Submit your post

Follow Us

ट्रक वाले ने मदद की, लेकिन जब लेबर पेन हुआ तो सड़क पर छोड़कर चला गया

लाखों प्रवासी मजदूरों की तरह संदीप भी अपनी गर्भवती पत्नी रेखा और तीन साल की बच्ची के साथ दिल्ली से बिहार के सुपौल जा रहे थे. रास्ते में एक ट्रकवाले ने मदद की, पर जब रेखा को लेबर पेन होने लगा, तो ट्रकवाले ने उन्हें रास्ते में ही उतार दिया. इसके बाद जैसे-तैसे संदीप ने मदद के लिए DM से गुहार लगाई.  प्रशासन से मदद मिलने के बाद गोपालगंज के सदर अस्पताल में महिला ने बच्ची को जन्म दिया. दोनों स्वस्थ हैं.

अस्पताल में संदीप अपनी तीन साल की बच्ची और पत्नी के साथ.
अस्पताल में संदीप अपनी तीन साल की बच्ची और पत्नी के साथ.

‘इंडिया टुडे’ के रिपोर्टर सुनील कुमार तिवारी ने हमें बताया कि संदीप अपनी गर्भवती पत्नी और तीन साल की बच्ची के साथ 10 किलोमीटर पैदल चले. इसके बाद ट्रक वाले ने मदद की. लेकिन लेबर पेन होने पर बीच रास्ते में ही उन्हें उतार दिया. संदीप दिल्ली में सब्जी का कारोबार करते हैं. वह सुपौल जिले के गांव बलहां के रहने वाले हैं. कोई साधन न मिलने के कारण वो परिवार के साथ पैदल घर के लिए निकल गए. संदीप का कहना है कि उन्हें सरकार की तरफ से कोई मदद नहीं मिली.  घर आने के लिए उन्होंने अपने पापा से पांच हज़ार रुपये मंगवाए थे.

गोपालगंज के सदर अस्पताल में बेटी को जन्म दिया.
गोपालगंज के सदर अस्पताल में बेटी का जन्म हुआ.

संदीप ने बताया कि 10 किलोमीटर चलने के बाद भी सुविधा नहीं मिली. एक बस मिली भी, उसमें काफी भीड़ थी. 30 सीटर बस में 70 लोग सवार थे. पत्नी गर्भवती थी, इसलिए उस बस में नहीं चढ़े. एक ट्रक मिला, पर लेबर पेन होने पर उस ट्रकवाले ने हमें उतार दिया. पैदल चलते-चलते जब उत्तर-प्रदेश-बिहार के बॉर्डर गोपालगंज पहुंचे. तो वहां के बलथरी चेक पोस्ट के पास संदीप ने DM से मदद मांगी. DM अरशद अजीज ने फौरन मेडिकल टीम भेजी. महिला को गोपालगंज के सदर अस्पताल में भर्ती करवाया. जहां उन्हें एक बेटी हुई. महिला और बेटी दोनों ठीक हैं.


लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

क्राइम

पांच लड़के नाबालिग लड़की को घर से किडनैप कर ले गए, गैंगरेप किया

एक आरोपी जज का भतीजा है.

गुरुग्राम: मणिपुरी लड़की का आरोप- लोगों ने मारा-पीटा और कहा- समझ नहीं आता, यहां क्यों आती हो

लड़की के खिलाफ भी मामला दर्ज.

बच्ची ने दुकान खोलने से मना किया तो AIADMK के दो नेताओं ने उसे ज़िंदा जला दिया

लड़की के पिता के साथ पुरानी दुश्मनी थी, बदला ले लिया.

दिल्ली: ऑटो ड्राइवर ने पहले गर्भवती पत्नी की हत्या की, फिर पुलिस को बता दी पूरी कहानी

खुद ही सरेंडर करने भी पहुंच गया.

21 साल की नन की लाश कुएं में मिली, दूसरी नन ने लिखा- और कितनी लाशें चाहिए आंखें खोलने के लिए?

पुलिस का एक ही जवाब- जांच चल रही है.

'बॉयज़ लॉकर रूम' में नहीं हुई थी गैंगरेप प्लानिंग, लड़की ने लड़के की फेक ID बनाकर ये बात की थी

मार्च के महीने में हुई थी ये बातचीत.

80 साल के बुजुर्ग पर 22 साल की लड़की के रेप का आरोप

मामला अप्रैल का है, पीड़िता ने 8 मई को केस दर्ज कराया.

अस्पताल के कर्मचारियों पर आरोप- डिलीवरी के बाद महिला का यौन शोषण किया

दूध की टेस्टिंग के लिए महिला को सैंपल देना था.

बॉयज़ लॉकर रूम: विक्टिम ने बताया, लड़कों के घरवाले शिकायत वापस लेने को कह रहे हैं

इंस्टाग्राम के इस ग्रुप के चैट वायरल होने के बाद छानबीन शुरू.

अफेयर का शक था, इसलिए पुलिसवाले ने कॉन्स्टेबल पत्नी को गोली से उड़ा दिया

अगले दिन कुछ ऐसा हुआ, जिसकी कल्पना किसी ने नहीं की थी.