Submit your post

Follow Us

अदनान ऑक्टर, तुर्की का वो 'धार्मिक नेता', जिसे रेप के मामलों में 1075 साल की सज़ा हुई

भारत से करीब साढ़े चार हज़ार किलोमीटर दूर एक देश है तुर्की. यहां के एक कोर्ट ने ‘धार्मिक नेता’ कहलाने वाले एक आदमी को 1075 साल की सज़ा सुनाई है. सज़ा पाने वाले आदमी का नाम है अदनान ऑक्टर, कहीं-कहीं पर इसे ऑक्तार भी कहा जा रहा है. ‘द गार्डियन’ की रिपोर्ट के मुताबिक, करीब 10 आपराधिक मामलों में ये सज़ा दी गई है. इन मामलों में सेक्शुअल असॉल्ट, नाबालिगों का यौन शोषण, धोखाधड़ी, राजनीतिक और सैन्य जासूसी का प्रयास करना शामिल है. इसके अलावा ‘TRT वर्ल्ड’ की रिपोर्ट की मानें तो, इन 10 मामलों में क्रिमिनल ऑर्गेनाइज़ेशन बनाना और उसे लीड करना, फेतुल्ला टेरेरिस्ट ऑर्गेनाइज़ेशन (FETO) को सहायता देना, किसी व्यक्ति को उसकी आज़ादी से वंचित रखना, टॉर्चर, पर्सनल डाटा रिकॉर्ड करना भी शामिल है.

कौन है अदनान ऑक्टर?

अदनान ऑक्टर. 64 बरस का है. तुर्की का धार्मिक नेता है. इस्लाम धर्म उपदेशक भी है. धार्मिक उपदेश देने के लिए उसने 2011 में A9 टीवी चैनल भी लॉन्च किया था, जिसमें वो इस्लामिक मूल्यों को बताने के लिए उपदेश देता था. चार्ल्स डार्विन की थ्योरी ऑफ इवॉल्यूशन यानी विकास के सिद्धांत का कट्टर विरोधी, क्रिएशन के सिद्धांत पर विश्वास करने वाला. उसका मानना है कि सबकुछ ऊपरवाले ने ही क्रिएट किया है. ऑक्टर को लोग धार्मिक लेखक के तौर पर भी जानते हैं. ‘रॉयटर्स’ की रिपोर्ट के मुताबिक, ऑक्टर ने इस्लाम धर्म से जुड़ी हुई करीब 300 किताबें लिखी हैं, जिनका 73 भाषाओं में ट्रांसलेशन हुआ है. उसने डार्विन की थ्योरी को नकारते हुए 770 पेज की किताब ‘द एटलस ऑफ क्रिएशन’ लिखी थी. किताबों के राइटर के तौर पर अदनान अपना उपनाम हारुन याहया इस्तेमाल करता था.

औरतों से घिरे होकर उपदेश देता था

ऑक्टर अपने प्राइवेट टीवी चैनल में टॉक शो करता था, जिसमें वो बहुत ही कम कपड़े पहनी हुई कई सारी महिलाओं के साथ डांस भी करता था. इन औरतों को ऑक्टर ‘किटन्स’ कहता था. किटन्स बिल्ली के बच्चों को कहते हैं. A9 चैनल पर टर्किश मीडिया का वॉचडॉग कहलाने वाले ‘रेडियो एंड टेलिविज़न सुप्रीम काउंसिल’ (RTUK) ने कई बार फाइन भी लगाया था, फिर भी ये चैनल 2018 तक चलता रहा.

‘रॉयटर्स’ की रिपोर्ट की मानें तो, ऑक्टर ने 1970 से अपने समर्थकों का ग्रुप बनाना शुरू कर दिया था. धीरे-धीरे उसके ऑर्गेनाइज़ेशन से कई सारे लोग जुड़ते चले गए. ऑक्टर के ऊपर पहले भी क्रिमिनल गैंग बनाने के आरोप लगे, लेकिन इन मामलों में उसे बरी भी कर दिया गया. ऑक्टर की गिरफ्तारी हुई जुलाई 2018 में. ‘अलजज़ीरा’ की एक रिपोर्ट के मुताबिक, तुर्की पुलिस की फाइनेंशियल क्राइम यूनिट ने ऑक्टर के खिलाफ एक ऑपरेशन किया. ये ऑपरेशन पांच प्रांतों में किया गया. जिसके बाद जुलाई 2018 में इस्तानबुल से ऑक्टर की गिरफ्तारी हुई. धोखाधड़ी, सेक्शुअल असॉल्ट और सेना की जासूसी करने जैसे कई गंभीर आरोपों के तहत ये गिरफ्तारी हुई. पुलिस के पास ऑक्टर के ऑर्गेनाइज़ेशन से जुड़े करीब 235 लोगों के अरेस्ट वॉरंट थे. 2018 से लेकर अभी तक करीब 78 लोग पुलिस की कस्टडी में थे. दो साल तक इस मामले में कोर्ट में सुनवाई चली.

‘द गार्डियन’ की रिपोर्ट के मुताबिक, कोर्ट ने सेक्स क्राइम के आरोपों की भी सुनवाई डिटेल में की. इस भयानक क्राइम का पूरा विवरण सुना. ऑक्टर ने दिसंबर, 2020 में कोर्ट को बताया कि उसकी करीब एक हज़ार गर्लफ्रेंड्स हैं. वहीं अक्टूबर की सुनवाई में कहा था,

“महिलाओं के लिए मेरे दिल में प्यार का अतिप्रवाह है. प्यार एक मानवीय गुण है. ये एक मुस्लिम की क्वालिटी है.”

Adnan Oktar (2)
अदनान ऑक्टर पर महिलाओं ने रेप के आरोप भी लगाए थे. (फोटो- AP)

ऑक्टर के ट्रायल के दौरान, एक महिला ने कोर्ट को बताया कि ऑक्टर ने लगातार उसका और बाकी औरतों का यौन शोषण किया था. महिला ने बताया कि जब वो 17 बरस की थी, तब उसने ऑक्टर का ऑर्गेनाइज़ेशन जॉइन किया था. ये भी बताया कि ऑक्टर औरतों का रेप करने के बाद उन्हें गर्भनिरोधक गोलियां खाने पर मजबूर करता था. पुलिस को भी गिरफ्तारी के दौरान ऑक्टर के घर से 69,000 गर्भनिरोधक गोलियां मिली थीं. कोर्ट ने जब इसके बारे में ऑक्टर से सवाल किया, तब उसने कहा था कि त्वचा संबंधी दिक्कतों और पीरियड्स की अनियमितताओं को ठीक करने के लिए वो इन गोलियों का इस्तेमाल करता था.

ऑक्टर के ऑर्गेनाइज़ेशन में रही एक महिला ने ‘TRT वर्ल्ड’ को 2018 में एक इंटरव्यू दिया था. ये इंटरव्यू ऑक्टर की गिरफ्तारी के तुरंत बाद हुआ था. महिला ने बताया था कि वो ऑर्गेनाइज़ेशन छोड़ना चाहती थीं, लेकिन उन्हें एक तरह से कैद करके रखा गया था. महिला का कहना था,

“2013 में मैंने ऑर्गेनाइज़ेशन छोड़ने की कोशिश की थी, लेकिन दुर्भाग्य से मेरी कोशिश नाकाम रही, क्योंकि उन्होंने मुझे भागते हुए देख लिया था और रोक लिया. उस वक्त A9 टीवी को शुरू हुए दो साल ही हुए थे. मैं समझने लगी थी कि कुछ तो गलत हो रहा है. तब मैंने फैसला किया कि अब इस ऑर्गेनाइज़ेशन का हिस्सा मुझे नहीं रहना चाहिए, लेकिन 2017 तक मैं उसे छोड़ नहीं पाई. वहां रहना एक तरह से कैद थी.”

कितनों को सज़ा हुई?

‘रॉयटर्स’ की रिपोर्ट के मुताबिक, ऑक्टर समेत उसके ऑर्गेनाइज़ेशन के 13 हाई रैंकिंग मेंबर्स को कुल 9,803 साल की सज़ा सुनाई गई है. इनमें से एक आदमी को 211 साल की और एक को 186 साल की सज़ा सुनाई गई है.


वीडियो देखें: मिर्ज़ापुर: माता-पिता ने नाबालिग बेटी के अफेयर से परेशान होकर उसे गला घोंटकर मार डाला

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

नॉलेज

शिवाजी को छत्रपति बनाने वाली साहसी औरत की कहानी

जीजाबाई, जिन पर काफी कुछ लिखा जाना अभी बाकी है.

डॉनल्ड ट्रंप का ट्विटर अकाउंट सस्पेंड करने वाली विजया गड्डे कौन हैं?

हैदराबाद में जन्मीं विजया गड्डे ट्विटर में नंबर 2 मानी जाती हैं...

सरकार को लपेटते वक़्त चीफ़ जस्टिस बोबडे भूल गए कि किसानों में महिलाएं भी होती हैं?

कम से कम कोर्ट में इस तरह की बात नहीं कही जानी चाहिए.

राजनीति के लिए TMC सांसद हाथरस केस पर ऐसी ओछी बात कह देंगे, सोचा न था

सीता के हरण और हाथरस केस की आड़ लेकर राजनीति करना, कतई सही नहीं.

वो हंटरवाली लड़ाका, जो सीने पर क्रॉस बनाती और स्टंट करने कूद पड़ती

फियरलेस नादिया, जिनकी कहानी रोंगटे खड़े करने वाली है.

डियर राहुल! प्यार एक बार नहीं होता, सिर्फ एक से नहीं होता

जानिए क्या होता है पॉलीएमरी.

वर्ल्ड वॉर-2 में कोरियाई औरतों के रेप की जापान को ये कीमत चुकानी पड़ेगी

दक्षिण कोरिया की एक अदालत ने जापान से हर पीड़िता को 67 लाख रुपये देने के लिए कहा है.

एयर इंडिया की ये चार महिला पायलट मिलकर इतिहास रचने जा रही हैं

सिविल एविएशन मिनिस्टर हरदीप सिंह ने ट्वीट कर जानकारी दी है.

आंध्र प्रदेश की वो पूर्व मंत्री, जिन्हें तीन भाइयों के अपहरण के आरोप में गिरफ्तार कर लिया गया

बड़े राजनीतिक परिवार से आती हैं, लंबा इतिहास रहा है.

579 करोड़ की मालकिन पूर्वी मोदी, जो अपने भाई नीरव मोदी के खिलाफ गवाही देंगी

PNB बैंक घोटाले में नाम सामने आने के बाद पूर्वी ने नीरव के बारे में क्या कहा था?