Submit your post

Follow Us

पुडुचेरी में किरण बेदी की जगह लेने वाली तमिलिसाई सुंदराराजन कौन हैं?

डॉक्टर तमिलिसाई सुंदराराजन. तेलंगाना की पहली महिला गवर्नर. अब पुडुचेरी में उपराज्यपाल के तौर पर उन्होंने किरण बेदी की जगह ली है. पेशे से डॉक्टर तमिलिसाई ने बीजेपी में आम कार्यकर्ता के तौर पर काम शुरू किया. उन्होंने विधानसभा और लोकसभा के चुनाव भी लड़े. आइए, एक नजर डालते हैं उनकी यात्रा पर.

राजनीतिक माहौल में पली बढ़ीं

कन्याकुमारी में 2 जून, 1961 में जन्मी तमिलिसाई के पिता कुमारी अनथन भी लंबे समय तक कांग्रेस के सदस्य रहे. वो सांसद भी रहे और तमिलनाडु कांग्रेस के अध्यक्ष भी रहे. ऐसे में तमिलिसाई को बचपन से ही एक राजनीतिक माहौल मिला.

तमिलिसाई पढ़ाई में शुरुआत से ही तेज़ थीं. एथिराज कॉलेज फॉर विमेन से ग्रेजुएशन के बाद उन्होंने मद्रास मेडिकल कॉलेज से MBBS किया. इसके बाद उन्होंने MGR मेडिकल यूनीवर्सिटी से ऑब्सटेट्रिक्स एंड गॉयनेकलॉजी में स्पेशियलाइजेशन हासिल किया. माने वो एक गायनेकोलॉजिस्ट हैं. MS की डिग्री लेने के बाद तमिलिसाई ने कनाडा से सोनोलॉजी और FET थेरेपी की ट्रेनिंग ली.


द फ्री प्रेस जर्नल के मुताबिक, तमिलिसाई सुंदराजन ने श्री रामचंद्रन मेडिकल कॉलेज से असिस्टेंट प्रोफेसर के तौर पर अपना मेडिकल करियर शुरू किया. पिछले साल द न्यू इंडियन एक्सप्रेस को दिए गए इंटरव्यू में उन्होंने बताया था,

“मैं बचपन से ही सिर्फ काम में ध्यान लगाने वाली रही हूं. कभी भी एम्बीशियस नहीं रही. एक समय पर एक काम में मन लगाया. उसमें कुछ एक्स्ट्रा करने की कोशिश की. कुछ अलग ढंग से करने का प्रयास किया. मैंने कभी भी डॉक्टर बनने के बारे में नहीं सोचा. बस पढ़ती गई. जो अच्छा लगा वो करती गई.”

BJP में शामिल हुईं Tamilisai Soundararajan

मेडिकल कॉलेज में प्रोफेसर रहते हुए ही तमिलिसाई सुंदराजन राजनीति के प्रति आकर्षित हुईं. एक आम कार्यकर्ता के तौर पर उन्होंने बीजेपी में काम करना शुरू किया. उनकी मेहनत और लगन को देखते हुए पार्टी ने उन्हें 1999 में दक्षिणी चेन्नई डिस्ट्रिक्ट मेडिकल विंग का सेक्रेटरी नियुक्त किया. राजनीति के प्रति आकर्षित होने के बारे में सुंदराजन ने हैदरबाद एक्सप्रेस को बताया-

“स्कूल के दिनों से ही मुझे लोगों की मदद करने और सहयोग करने में रुचि थी. मुझे किसी ने बताया कि यह सब करने का सबसे अच्छा जरिया राजनीति में जाना है. मेरे पिता पहले से ही राजनीति में थे. मैंने अपने माता-पिता को यह बात बताई. पिता तो खुश हुए लेकिन मां नहीं चाहती थीं कि मैं राजनीति में जाऊं. लेकिन मुझे लगा कि एक डॉक्टर के अलावा भी मेरी कुछ जिम्मेदारियां हैं. समाज और लोगों के प्रति. इसलिए मैंने राजनीति में कदम रखा.”

साल 2001 में तमिलिसाई सुंदराराजन को बीजेपी ने तमिलानाडु मेडिकल विंग का महासचिव बनाया. 2005 में वे पूरे दक्षिण भारत के मेडिकल विंग की सह-संयोजक बनीं. 2010 में उन्हें बड़ा ब्रेक मिला और उन्हें तमिलनाडु बीजेपी की वाइस-प्रेसिडेंस नियुक्त किया गया. फिर 2013 में बीजीपी की राष्ट्रीय सचिव बनीं. अगस्त 2014 में वे तमिनाडु बीजेपी की अध्यक्ष बनीं.

Tamilisai Soundararajan के पिता Kumari Ananthan तमिनाडू कांग्रेस के अध्यक्ष रहे. साथ ही साथ सांसद भी.
Tamilisai Soundararajan के पिता Kumari Ananthan तमिलनाडु कांग्रेस के अध्यक्ष रहे. साथ ही साथ सांसद भी.

इस दौरान उन्होंने चुनाव भी लड़े. हालांकि, एक भी बार उन्हें जीत नहीं मिली. सबसे पहले साल 2006 में उन्होंने राधापुरम से विधानसभा चुनाव लड़ा. DMK के एम अपव्वू ने उन्हें बहुत भारी अंतर से हराया. फिर उन्होंने 2009 के लोक सभा चुनाव में वडक्कू सीट से अपनी किस्मत आजमाई. यहां भी उन्हें बहुत बुरी हार का सामना करना पड़ा. DMK के एलनगोवन ने उन्हें 38 फीसदी के मत अंतर से हराया. 2011 के विधानसभा चुनाव में भी वे हारीं. इस बार वेलाचेरी सीट से चुनाव लड़ा और AIADMK के एमके अशोक ने उन्हें करीब 50 फीसदी मत प्रतिशत से हराया.

इतने चुनाव हारने के बाद भी तमिलिसाई सुंदराराजन निराश नहीं हुई. 2016 में वे फिर से चुनावी मैदान में आईं. वीरुगम्बक्कम सीट से चुनाव लड़ीं. लेकिन इस बार भी नहीं जीत पाईं. हालांकि, उनका वोट परसेंट बढ़ गया. इस बार AIADMK के विरुगई रवि ने उन्हें हराया. तमिलिसाई सुंदराराजन ने आखिरी चुनाव 2019 में तूथीकोड़ी लोक सभा सीट से लड़ा. इस सीट पर उनके सामने DMK की कद्दावर नेता कनिमोझी थीं. तमिलिसाई सुंदराराजन ये चुनाव भी नहीं जीत पाईं. इसके बाद उन्हें इसी साल सितंबर में तेलंगाना का गवर्नर नियुक्त कर दिया गया.

MeToo की सपोर्टर हैं Tamilisai Soundararajan

तमिलिसाई सुंदराराजन MeToo मूवमेंट की सपोर्टर हैं. वे कह चुकी हैं कि जिस किसी भी महिला के साथ जीवन में कभी भी यौन शोषण हुआ है, उसे न्याय मिलना चाहिए. उन्होंने पांच साल तक दूरदर्शन पर महिलाओं के साप्ताहिक कार्यक्रम मंगलीर पंचायत को भी होस्ट किया. इसमें वे महिलाओं से जुड़े मुद्दों पर बात करती थीं.

तमिलिसाई सुंदराराजन को एक बड़े दिल की नेता के तौर पर देखा जाता है. विपक्षी पार्टियों के नेताओं को उन्होंने हमेशा सम्मान दिया. 2019 में जब वे तेलंगाना की गवर्नर बनीं, तो उन्होंने राज्य के मुख्यमंत्री चंद्रशेखर राव की कई बार प्रशंसा की. उन्होंने कहा कि यह राव की ही मेहनत का परिणाम है कि जो राज्य सूखे की मार झेलता था, वहां अब अच्छी मात्रा में अनाज उग रहा है.

चलते-चलते आपको यह भी बता दें कि तमिलिसाई सुंदराराजन को किताबें पढ़ने और रंग-बिरंगी साड़ियां पहनने का शौक है. बताया जाता है कि उनके पास करीब 5 हजार किताबों का कलेक्शन है. कहीं आते जाते भी वे किताबें पढ़ती रहती हैं. साथ ही देश के अलग-अलग हिस्सों की साड़ियों का कलेक्शन भी उनके पास है.


 

वीडियो- प्रिया रमानी बनाम एमजे अकबर वाले केस में क्या फैसला आया?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

क्राइम

उन्नाव में तीन दलित लड़कियों के साथ जो हुआ, वो पूरा मामला क्या है?

उन्नाव में तीन दलित लड़कियों के साथ जो हुआ, वो पूरा मामला क्या है?

दो लड़कियों की पोस्टमार्टम रिपोर्ट में जहर की पुष्टि. तीसरी की हालत अभी भी क्रिटिकल.

प्रेमी के साथ मिलकर पूरे परिवार को मारने वाली शबनम, जिसे अब कभी भी फांसी हो सकती है

प्रेमी के साथ मिलकर पूरे परिवार को मारने वाली शबनम, जिसे अब कभी भी फांसी हो सकती है

फांसी हुई तो आज़ाद भारत में सज़ा-ए-मौत पाने वाली पहली महिला होगी शबनम.

अपनी जूनियर से फ्लर्ट करते हैं तो कोर्ट ने आपके लिए ये स्पेशल बात कही है

अपनी जूनियर से फ्लर्ट करते हैं तो कोर्ट ने आपके लिए ये स्पेशल बात कही है

मामला मध्यप्रदेश के एक जिला जज से जुड़ा है.

'तुम्हारी मां क्या करती हैं? LOL', सवाल पूछने वाले ट्रोल को नव्या नवेली ने प्यार से समेट दिया

'तुम्हारी मां क्या करती हैं? LOL', सवाल पूछने वाले ट्रोल को नव्या नवेली ने प्यार से समेट दिया

नव्या ने अपनी मां को 'कामकाजी' बताते हुए एक पोस्ट शेयर किया था.

ट्यूशन पढ़ाने गई दलित टीचर की अर्धनग्न हालत में लाश मिली, रेप की आशंका

ट्यूशन पढ़ाने गई दलित टीचर की अर्धनग्न हालत में लाश मिली, रेप की आशंका

सोशल मीडिया पर विक्टिम का नाम ट्रेंड कर रहा है.

लड़की प्रेमी के साथ घर छोड़कर गई, दो महीने बाद कुएं में मिला उसका सिर, खेत में मिली बॉडी

लड़की प्रेमी के साथ घर छोड़कर गई, दो महीने बाद कुएं में मिला उसका सिर, खेत में मिली बॉडी

लड़की के प्रेमी सहित तीन लोगों को गिरफ्तार किया गया है.

18 साल की लड़की दो महीने में छह बार बेची गई, आखिर में उसने सुसाइड कर लिया

18 साल की लड़की दो महीने में छह बार बेची गई, आखिर में उसने सुसाइड कर लिया

एमपी के कपल ने नौकरी दिलाने के नाम पर लड़की को किडनैप किया था.

पुलिस पर आरोप, कथित रेप पीड़िता का शव आरोपी से जलवाया कि सबूत मिट जाएं

पुलिस पर आरोप, कथित रेप पीड़िता का शव आरोपी से जलवाया कि सबूत मिट जाएं

लाश को जलाने का वीडियो वायरल हो गया.

घर से पॉर्न शूट कर मोटा पैसा कमा रही थी एक्ट्रेस, दूसरी लड़कियों को भी फ़ोर्स करने का आरोप

घर से पॉर्न शूट कर मोटा पैसा कमा रही थी एक्ट्रेस, दूसरी लड़कियों को भी फ़ोर्स करने का आरोप

इन पर करोड़ों रुपये का मानहानि का केस भी हो चुका है.

रैगिंग और सुसाइड के 8 साल पुराने केस में कोर्ट ने क्या सज़ा सुनाई?

रैगिंग और सुसाइड के 8 साल पुराने केस में कोर्ट ने क्या सज़ा सुनाई?

साथ ही जानिए रैगिंग से जुड़ी ज़रूरी बातें.