Submit your post

Follow Us

उत्तराखंड के नए सीएम की औरतों की फटी जीन्स में इतनी दिलचस्पी क्यों है?

तीरथ सिंह रावत. उत्तराखंड के नए नवेले सीएम हैं. अब औरतों के कपड़ों को लेकर बयान दिया है. कहा है कि औरतों को फटी हुई जीन्स में देखकर हैरानी होती है. उनके मन में ये सवाल उठता है कि इससे समाज में क्या संदेश जाएगा. ‘इंडिया टुडे’ के पत्रकार दिलीप सिंह राठौड़ की रिपोर्ट के मुताबिक, देहरादून में दो दिन की एक वर्कशॉप हो रही है. इसे बाल अधिकार संरक्षण आयोग ने ऑर्गनाइज़ किया है. वर्कशॉप का टॉपिक है- ‘बच्चों में बढ़ती नशे की प्रवृत्ति, रोकथाम और पुनर्वास’. 16 मार्च को इसके उद्घाटन के मौके पर तीरथ सिंह रावत बतौर चीफ गेस्ट यहां पहुंचे. यहां पर बच्चों को क्या सिखाना चाहिए, इसे लेकर काफी कुछ कहा. और कहते-कहते महिलाओं के कपड़ों पर कमेंट कर बैठे.

क्या कहा CM Tirath Singh Rawatने?

सीएम ने कहा कि युवाओं में नशे की प्रवृत्ति बढ़ती जा रही है. और अगर बच्चों को इससे बचाना होगा, तो उन्हें संस्कार देने होंगे, वेस्टर्न कल्चर के प्रभाव से बचाना होगा. सीएम ने कहा-

“पश्चिमी देश भारतीय संस्कृति की महानता को समझ चुके हैं. इसलिए अब वो हमारी संस्कृति का पालन कर रहे हैं. योग कर रहे हैं. लेकिन चिंता की बात ये है कि हमारे देश के युवा पश्चिमी संस्कृति से प्रभावित होते जा रहे हैं. नग्न घुटने दिखाए जा रहे हैं, फटे डेनिम पहने जा रहे हैं, ये सारे संस्कार आजकल दिए जा रहे हैं. ये सब कहां से आ रहा है? अगर घर से नहीं आ रहा, तो क्या स्कूल और टीचर्स की गलती है?”

इसके आगे सीएम ने औरतों के कपड़ों पर बात की. कहा-

“मैं जयपुर में एक कार्यक्रम में था. अगले दिन करवाचौथ था. और जब मैं जहाज में बैठा, तो मेरे बगल में एक बहनजी बैठी थीं. मैंने जब उनकी तरफ देखा तो नीचे गमबूट थे. जब और ऊपर देखा तो घुटने फटे थे. हाथ देखे तो कई कड़े थे. उनके साथ में दो बच्चे भी थे. मैंने कहा- बहनजी कहां जाना है? कहा-दिल्ली जाना है. पति कहां हैं? JNU में प्रोफेसर हैं. तुम क्या करती हो? मैं एक NGO चलाती हूं. NGO चलाती हैं, घुटने फटे दिखते हैं, समाज के बीच में जाती हो, बच्चे साथ में हैं, क्या संस्कार हैं ये?”

इसके अलावा सीएम तीरथ ने ये भी कहा कि बच्चों को संस्कार देने की ज़िम्मेदारी पैरेंट्स की है. बच्चों को अगर गलत दिशा में जाने से रोकना है, तो उनकी एक्टिविटीज़ में बराबर नज़र बनाए रखने की ज़रूरत है. आगे कहा कि नशा मुक्ति को लेकर जागरूकता अभियान चलाया जाना चाहिए. सिर्फ सरकारी कोशिश ही काफी नहीं है, इसके लिए सामाजिक संगठनों और समाज के लोगों को भी आगे आना होगा.

Hindi Mediun पर फोकस

TOI की रिपोर्ट के मुताबिक, तीरथ सिंह रावत ने अंग्रेज़ी मीडियम और हिंदी मीडियम को लेकर भी बात की. उन्होंने कहा-

“बच्चों को हिंदी मीडियम से पढ़ाना चाहिए. मैंने दिल्ली, यूपी और उत्तराखंड में देखा है कि बहुत सारे IAS अधिकारी, नौकरशाह ऐसे हैं, जिन्होंने हिंदी मीडियम से ही पढ़ाई की थी. यहां इंग्लिश मीडियम में पढ़ने की एक रेस हो रखी है. लेकिन अंग्रेज़ी मीडियम में पढ़ने वाले बच्चे को जब तक दो या तीन घंटे तक पढ़ाया न जाए, वो सब भूल जाएगा. अगर उन्हें LKG, UKG से ट्यूशन न दी जाए, तो वो कहीं नहीं पहुंच पाते. हिंदी मीडियम से पढ़िए. अच्छे संस्कार और अच्छा ज्ञान, दोनों मिलेगा.”

औरतों के कपड़ों को लेकर मुख्यमंत्री की बात सुनकर हमें लगा कि हम कई सासल पीछे चले गए हैं. एक राज्य का मुख्यमंत्री कपड़ों से एक महिला के संस्कार का आंकलन कर रहा है. महिला सशक्तिकरण को लेकर तमाम तरह के लेक्चर्स दिए जाते हैं, लेकिन शर्मनाक ये है कि आज भी लोग औरत के कपड़ों पर अटककर रह जाते हैं.


वीडियो देखें: सोशल लिस्ट: उत्तराखंड मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत पीएम मोदी को राम भगवान जैसा बताकर ट्रोल हो गए

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

क्राइम

दोस्त के साथ घूमने गई लड़की का नौ लोगों ने गैंगरेप किया, मुख्य आरोपी को बेल मिल गई

बाकी आरोपियों की बेल पर 18 मार्च को सुनवाई होगी.

रेप के दौरान बच्ची रोई तो आरोपी ने मारकर बोरे में भरकर फेंक दिया, सदमे में पिता ने सुसाइड कर लिया

बच्ची चार साल की थी.

गलत तरीके से छूने वाले को लड़की ने दौड़ाया, ऐसा हाल किया कि कभी भूलेगा नहीं

रेड लाइट पर लड़की का यौन शोषण कर भाग रहा था.

'सहनशक्ति टेस्ट' के नाम पर नर्सिंग इंस्टीट्यूट का निदेशक छात्राओं से छेड़छाड़ करता था!

शिकायत के बाद पुलिस ने आरोपी को अरेस्ट कर लिया है.

महिला IPS को मौत के लिए जिम्मेदार बताकर ट्रेन के आगे कूद गया युवक

ग़लत केस में फंसाने, प्रताड़ित करने का आरोप, पुलिस ने आरोपों को निराधार बताया.

दंतेवाड़ा की इस औरत ने ऐसा क्या किया था कि उसे 300 लोगों के बीच से घसीटकर ले गई पुलिस?

पुलिस का दावा- नक्सली गतिविधियों में शामिल थी हिड़मे मरकाम

महिला का आरोप: शिकायत लिखाने गई, पुलिसवाले ने कैद कर तीन दिन किया रेप

महिला के मुताबिक़ वो पति से परेशान होकर पुलिस के पास गई थी.

दुनिया छोड़ने से पहले आयशा ने पति को लिखा, 'मैं गलत नहीं थी, तुम्हारा स्वभाव गलत था'

वकील ने खत कोर्ट में दिखाया.

चंडीगढ़: छह साल की बच्ची की हत्या, 12 साल के लड़के को पुलिस ने हिरासत में लिया

पुलिस को बच्ची के साथ रेप की भी आशंका, रिपोर्ट का इंतजार

राजस्थान: दलित से प्यार करती थी लड़की, मां ने किडनैप कराया, बाप ने गला घोंटकर मारा

राजस्थान हाई कोर्ट ने लड़की और लड़के को प्रोटेक्शन देने का आदेश दिया था.