Submit your post

Follow Us

दहेज हत्या के मामले में UP और बिहार सबसे आगे, मध्य प्रदेश भी पीछे नहीं है

670
शेयर्स

नेशनल क्राइम रिकॉर्ड्स ब्यूरो (NCRB) ने 21 अक्टूबर को एक रिपोर्ट जारी की. इस रिपोर्ट में बताया कि साल 2017 में देश में कितने और किस तरह के क्राइम हुए, किस राज्य में सबसे ज्यादा क्राइम हुए. औरतों के खिलाफ किन राज्यों में सबसे ज्यादा अपराध हुए.

इस रिपोर्ट के मुताबिक, साल 2017 में औरतों के खिलाफ देशभर में 3.5 लाख से भी ज्यादा अपराध दर्ज हुए. जबकि साल 2015 में 3.2 लाख केस दर्ज हुए थे, और 2016 में 3.3 लाख.

कौन-सा राज्य सबसे आगे है?

NCRB की रिपोर्ट के मुताबिक, 2017 में औरतों के खिलाफ हुए अपराधों में उत्तर प्रदेश सबसे आगे है. वहां कुल 56,011 केस दर्ज किए गए.

महाराष्ट्र दूसरे नंबर पर है, 31,979 मामलों के साथ.

पश्चिम बंगाल तीसरे नंबर पर है, 30,992 के साथ.

मध्य प्रदेश 29,778 मामलों के साथ चौथे नंबर पर है.

राजस्थान पांचवें नंबर पर है, यहां 25,993 मामले दर्ज हुए थे.

औरतों के खिलाफ दर्ज हुए अपराधों में मर्डर, रेप, दहेज हत्या, सुसाइड की कोशिश, एसिड अटैक, औरतों को प्रताड़ित करना और किडनैपिंग शामिल हैं.

दहेज हत्या-

साल 2017 में दहेज हत्या के सबसे ज्यादा मामले उत्तर प्रदेश में दर्ज हुए. कुल 2524 मामले.

बिहार दूसरे नंबर पर है, 1081 मामलों के साथ.

मध्य प्रदेश तीसरे नंबर पर, 632 मामलों के साथ.

पश्चिम बंगाल चौथे नंबर पर है, 499 मामले दर्ज हुए.

राजस्थान 457 मामलों के साथ पांचवें नंबर पर है.

रेप-

इसमें मध्य प्रदेश सबसे आगे है. यहां साल 2017 में रेप के 5562 मामले दर्ज हुए.

दूसरे नंबर पर उत्तर प्रदेश है. यहां 4246 मामले दर्ज हुए.

तीसरे नंबर पर राजस्थान है, 3305 मामलों के साथ.

चौथे नंबर पर ओडिशा है. 2070 मामले दर्ज हुए.

केरल पांचवें नंबर पर है. 2003 मामलों के साथ.

आपको बता दें कि NCRB यूनियन मिनिस्ट्री ऑफ होम अफेयर्स के तहत काम करता है. साल 2017 की रिपोर्ट जारी करने में एक साल से ज्यादा की देरी हो गई. इसे पिछले साल ही रिलीज किया जाना था, लेकिन ये अब जाकर रिलीज हुई है.


वीडियो देखें:

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

क्राइम

ड्राइवर्स ने गुड़गांव से इंजिनियर लड़की को कैब में बैठाया, ग्रेटर नोएडा ले जाकर गैंगरेप किया

ऑनलाइन कैब बुक नहीं हुई थी. इसलिए लड़की ने हाथ से कैब रुकवाई थी.

लड़का दारू पीकर मां, भाभी और बहन का रेप करता था, परिवार ने मार डाला

हत्या वाले दिन भी भाभी का रेप करने की कोशिश कर रहा था.

रेप के लिए झाड़ियों में ले गया, कुछ लोगों ने बचाया, फिर उन्होंने ही गैंगरेप किया

नोएडा में पुलिस चौकी से आधा किलोमीटर दूर हुई घटना.

13 साल की जिस लड़की ने रात भर हुए गैंगरेप के बाद आत्महत्या की, वो पहले से प्रेगनेंट थी

एक-दो नहीं. छह लोग. छह रेपिस्ट.

अंग्रेजी कमजोर थी, इसलिए कॉलेज स्टूडेंट ने सुसाइड कर लिया

स्कूल की पढ़ाई हिंदी में की थी. कॉलेज अंग्रेजी में कर रही थी.

मुजफ्फरपुर शेल्टर होम में बच्चियों से बलात्कार केस का फैसला टल गया है

वकीलों की हड़ताल की वजह से फैसले में देरी होगी.

रेप के बाद नाबालिग मां बन गई, पंचायत ने बच्चे को 20 हजार में बेचने का फरमान सुना दिया!

पहली बार टीचर ने, फिर बिजली बनाने वाले रेप किया था.

अस्पताल के टॉयलेट में इस महिला ने जो किया जान लेंगे तो आपको स्कूल याद आ जाएगा

पुलिसवाले टॉर्च लेकर उसे ढूंढ़ रहे हैं.

बर्फीली नदी में डूब रहा था, लोग बचाने गए तो पता चला लाश के टुकड़े ठिकाने लगा रहा था

मगर ये कुछ भी नहीं था, पूरी कहानी अभी बाकी थी.

81 साल की बुजुर्ग महिला के मुंह पर कालिख पोती, नंगे पांव पूरे गांव में घसीटा

जूतों की माला पहनाई.