Submit your post

Follow Us

परिवार ने पूरे गांव के सामने पति-पत्नी की हत्या कर दी, 18 साल बाद फैसला आया है

तमिलनाडु के कुड्डालोर कोर्ट ने डबल मर्डर के एक मामले में 18 साल बाद फैसला सुनाया है. 2003 में एक शादीशुदा जोड़े की हत्या कर दी गई थी. दरअसल, लड़का-लड़की ने प्रेम विवाह किया था और दोनों की जाति अलग थी. इससे नाराज होकर लड़की के परिवार वालों ने पूरे गांव के सामने दोनों की हत्या कर दी थी. परिवार ने इसे सुसाइड बताने की कोशिश भी की थी. इस मामले में मुख्य आरोपी को फांसी और बाकी 12 आरोपियों को उम्रकैद की सज़ा सुनाई गई है.

क्या है पूरा मामला?

‘इंडिया टुडे’ से जुड़ीं पत्रकार अक्षया नाथ की रिपोर्ट के मुताबिक, कुड्डालोर में SC/ST मामलों से डील करने वाले स्पेशल कोर्ट ने ये फैसला दिया है. घटना आज से 18 साल पुरानी है. एस मुरुगसन नाम का एक लड़का था, उम्र 25 साल थी. उसे डी. कन्नागी नाम की एक लड़की से प्यार हुआ. लड़की, 22 साल की थी. कन्नागी भी मुरुगसन को पसंद करने लगी. दोनों की मुलाकात अन्नामलाई यूनिवर्सिटी में पढ़ाई के दौरान हुई थी. मुरुगसन केमिकल इंजीनियर था, तो कन्नागी कॉमर्स में डिप्लोमा होल्डर थी.

सुहागरात मन मुताबिक नहीं हुई तो तलाक़ की अर्ज़ी डाली. (सांकेतिक तस्वीर)
लड़की ने दूसरी जाति के लड़के से शादी की थी. उसके परिवार वालों ने उन दोनों की पूरे गांव के सामने हत्या कर दी. (सांकेतिक तस्वीर)

कन्नागी वन्नियार समुदाय से ताल्लुक रखती थी, जबकि मुरुगसन दलित समुदाय से था. कन्नागी के परिवार के डर से, दोनों ने 5 मई 2003 को सीक्रेटली शादी कर ली. शादी रजिस्टर भी करा ली. दोनों ने फैसला किया कि जब तक मुरुगसन जॉब नहीं करने लगता, शादी को सीक्रेट ही रखा जाएगा. लेकिन शादी के कुछ ही महीनों बाद कन्नागी के परिवार वालों को इसके बारे में पता चल गया. तब तक मुरुगसन ने भी तिरुप्पुर में एक नौकरी खोज ली थी. फैसला किया कि कन्नागी को उसके पैरेंट्स के घर से लेकर आ जाएगा. मुरुगसन ने कन्नागी को अपने एक रिश्तेदार के घर में छिपा दिया, लेकिन 7 जुलाई को कन्नागी के पिता सी दुराईसामी अपने बड़े बेटे और कुछ अन्य लोगों के साथ मुरुगसन के पास पहुंच गए. किसी तरह उन्होंने मुरुगसन को खोज निकाला था. उन्होंने कथित तौर पर उसे टॉर्चर किया और कन्नागी कहां है, ये जान लिया.

फिर कन्नागी और मुरुगसन, दोनों को लेकर पुथुक्कोराईप्पेत्ताई गांव आ गए. करीब 300 गांववालों के सामने उन्हें ज़हर पीने पर मजबूर किया गया. उसके बाद उन्हें जला दिया गया. मामले की जांच शुरू हुई. शुरुआत में इसे सुसाइड माना गया. बाद में जांच CBI को सौंप दी गई. CBI ने साल 2009 में 690 पन्नों की चार्जशीट दायर की, जिसमें पता चला कि 81 में से 36 गवाह तो हॉस्टाइल हो गए थे. CBI की जांच के आधार पर 15 आरोपियों को गिरफ्तार किया गया. बाद में दो को छोड़ दिया गया.

18 साल बाद, क्या फैसला आया है?

बीते शुक्रवार, यानी 24 सितंबर को कोर्ट ने कन्नागी के भाई मारुदुपानदियन को मुख्य आरोपी मानते हुए, उसे मौत की सज़ा सुनाई. वहीं दुराईसामी समेत 11 अन्य आरोपियों को उम्रकैद की सज़ा सुनाई गई. इन 12 लोगों में दो पुलिसवाले भी शामिल हैं.

जस्टिस उधमराजा ने कहा कि कन्नागी और मुरुगसन के साथ जो हुआ था वो बहुत ब्रूटल था और मानवता के खिलाफ था. ये भी कहा कि सज़ा की गंभीरता उन लोगों के लिए एक सीख होगी, जो आज भी जाति पर आधारित नफरत को मानते हैं.


पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री को अक्टूबर में इटली जाना था पर केंद्र ने साफ मना कर दिया-

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

नॉलेज

वो पांच हाईकोर्ट्स कौन से हैं, जहां एक भी महिला जज नहीं है

वो पांच हाईकोर्ट्स कौन से हैं, जहां एक भी महिला जज नहीं है

देश के हाईकोर्ट्स में टोटल कितनी महिला जज हैं?

जब भी आपको दुनिया बेगानी लगने लगे, मॉडर्न लव का ये एपिसोड देख लीजिएगा!

जब भी आपको दुनिया बेगानी लगने लगे, मॉडर्न लव का ये एपिसोड देख लीजिएगा!

सेल्फ लव का रास्ता बहुत सारी लड़कियां नहीं चुन पातीं. वो या तो खुद को कैद कर लेती है या दुनिया की बनाई बंदिशों में पड़ जाती हैं.

बॉम्बे हाईकोर्ट ने POCSO आरोपी को दी ज़मानत, कहा- किस करना, प्राइवेट पार्ट छूना अपराध नहीं

बॉम्बे हाईकोर्ट ने POCSO आरोपी को दी ज़मानत, कहा- किस करना, प्राइवेट पार्ट छूना अपराध नहीं

कोर्ट ने कहा- आरोपी पहले ही एक साल जेल में गुज़ार चुका है.

बेटी को पालने के लिए 36 साल तक एक औरत को पुरुष बनकर रहना पड़ा

बेटी को पालने के लिए 36 साल तक एक औरत को पुरुष बनकर रहना पड़ा

तमिलनाडु के थूथुकुडी की कहानी है.

मेडिकल टेस्ट में 'पुरुष' साबित कर दी गई महिला को महाराष्ट्र पुलिस में नौकरी मिल गई है

मेडिकल टेस्ट में 'पुरुष' साबित कर दी गई महिला को महाराष्ट्र पुलिस में नौकरी मिल गई है

कोर्ट ने कहा- मेडिकल रिपोर्ट्स ठीक, पर ये भी देखना होगा कि अभ्यर्थी खुद को महिला के तौर पर आइडेंटिफाई करती हैं.

मुंडका अग्निकांड: पहले 6 बच्चियों को बचाया, फिर तीसरी मंज़िल से कूद गईं ममता

मुंडका अग्निकांड: पहले 6 बच्चियों को बचाया, फिर तीसरी मंज़िल से कूद गईं ममता

27 मृतकों में से 21 महिलाएं ही थीं.

सलून वालों से आर्मी अफसर की पत्नी के बालों का ऐसा हाल किया कि पुलिस केस हो गया

सलून वालों से आर्मी अफसर की पत्नी के बालों का ऐसा हाल किया कि पुलिस केस हो गया

सैलून के कर्मचारियों पर महिला को प्रताड़ित करने का आरोप

एक हाथ में बच्चा, दूसरे में बैगः प्लेन में महिला ने पैर ऐसे स्ट्रेच किया कि सब भौंचक रह गए

एक हाथ में बच्चा, दूसरे में बैगः प्लेन में महिला ने पैर ऐसे स्ट्रेच किया कि सब भौंचक रह गए

वीडियो भयंकर तेज़ी से वायरल हो रहा है.

बिना शादी के बच्चा करने को लेकर नीना गुप्ता की बेटी मसाबा ने क्या कहा?

बिना शादी के बच्चा करने को लेकर नीना गुप्ता की बेटी मसाबा ने क्या कहा?

नीना ने कहा था, "मैं शादी के बिना बच्चा पैदा नहीं करना चाहूंगी. पर मुझे पता है मसाबा को बहुत कुछ भुगतना पड़ा है"

एग्ज़ाम सेंटर के बाहर लड़कियां रोती रहीं, पुलिसकर्मी उनके कपड़ों की आस्तीन काटती रहीं

एग्ज़ाम सेंटर के बाहर लड़कियां रोती रहीं, पुलिसकर्मी उनके कपड़ों की आस्तीन काटती रहीं

राजस्थान के भरतपुर में पुलिस कॉन्स्टेबल परीक्षा चल रही है.