Submit your post

Follow Us

अब तक अपेंडिक्स को बेकार समझने वालों को झटका लगने वाला है!

(यहां बताई गई बातें, इलाज के तरीके और खुराक की जो भी सलाह दी जाती है, वो विशेषज्ञों के अनुभव पर आधारित है. किसी भी सलाह को अमल में लाने से पहले अपने डॉक्टर से ज़रूर पूछ लें. लल्लनटॉप आपको अपने आप दवाइयां लेने की सलाह नहीं देता.)

हमें सेहत पर लगातार मेल आ रहा था प्रकाश का. उनकी शिकायत थी कि हम सेहत में कोविड पर बात कर रहे हैं, किसी और बीमारी के बारे में नहीं. प्रकाश ने हमें कई मेल्स किए हैं. उन्होंने बताया उन्हें अपेन्डिसाइटिस की तकलीफ़ है. जिससे वो काफ़ी परेशान है. इसके बारे में और जानकारी चाहते हैं. तो हमने सोचा कोविड पर तो हम आपको जानकारी देते ही रहेंगे पर साथ में प्रकाश जी की तकलीफ़ भी हल करनी चाहिए. अपेन्डिसाइटिस यानी अपेंडिक्स में आने वाली सूजन. हिंदुस्तान में पेट की इमरजेंसी मेडिकल प्रॉब्लम से जुड़ी ये आम दिक्कत है. इसका दर्द ज़बरदस्त उठता है. तो हमने बात की अपेन्डिसाइटिस के बारे में एक्सपर्ट्स से. जानते हैं ये क्या होता है. क्यों होता, इसका इलाज क्या है.

क्या होता है अपेन्डिसाइटिस?

ये हमें बताया डॉक्टर हर्षल ने.

डॉक्टर हर्षल छोटकर, जेनरल सर्एजन, सएमबीटी मेडिकल कॉलेज, नासिक
डॉक्टर हर्षल छोटकर, जेनरल सर्एजन, सएमबीटी मेडिकल कॉलेज, नासिक

अपेंडिक्स हमारी अंतड़ियों का एक हिस्सा है, पहले ऐसा माना जाता था कि इसका कोई यूज़ नहीं है. पर अब रिसर्च से पता चला है कि हमारी अंतड़ियों के इम्यून सिस्टम को बनाकर रखने के लिए अपेंडिक्स ज़रूरी है. अपेंडिक्स का पूरा नाम वेर्मीफॉर्म अपेंडिक्स है. इसे ये इसलिए कहा जाता है क्योंकि ये केंचुए की तरह एक अंग है. इसका एक मुंह ब्लॉक रहता है और एक मुंह बड़ी आंत के पहले वाले हिस्से से जुड़ा रहता है. जब इस अपेंडिक्स में सूजन आती है तो इसे कहते हैं अपेन्डिसाइटिस.

क्यों होता है Appendicitis?

इसके पीछे कई थ्योरी हैं. पहली. जो लोग लो फाइबर डाइट और हाई कार्बोहायड्रेट डाइट ज़्यादा लेते हैं उनमें ये ज़्यादा देखा जाता है. दूसरी वजह. वायरल इन्फेक्शन. एंटीबायोटिक का ग़लत इस्तेमाल. अगर अपेंडिक्स में कुछ ब्लॉक हो जाए जैसे मल से बना कोई स्टोन तो उसमें सूजन आनी शुरू हो जाती है. कभी-कभी सूजन इतनी ज़्यादा होती है कि वहां पर काफ़ी प्रेशर पड़ता है. दर्द होने लगता है. सही वक्त पर इलाज नहीं मिलने पर अपेंडिक्स फूट भी सकता है.

Surgery for Appendicitis? Antibiotics Alone May Be Enough
अपेंडिक्स यानी हमारी अंतड़ियों का एक हिस्सा है

अगर ज़्यादा समय तक इसपर ध्यान न दिया जाए तो आसपास की आंतें जैसे छोटी आंत और बड़ी आंत मिलाकर वहां पर एक गुच्छा बन जाता है. जिसे कहा जाता है अपेंडीक्यूलर लंप. इस कंडीशन पर ध्यान देना ज़रूरी है. इसका पता लगाने के लिए डॉक्टर पेट के उस हिस्से को छूकर भी देखते हैं. वहां दर्द होता है. कई सारे टेस्ट भी किए जाते हैं.

अपेन्डिसाइटिस का पता लगाना जितना आसान लगता है, उतना आसान है नहीं. इसकी अबनॉर्मल पोजीशन की वजह से साइलेंट अपेन्डिसाइटिस या किसी और जगह पर अपेन्डिसाइटिस हो सकता है. इसलिए पता लगाने के लिए इन्वेस्टीगेशन की मदद लेनी पड़ती है. इन्वेस्टीगेशन यानी ब्लड इन्वेस्टीगेशन. अपेंडिसाइटिस होने पर व्हाइट ब्लड काउंट ज़्यादा आता है.

फिर अल्ट्रासाउंड किया जाता है. अल्ट्रासाउंड में पता चलता है कि अपेन्डिसाइटिस है या नहीं. है तो कहां है. अगर उसमें छेद हुआ है तो वो भी पता चल जाता है. ब्लॉकेज है या लंप बन रहा है तो वो भी पता चल जाता है. जब अल्ट्रासाउंड से डायग्नोसिस में कुछ दिक्कत आती है तो हायर इन्वेस्टीगेशन करनी पड़ती है जैसे सीटी स्कैन एब्डोमेन. जब एक बार पता चल जाता है तब इसकी ग्रेडिंग की जाती है. इसके बाद फ़ैसला लिया जाता है कि इसका इलाज कैसे किया जाए. दवाइयों से या ऑपरेशन

 

Appendicitis: Symptoms and Causes - HealthXchange
अल्ट्रासाउंड में पता चलता है कि अपेन्डिसाइटिस है या नहीं

इलाज

-पहले पेशेंट को लक्षण के हिसाब से इलाज दिया जाता है

-एंटीबायोटिक दिए जाते हैं, पेनकिलर दिए जाते हैं और बुखार के लिए दवाइयां दी जाती हैं

-जब सर्जरी का प्लान किया जाता है तो पेशेंट को दो उपाय दिए जाते हैं. पहला. दूरबीन द्वारा अपेंडिक्स को छोटे-छोटे गड्ढों से निकाल लेते हैं. इसमें रिकवरी बहुत जल्दी होती है

-दूसरा है ओपन टेक्नीक, इसमें तीन से चार सेंटीमीटर का चीरा लगाया जाता है और अपेंडिक्स को निकाल लिया जाता है

डरने की ज़रूरत नहीं हैअगर कोविड के दौरान मरीज का पेट ज़्यादा फूल गया है, स्टूल पास नहीं हो रहा, लगातार फ़ीवर है, पेट दर्द कम नहीं हो रहा तो ज़रूरी है कि तुरंत सीटी एंजियोग्राफी की जाए. लक्षणों पर नज़र बनाकर रखें.


वीडियो

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

क्राइम

10-12 साल के छह लड़कों पर बच्ची के गैंगरेप और उसका वीडियो बनाने का आरोप लगा है

10-12 साल के छह लड़कों पर बच्ची के गैंगरेप और उसका वीडियो बनाने का आरोप लगा है

सातवां आरोपी 18 साल का है, वो भी धर लिया गया है.

शख्स ने कहा- मैं सेक्स के लिए हॉट संघियों को खोजता हूं; बवाल हो गया

शख्स ने कहा- मैं सेक्स के लिए हॉट संघियों को खोजता हूं; बवाल हो गया

इस पूरे बवाल में कुशा कपिला का नाम क्यों आया और उन्होंने क्या सफाई दी?

BJP नेता की दो दिन से लापता बेटी की लाश जंगल में मिली, परिवार को गैंगरेप का शक

BJP नेता की दो दिन से लापता बेटी की लाश जंगल में मिली, परिवार को गैंगरेप का शक

लाश की एक आंख भी बाहर निकली थी. मौके से एक लड़के का मोबाइल फोन मिला है.

ऑपरेशन थिएटर में 'गैंगरेप' मामले में विक्टिम की मौत, परिवार ने हत्या का आरोप लगाया

ऑपरेशन थिएटर में 'गैंगरेप' मामले में विक्टिम की मौत, परिवार ने हत्या का आरोप लगाया

अस्पताल प्रशासन को बिना जांच क्लीट चिट दे चुकी पुलिस ने पीड़िता की मौत के बाद दर्ज की FIR. अस्पताल के बाहर विरोध प्रदर्शन.

मैट्रिमोनियल साइट की मदद से 12 लड़कियों का रेप करने वाला धरा गया है, आप ये सावधानियां ज़रूर बरतें

मैट्रिमोनियल साइट की मदद से 12 लड़कियों का रेप करने वाला धरा गया है, आप ये सावधानियां ज़रूर बरतें

कितना गहरा है मैट्रिमोनियल साइट फ्रॉड का यह जाल? कैसे खुद को बचाएं?

छत्तीसगढ़: जवानों पर आरोप, आदिवासी युवती को किडनैप कर रेप किया, स्तन काटे, फिर गोली मार दी

छत्तीसगढ़: जवानों पर आरोप, आदिवासी युवती को किडनैप कर रेप किया, स्तन काटे, फिर गोली मार दी

पुलिस ने कहा- युवती दो लाख रुपये की ईनामी नक्सली थी. एनकाउंटर में हुई मौत.

महिला का आरोप, दूसरा पति पहले पति से हुए बच्चों का जबरन खतना करवाना चाहता है

महिला का आरोप, दूसरा पति पहले पति से हुए बच्चों का जबरन खतना करवाना चाहता है

पुलिस ने केस दर्ज कर आरोपी को अरेस्ट किया.

झारखंड: दबंगों ने 19 साल की लड़की को दीवार में चुनवा दिया, समय रहते पुलिस ने बचाया

झारखंड: दबंगों ने 19 साल की लड़की को दीवार में चुनवा दिया, समय रहते पुलिस ने बचाया

एक महिला अरेस्ट पांच फरार आरोपियों की तलाश जारी.

यूपी: ऑनलाइन मीटिंग के दौरान दलित महिला प्रधान को कुर्सी से नीचे बैठने को कहा!

यूपी: ऑनलाइन मीटिंग के दौरान दलित महिला प्रधान को कुर्सी से नीचे बैठने को कहा!

दबंगों ने जाति सूचक शब्द कहे, पुलिस ने दर्ज किया केस, एक आरोपी गिरफ्तार.

बीमार महिला पर भूत का साया बताकर तांत्रिक गर्म चिमटे पीटता रहा, ससुराल वाले देखते रहे

बीमार महिला पर भूत का साया बताकर तांत्रिक गर्म चिमटे पीटता रहा, ससुराल वाले देखते रहे

घायल हालत में पीड़िता अस्पताल में भर्ती. पति गिरफ्तार, तांत्रिक फरार.