Submit your post

Follow Us

क्या है ‘शुगरिंग’ टेक्नीक जो इंटरनेट पर औरतों को खूब लुभा रही है

5
शेयर्स

इंटरनेट पर आए दिन कोई न कोई ब्यूटी हैक ट्रेंड करता रहता है. उसे देख सैकड़ों लड़कियां उसे ट्राई भी करने लगती हैं. बिना जाने कि वो स्किन के लिए सेफ़ है भी या नहीं. आजकल एक ऐसा ही ट्रेंड सुर्ख़ियां बटोर रहा है. नाम है ‘शुगरिंग’. ये शरीर से बाल हटाने का एक तरीका है. जैसे वैक्सिंग. दोनों में काफ़ी समानताएं भी हैं.

क्या होता है ‘शुगरिंग’

इसके बारे में जानने के लिए हमने बात की डॉक्टर अप्रितम गोयल से. उन्होंने बताया-

‘भले ही इंटरनेट पर इसकी चर्चा अब हो रही हो. पर ये टेक्नीक बहुत पुरानी है. पर्शियन टेक्नीक है ये. कुछ वैक्सिंग की ही तरह. इसमें एक पेस्ट बनता है. पानी, नींबू का जूस, और शक्कर का. इस पेस्ट को पहले गर्म किया जाता है. फिर इन्हें थोड़ी देर के लिए ठंडा किया जाता है. इसके बाद इसे स्किन पर लगाया जाता है. वैक्सिंग की तरह ये बालों को जड़ से हटा देता है.’

वैक्सिंग और ‘शुगरिंग’ में क्या फ़र्क है

दोनों में एक ही फ़र्क है.

वैक्सिंग में वैक्स उस दिशा में लगाया जाता है जिधर बालों की ग्रोथ होती है. फिर एक स्ट्रिप की मदद से बाल खींचे जाते हैं. बालों की ग्रोथ की उल्टी दिशा में. ‘शुगरिंग’ में उसका ठीक उल्टा होता है. पेस्ट को बालों की उल्टी दिशा में लगाया जाता है. फिर इसी दिशा में उसे खींचा भी जाता है. एक स्ट्रिप की मदद से. इससे चेहरे, अंडर आर्म्स, हाथ, पैर, और पीठ के बाल हटा सकते हैं.

Image result for sugaring
                                       भले ही इंटरनेट पर ‘शुगरिंग’ की चर्चा अब हो रही हो. पर ये टेक्नीक बहुत पुरानी है.

इसके क्या फ़ायदे हैं

– शक्कर की वजह से स्किन के डेड सेल्स भी हट जाते हैं. स्किन काफ़ी स्मूथ हो जाती है.

– वैक्सिंग की ही तरह जब बाल वापस आते हैं तो वो सॉफ्ट और हल्के निकलते हैं.

– इसमें वैक्सिंग से कम दर्द होता है

‘शुगरिंग’ के क्या नुक्सान हैं

डॉक्टर अप्रितम गोयल बताती हैं-

‘सेंसिटिव स्किन वालों को इस टेक्नीक से दूर ही रहना चाहिए. अव्वल तो जो पेस्ट बनाया जाता है उससे स्किन के जलने का ख़तरा रहता है. वैक्सिंग से कहीं ज़्यादा. अगर ये पेस्ट गर्म होगा तो आपकी स्किन जल सकती है. दूसरी बात. इस पेस्ट को लगाने से पहले थोड़ा ठंडा किया जाता है. अगर पेस्ट ज़्यादा ठंडा हो जाएगा तो ये बेकार है. जिन लोगों की सेंसिटिव स्किन होती है, ‘शुगरिंग’ से उनकी स्किन पर लाल दाने निकल सकते हैं. साथ ही खुजली और रेडनेस भी रहती है. इसलिए मैं इसे ट्राई करने की सलाह नहीं दूंगी.’

डॉक्टर ने तो रिकमेंड करने से मना कर दिया. अब आप खुद ही फ़ैसला करिए कि इंटरनेट पर तैरने वाली हर चीज़ आज़मानी चाहिए या नहीं.


वीडियो

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

क्राइम

चार बेटियों से यौन शोषण के आरोप में पिता गिरफ्तार

बेटी ने टीचर को बताया फिर मामले का पता चला.

तीसरी बार भी बेटी न हो जाए, इस डर से प्रेगनेंट बीवी को मारकर टुकड़े कर डाले

पुलिस से कहता रहा कि पत्नी लापता है, बड़ी बेटी ने सच्चाई बताई.

भारत में खेलों का ये हाल है कि 29 कोचों पर यौन शोषण के आरोप लगे हैं

जबकि कई लड़कियां डर के मारे शिकायत वापस भी ले लेती हैं

सुपरमॉडल को अश्लील तस्वीरों में टैग कर झूठी न्यूज़ फैलाता था, अब भुगत रहा है

नताशा सूरी ने ऐसा सबक सिखाया कि खुद को गायब कर लिया.

बीवी पर शक था कि उसके अपने पिता के साथ सम्बन्ध हैं, तेज़ाब फेंक कर भाग निकला!

गुजरात के नडियाद की खबर.

19 साल की लड़की गायब हुई, गुजरात पुलिस बोली 'सुरक्षित है', आखिर में पेड़ से लटकी लाश मिली

दलित सुमदाय से आने वाला ये परिवार बेटी के लिए भटकता रहा और पुलिस सोती रही.

नशे में धुत्त पुलिसवाले ने मोहल्ले की बच्ची से रेप करने की कोशिश की

पुलिसवाले की पहले गिरफ्तारी हुई थी. अब बर्खास्त भी हो गया.

तेलंगाना: सरकारी कॉलेज में तीन लड़कियां प्रेगनेंट हो गईं, जांच हुई तो डराने वाला राज़ खुला

अंडरग्रेजुएशन की लड़कियां हैं.

8 साल पहले अपहरण हुआ, बार-बार बिकी, प्रेगनेंट हुई: मौत से बचती लड़की की कहानी

कभी 20 हजार में, तो कभी 1.5 लाख रुपये में बेची गई.

रांची की 'निर्भया' के दोषी को तीन साल के अंदर सुनायी फांसी की सजा

आरोपी की मां का DNA मैच हुआ, तब गिरफ्तारी हुई.