Submit your post

Follow Us

वायरल वीडियो में ये लड़की जो कह रही है वो सुन लेंगे तो दिमाग के परदे खुल जाएंगे

टिकटॉक पर एक लड़की के वीडियो बहुत वायरल हो रहे हैं. लड़की का नाम मुस्कान है. और moosejattana नाम से अकाउंट है. इस पर वो औरतों से जुड़े मुद्दों पर बात करती हैं, और स्टाइल ऐसा है कि लोग सुनना शुरू करते हैं तो रुक नहीं पाते.

ऑस्ट्रेलिया के मेलबर्न में रहने वाली मुस्कान का जो पहला वीडियो वायरल हुआ, उसमें वो बताती हैं कि किस तरह लड़की के कपड़ों की वजह से घूरने वाले लोग गलत हैं. और उन्हें रोका जाना चाहिए.

पहले आप वो वीडियो देख लीजिए.

@moosewali@oshjang what a stupid thing to encourage. I couldn’t even watch your video twice because I found it so disgusting. Shame on you.♬ original sound – moosewali

इस वीडियो में वो एक दूसरे वीडियो का रेफरेंस दे रही हैं. जिसने वो वीडियो बनाया, उसकी क्लास लगा रही हैं. ओरिजिनल वीडियो में ये था कि एक लड़का एक लड़की को घूर रहा था. लड़की ने अपने पास खड़े बुजुर्ग को कहा कि ये लड़का मुझे घूर रहा है इसे रोकिए. तो बुजुर्ग ने कहा कि तुमने कपड़े ही ऐसे पहन रखे हैं तो वो घूरेगा ही. लड़की ने कहा कि मेरे कपड़े तो मेरी चॉइस हैं. पर लड़के को रोकिए. तो बुजुर्ग ने कहा कि ऐसे कपड़े पहनना तुम्हारी मर्ज़ी है, तो घूरना उसकी मर्ज़ी है. मुस्कान ने इसी वीडियो का रेफरेंस देते हुए कहा,

अगर लड़की अपने पर्स से बन्दूक निकाल कर लड़के पर तान दे तो क्या उसे भी कहा जाएगा, कि तुम्हारी चॉइस है तो तुम्हारी मर्जी? नहीं न.अपनी चॉइस और अपनी मर्ज़ी तभी तक चल सकते हैं जब तक वो किसी और को नुकसान ना पहुंचाएं.

अपने एक और वीडियो में मुस्कान समझाती हैं कि किस तरह लड़कियों को बदलने और उनको सुरक्षित करने पर जोर देने के बजाय लड़कों को सुधारना ज्यादा ज़रूरी है. 

Moosewali 2
मुस्कान का ये वीडियो सोशल मीडिया पर काफी वायरल हुआ था. चोर के नाम से. (तस्वीर: टिकटॉक वीडियो से स्क्रीनशॉट)

वो कहती हैं कि जिस तरह बार बार चोरी होने पर ताले लगाने के बजाय चोर को पकड़ना ज्यादा ज़रूरी है, वैसे ही लड़कियों के साथ बार बार अगर बदतमीज़ी हो, तो लड़कों को सुधारना जरूरी है. ऐसे ही एक और वीडियो में मुस्कान उन लड़कियों से सवाल करती हैं जो दूसरी लड़कियों को नीचा दिखने की कोशिश करती हैं.  

@moosewali Make good content yourself, rather than putting others down and people will like you! Not based on your clothes. You are going backwards and it’s sad ♬ original sound – moosewali

इस वीडियो में मुस्कान कह रही हैं कि उन्हें समझ नहीं आता जब लड़कियां कहती हैं,

मैंने तो सिर पे दुपट्टा रखा, लेकिन मुझे लाइक्स नहीं मिलते. उस लड़की ने कटे-फटे कपड़े  पहन लिए तो उसे लाइक्स मिल जाते हैं. 

ऐसी बातें करने वाली लड़कियों के लिए मुस्कान कहती हैं कि लड़कियों को अपनी मर्ज़ी का काम करने में इतना समय लग गया. और आप उनके सारे एफर्ट्स मिट्टी में मिला रहे हो. अगर आपको लाइक्स चाहिए, तो अच्छा कॉन्टेंट बनाओ. किसी को नीचा दिखा कर क्या मिलेगा.

मुस्कान बताती हैं कि वो आगे चलकर डायरेक्टर बनना चाहती हैं, कहानी, अंधाधुन, थप्पड़ जैसी फिल्में बनाना चाहती हैं. एक NGO की शुरुआत करना चाहती हैं. लोगों की मदद करना चाहती हैं. फिलहाल इनके वायरल वीडियोज़ की तारीफ हर जगह हो रही है.


वीडियो: अपनी बेटी के लिए टिकटॉक डाउनलोड किया, आज लाखों में हैं इनके फॉलोवर्स

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

क्राइम

गुरुग्राम: मणिपुरी लड़की का आरोप- लोगों ने मारा-पीटा और कहा- समझ नहीं आता, यहां क्यों आती हो

लड़की के खिलाफ भी मामला दर्ज.

बच्ची ने दुकान खोलने से मना किया तो AIADMK के दो नेताओं ने उसे ज़िंदा जला दिया

लड़की के पिता के साथ पुरानी दुश्मनी थी, बदला ले लिया.

दिल्ली: ऑटो ड्राइवर ने पहले गर्भवती पत्नी की हत्या की, फिर पुलिस को बता दी पूरी कहानी

खुद ही सरेंडर करने भी पहुंच गया.

21 साल की नन की लाश कुएं में मिली, दूसरी नन ने लिखा- और कितनी लाशें चाहिए आंखें खोलने के लिए?

पुलिस का एक ही जवाब- जांच चल रही है.

'बॉयज़ लॉकर रूम' में नहीं हुई थी गैंगरेप प्लानिंग, लड़की ने लड़के की फेक ID बनाकर ये बात की थी

मार्च के महीने में हुई थी ये बातचीत.

80 साल के बुजुर्ग पर 22 साल की लड़की के रेप का आरोप

मामला अप्रैल का है, पीड़िता ने 8 मई को केस दर्ज कराया.

अस्पताल के कर्मचारियों पर आरोप- डिलीवरी के बाद महिला का यौन शोषण किया

दूध की टेस्टिंग के लिए महिला को सैंपल देना था.

बॉयज़ लॉकर रूम: विक्टिम ने बताया, लड़कों के घरवाले शिकायत वापस लेने को कह रहे हैं

इंस्टाग्राम के इस ग्रुप के चैट वायरल होने के बाद छानबीन शुरू.

अफेयर का शक था, इसलिए पुलिसवाले ने कॉन्स्टेबल पत्नी को गोली से उड़ा दिया

अगले दिन कुछ ऐसा हुआ, जिसकी कल्पना किसी ने नहीं की थी.

जामिया की सफ़ूरा के अजन्मे बच्चे को 'नाजायज़' कहने वालों की अब खैर नहीं!

दिल्ली महिला आयोग ने पुलिस के सामने तीन मांगें रखी हैं.