Submit your post

Follow Us

एम्बुलेंस ड्राइवर ने पहले 'हेलो सिस्टर्स' कहकर रोका, फिर भद्दी बातें बोलने लगा

तमिलनाडु में मणिपुर की दो लड़कियों के साथ नस्लभेद का मामला सामने आया है. कोयम्बटूर में रहने वाली इन दो लड़कियों को एक एम्बुलेंस ड्राइवर ने नस्लभेदी बातें कहीं. जब दोनों लड़कियों ने उसे ऐसा करने से रोका, तो उसने बदतमीजी भी की. पूरी घटना लड़कियों ने अपने फोन में रिकॉर्ड कर लिया और फिर पुलिस में शिकायत की है.

क्या है पूरा मामला?

जेनी और मारिया मणिपुर की हैं. कोयम्बटूर में बतौर ब्यूटीशियंस काम करती हैं. लॉकडाउन की वजह से अपने घर नहीं लौट सकीं. रविवार 17 मई की शाम को जब वो मार्केट से सामान खरीदने निकलीं, तो पीछे से एक एम्बुलेंस ड्राइवर ने उन्हें ‘हेलो सिस्टर्स’ कहकर आवाज़ दी. जब वो रुकीं, तो उसने पूछना शुरू कर दिया कि वो ‘कोरोना वायरस फैलाने कोयम्बटूर क्यों आई हैं’ .

Jenny 2 700
लड़कियों ने वीडियो शूट किया और उसके बाद मामला पुलिस तक पहुंचा (तस्वीर: इंडिया टुडे)

आज तक से जुड़ी अक्षया नाथ के मुताबिक़, लड़कियों ने बतया,

‘उसने हमें तमिल में गालियां देनी शुरू कर दीं.  हमें ‘कोरोना फैलाने वाला’ कहा. उसने मेरी दोस्त को धकेलने की कोशिश की. हमने पूरी घटना फोन पर रिकॉर्ड कर ली और उससे माफ़ी मांगने को कहा. लेकिन उसने इनकार कर दिया’.

इसकेबाद वो वीडियो वायरल होना शुरू हुआ. मामला आगे बढ़ा तो पुलिस तक पहुंचा. पुलिस की सलाह पर लड़कियों ने मामला दर्ज कराया. उस व्यक्ति को ढूंढा गया. तो पता चला कि उसका नाम एम विग्नेश है. वो 27 साल का है और थेनी जिले का रहने वाला है. पुलिस ने उस पर IPC की धारा 506 (अ)(आपराधिक धमकी देना), तमिलनाडु प्रोहिबिशन ऑफ हैरेसमेंट ऑफ विमेन एक्ट के सेक्शन चार और तमिलनाडु सिटी पुलिस एक्ट के सेक्शन 74 के तहत मामला दर्ज किया है. फिलहाल उसे पुलिस द्वारा गिरफ्तार कर लिया गया है.

Jenny Driver 700
आरोपी एम विग्नेश. (तस्वीर: इंडिया टुडे)

कोरोनावायरस के फैलने के साथ-साथ नस्लभेद के मामलों में बढ़ोतरी देखी गई है. भारत में खास तौर पर नॉर्थ ईस्ट क्षेत्र के लोगों को टार्गेट करने की घटनाएं सामने आई हैं. इसी साल  22 मार्च को दिल्ली के विजयनगर में मणिपुर की एक लड़की के ऊपर किसी ने पान की पीक थूकी. और कोरोना चिल्लाया. मामला सोशल मीडिया में काफी उछला. पुलिस ने फिर बाद में उसे गिरफ्तार किया. हरियाणा के गुरुग्राम से भी ऐसा मामला सामने आया था जहां एक मणिपुरी लड़की ने ही आरोप लगाते हुए कहा था कि उसे नस्लभेदी बातें कही गई हैं.


वीडियो: मॉब लिंचिंग पर जो केंद्र सरकार नहीं कर पाई, मणिपुर ने कर दिखाया है

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

नॉलेज

टिकटॉक पर चल रहा ये वीडियो ट्रेंड देखकर मन घिना जाता है

लड़कियों के वीडियो का गलत इस्तेमाल कर रेप को प्रमोट करने वाले वीडियो बनाए जा रहे हैं.

नवाज़ुद्दीन सिद्दीकी की पत्नी ने बताया, 'मेरी सेल्फ रिस्पेक्ट ख़त्म हो चुकी थी'

अपना पुराना नाम भी अपना लिया- अंजलि किशोर पांडे.

टिक टॉक स्टार फैज़ल सिद्दीकी पर बॉलीवुड गुस्से से तमतमा उठा

एसिड अटैक सर्वाइवर लक्ष्मी अग्रवाल ने कड़ा विरोध जताया.

लड़की की 'सेक्स चॉइस' से खुश नहीं थे, 'इलाज' के बहाने मां-बाप ने मौत की ओर धकेला!

अपने वीडियो में अंजना ने बताया कि किस तरह उसे टॉर्चर किया गया.

एसिड अटैक को बढ़ावा देने के आरोप पर क्या बोले टिक टॉक स्टार फैज़ल सिद्दीकी

फैज़ल सिद्दीकी ने फिर पूरा वीडियो डाला, यहां देखें.

एक फोन कॉल पर इस IPS ने रात के 12 बजे 18 महिलाओं के लिए खाना बनाया और खिलाया

अपने घर जा रही प्रवासी महिलाओं ने किया था कॉल.

लॉकडाउन में पोछा मारना, बर्तन धोना सीख चुके पुरुषों को स्मृति ने क्या सुझाव दिया है?

'ई अजेंडा' कार्यक्रम में दिया मैसेज.

ट्रक वाले ने मदद की, लेकिन जब लेबर पेन हुआ तो सड़क पर छोड़कर चला गया

गर्भवती महिला अपने पति और तीन साल की बच्ची के साथ दिल्ली से बिहार जा रही थी.

शकुंतला देवी: वो ह्यूमन कंप्यूटर, जिन पर बनी फिल्म अब Amazon पर रिलीज़ हो रही

विद्या बालन ने रोल किया है. कौन थीं शकुंतला देवी? उन्हें 'ह्यूमन कंप्यूटर' क्यों कहते हैं?

उदयपुर और रांची में प्रेग्नेंट महिलाओं के लिए जो किया जा रहा है, वो पूरे देश में होना चाहिए

COVID-19 के बढ़ते मामलों की वजह से जांच में दिक्कतें आ रही थीं.