Submit your post

Follow Us

आपके जोड़ों में दर्द का कारण चिकनगुनिया तो नहीं है?

(यहां बताई गई बातें, इलाज के तरीके और खुराक की जो सलाह दी जाती है, वो विशेषज्ञों के अनुभव पर आधारित है. किसी भी सलाह को अमल में लाने से पहले अपने डॉक्टर से ज़रूर पूछें. दी लल्लनटॉप आपको अपने आप दवाइयां लेने की सलाह नहीं देता.)

पुनीत पुणे के रहने वाले हैं. 32 साल के हैं. उन्होंने हमें मेल किया. बताया कि सितंबर के महीने में उन्हें बुखार चढ़ा. साथ ही जोड़ों में दर्द भी होने लगा. उन्होंने अपना कोविड का टेस्ट करवाया, लेकिन वो नेगेटिव आया. उन्हें कुछ और दिक्कतें भी हो रही थीं. जैसे सिर में दर्द, हाथ-पैरों में दर्द और रैशेज़. जब पुनीत ने डॉक्टर को दिखाया तो उनके कुछ और टेस्ट हुए. पता चला, उन्हें चिकनगुनिया हो गया है. लगभग एक-डेढ़ हफ़्ते के इलाज के बाद वो ठीक हो गए.

ये सिर्फ पुनीत का मामला नहीं है. चिकनगुनिया के केस काफी बढ़ रहे हैं. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, सितंबर में पुणे में ही चिकनगुनिया के 79 केस रिपोर्ट किए गए. मुंबई में भी लोग बुखार और जोड़ों में भयानक दर्द की शिकायत लेकर डॉक्टर्स के पास जा रहे हैं. महाराष्ट्र में सितंबर खत्म होते-होते चिकनगुनिया के 1784 मामले रिपोर्ट हुए हैं. सिर्फ़ महाराष्ट्र ही नहीं, गुजरात, दिल्ली, मध्य प्रदेश और उत्तर प्रदेश में भी चिकनगुनिया के मामले सामने आ रहे हैं.

ऐसे में ये समझना ज़रूरी है कि चिकनगुनिया से बचाव कैसे किया जाए. इसका इलाज क्या है. सबसे पहले जान लेते हैं चिकनगुनिया है क्या, और इसके होने के पीछे कारण क्या हैं?

चिकनगुनिया क्या है, किस कारण से होता है?

ये हमें बताया डॉक्टर बेला शर्मा ने.

Dr. Bela Sharma - in Gurgaon | Fortis Healthcare
डॉक्टर बेला शर्मा, एडिशनल डायरेक्टर, इंटरनल मेडिसिन, फ़ोर्टिस मेमोरियल रिसर्च इंस्टिट्यूट, गुरुग्राम

– चिकनगुनिया एक वायरस से होने वाली बीमारी है, जो मच्छर के काटने से होती है

– अगर कोई इन्फेक्टेड मच्छर, जो पहले से किसी चिकनगुनिया से बीमार व्यक्ति को काट चुका है, वह हमें काट लेता है तो उसके जरिए चिकनगुनिया का वायरस हमारे शरीर में आ जाता है

– और फिर हमें भी यह बीमारी हो सकती है

लक्षण

– इसके लक्षण काफी कुछ डेंगू से मिलते-जुलते हैं

– फर्क इतना है कि चिकनगुनिया में बुखार के साथ-साथ शरीर और जोड़ों में काफ़ी दर्द होता है

– डेंगू की तरह चिकनगुनिया में ब्लीडिंग वाली समस्या नहीं होती है

– लेकिन चिकनगुनिया में बॉडी और ज्वाइंट पेन बहुत ज्यादा होता है इसलिए चिकनगुनिया को ब्रेक बैक फीवर भी कहा जाता है

– बुखार ठीक हो जाने के बाद भी शरीर और जोड़ों में बहुत समय तक दर्द रहता है

Chikungunya | Disease or Condition of the Week | CDC
चिकनगुनिया एक वायरस से होने वाली बीमारी है, जो मच्छर के काटने से होती है

– 2-3 साल पहले दिल्ली, एनसीआर में जिन लोगों को चिकनगुनिया हुआ था, उन्हें बीमारी ठीक हो जाने के बहुत समय बाद तक रुटीन चलने-फिरने और रोज़मर्रा के काम करने में भी दिक्कत महसूस होती रही थी

– बुखार उतरने और चिकनगुनिया के बाकी सारे लक्षण ठीक हो जाने के बाद भी काफी समय तक स्वास्थ संबंधी समस्याएं बनी रहती हैं

डायग्नोसिस

– चिकनगुनिया को डायग्नोज करने के लिए ब्लड टेस्ट किया जाता है

– उससे पता चलता है कि हमारे शरीर में चिकनगुनिया का वायरस है या नहीं

इलाज

– चिकनगुनिया में लक्षणों के आधार पर ही इलाज किया जाता है

– बुखार, शरीर में दर्द के लिए डॉक्टर दवाइयां देते हैं

– ज्यादा एंटी-इन्फ्लेमेटरी स्ट्रांग मेडिसिन न लेने की सलाह दी जाती है

– बहुत सारे इंजेक्शन न लेने की भी सलाह दी जाती है

chikungunya - Wiktionary
चिकनगुनिया में बॉडी और ज्वाइंट पेन बहुत ज्यादा होता है

– दवाइयां लेने के साथ-साथ आपको ख़ूब सारा पानी पीना है

– नींबू पानी और नारियल पानी ज्यादा पिएं

– रेस्ट करें, अच्छी डाइट लें

-अपने आपको संक्रमण से बचाएं

– बच्चे, बूढ़े या वो लोग जिनको डायबिटीज, हाई ब्लड प्रेशर जैसी बीमारियां हैं, उन लोगों को संक्रमण होने के ज्यादा चांसेस रहते हैं

बचाव

– अपने घर के साथ-साथ अपने आसपास की भी सफाई का ध्यान रखिए

– आपके आसपास कहीं पानी न जमा होने दें, ताकि जिससे वहां मच्छर न पनपने पाएं

– अपने घर की सफाई के साथ-साथ आपकी सोसाइटी और उसके बाहर कहीं भी पॉटहोल्स हैं तो उसकी मरम्मत करवाना ज़रूरी है

Do I have chikungunya? Here's how to tell whether you need to get tested | Health - Hindustan Times
अपने घर के साथ-साथ अपने आसपास की भी सफाई का ध्यान रखिए

– गमलों में पानी न जमा होने दें , कूलर में पानी न जमा होने दें, पुराने बर्तनों में पानी न जमा होने दें

– घर के बाहर सड़क पर अगर पानी जमा हो रहा है या बरसात का पानी इकट्ठा है तो वहां पर मच्छर पनप सकते हैं

-इससे ये बीमारियां हो सकती हैं

देश में चिकनगुनिया के केस बढ़ रहे हैं, डर भी बढ़ रहा है लेकिन आपको क्या करना है, बहुत ही बेसिक सी चीज़ें जो आपने बचपन से कितनी बार सुनी हैं. उनका पालन करिए. इस बीमारी से बचे रहेंगे.


वीडियो

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

क्राइम

बिहार के स्कूल में लड़कों को बांट दिए गए सैनिटरी पैड्स!

बिहार के स्कूल में लड़कों को बांट दिए गए सैनिटरी पैड्स!

हेडमास्टर बदले, तब सामने आया घोटाला.

शादी की वेबसाइट्स से 40 औरतों को ठग लिया, आप ये गलतियां बिल्कुल न करें

शादी की वेबसाइट्स से 40 औरतों को ठग लिया, आप ये गलतियां बिल्कुल न करें

शादी की हड़बड़ी आपको बहुत-बहुत भारी पड़ सकती है.

तीन महीने की प्रेग्नेंट फॉरेस्ट ऑफिसर के बाल खींचे, चप्पलों से पीटा

तीन महीने की प्रेग्नेंट फॉरेस्ट ऑफिसर के बाल खींचे, चप्पलों से पीटा

घटना का वीडियो वायरल है.

अर्चना गौतम अगर जीतीं तो चौराहे पर गर्दन कटा देंगे, हिंदू महासभा के प्रवक्ता का ऐलान

अर्चना गौतम अगर जीतीं तो चौराहे पर गर्दन कटा देंगे, हिंदू महासभा के प्रवक्ता का ऐलान

हिंदू महासभा के प्रवक्ता ने कांग्रेस प्रत्याशी अर्चना गौतम को हिंदू संस्कृति विरोधी बताया है.

केरल का चर्चित नन रेप केस, जिसमें आरोपी बिशप को बरी कर दिया गया है

केरल का चर्चित नन रेप केस, जिसमें आरोपी बिशप को बरी कर दिया गया है

2018 में सामने आया था मामला, पीड़ित नन ने पोप को भी लिखी थी चिट्ठी.

मॉडलिंग ऑफर के बहाने लड़कियों का सेक्सटॉर्शन करने के आरोप में कॉलेज स्टूडेंट गिरफ्तार

मॉडलिंग ऑफर के बहाने लड़कियों का सेक्सटॉर्शन करने के आरोप में कॉलेज स्टूडेंट गिरफ्तार

इंस्टाग्राम से की थी सेक्सटॉर्शन की शुरुआत.

छत्तीसगढ़ः मां पर बेटे का जबरन धर्म परिवर्तन कराने का आरोप लगा है

छत्तीसगढ़ः मां पर बेटे का जबरन धर्म परिवर्तन कराने का आरोप लगा है

इंटरफेथ शादियों में कैसे तय होता है बच्चे का धर्म?

राजस्थान: नाबालिग से गैंगरेप, प्राइवेट पार्ट में नुकीली चीज से कई वार किए

राजस्थान: नाबालिग से गैंगरेप, प्राइवेट पार्ट में नुकीली चीज से कई वार किए

बोल और सुन नहीं सकती है पीड़िता. दिमागी हालत भी ठीक नहीं है.

अपहरण, यौन शोषण, विक्टिम शेमिंगः पांच साल में एक्ट्रेस भावना मेनन के साथ क्या-क्या हुआ

अपहरण, यौन शोषण, विक्टिम शेमिंगः पांच साल में एक्ट्रेस भावना मेनन के साथ क्या-क्या हुआ

एक्टर दिलीप के खिलाफ 9 जनवरी को केस दर्ज हुआ है. उन पर केस की जांच कर रहे अधिकारियों के खिलाफ साजिश करने का आरोप है.

जेंडर का सबूत देखने के लिए त्रिपुरा पुलिस ने चार LGBT सदस्यों के कपड़े उतरवाए

जेंडर का सबूत देखने के लिए त्रिपुरा पुलिस ने चार LGBT सदस्यों के कपड़े उतरवाए

विक्टिम्स का आरोप- पुलिस ने भारी ठंड में आधे कपड़ों में रखा, ज़मीन पर बैठाया.