Submit your post

Follow Us

सच में साड़ी वाली महिलाओं को एंट्री नहीं देता दिल्ली का ये रेस्त्रां?

दिल्ली के अंसल प्लाज़ा में एक रेस्त्रां है. अक्विला नाम का. आरोप है कि इस रेस्त्रां में एक महिला को सिर्फ इसलिए एंट्री नहीं मिली क्योंकि उन्होंने साड़ी पहनी थी. ट्विटर पर 16 सेकंड का एक वीडियो खूब वायरल है. इस वीडियो में एक महिला रेस्त्रां के कर्मचारियों से कह रही है कि वो डॉक्यूमेंट दिखाइए जहां लिखा है कि साड़ी पहनकर रेस्त्रां में नहीं आ सकते. जिसके जवाब में रेस्त्रां की महिला कर्मचारी ने कहा,

“हम केवल स्मार्ट कैजुअल पहनकर आने की अनुमति देते हैं. और साड़ी स्मार्ट कैजुअल के अंतर्गत नहीं आती.”

# क्या है पूरा मामला?

इस वायरल वीडियो को अनीता चौधरी नाम की महिला ने पोस्ट किया है. हमने इस पूरे घटनाक्रम की जानकारी के लिए उनसे संपर्क किया.  उन्होंने बताया कि यह वाकया 19 सितंबर का है. जब वो अपनी बेटी का जन्मदिन मनाने के लिए अक्विला रेस्त्रां गई थीं. वो वहां साड़ी पहनकर गई थीं. उनके साथ उनके पति भी थे, जिन्होंने पैंट-शर्ट पहना था और बेटी ने वेस्टर्न ड्रेस पहनी थी. 

अनीता का कहना है,

“हमने पहले से बुकिंग करवा रखी थी. जैसे ही हम रेस्त्रां पहुंचे तो हमें घूरकर देखा गया. फिर मेरी बेटी को किनारे ले जाकर स्टाफ ने कहा कि वो हमें अंदर नहीं जाने दे सकते, क्योंकि मैंने साड़ी पहन रखी थी और साड़ी को वो कैजुअल आउटफिट में कंसीडर नहीं करते.  मेरी बेटी एकदम रुआंसी हो गई थी क्योंकि मेरे लिए वो साड़ी उसी ने पसंद की थी.”

 अनीता ने बताया कि रेस्त्रां स्टाफ ने उनसे दो बातें कहीं-

 1. प्रवेश देने का अधिकार रेस्त्रां के पास है (Right to admission is reserve with us.)

2. हम केवल स्मार्ट आउटफिट की अनुमति देते हैं (We only allow smart outfits.)

अनीता ने कहा कि उसमें कहीं भी साड़ी का ज़िक्र नहीं था. उन्होंने रूलबुक दिखाने को कहा क्योंकि रेस्त्रां में कोई भी बोर्ड नहीं लगा था. जिसमें लिखा हो कि साड़ी पहनकर नहीं आ सकते. ना ही वेबसाइट में ऐसा कुछ मेंशन था. वो ये भी सवाल करती हैं कि ‘स्मार्ट आउटफिट’ क्या है? इसकी डेफिनेशन क्या है? और रेस्त्रां स्टाफ जो ‘Right to admission’ की बात कर रहा था, वो तो उन्हें रोकने के लिए होता है जो हंगामा कर रहे हों या अनसोशल एलिमेंट हों?

अनीता ने कहा कि इतनी बातचीत के बाद काफी गहमागहमी हो गई थी. स्टाफ भी बहुत ऊंची आवाज़ में बात कर रहा था और हमारी भी आवाज़ ऊंची हो गई थी. उनकी तरफ से बार- बार यही कहा जा रहा था ‘saree is not allowed’. मैंने उसे ही रिकॉर्ड किया और सोशल मीडिया पर पोस्ट कर दिया. मेरा यही सवाल है कि आखिर स्मार्ट आउटफिट है क्या ?

# सोशल मीडिया पर क्या तैर रहा?

 अनीता के वीडियो पोस्ट करते ही सोशल मीडिया पर रिएक्शंस की बाढ़ आ गई. लोग Zomato पर रेस्त्रां की खराब रेटिंग कर रहे हैं. 

एक यूजर ने लिखा,

“अंग्रेज़ 70 साल पहले इस देश से चले गए लेकिन हम आज तक उस मानसिकता से नहीं निकल पाए. इन मूर्खों के लिए भारत का सबसे सुंदर परिधान स्मार्ट नहीं है “

एक और यूजर ने लिखा,

“भले ही रेस्त्रां के पास प्रवेश देने का अधिकार हो पर वो किसी को साड़ी पहनने से नहीं रोक सकते.  इस बार का लाइसेंस कैंसल होना चाहिए”

वैशाली नाम की एक यूजर ने लिखा,

“जो लोग मानते हैं कि खाना खाने के लिए ‘साड़ी एक स्मार्ट ड्रेस नहीं है’ वो इस मानसिक गुलामी से तभी आज़ादी पा सकते हैं, जब उन्हें इस बारे में पता हो”

वैशाली नाम की एक यूजर ने लिखा,

“जो लोग मानते हैं कि खाना खाने के लिए ‘साड़ी एक स्मार्ट ड्रेस नहीं है’ वो इस मानसिक गुलामी से तभी आज़ादी पा सकते हैं, जब उन्हें इस बारे में पता हो”

 

इस बारे में रेस्त्रां का पक्ष जानने के लिए हमने उन्हें कॉल मिलाया. रेस्त्रां के स्टाफ सिद्धार्थ ने अलग ही कहानी बताई. उनका कहना है,

“उस दिन एक इवेंट के लिए रेस्त्रां बुक था. इसलिए उन्हें रोका गया. उन्होंने फिर भी धक्कामुक्की की और ज़बरदस्ती अंदर आ गईं.”

हमने उनसे फिर सवाल किया कि जो वीडियो वायरल है उसमें स्टाफ कह रहा है कि साड़ी एक स्मार्ट आउटफिट नहीं है, इसलिए उन्हें अंदर जाने नहीं दिया जायेगा. इसपर उनका कहना था,

“वो वीडियो धक्कामुक्की के बाद का है. उन्होंने (अनीता) स्टाफ को थप्पड़ मारा था. हम हमेशा साड़ी अलाऊ करते हैं और कई लोग हमारे यहां साड़ी पहनकर आते हैं.”

इसके बाद अक्विला ने इंस्टाग्राम पर दो वीडियो पोस्ट किए. इन वीडियोज के जरिए उन्होंने ये बताने की कोशिश की कि उनके यहां महिलाओं को साड़ी पहनकर आने की अनुमति दी जाती है. अक्विला के अपलोड किए वीडियो में साड़ी पहने महिलाएं भी रेस्त्रां में जाती हुई नज़र आती हैं. वो वीडियो आप यहां देख सकते हैं. 


View this post on Instagram

A post shared by AQUILA (@aquila.delhi)


इसके अलावा एक अन्य सीसीटीवी फुटेज भी अक्विला की ओर से आया, जिसके बारे में उन्होंने दावा किया और फोन हुई हमारी बातचीत में भी ये बताया कि पहले महिला ने स्टाफ को थप्पड़ मारा. जारी किए चार सेकेंड के वीडियो में अनीता, स्टाफ (जैसा कि अक्विला की ओर से बताया गया) के मुंह की ओर हाथ बढ़ाती हुई नज़र आ रही हैं. अक्विला का कहना है कि यहां पर अनीता ने स्टाफ को थप्पड़ मारा था. जिसके बाद उन्हें रोकने के लिए, अक्विला स्टाफ की ओर से साड़ी वाली बात कही गई.

इस मामले में अभी तक कुल जमा तीन वीडियो आए हैं. जिनमें कई बातें नज़र आती हैं और कई चीजें स्पष्ट नहीं हैं. किसी भी वीडियो में किए गए दावे या आरोप की पुष्टि हम नहीं करते.


तापसी पन्नू की ये बात हर फीमेल बॉडीबिल्डर को हमेशा याद रखनी चाहिए!

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

क्राइम

दिल्ली कैंट रेप केस: आरोपी 9 साल की बच्ची को जबरन पॉर्न दिखाता था, उससे मसाज करवाता था

दिल्ली कैंट रेप केस: आरोपी 9 साल की बच्ची को जबरन पॉर्न दिखाता था, उससे मसाज करवाता था

पुलिस का मानना है कि मौत करंट लगने से हुई ही नहीं.

बेटी को आत्मा से बचाने के नाम पर मां ने रेप के लिए तांत्रिक के हवाले कर दिया!

बेटी को आत्मा से बचाने के नाम पर मां ने रेप के लिए तांत्रिक के हवाले कर दिया!

घटना महाराष्ट्र के ठाणे की है, विक्टिम नाबालिग है.

इंदौरः पब में हो रहा था फैशन शो, संस्कृति बचाने के नाम पर उत्पातियों ने तोड़-फोड़ कर दी

इंदौरः पब में हो रहा था फैशन शो, संस्कृति बचाने के नाम पर उत्पातियों ने तोड़-फोड़ कर दी

पुलिस ने आयोजकों को ही गिरफ्तार कर लिया. उत्पाती बोले- फैशन शो में हिंदू लड़कियों को कम कपड़े पहनाकर अश्लीलता फैलाई जा रही थी.

फिरोजाबाद का कपल, दिल्ली से अगवा किया, एक शव MP में तो दूसरा राजस्थान में मिला

फिरोजाबाद का कपल, दिल्ली से अगवा किया, एक शव MP में तो दूसरा राजस्थान में मिला

लड़की के पिता और चाचा अब जेल की सलाखों के पीछे हैं.

औरतों के खिलाफ होने वाले अपराधों के कम होते आंकड़ों के पीछे का झोल

औरतों के खिलाफ होने वाले अपराधों के कम होते आंकड़ों के पीछे का झोल

NCRB ने पिछले साल देश में हुए अपराधों की बहुत बड़ी रिपोर्ट जारी की है.

जिस रेप आरोपी का एनकाउंटर करने की बात मंत्री जी कह रहे थे, उसकी लाश मिली है

जिस रेप आरोपी का एनकाउंटर करने की बात मंत्री जी कह रहे थे, उसकी लाश मिली है

हैदराबाद में छह साल की बच्ची के रेप और मर्डर का मामला.

यूपी: गैंगरेप का आरोपी दरोगा डेढ़ साल से फरार, इंस्पेक्टर बनने की ट्रेनिंग लेते हुआ गिरफ्तार

यूपी: गैंगरेप का आरोपी दरोगा डेढ़ साल से फरार, इंस्पेक्टर बनने की ट्रेनिंग लेते हुआ गिरफ्तार

2020 में महिला ने वाराणसी पुलिस के दरोगा समेत चार लोगों के खिलाफ केस दर्ज कराया था.

खो-खो प्लेयर की हत्या करने वाले का कुबूलनामा-

खो-खो प्लेयर की हत्या करने वाले का कुबूलनामा- "उसे देख मेरी नीयत बिगड़ जाती थी"

बिजनौर पुलिस ने बताया कि आरोपी महिला प्लेयर का रेप करना चाहता था.

LJP सांसद प्रिंस राज के खिलाफ दर्ज रेप की FIR में चिराग पासवान का नाम क्यों आया?

LJP सांसद प्रिंस राज के खिलाफ दर्ज रेप की FIR में चिराग पासवान का नाम क्यों आया?

तीन महीने पहले हुई शिकायत पर अब दर्ज हुई FIR.

साकीनाका रेप केस: महिला को इंसाफ दिलाने के नाम पर राजनेताओं ने गंदगी की हद पार कर दी

साकीनाका रेप केस: महिला को इंसाफ दिलाने के नाम पर राजनेताओं ने गंदगी की हद पार कर दी

अपनी सरकार पर उंगली उठी तो यूपी के हाथरस रेप केस को ढाल बनाने लगी शिवसेना.