Submit your post

Follow Us

सोना मोहपात्रा ने अनु मलिक और इंडियन आइडल को क्यों लताड़ लगाई है?

472
शेयर्स

सोना मोहपात्रा गायिका हैं. इनके गाने अम्बरसरिया, जिया लागे न, बेदर्दी राजा वगैरह बेहद पॉपुलर हुए. कई लोगों ने उनको टीवी अपीयरेंस की वजह से याद रखा. ‘सत्यमेव जयते’ टीवी शो पर. वही शो जिसे आमिर खान होस्ट करते थे. इसमें हर हफ़्ते समाज से जुड़ा एक अहम मुद्दा उठाया जाता था. वो एपिसोड था दहेज़ पर. स्टेज पर खड़ी सोना ‘मुझे क्या बेचेगा रुपैया’ गा रही थीं. उनकी ये इमेज लोगों के मन में छप गई.

2018 में जब मी टू मूवमेंट भारत पहुंचा, तब उन्होंने भी जोर-शोर से आवाज़ उठाई थी. सोना  ने अनु मलिक और कैलाश खेर पर यौन उत्पीड़न का आरोप लगाया था. सोना ने कहा था कि कैलाश खेर ने कॉफ़ी पीते-पीते अपना हाथ उनकी जांघों पर रखा था. सोना महापात्रा के साथ सिंगर श्वेता पंडित ने अनु मलिक पर यौन शोषण का आरोप लगाया था. इसके बाद और भी कई महिलाओं ने अपना एक्सपीरियंस शेयर किया और अनु मलिक पर यौन शोषण का आरोप लगाया. इसके बाद सबको उम्मीद थी कि अनु मलिक के खिलाफ जांच होगी. उनके खिलाफ कार्रवाई होगी. पर ऐसा कुछ नहीं हुआ. अनु मलिक इंडियन आइडल के नए सीज़न के जज बन गए.

अब सोना ने अपने फेसबुक अकाउंट पर एक खुली चिट्ठी लिखी है. इसमें उन्होंने इंडियन आइडल और इसे स्पांसर करने वाले सोनी पिक्चर्स इंटरनेशनल को खूब लताड़ा है.

पोस्ट में सोना लिखती हैं:

नेहा भसीन 21 साल की थीं, और उन्हें भागना पड़ा. उन्होंने अनु मलिक के साथ झेली वारदात सुनाई, आज ट्विटर पर. श्वेता पंडित 15 साल की थीं जब अनु ने उन्हें किस करने की कोशिश की.अनु के फैमिली डॉक्टर की बेटी 14 साल की थी जब उसके साथ एक कार राइड के दौरान अनु ने अपनी पैंट की ज़िप खोल दी थी. यही नहीं, कई औरतों ने अनु मलिक के साथ घटी अपनी मीटू की कहानियां बताई थीं… और ये आदमी 11 साल से जज की कुर्सी पर बैठा है? मैं वहां ऐसे आदमी की कल्पना भी नहीं कर सकती.

क्या निर्भया जैसी त्रासदी ही भारत को झिंझोड़ कर जगा सकती है?  साल भर बाद अनु मलिक जैसा यौन शोषण करने वाला राष्ट्रीय टीवी पर जज बनकर लौटा है? एक समाज के तौर पर हमारे बारे में ये क्या बताता है? क्या सोनी इस तरह की हरकत USA के अमेरिकन आइडल में कर सकता है? नहीं. क्योंकि वहां पर उन्हें मालूम है कि जनता और इंडस्ट्री इस पर उनकी छीछालेदर कर देंगे, जिससे उन्हें नुकसान होगा. दूसरे सेलेब्रिटी और सक्सेसफुल अचीवर्स उस शो में हिस्सा लेने से मना कर देंगे. लेकिन यहां?

सोना आगे लिखती हैं:

‘मैं ठीक हूं. मुझे पता है कि कई और लोग रोज सच की वो लड़ाई लड़ रहे हैं जो बिल्कुल भी आसान नहीं. इसलिए मैं हार नहीं मानूंगी. बदलाव आएगा. हम जैसों और हम जैसे दूसरे लोगों की वजह से.’

मी टू मूवमेंट के दौरान सोनू निगम ने अनु मलिक को काफ़ी सपोर्ट किया था. एक इंटरव्यू के दौरान कहा था:

जो इज्ज़तदार महिला ट्विटर पर उल्टी कर रही हैं वो मेरे एक करीबी की बीवी हैं. हो सकता वो वो हमारी दोस्ती भूल गई हों पर मैं इसपर चुप्पी ही रखूंगा.

सोना म्यूज़िक कंपोज़र राम संपत की पत्नी हैं. सोनू की बात का सोना ने  तब भी धाकड़ जवाब दिया था, कहा था,

सोनू मैंने आपका इंटरव्यू पढ़ा. किसी पुरुष के साथ मेरे रिश्ते को इस डिस्कशन के बीच में लाना आपकी मानसिकता दिखाता है. मैं एक अलग इंसान हूं. मेरी एक अलग सोच है. मेरी रिलेशनशिप से इसका कोई लेना-देना नहीं है.

सोना ने समय-समय पर कहा है कि मीटू में आवाज़ उठाने की वजह से उनके कई शोज कैंसल हो गए. उन्हें सारेगामापा में जज की कुर्सी छोड़नी पड़ी. वहीं आरोप जिन पुरुषों पर लगे, उनके करियर पर कोई फर्क नहीं पड़ा.


वीडियो:जस्टिस शरद अरविंद बोबडे अगले CJI होंगे, जो जस्टिस रंजन गोगोई की जगह लेंगे

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

क्राइम

ड्राइवर्स ने गुड़गांव से इंजिनियर लड़की को कैब में बैठाया, ग्रेटर नोएडा ले जाकर गैंगरेप किया

ऑनलाइन कैब बुक नहीं हुई थी. इसलिए लड़की ने हाथ से कैब रुकवाई थी.

लड़का दारू पीकर मां, भाभी और बहन का रेप करता था, परिवार ने मार डाला

हत्या वाले दिन भी भाभी का रेप करने की कोशिश कर रहा था.

रेप के लिए झाड़ियों में ले गया, कुछ लोगों ने बचाया, फिर उन्होंने ही गैंगरेप किया

नोएडा में पुलिस चौकी से आधा किलोमीटर दूर हुई घटना.

13 साल की जिस लड़की ने रात भर हुए गैंगरेप के बाद आत्महत्या की, वो पहले से प्रेगनेंट थी

एक-दो नहीं. छह लोग. छह रेपिस्ट.

अंग्रेजी कमजोर थी, इसलिए कॉलेज स्टूडेंट ने सुसाइड कर लिया

स्कूल की पढ़ाई हिंदी में की थी. कॉलेज अंग्रेजी में कर रही थी.

मुजफ्फरपुर शेल्टर होम में बच्चियों से बलात्कार केस का फैसला टल गया है

वकीलों की हड़ताल की वजह से फैसले में देरी होगी.

रेप के बाद नाबालिग मां बन गई, पंचायत ने बच्चे को 20 हजार में बेचने का फरमान सुना दिया!

पहली बार टीचर ने, फिर बिजली बनाने वाले रेप किया था.

अस्पताल के टॉयलेट में इस महिला ने जो किया जान लेंगे तो आपको स्कूल याद आ जाएगा

पुलिसवाले टॉर्च लेकर उसे ढूंढ़ रहे हैं.

बर्फीली नदी में डूब रहा था, लोग बचाने गए तो पता चला लाश के टुकड़े ठिकाने लगा रहा था

मगर ये कुछ भी नहीं था, पूरी कहानी अभी बाकी थी.

81 साल की बुजुर्ग महिला के मुंह पर कालिख पोती, नंगे पांव पूरे गांव में घसीटा

जूतों की माला पहनाई.