Submit your post

Follow Us

'मोटे' लोगों से सालों से जबरन ये टैक्स वसूल रही हैं कंपनियां

बहुत छुटपन में दुकान से कपड़े खरीदने गए थे एक बार. सभी भाई बहन. दीवाली का मौका था या होली का, याद नहीं. लेकिन सब साथ थे. बच्चियों को फ्रॉक लेनी थी, बच्चे अपने लिए कुरता टीशर्ट कुछ भी खरीद सकते थे. कपड़े देखते हुए एक कजिन को एक फ्रॉक काफी अच्छी लगी. उसने अपनी मम्मी से कहा,

मम्मी ये वाली दिला दो.

उसकी मम्मी ने दुकानदार से कीमत पूछी. उसने कहा, आपकी बिटिया को ये साइज नहीं आयेगा. बच्ची की मां बोलीं, तो बड़ा साइज निकाल दीजिए. बड़ा साइज निकाला गया. पैक करने को कहने पर जब बिल बना, तो बच्ची की मां पूछतीं, उस वाले पर दाम तो ढाई सौ रुपए था. इसके आप 280 क्यों ले रहे हैं?

दुकानदार ने कहा,

मैडम बड़ा साइज है न. प्राइस बढ़ जाती है.

उस समय किसी को ये चीज गलत नहीं लगी. कजिन फ्रॉक लेकर घर आ गई. बहुत सुंदर भी लग रही थी पहनकर. उसकी मम्मी ने भी दुकानदार से कुछ नहीं पूछा. उस समय बात शायद तीस रुपयों की ही थी. आई गई हो गई.

लेकिन दिक्कत उससे कहीं बड़ी है, और हर जगह है.

इसकी बात क्यों?

हम इसकी बात इसलिए कर रहे हैं क्योंकि आजकल इंटरनेट पर एक टर्म काफी चल रहा है. इसका नाम है फैट टैक्स. यानी वो कर जो आपके ‘मोटे’ होने पर लगाया जाता है. इसे शाब्दिक तौर पर मत लीजिए. ऐसा नहीं है कि एक खास वजन तक पहुंचने के बाद आपको ज्यादा टैक्स भरना पड़ेगा. लेकिन अनदेखे, छोटे-छोटे तरीकों से ये शरीर को एक तरह से कंट्रोल करने का जरिया बना दिया गया है. कैसे?  पहले वो समझ लीजिए.

एक सोशल मीडिया अकाउंट है- डाईट सब्या. इसे आप फैशन वाचडॉग कह सकते हैं. कपड़ों और फैशन की दुनिया पर ये नज़र रखता है कि कहीं कोई डिजाइनर किसी की सस्ती नक़ल तो नहीं कर रहा. आईडिया तो नहीं चुरा रहा. कहीं किसी का शोषण तो नहीं हो रहा. आदि- इत्यादि. इसी अकाउंट ने कई ऐसे उदाहरण शेयर किए हैं जहां पर लोगों को बड़ी साइज वाले कपड़े लेने के लिए ज्यादा पैसे देने पड़े. यही ज्यादा पैसे फैट टैक्स कहलाते हैं. ‘मोटा’ होने की वजह से आप पर लगने वाला कर.

क्या तर्क हैं?

डाईट सब्या ने अपने instagram अकाउंट पर जो जानकारी शेयर की, उसमें लोगों ने कई तरह के कारण गिनाये कि ‘बड़ी साइज’ वाले कपड़े छोटी साइज वाले सेम कपड़ों से महंगे क्यों होते हैं. यहां पर बड़ी साइज से मतलब है XL, XXL, XXXL. या फिर 16, 18, 20, 22 ड्रेस साइज. एक व्यक्ति ने कहा,

‘जब एक डिजाइनर के साथ मेरी नौकरी चल रही थी, तब उसके पास एक कस्टमर आई. उसने एक ट्यूनिक का ऑर्डर दिया, उस पर कढाई का काम था. उस डिजाइनर ने कहा चूंकि आप प्लस साइज हैं, इसलिए मुझे आपसे एक्स्ट्रा पैसे चार्ज करने पड़ेंगे.

वो कस्टमर भी बिना ना नुकुर किए मान गईं. बाद में उस डिजाइनर को इंडस्ट्री के ही एक नामी व्यक्ति ने झिड़क दिया. कि क्या तुम पतले लोगों से कम पैसे लेते हो?

Diet Sabya Fattax 6
इसी पोस्ट का हिंदी तर्जुमा आपने ऊपर पढ़ा.

कुछ डिजाइनर्स ने ये भी तर्क दिए कि अगर कुछ कढ़ाई वगैरह का काम है तो प्लस साइज कपड़ों में ज्यादा मेहनत लगती है. कपड़ा भी ज्यादा लगता है. तो वो अपनी जेब से पैसे क्यों देंगे.

Diet Sabya Fattax 4
अपने निर्णयों को डिफेंड करने की कोशिश करते डिजाइनर्स.

इस पर दूसरे लोगों का तर्क था कि क्या ऐसे में छोटे साइज वाले कपड़ों पर वो कम चार्ज करते हैं? इसी लॉजिक के अनुसार? नहीं न. तो फिर बड़े कपड़ों की कीमत भी किसी तरह एडजस्ट की जानी चाहिए.

डाईट सब्या के इन पोस्ट्स के बाद कई डिजाइनर्स ने ये भी कहा कि उनके पास भी इस तरह की प्राइसिंग की जाती थी. लेकिन अब से वो ऐसा नहीं करेंगे. उन्हें एहसास हो गया है कि ये कितना गलत है.

Diet Sabya Fattax
इस पोस्ट में मैसेज करने वाले डिजाइनर कह रहे हैं कि उनसे गलती हुई. वो इसे सुधार रहे हैं. उनका कहना है कि उन्होंने कभी इस मुद्दे पर खुलकर बात ही नहीं की, जोकि की जानी चाहिए थी.

अगर आप भी ऑनलाइन कपड़े खरीदने की शौक़ीन हैं, या फिर किसी डिजाइनर स्टोर से कपड़े लेते हैं, और देखते हैं कि प्लस साइज वालों से ज्यादा चार्ज लिया जा रहा है, तो ये सवाल ज़रूर पूछें. शायद आपका एक छोटा सवाल लोगों को सोचने पर मजबूर कर दे.


वीडियो: जानिए बिहार विधानसभा चुनाव में बड़े नेताओं की पत्नियां जीतीं या हारीं?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

क्राइम

कपड़ा फैक्ट्री में 19 महिलाओं से जबरन काम कराया जा रहा था, पुलिस ने बचा लिया

कपड़ा फैक्ट्री में 19 महिलाओं से जबरन काम कराया जा रहा था, पुलिस ने बचा लिया

तीन महीने की ट्रेनिंग के लिए बुलाया, फिर बंधक बना लिया.

ग्वालियर: COVID सेंटर में वॉर्ड बॉय पर मरीज से रेप की कोशिश का आरोप, गिरफ्तार

ग्वालियर: COVID सेंटर में वॉर्ड बॉय पर मरीज से रेप की कोशिश का आरोप, गिरफ्तार

आरोपी को नौकरी से निकाला.

बाप पर आरोपः दो साल तक बेटी का रेप किया, दांतों से चबाकर उसकी नाक काट ली

बाप पर आरोपः दो साल तक बेटी का रेप किया, दांतों से चबाकर उसकी नाक काट ली

पैसे देकर दूसरे लड़के से रेप करवाने का भी आरोप है.

सुसाइड कर रहे पति को रोकने की जगह पत्नी उसका वीडियो क्यों बना रही थी?

सुसाइड कर रहे पति को रोकने की जगह पत्नी उसका वीडियो क्यों बना रही थी?

पति की मौत हो गई है.

लड़कियों को बेरहमी से घसीट रही पुलिस के वायरल वीडियो का पूरा सच क्या है

लड़कियों को बेरहमी से घसीट रही पुलिस के वायरल वीडियो का पूरा सच क्या है

क्या कार्रवाई के लिए पुलिस फसल पकने का इंतज़ार कर रही थी?

रेप के आरोपी NCP नेता को बचाने की कोशिश कर रहा था ACP, कोर्ट ने दिन में तारे दिखा दिए

रेप के आरोपी NCP नेता को बचाने की कोशिश कर रहा था ACP, कोर्ट ने दिन में तारे दिखा दिए

ये सुनकर कोई भी पुलिस वाला शर्मिंदा हो जाए.

POCSO कोर्ट ने आंख मारने और फ्लाइंग किस को यौन उत्पीड़न माना, एक साल की सजा सुनाई

POCSO कोर्ट ने आंख मारने और फ्लाइंग किस को यौन उत्पीड़न माना, एक साल की सजा सुनाई

कोर्ट ने 15 हजार का जुर्माना भी लगाया.

'वर्जिनिटी टेस्ट' में फेल हुई तो जात पंचायत ने तलाक कराने का आदेश दे दिया

'वर्जिनिटी टेस्ट' में फेल हुई तो जात पंचायत ने तलाक कराने का आदेश दे दिया

मामला कोल्हापुर का है. दो बहनों की एक ही परिवार में शादी हुई थी.

CRPF जवानों पर ऐसा क्या लिखा कि महिला को रेप की धमकी मिलने लगी

CRPF जवानों पर ऐसा क्या लिखा कि महिला को रेप की धमकी मिलने लगी

असमिया लेखिका शिखा शर्मा पर राजद्रोह का आरोप लगा है.

औरत का सिर मूंडने वाली, उस पर कालिख पोतने वाली भीड़ ने उसके बराबर जिम्मेदार पुरुष को छुआ तक नहीं

औरत का सिर मूंडने वाली, उस पर कालिख पोतने वाली भीड़ ने उसके बराबर जिम्मेदार पुरुष को छुआ तक नहीं

औरतों पर ऐसा अत्याचार करने वाली भीड़ को सज़ा कितनी मिलती है?