Submit your post

Follow Us

उत्तर प्रदेश की वो लड़की, जिसने रेस वॉकर में नेशनल रिकॉर्ड बनाया, अब टोक्यो ओलम्पिक्स में खेलेगी

जुलाई 2021 में टोक्यो में ओलंपिक गेम्स होने वाले हैं. इसके लिए UP के मेरठ की रहने वाली प्रियंका गोस्वामी ने क्वालिफाई कर लिया है. रेस वॉक में प्रियंका ने 20 किलोमीटर की दूरी एक घंटे 28 मिनट 25 सेकेंड में पूरी की और भावना जाट का रिकॉर्ड तोड़ दिया. भावना जाट भी एक रेसवॉकर हैं. इन्होंने 20 किलोमीट की रेस 1 घंटे 29 मिनट 54 सेकेंड में पूरी करने का नेशनल रिकॉर्ड बनाया था. प्रियंका ने क्वालिफाई करने के साथ-साथ ही स्वर्ण पदक भी जीता. रांची में नेशनल एथलेटिक्स चैम्पियनशिप के रेस वॉक में रिकॉर्ड तोड़कर प्रियंका अब टोक्यो जाएंगी.

रेस वॉकर प्रियंका गोस्वामी, जिन्होंने योगी सरकार से अन्य राज्यों की तरह एथलीट्स को सुविधाएं मुहैया कराने की मांग की है.
रेस वॉकर प्रियंका गोस्वामी, जिन्होंने योगी सरकार से अन्य राज्यों की तरह एथलीट्स को सुविधाएं मुहैया कराने की मांग की है.

इंडिया टुडे से जुड़े मृत्युंजय श्रीवास्तव की रिपोर्ट के मुताबिक, 2020 में भी रांची में ये प्रतियोगिता हुई थी. ओलंपिक क्वालिफाई करने के लिए प्रियंका इसमें शामिल हुई थीं लेकिन 36 सेकेंड से वो चूक गईं थीं. फिर कोरोना महामारी के कारण लॉकडाउन हो गया और घर से बाहर निकलने की मनाही हो गई. लेकिन प्रियंका ने हिम्मत नहीं हारी. क्योंकि वो तय कर चुकी थीं कि इस बार नहीं हुआ, तो अगली बार पक्का सेलेक्शन लेकर रहेंगी. प्रियंका ने अपने घर में ही प्रैक्टिस करनी शूरू कर दी थी. और नवंबर से जब उन्हें ग्राउंड मिला, तो उन्होंने वहां जाकर भी रेस वॉकिंग करनी शुरू कर दी.

प्रियंका गोस्वामी का क्या कहना है?

अधिक जानकारी के लिए हमने खुद प्रियंका गोस्वामी से बात की. रेस वॉक में आने के पीछे की कहानी जानी. उन्होंने बताया-

मैं मुज़फ्फरनगर के सागड़ी गांव की हूं. जब मैं 6वीं क्लास में थी, तभी मम्मी-पापा मुझे और भाई को लेकर मेरठ आ गए थे. यहां स्कूल में मैं हर एक्टिविटी में पार्ट लेती थी. डांसिंग-सिंगिंग से लेकर स्पोर्ट्स और बाकी एक्टिविटी में भी हिस्सा लेती थी. जिम्नास्टिक से मैंने शुरू किया था. एक-डेढ़ साल जिम्नास्टिक किया. उसके लिए मेरा लखनऊ में सेलेक्शन भी हो गया. वहीं रहने लगी. रनिंग में हमेशा फर्स्ट आती थी, जिसके बाद लगा कि मुझे एथलेटिक में जाना है. उस समय मैं 12-13 साल की थी. फिर मैं लखनऊ से मेरठ आ गई और तीन साल का ब्रेक लिया. फिर जब मैं 11वीं में गई, तो स्टेडियम जाना शुरू किया. वहां एथलेटिक्स के एक सर से मिली. उन्होंने मुझे रनिंग, स्ट्रेचिंग वगैरह कराना शुरू किया.

प्रियंका ने बताया कि

2011 में डिस्ट्रिक्ट लेवल कॉम्पटीशन हुआ. इसमें भी पार्ट लिया. पर प्राइज़ नहीं मिला. बाकियों को मिला, पर मुझे नहीं. और छोटी थी, तो मन था कि मुझे भी मिले. तब एक सर ने बोला कि तू रेस वॉकिंग में हिस्सा ले. इसमें तुझे मिल जाएगा.  मैंने उसमें पार्ट लिया. जिम्नास्ट स्टूडेंट थी, तो मैं अच्छे से टेक्निक के हिसाब से चली और जीत गई. उसी के बाद से मैं इसी रेस में पार्ट लेने लगी.

 क्या-क्या खिताब मिले?

प्रियंका ने बताया कि उन्होंने ऑल इंडिया यूनिवर्सिटी में 5 किलोमीटर रेस वॉकिंग में कई मेडल जीते हैं. 2014 में जूनियर नेशनल रिकॉर्ड और 2015 में जूनियर फेडरेशन रिकॉर्ड जीता है. दोनों 10 किलोमीटर के थे. प्रियंका को 2011 में यूपी की बेस्ट विमेन एथलीट का खिताब भी मिल चुका है. प्रियंका के मुताबिक, उन्हें योगी सरकार द्वारा 24 जनवरी, 2021 को रानी लक्ष्मीबाई अवॉर्ड से भी सम्मानित किया गया था.

जब पिता की नौकरी चली गई

24 वर्षीय प्रियंका ने 12वीं के बाद पंजाब की पटियाला यूनिवर्सिटी से BA में ग्रेजुएशन किया. उनके पिता मदनपाल गोस्वामी रोडवेज़ में कंडक्टर थे, पर 2010 में किसी कारणवश उनकी नौकरी चली गई. उसके बाद प्रियंका को जो कैश प्राइज़ मिलता था, उसी से घर चलता था. प्रियंका ने बताया कि उन्हें स्पोर्ट्स कोटे से नौकरी मिली. और अब बरेली में रेलवे में जूनियर क्लर्क की नौकरी कर रही हैं.

प्रियंका गोस्वामी एथलीट से पहले फैशन डिजाइनिंग में जाना चाहती थीं.
प्रियंका गोस्वामी एथलीट से पहले फैशन डिजाइनिंग में जाना चाहती थीं.

कुछ और बनने का सपना था

प्रियंका ने बताया कि वो फैशन डिजाइनिंग में जाना चाहती थीं. पर हालात वैसे रहे नहीं. लेकिन उनकी मां उन्हें लेटेस्ट फैशन के बारे में बताती रहती हैं. उनका कहना है कि उन्हें नाइकी के स्पोर्ट्स वीयर पसंद हैं और उन्हें उम्मीद है कि कंपनी उन्हें एक दिन जरूर साइन करेगी.

सरकार से क्या मांग है?

प्रियंका का कहना है कि उन्हें यूपी सरकार की तरफ से उतना आर्थिक सहायता नहीं मिलती, जितनी हरियाणा, राजस्थान के एथलीट को मिलती है. उनकी मांग है कि सरकार को दूसरे राज्यों की तरह यूपी में भी एथलीट्स को सुविधा दे, जिससे उनको सहायता मिल सके.


वीडियो देखें: एक कोच जिसने ओलंपिक गोल्ड मेडलिस्ट खिलाड़ी का बार-बार यौन शोषण किया

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

क्राइम

10-12 साल के छह लड़कों पर बच्ची के गैंगरेप और उसका वीडियो बनाने का आरोप लगा है

10-12 साल के छह लड़कों पर बच्ची के गैंगरेप और उसका वीडियो बनाने का आरोप लगा है

सातवां आरोपी 18 साल का है, वो भी धर लिया गया है.

शख्स ने कहा- मैं सेक्स के लिए हॉट संघियों को खोजता हूं; बवाल हो गया

शख्स ने कहा- मैं सेक्स के लिए हॉट संघियों को खोजता हूं; बवाल हो गया

इस पूरे बवाल में कुशा कपिला का नाम क्यों आया और उन्होंने क्या सफाई दी?

BJP नेता की दो दिन से लापता बेटी की लाश जंगल में मिली, परिवार को गैंगरेप का शक

BJP नेता की दो दिन से लापता बेटी की लाश जंगल में मिली, परिवार को गैंगरेप का शक

लाश की एक आंख भी बाहर निकली थी. मौके से एक लड़के का मोबाइल फोन मिला है.

ऑपरेशन थिएटर में 'गैंगरेप' मामले में विक्टिम की मौत, परिवार ने हत्या का आरोप लगाया

ऑपरेशन थिएटर में 'गैंगरेप' मामले में विक्टिम की मौत, परिवार ने हत्या का आरोप लगाया

अस्पताल प्रशासन को बिना जांच क्लीट चिट दे चुकी पुलिस ने पीड़िता की मौत के बाद दर्ज की FIR. अस्पताल के बाहर विरोध प्रदर्शन.

मैट्रिमोनियल साइट की मदद से 12 लड़कियों का रेप करने वाला धरा गया है, आप ये सावधानियां ज़रूर बरतें

मैट्रिमोनियल साइट की मदद से 12 लड़कियों का रेप करने वाला धरा गया है, आप ये सावधानियां ज़रूर बरतें

कितना गहरा है मैट्रिमोनियल साइट फ्रॉड का यह जाल? कैसे खुद को बचाएं?

छत्तीसगढ़: जवानों पर आरोप, आदिवासी युवती को किडनैप कर रेप किया, स्तन काटे, फिर गोली मार दी

छत्तीसगढ़: जवानों पर आरोप, आदिवासी युवती को किडनैप कर रेप किया, स्तन काटे, फिर गोली मार दी

पुलिस ने कहा- युवती दो लाख रुपये की ईनामी नक्सली थी. एनकाउंटर में हुई मौत.

महिला का आरोप, दूसरा पति पहले पति से हुए बच्चों का जबरन खतना करवाना चाहता है

महिला का आरोप, दूसरा पति पहले पति से हुए बच्चों का जबरन खतना करवाना चाहता है

पुलिस ने केस दर्ज कर आरोपी को अरेस्ट किया.

झारखंड: दबंगों ने 19 साल की लड़की को दीवार में चुनवा दिया, समय रहते पुलिस ने बचाया

झारखंड: दबंगों ने 19 साल की लड़की को दीवार में चुनवा दिया, समय रहते पुलिस ने बचाया

एक महिला अरेस्ट पांच फरार आरोपियों की तलाश जारी.

यूपी: ऑनलाइन मीटिंग के दौरान दलित महिला प्रधान को कुर्सी से नीचे बैठने को कहा!

यूपी: ऑनलाइन मीटिंग के दौरान दलित महिला प्रधान को कुर्सी से नीचे बैठने को कहा!

दबंगों ने जाति सूचक शब्द कहे, पुलिस ने दर्ज किया केस, एक आरोपी गिरफ्तार.

बीमार महिला पर भूत का साया बताकर तांत्रिक गर्म चिमटे पीटता रहा, ससुराल वाले देखते रहे

बीमार महिला पर भूत का साया बताकर तांत्रिक गर्म चिमटे पीटता रहा, ससुराल वाले देखते रहे

घायल हालत में पीड़िता अस्पताल में भर्ती. पति गिरफ्तार, तांत्रिक फरार.