Submit your post

Follow Us

पद्म सम्मानों के लिए भेजे गए ये नौ नाम आपको याद कर लेने चाहिए

खेल मंत्रालय ने पद्म सम्मानों के लिए रेकमेंडेशन भेज दिये हैं. तीन पद्म सम्मान होते हैं, जो गृह मंत्रालय हर साल देता है. पद्म विभूषण, फिर पद्म भूषण, और पद्म श्री. ये तीनों देश के नागरिकों को दिए जाने वाले क्रमशः दूसरे, तीसरे और चौथे बड़े सम्मान है. सबसे बड़ा सम्मान होता है भारत रत्न.

खैर. पद्म सम्मानों के लिए इस साल खेल मंत्रालय ने 9 नाम भेजे हैं. ये सभी नाम महिला खिलाड़ियों के हैं, और ये अपने-आप में इतिहास है. इनमें से और बाकी रिकमेन्डेशन्स में से गृह मंत्रालय चुनेगा कि सम्मान किसे दिया जाएगा.

जनवरी 2020 में इन सम्मानों की घोषणा की जाएगी. जिन महिला खिलाड़ियों के नाम इनमें शामिल हैं, उनके नाम ये रहे:

पद्म विभूषण (दूसरा सर्वोच्च सम्मान)

इसके लिए बॉक्सर मैरी कॉम का नाम भेजा गया है. ये सम्मान आज तक सिर्फ पुरुष खिलाड़ियों को ही दिया गया है. जैसे विश्वनाथन आनंद (चेस), सचिन तेंदुलकर(क्रिकेट) और सर एडमंड हिलेरी (माउंटेनियरिंग). पिछले साल ही मैरी कॉम ने 48 किलोग्राम भारवर्ग (कैटेगरी है वेट की) में वर्ल्ड चैम्पियनशिप जीती. अब उनकी नज़र 2020 में  होने वाले टोक्यो ओलंपिक्स पर है.

मैरी कॉम को भारत कि इही नहीं, बल्कि विश्व कि बेहतरीन महिला बॉक्सर्स में शुमार किया जाता है. (तस्वीर: PTI)
मैरी कॉम को भारत की ही नहीं, बल्कि विश्व कि बेहतरीन महिला बॉक्सर्स में शुमार किया जाता है. (तस्वीर: PTI)

पद्म भूषण (तीसरा सर्वोच्च सम्मान)

इसके लिए बैडमिन्टन खिलाड़ी पीवी सिंधु का नाम भेजा गया है. सिंधु ने हाल में ही स्विट्ज़रलैंड में हुए बैडमिन्टन वर्ल्ड फेडरेशन में नोज़ोमी ओकुहारा को हराकर गोल्ड जीता था. पिछले दो सालों से फाइनल में पहुंचकर सिल्वर जीतने के बाद उनकी इस जीत ने इतिहास बनाया. पिछले ओलंपिक्स में कैरोलिना मरीन के खिलाफ़ फाइनल खेलते हुए उन्होंने सिल्वर जीता था.

BWF का आखिरी मैच सिंधु ने 21-7, 21-7 से जीता था. (तस्वीर: PTI)
BWF का आखिरी मैच सिंधु ने 21-7, 21-7 से जीता था. (तस्वीर: PTI)

पद्म श्री (चौथा सर्वोच्च सम्मान)

इस कैटेगरी में सात नाम भेजे गए हैं.

मनिका बत्रा: इनका नाम टेबल टेनिस से भेजा गया है. मनिका दिल्ली की हैं और चार साल की थीं तब से टेबल टेनिस खेल रही हैं. 2018 में हुए कॉमनवेल्थ गेम्स में उन्होंने भारत की विमेंस टेबल टेनिस टीम को लीड किया था. गोल्ड कोस्ट, ऑस्ट्रेलिया में हुए इस टूर्नामेंट में भारत की विमेंस टीम ने सिंगापुर की टीम को हराया था. मनिका इस वक़्त भारत की टॉपमोस्ट टेबल टेनिस खिलाड़ी हैं, वर्ल्ड रैंकिंग 47 है.

इस साल जनवरी 2019 तक उनकी वर्ल्ड रैंकिंग 47 थी. (तस्वीर: रायटर्स )
इस साल जनवरी 2019 तक उनकी वर्ल्ड रैंकिंग 47 थी. (तस्वीर: रायटर्स )

हरमनप्रीत कौर: इनका नाम क्रिकेट से भेजा गया है. पिछले साल हुए विमेंस T-20 इंटरनेशनल में सेंचुरी मारने वाली भारत की वो पहली महिला खिलाड़ी बनीं. इनका पूरा नाम जाह्नवी कौर भुल्लर है. मोगा, पंजाब से हैं. 2009 में उन्होंने T20 और वनडे में डेब्यू किया था. 2017 में उन्हें अर्जुन अवॉर्ड से सम्मानित किया गया था. विमेंस बिग बैश लीग में वो सिडनी थंडर्स की तरफ से खेलती हैं.

भारतीय महिला क्रिकेट टीम के सबसे पॉपुलर चेहरों में से एक हैं हरमनप्रीत कौर. (तस्वीर: PTI)
भारतीय महिला क्रिकेट टीम के सबसे पॉपुलर चेहरों में से एक हैं हरमनप्रीत कौर. (तस्वीर: PTI)

रानी रामपाल: महिला हॉकी टीम की कैप्टेन हैं. 2010 में हुए वर्ल्ड कप में जो टीम गई थी, रानी उसकी सबसे कम उम्र खिलाड़ी थीं. हरियाणा के कुरुक्षेत्र में पैदा हुईं. 6 साल की उम्र से ही प्रोफेशनल हॉकी खेल रही हैं. अभी नेशनल टीम में फॉरवर्ड खेलती हैं. 2016 के रियो ओलंपिक्स में 36 साल बाद जब भारतीय विमेंस हॉकी टीम ने क्वालीफाई किया, तब वो टीम का हिस्सा थीं.

तस्वीर: PTI
(तस्वीर: PTI)

विनेश फोगाट: रेसलिंग यानी कुश्ती से इनका नाम भेजा गया है. ये पहली भारतीय महिला रेसलर हैं जिन्होंने एशियन गेम्स और कॉमनवेल्थ दोनों में ही गोल्ड जीता है. हरियाणा से हैं. इनकी बहनें गीता फोगाट और बबीता कुमारी भी मशहूर रेसलर हैं. 2016 में इन्हें अर्जुन अवॉर्ड दिया गया था. इनका नाम पिछले साल भी पद्म श्री के लिए भेजा गया था.

विनेश की कजिन रितु फोगाट भी बॉक्सर हैं. (तस्वीर: PTI)
विनेश की कजिन रितु फोगाट भी बॉक्सर हैं. (तस्वीर: PTI)

सुमा शिरूर: सुमा का नाम शूटिंग के खेल के लिए भेजा गया है. ये अभी एक्टिव नहीं हैं, लेकिन 2002 में मैनचेस्टर में हुए कॉमनवेल्थ गेम्स और बुसान में हुए एशियन गेम्स में उन्होंने गोल्ड जीता था. 2004 में हुए एथेंस ओलंपिक्स में उन्होंने जॉइंट वर्ल्ड रिकॉर्ड बनाया था जब उन्होंने मैक्सिमम 400 पॉइंट्स आने नाम किए थे. इनका नाम इस खेल में किए गए कंट्रीब्यूशन के लिए भेजा गया है.

नेशनल शूटिंग में अहम योगदान देने के लिए उनके नाम की सिफारिश की गई है. (तस्वीर: PTI)
नेशनल शूटिंग में अहम योगदान देने के लिए उनके नाम की सिफारिश की गई है. (तस्वीर: PTI)

ताशी और नुन्ग्शी मलिक: इनका नाम माउंटेनियरिंग के लिए भेजा गया है. ये जुड़वां बहनें हैं, और हरियाणा से हैं. नेहरू इंस्टिट्यूट ऑफ माउंटेनियरिंग से इन्होने ट्रेनिंग ली, और एवेरेस्ट की चोटी फतह करने वाली पहली बहनों की जोड़ी बनीं. इनको तेनजिंग नोर्गे नेशनल एडवेंचर अवॉर्ड भी मिल चुका है 2015 में भारत सरकार की तरफ से. इन्होंने दुनिया की सबसे ऊंची सात चोटियां फतह की हैं, और नॉर्थ पोल के साथ-साथ साउथ पोल भी गई हैं. ये अपने आप में एक रिकॉर्ड है.

(तस्वीर: फेसबुक)
(तस्वीर: फेसबुक)

पद्म अवॉर्ड्स की घोषणा जनवरी में की जाएगी.


वीडियो: पुलिस ने चिता पर से लाश उठवाई, पोस्टमॉर्टम के बाद पता चला कि पिता ही हत्यारा था

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

क्राइम

अमेरिकी ब्लॉगर ने पाकिस्तान के पूर्व गृहमंत्री रहमान मलिक पर रेप का आरोप लगाया

पूर्व प्रधानमंत्री युसूफ रज़ा गिलानी पर भी छेड़छाड़ और प्रताड़ना का आरोप लगाया.

केरल: पांच साल के बेटे के सामने पति के दोस्तों ने किया गैंगरेप!

केस में पुलिस बच्चे को मुख्य गवाह के तौर पर पेश करेगी.

पंजाबी एक्ट्रेस की फेक चैट वायरल, 'वो वाला' वीडियो वायरल करने की धमकी!

'स्ट्रीट डांसर-3' में दिखने वाली सोनम बाजवा साइबर बुलिंग का शिकार हुईं.

'ईमानदार हूं, इसलिए मेरे खिलाफ झूठी शिकायत की', महिला SHO ने BJP विधायक पर आरोप लगाए

सोशल मीडिया पर राजस्थान पुलिस की इस अधिकारी का लेटर जमकर वायरल.

बेटी से वॉट्सऐप पर बात करते रहे, फिर पुलिस ने बताया- वो साल भर पहले मर चुकी थी

उसकी हत्या कर, सर और हाथ काट, जाने कब फेंका जा चुका था.

नवाज़ुद्दीन सिद्दीकी की भतीजी ने उनके भाई पर यौन शोषण के आरोप लगाए

नवाज़ के बारे में कहा कि उन्हें बताया तो बोले, 'चाचा हैं ऐसा नहीं कर सकते'.

बेटा और पैसा चाहिए था, तो आदमी ने तांत्रिक की सलाह पर बड़ा कांड कर डाला!

पुलिस अब तांत्रिक को भी खोज रही है.

जेसिका लाल हत्याकांड: दोषी मनु शर्मा को उम्र कैद हुई थी, लेकिन 14 बरस में ही तिहाड़ से बाहर आ गया

सात साल की कानूनी लड़ाई के बाद दोषी को सज़ा मिली थी.

घर से चली गई थी, रिश्तेदारों ने बेरहमी से पीटा, उसके कंधे पर लड़के को बिठाकर गांव में घुमाया

पीड़िता के पिता की शिकायत पर पुलिस ने 15 लोगों को गिरफ्तार किया.

शराब के लिए पैसे मांगे, पत्नी ने कहा-कमा कर लाओ, बहस हुई, फिर इतना पीटा कि पति की मौत हो गई!

पति के खिलाफ मारपीट का आरोप लगाकर महिला ने थाने में शिकायत भी कर दी थी.