछ न कुछ सीखा. और भी तमाम बातें. इसके दो दिन बाद उन्होंने गृहमंत्री अमित शाह को टैग करते हुए उनसे रिक्वेस्ट की कि सुशांत की मौत की CBI एन्कवायरी करवाई जाए.

Rhea Chakraborty
8 सितंबर 2020 को NCB ने ड्रग मामले में रिया को गिरफ्तार किया था.

– कुछ दिन बाद सुशांत के पिता केके सिंह ने रिया चक्रवर्ती के खिलाफ FIR दर्ज करवाई. उन्होंने रिया पर सुशांत को अपने कंट्रोल में रखने, उनके पैसे हड़पने और परिवार वालों से नहीं मिलने देने के आरोप लगाए. उनके पिता ने ये आरोप भी लगाए कि रिया के संपर्क में आने के बाद ही सुशांत मानसिक रूप से परेशान रहने लगे थे. सुशांत के पिता के आरोपों के बाद रिया के खिलाफ एक सोशल मीडिया कैम्पेन शुरू हो गया. उन्हें एक ऐसी औरत के रूप में पोर्ट्रे किया गया जो मासूम बेटे को परिवार से अलग कर देती है. उसे न उनके साथ वक्त बिताने देती है और न ही पैसों से उनकी मदद करने देती है. और खुद उसके पैसों से ऐश करती है.

– इसके बाद रिया ने एक इंटरव्यू में बताया कि सुशांत डिप्रेशन से जूझ रहे थे. उनका इलाज चल रहा था. इसके बाद सुशांत का पूरा परिवार, पूर्व गर्लफ्रेंड अंकिता लोखंडे और खुद को उनका दोस्त बताने वाले लोग इसे लेकर रिया के खिलाफ सोशल मीडिया पर लिखने लगे. टीवी इंटरव्यू देने लगे. कहने लगे कि सुशांत के पोस्ट देखिए, उनके इंटरव्यूज़ देखिए, वो ज़िंदादिल आदमी था. वो डिप्रेशन में हो ही नहीं सकता. रिया पर आरोप लगे कि अपने आप को बचाने के लिए वो सुशांत को मानसिक रूप से बीमार बता रही हैं.

– रिया ने एक वीडियो मैसेज जारी किया. इस पर भी सुशांत के परिवार के वकील ने टिप्पणी की कि ऐसे कपड़े तो वो कभी नहीं पहनतीं. दुनिया को दिखाने के लिए ये सब कर रही हैं.

ये फोटो रिया चक्रवर्ती के वीडियो की है जिसमें वो सुशांत की मौत की जांच की मांग कर रही थीं.
ये फोटो रिया चक्रवर्ती के वीडियो की है जिसमें वो सुशांत की मौत की जांच की मांग कर रही थीं. इस वीडियो के बाद सुशांत के परिवार के वकील ने रिया के कपड़ों पर भी टिप्पणी की थी.

– इसके बाद बंगाली जादू वाला एंगल आया. कि रिया ने सुशांत पर बंगाली जादू करके उन्हें अपने वश में किया था. कहा गया कि जादू-टोना करके ही रिया ने सुशांत को मरवा दिया. और भी तमाम तरह की बातें उनके खिलाफ कही गईं.

– उनके परिवार वालों को मीडिया ट्रायल का सामना करना पड़ा.

– फिर पता चला कि सुशांत ड्रग्स लेते हैं. NCB की जांच शुरू हुई. जांच में पता चला कि सुशांत के लिए जो ड्रग्स आता था, उसकी पेमेंट रिया के कार्ड से होती थी. इसे लेकर एक बार फिर रिया पर हमले शुरू हुए कि उन्होंने सुशांत को नशे की लत लगवाई. वो उनको नशा करवाती थीं ताकि उनके पैसों पर ऐश कर सकें. उनकी बीमारी का बहाना बनाकर उन्हें परिवार से दूर कर सकें. रिया को सोशल मीडिया पर ‘हत्यारन’ मान लिया गया. और उसके बाद जब NCB ने ड्रग्स खरीदने के मामले में रिया को गिरफ्तार किया तो सोशल मीडिया पर इसे ऐसे सेलिब्रेट किया गया जैसे उन्हें हत्या के मामले में गिरफ्तार कर लिया गया हो.

– करीब डेढ़ महीने बाद रिया ज़मानत पर जेल से बाहर आईं. उसके बाद से हर हफ्ते, दो हफ्ते में सुशांत को इंसाफ दिलाने के हैशटैग्स ट्विटर पर ट्रेंड करते हैं. और इन ट्वीट्स में रिया के खिलाफ जबर नफरत और ज़हर देखने को मिलता है.

एक ट्रिप के दौरान सुशांत सिंह राजपूत के साथ रिया चक्रवर्ती.
एक ट्रिप के दौरान सुशांत सिंह राजपूत के साथ रिया चक्रवर्ती.

– ऐसा नहीं है कि सारे लोग रिया के खिलाफ लिख रहे थे. कई सारे लोग थे जो रिया को सपोर्ट भी कर रहे थे. उनका कहना था कि इस मुद्दे को जबरन एक राजनैतिक रूप दे दिया गया है, और उसमें रिया को बलि का बकरा बनाया जा रहा है. एक तरफ जहां कई लोगों ने फिल्मों में रिया को काम न देने की अपील की, वहीं कुछ फिल्ममेकर्स सामने आए. कहा कि ऐसा करना रिया के साथ नाइंसाफी होगी. कुछ ने कहा कि वो उन्हें काम देंगे.

सुशांत की पहली बरसी पर रिया ने उनके नाम एक पोस्ट लिखा है. इसमें वो लिखती हैं,

“मैं अब तक यकीन नहीं कर पाई हूं कि तुम अब नहीं हो. लोग कहते हैं कि वक्त सारे घाव भर देता है. पर तुम ही मेरा वक्त, मेरा सबकुछ थे. मैं जानती हूं कि तुम अब मेरे गार्डियन एंजेल हो. चांद से अपने टेलिस्कोप से मुझे देखते हो, मुझे प्रोटेक्ट करते हो. मैं हर दिन इंतज़ार करती हूं, कि तुम आओगे और मुझे लेकर जाओगे. मैं हर जगह तुम्हें ढूंढती हूं. हर दिन मैं टूटती हूं. हर दिन मुझे लगता है कि तुम कह रहे हो- ‘बेबू तुम ये कर लोगी’ और फिर अगला दिन आता है. ये लिखते हुए मेरा दिल दुखता है, इतना दुखता है कि कुछ और महसूस ही नहीं होता. तुम्हारे बिना कोई ज़िंदगी नहीं है. अपने साथ तुम मेरी ज़िंदगी का मतलब ले गए. तुम लौट आओ, मैं हर दिन तुम्हें मालपुए खिलाउंगी. दुनिया की क्वांटम फिज़िक्स की सारी किताबें पढ़ लूंगी. बस तुम आ जाओ. मेरे प्यारे दोस्त, मेरे प्यार.”

 

इस एक साल में जो कुछ भी हुआ उसका रिया की पर्सनल लाइफ पर तो जो असर पड़ा वो पड़ा ही. पर उनकी प्रोफेशनल लाइफ भी इससे पूरी तरह चौपट हो गई. इस पूरे एपिसोड के बाद उन्हें केवल एक फिल्म में काम करने का मौका मिला. चेहरे. फिल्म अप्रैल 2021 में रिलीज़ होने वाली थी. लेकिन कोरोना वायरस की दूसरी लहर के चलते फिल्म की रिलीज़ पोस्टपोन हो गई.


 

सुशांत की छिछोरे, दिल बेचारा जैसी फिल्मों के ये डायलॉग्स आपको ज़रूर सुनने चाहिए

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

क्राइम

मध्य प्रदेश: बर्बर भीड़ ने दो युवतियों को बेरहमी से पीटा, डंडा टूट गया पर पीटना बंद नहीं किया

मध्य प्रदेश: बर्बर भीड़ ने दो युवतियों को बेरहमी से पीटा, डंडा टूट गया पर पीटना बंद नहीं किया

धार पुलिस ने सात आरोपियों को गिरफ्तार किया है.

बिना बताए ससुराल से मामा के घर चली गई युवती, पिता और भाइयों ने पेड़ से लटकाकर पीटा

बिना बताए ससुराल से मामा के घर चली गई युवती, पिता और भाइयों ने पेड़ से लटकाकर पीटा

घटना का वीडियो वायरल.

शादी के नाम पर लड़कियों की अदला-बदली करने वाली ये घटिया प्रथा कब खत्म होगी?

शादी के नाम पर लड़कियों की अदला-बदली करने वाली ये घटिया प्रथा कब खत्म होगी?

इसी घटिया प्रथा के चलते एक लड़की ने अपनी जान ले ली.

वीडियो से ब्लैकमेल कर दो साल तक लड़की का रेप का आरोप, तीन लड़के गिरफ्तार

वीडियो से ब्लैकमेल कर दो साल तक लड़की का रेप का आरोप, तीन लड़के गिरफ्तार

लड़की जब परीक्षा देने अलवर के एक कॉलेज में गई थी, तब उसका अपहरण किया गया था.

भाई ने भेजा था खाना, पार्सल लेकर पहुंचे आदमी पर बहन के रेप का आरोप

भाई ने भेजा था खाना, पार्सल लेकर पहुंचे आदमी पर बहन के रेप का आरोप

पीड़िता ने शिकायत में कहा- अकेला पाकर आरोपी ने किया रेप.

पीटने, रेप करने वाले सौतेले बाप की हत्या करने वाली लड़की रिहा

पीटने, रेप करने वाले सौतेले बाप की हत्या करने वाली लड़की रिहा

अपनी सौतेली बेटी का बार-बार रेप किया, गर्भवती किया, फिर वेश्या बनने पर किया मजबूर

ORS और चॉकलेट लेकर बैंक लूटने पहुंची औरत की मासूमियत पर आपको तरस आएगा

ORS और चॉकलेट लेकर बैंक लूटने पहुंची औरत की मासूमियत पर आपको तरस आएगा

इधर उसे लापता समझ पति ने सोशल मीडिया पर उसे खोजने की मुहीम छेड़ रखी थी.

J&K गुरुद्वारा कमेटी ने अब सिख लड़की की किडनैपिंग और जबरन धर्मांतरण की बात से इनकार किया है

J&K गुरुद्वारा कमेटी ने अब सिख लड़की की किडनैपिंग और जबरन धर्मांतरण की बात से इनकार किया है

पहले दिल्ली गुरुद्वारा कमेटी के अध्यक्ष ने किडनैपिंग, जबरन धर्म परिवर्तन और अधेड़ पुरुषों से शादी के आरोप लगाए थे.

औरतों के ख़िलाफ़ हिंसा के ये आंकड़े देखेंगे तो कभी केरल को 'प्रोग्रेसिव' राज्य नहीं कहेंगे

औरतों के ख़िलाफ़ हिंसा के ये आंकड़े देखेंगे तो कभी केरल को 'प्रोग्रेसिव' राज्य नहीं कहेंगे

'दहेज हत्या' के मामलों के बीच राज्य की पूर्व महिला आयोग अध्यक्ष पर रेप आरोपी को बचाने का आरोप लगा है.

पॉर्न को लेकर इतने उतावले क्यों हैं लोग कि ऑनलाइन क्लास तक को नहीं छोड़ते?

पॉर्न को लेकर इतने उतावले क्यों हैं लोग कि ऑनलाइन क्लास तक को नहीं छोड़ते?

हाल के महीनों में ऑनलाइन क्लास में पॉर्न चलाने की कई घटनाएं सामने आई हैं.