Submit your post

Follow Us

सुविधाओं के अभाव में संघर्ष कर रही नेशनल चैंपियन कैमरे के सामने रो पड़ी

485
शेयर्स

मुस्कान यादव. इलाहाबाद विश्वविद्यालय में बीएससी फर्स्ट ईयर की स्टूडेंट. घर के छह बच्चों में चौथे नंबर पर. सॉफ्ट टेनिस की बेहतरीन खिलाड़ी. सॉफ्ट टेनिस का खेल टेनिस जैसा ही होता है. लेकिन उसकी बॉल हल्की होती है, और रैकेट भी हल्के होते हैं. नरम बॉल में हवा भरी जाती है. अब मुस्कान को चीन जाना है. वहां प्रतियोगिता हो रही है. इंटरनेशनल स्तर की. लेकिन वहां जाने के लायक उनके पास पैसे नहीं. प्रतियोगिता है 16वीं वर्ल्ड सॉफ्ट टेनिस चैम्पियनशिप. ऑक्टोबर में होगी. एमेच्योर सॉफ्ट टेनिस फेडरेशन ऑफ इंडिया की ओर से स्टेट फेडरेशन को भारतीय टीम में चयनित सदस्यों के नाम भेज दिए गए. जितने भी लोग सेलेक्ट हुए उनके  रहने, खाने-पीने, वीजा आदि के लिए एक लाख 20 हजार रुपये जमा करने को कहा गया.

मुस्कान के पापा की चाय नाश्ते की दुकान है. उनका परिवार मुस्कान के चीन जाने की कीमत नहीं अदा कर सकता. मुस्कान अपने विश्विद्यालय के पास गईं. लेकिन विवि ने कथित रूप से बजट का बहाना बना दिया.

इसके बाद सोशल मीडिया पर वीडियो डाला गया. संयुक्त संघर्ष समिति नाम की एक संस्था ने मुस्कान की बात सोशल मीडिया तक पहुंचाई. इस वीडियो में मुस्कान बता रही हैं कि किस तरह उन्होंने जूनियर लेवल की खिलाड़ी होने के बावजूद सीनियर लेवल की खिलाडियों को बीट किया है पहले. लेकिन लोग नहीं चाहते कि इस कॉम्पटीशन में वो जाएं. उन्होंने कहा कि उन्होंने अभी तक जितने भी खेलों में भाग लिया, सबमें अपने पैसों पर ही गईं. रोते-रोते मुस्कान ने बताया कि उनकी मां को अपने गहने तक बेचने पड़ गए. अब उनके पास कोई उपाय नहीं बचा, इसलिए विश्वविद्यालय के पास आना पड़ा.

इसके बाद सोशल मीडिया पर उनके लिए क्राउडफंडिंग की अपील हुई. पैसे जमा कराने की डेडलाइन थी 20 सितंबर की. अब उनके लिए पैसे इकट्ठे हो गए हैं. मुस्कान इस बार चीन जा पाएंगी. लेकिन मुस्कान जैसी न जाने कितनी खिलाड़ी हैं जो एक्सपोजर न मिल पाने, सही समय पर सपोर्ट न मिल पाने की वजह से उभर कर सामने नहीं आ पातीं. मुस्कान को सोशल मीडिया का सहारा मिल गया. उन्हें वो भी नहीं मिलता. न जाने कितने मेडल इसी तरह खो जाते हैं, क्योंकि किसी मुस्कान की मां के पास बेचने को गहने भी नहीं होते.


वीडियो: जॉब सर्च करने में भी मदद के लिए आ रहा है गूगल

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

क्राइम

औरत की हत्या कर उसके शव के साथ रेप किया, कथित रेपिस्ट बोल-सुन नहीं सकता

औरत के ही कपड़ों से उसका गला घोंटा.

डिलीवरी बॉय पर रेप की कोशिश का आरोप लगाया था, अब केस वापस लेना चाहती है

पुलिस ने पूछताछ के लिए महिला से संपर्क किया तो केस वापस लेने का प्रोसेस पूछने लगी.

एक्ट्रेस बनने के लिए रूस से मुंबई आई, पुलिसवाले ने मदद के नाम पर कई बार रेप किया

उसके सपनों के साथ उसकी आत्मा को चोटिल किया.

औरत को बांधकर आंख में एसिड डाला, फिर 11 साल के बेटे से जबरन रेप करवाया

दोनों के हाथ-पैर बांधकर उनका मुंडन भी कर दिया.

महिला का दावा, 'डिलीवरी बॉय ने मुझे सम्मोहित किया, आंख खुली तो रेप की कोशिश कर रहा था'

महिला के मुताबिक़ वो बेहोशी से जागी तो लड़का पैंट उतार रहा था.

पति से दूर मायके में रह रही थी, तीन लड़कों ने घर में घुसकर परिवार के सामने रेप किया

खिड़की तोड़कर आधी रात को घर में घुस गए.

जिसको बहन बोलता था, 10 महीने तक उसका रेप किया, कहा मना करोगी तो शाप लगेगा

लड़की की उम्र जानकर मन खराब हो जाएगा.

देहात की जिस लोकगायिका को स्टेज पर देख लाखों दिल गा उठते थे, उसकी हत्या क्यों हुई?

लगभग एक हफ्ते पहले अपने फ्लैट के बाहर मृत पाई गई थीं.

लड़की का रेप हुआ, घरवालों ने इंसाफ नहीं दिलाया तो आरोपियों का नाम हाथ में लिखकर आत्महत्या कर ली

रिश्तेदारों- गांववालों ने दबाव बनाया तो मां-बाप भी मान गए.

मायका छोड़ ससुराल आई, पति और ससुर ने वो दुर्गति की कि मामला पुलिस तक पहुंच गया

सोशल मीडिया पर वायरल हो गया है वीडियो.