Submit your post

Follow Us

तजिंदर बग्गा ने सोनिया गांधी पर ये घटिया ट्वीट कर दिखा दिया, छिछोरई क्या होती है

दिल्ली में बीजेपी के एक नेता हैं. नाम है तजिंदर पाल सिंह बग्गा. नेता कम, स्त्री विरोधी टिप्पणियों से भरे पड़े कुंठित लड़कों के वॉट्सऐप ग्रुप के एडमिन ज्यादा लगते हैं. जिसमें हर 15 मिनट में स्त्रियों के खिलाफ हिंसा और बेहूदगी से भरा कथित जोक आता रहता है. बग्गा ने एक बार फिर एक घटिया ट्वीट किया है. इस ट्वीट पर नजर बाद में डालेंगे. पहले वो ट्वीट देखिए, जिसके जवाब में बग्गा ने अपना ट्वीट किया. ये ट्वीट कांग्रेस पार्टी की तरफ से किया गया. जिसमें पार्टी की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी की तरफ से जारी एक बयान है. लिखा गया-

“मेरे पति राजीव गांधी जी की सबसे महत्वपूर्ण विरासतों में से एक है ‘नवोदय विद्यालयों’ का एक नेटवर्क. मुख्य रूप से ग्रामीण क्षेत्रों के प्रतिभाशाली बच्चों के लिए उच्च गुणवत्ता वाली आधुनिक शिक्षा को सुलभ और सस्ती बनाना उनका सपना था.”

जैसा कि हर पार्टी करती है, वैसे ही कांग्रेस पार्टी की तरफ से अपनी विरासत और देश के एक पूर्व प्रधानमंत्री के विज़न का उल्लेख किया गया. दूसरी पार्टियां और नेता इसकी आलोचना भी कर सकते हैं. टीका-टिप्पणी भी. लेकिन तजिंदर पाल सिंह बग्गा ने आलोचना के नाम पर क्या लिखा- ‘मेरे पतियों में से एक पति’

असल में ट्वीट का सही हिंदी अनुवाद वही होगा, जो ट्वीट में लिखा दिख रहा है. लेकिन वाक्य को अगर गलत जगह से तोड़ दिया जाए तो उसका अर्थ बदल सकता है. हालांकि ट्वीट में लिखा गया अंग्रेजी वाक्य पूरा है और व्याकरण के लिहाज से गलत नहीं है.

बग्गा ने वाक्य से अपने मतलब का हिस्सा निकाला. और उसी सड़कछाप मानसिकता को प्रदर्शित किया, जो सोनिया गांधी को ‘बार डांसर’ बताकर उन्हें अपमानित करने की कोशिश करने वाले रखते हैं. यहां ये भी कहां ज़रूरी है कि अगर कोई बार डांसर हो भी, तो ये उसे चरित्रहीन नहीं बनाता.

यहां पर यह दिखाने की कोशिश हुई कि सोनिया गांधी चरित्रहीन स्त्री हैं और उनके कई पुरुषों से संबंध रहे हैं. बग्गा ने चटकारे लेकर यह ट्वीट किया. यह ट्वीट करते हुए उनके चेहरे पर किस तरह की दुष्टता वाली हंसी काबिज रही होगी, ये साथ बनाए गए ईमोजी से साफ़ है. वही हंसी, जो किसी गली के छिछोरे लड़के के चेहरे पर उस वक्त होती है, जब वो सड़क चलती किसी लड़की पर फब्तियां कसता है.

बग्गा के इस ट्वीट से ये भी समझ आया कि बीजेपी के इस नेता को अंग्रेजी नहीं आती है. अंग्रेजी न आना कोई गुनाह नहीं है. न ही किसी व्यक्ति को छोटा बनाता है. मगर कोई चीज़ न आने का इतना अभिमान करना हास्यास्पद है.

इस ट्वीट के बाद बग्गा की कायदे से आलोचना भी हुई. पत्रकार अनुषा रवि सूद ने लिखा- “आप ग्रामर उन्हें सिखा सकते हैं, जो ना जानते हों. लेकिन बग्गा जैसे व्यक्ति को कैसे सिखाओगे, जो हमेशा अपने ट्वीट्स के जरिए अपनी सड़ी हुई मानसिकता दिखाता रहता है? ग्रामर ना आना ठीक है. लेकिन इस तरह के घटिया ट्वीट्स नहीं.”

पत्रकार मनीषा पांडे ने ट्वीट किया- “कितना लो आईक्यू है!”


प्रज्ञा नाम की यूजर ने लिखा- “तुम घटिया हो और तुम्हें इंग्लिश ग्रामर सीखने की जरूरत है.”

कृष्णा नाम के यूजर ने ट्वीट किया- ‘इसको कहते हैं दिमाग से पॉटी करना’


एक यूजर ने लिखा- “हमारा राष्ट्रीय फूल कमल है और राष्ट्रीय शर्म तजिंदर बग्गा”

कांग्रेस की राष्ट्रीय प्रवक्ता डॉक्टर रागिनी नायक ने ट्वीट किया- “पूरे देश को पता है कि संघी और भाजपाई ना सिर्फ मंदबुद्धि से ग्रसित हैं बल्कि दिमागी गंदगी से संक्रमित भी हैं. फिर भी रोज नए प्रमाण देने में क्यों लगे रहते हैं?”


अंकित नाम के यूजर ने लिखा- “मुझे तुम्हारे जीवन में मौजूद महिलाओं के बारे में दुख होता है.”

पत्रकार सिद्धार्थ वर्धराजन ने लिखा- “सोनिया गांधी ट्रेंड चला रहे घटिया दर्जे के बीजेपी प्रवक्ताओं और आईटी सेल को ट्वीट करने से पहले कम से कम अंग्रेजी व्याकरण और विराम चिह्नों का सही प्रयोग तो पता होना चाहिए. अच्छे संस्कारों की तो बात ही नहीं कर रहा. ‘मेरे पति राजीव की एक विरासत’ और ‘मेरे पतियों में से एक’ का मतलब समान नहीं है.”


एक यूजर ने सवाल पूछा- “बग्गा एक 74 साल की महिला, जो कि तुम्हारी मां की उम्र की होगी, उसको अपमानित करते हुए तुम्हें शर्म नहीं आती.”

बग्गा ने कोई अकेले यह ट्वीट नहीं किया है. बीजेपी के दूसरे कोहिनूर टाइप प्रवक्ताओं और नेताओं ने भी ऐसे ही घटिया ट्वीट किए हैं. ऑल्ट न्यूज के को-फाउंडर मोहम्मद जुबैर ने इन ट्वीट्स का कोलाज बनाकर ट्वीट किया है. नजर डालिए-

तजिंदर बग्गा सहित इन लोगों ने अभी तक अपने घटिया ट्वीट्स पर माफी नहीं मांगी है. ऐसी उम्मीद भी नहीं रखनी चाहिए.


 

वीडियो- पाकिस्तानी मुस्लिम औरतों को रेटिंग दे रहे, ट्विटर पर बोली लगाकर बेच रहे लीचड़ लोग

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

क्राइम

परिवार ने पूरे गांव के सामने पति-पत्नी की हत्या कर दी गई, 18 साल बाद फैसला आया है

परिवार ने पूरे गांव के सामने पति-पत्नी की हत्या कर दी गई, 18 साल बाद फैसला आया है

कोर्ट ने एक को फांसी और 12 लोगों को उम्रकैद की सज़ा दी है.

असम से नाबालिग को किडनैप कर राजस्थान में बेचा, जबरन शादी और फिर रोज रेप की कहानी

असम से नाबालिग को किडनैप कर राजस्थान में बेचा, जबरन शादी और फिर रोज रेप की कहानी

नाबालिग 15 साल की है और एक बच्चे की मां बन चुकी है.

डोंबिवली रेप केसः 15 साल की लड़की का नौ महीने तक 29 लोग बलात्कार करते रहे

डोंबिवली रेप केसः 15 साल की लड़की का नौ महीने तक 29 लोग बलात्कार करते रहे

नौ महीने के अंतराल में एक वीडियो के सहारे बच्ची का रेप करते रहे आरोपी.

यौन शोषण की शिकायत पर पार्टी से निकाला, अब मुस्लिम समाज में सुधार के लिए लड़ेंगी फातिमा तहीलिया

यौन शोषण की शिकायत पर पार्टी से निकाला, अब मुस्लिम समाज में सुधार के लिए लड़ेंगी फातिमा तहीलिया

रूढ़िवादी परिवार से ताल्लुक रखने वाली फातिमा पेशे से वकील हैं.

रेप की कोशिश का आरोपी ज़मानत लेने पहुंचा, कोर्ट ने कहा- 2000 औरतों के कपड़े धोने पड़ेंगे

रेप की कोशिश का आरोपी ज़मानत लेने पहुंचा, कोर्ट ने कहा- 2000 औरतों के कपड़े धोने पड़ेंगे

कपड़े धोने के बाद प्रेस भी करनी होगी. डिटर्जेंट का इंतजाम आरोपी को खुद करना होगा.

स्टैंड अप कॉमेडियन संजय राजौरा पर यौन शोषण के गंभीर आरोप, उनका जवाब भी आया

स्टैंड अप कॉमेडियन संजय राजौरा पर यौन शोषण के गंभीर आरोप, उनका जवाब भी आया

इस मामले पर विक्टिम और संजय राजौरा की पूरी बात यहां पढ़ें.

मध्य प्रदेश: लड़की को किडनैप किया, रेप नहीं कर पाए तो आंखों में डाल दिया एसिड

मध्य प्रदेश: लड़की को किडनैप किया, रेप नहीं कर पाए तो आंखों में डाल दिया एसिड

पीड़िता की आंखों की रोशनी चली गई. मामले में दो आरोपी गिरफ्तार.

दिल्ली कैंट रेप केस: आरोपी 9 साल की बच्ची को जबरन पॉर्न दिखाता था, उससे मसाज करवाता था

दिल्ली कैंट रेप केस: आरोपी 9 साल की बच्ची को जबरन पॉर्न दिखाता था, उससे मसाज करवाता था

पुलिस का मानना है कि मौत करंट लगने से हुई ही नहीं.

बेटी को आत्मा से बचाने के नाम पर मां ने रेप के लिए तांत्रिक के हवाले कर दिया!

बेटी को आत्मा से बचाने के नाम पर मां ने रेप के लिए तांत्रिक के हवाले कर दिया!

घटना महाराष्ट्र के ठाणे की है, विक्टिम नाबालिग है.

इंदौरः पब में हो रहा था फैशन शो, संस्कृति बचाने के नाम पर उत्पातियों ने तोड़-फोड़ कर दी

इंदौरः पब में हो रहा था फैशन शो, संस्कृति बचाने के नाम पर उत्पातियों ने तोड़-फोड़ कर दी

पुलिस ने आयोजकों को ही गिरफ्तार कर लिया. उत्पाती बोले- फैशन शो में हिंदू लड़कियों को कम कपड़े पहनाकर अश्लीलता फैलाई जा रही थी.