Submit your post

Follow Us

चुनाव आते ही औरतों के अंतर्वस्त्रों और कूल्हों पर पैनी नज़र क्यों रखने लगते हैं नेता

पश्चिम बंगाल, तमिलनाडु, असम, केरल और पुदुच्चेरी. चार राज्य और एक केंद्र शासित प्रदेश. यहां विधानसभा चुनाव होने हैं. प्रक्रिया शुरू हो गई है और नेताओं ने प्रचार में खुद को झोंक दिया है. यही तो टाइम होता है जनता की नज़रों में आने का, उन्हें रिझाने का और उनका वोट अपने नाम करवाने का. राज्यों के चुनाव हैं, लोगों के मुद्दों और मौजूदा सरकार के काम पर बात हो, बहस हो तब तक तो कोई दिक्कत नहीं है. लेकिन हाल के वक्त में हमने देखा है कि चुनाव के मैदान को नेता मिसोजिनी का अखाड़ा बना लेते हैं. कौन सा नेता औरत के बारे में कितनी घटिया टिप्पणी कर सकता है, इसकी रेस सी लग जाती है.

अब अभी ही रैली के दौरान दो नेताओं ने औरतों को लेकर बेहद अपमानजनक बात की. एक ने पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के कपड़ों पर घटिया कमेंट किया, तो दूसरे ने औरतों के कूल्हों पर अपनी गैर-जरूरी राय के साथ इस बात का परिचय दिया कि उनमें सामान्य ज्ञान का बहुतायत में अभाव है. चलिए दोनों पर नज़र डाल लेते हैं.

‘एक पांव ढका, एक खुला, इससे अच्छा ममता ‘बरमूडा’ पहन लेतीं.’

पुरुलिया में हुई एक चुनावी रैली में पश्चिम बंगाल बीजेपी के अध्यक्ष दिलीप घोष ने 23 मार्च को कहा,

“लोग उनका चेहरा नहीं देखना चाहते, तो अब वो सबको अपना पैर दिखा रही हैं. वो साड़ी पहनती हैं. जिसमें एक पैर ढका होता है, एक पैर लोगों को दिखाने के लिए खुला होता है. मैंने कभी किसी को इस तरह साड़ी पहने नहीं देखा. अगर उनको अपने पैर दिखाने ही हैं, तो उनको बरमूडा शॉर्ट्स पहन लेने चाहिए. ताकि सबको उनके पैर अच्छे से दिख जाएं.”

एक ऐसी पार्टी जो राज्य में सरकार बनाने का दावा कर रही है. उसका राज्य में सबसे बड़ा नेता चुनावी रैली में महिला मुख्यमंत्री के कपड़े डिस्कस कर रहा है. उन पर भद्दी टिप्पणी कर रहा है कि उन्होंने अपने पैर की प्रदर्शनी लगा रखी है. और सुझाव दे रहा है कि उन्हें बरमूडा शॉर्ट्स पहनना चाहिए, इससे लोगों को बेहतर व्यू मिलेगा. इससे ज्यादा घिनौनी बात क्या हो सकती है.

दिलीप घोष के इस बयान का ममता ने जवाब दिया,

“बीजेपी नेता कहते हैं कि औरतों को साड़ी नहीं पहननी चाहिए, सलवार नहीं पहननी चाहिए. वो उनको हाफ पैंट पहनने को कहेंगे और वोट मांगेंगे. कौन क्या पहनेगा ये उनकी पर्सनल चॉइस है. मैं अपने घायल पैर के साथ ये गेम खेलूंगी और बीजेपी को बोल्ड करूंगी.”

औरतों के कूल्हे अब परफेक्ट 8 जैसे नहीं दिखते

डीएमके नेता हैं दिंडीगुल आई लियोनी. कोयंबटूर में एक चुनावी रैली के दौरान उन्होंने कहा,

“आपको पता है, कई तरह की गायें होती हैं. आपने विदेशी गायें देखी होंगी, उनका दूध निकालने के लिए मशीनों का इस्तेमाल होता है. आदमी एक बटन दबाएगा और घंटेभर में 40 लीटर दूध निकल जाएगा. वो दूध पीकर सारी औरतें गुब्बारे की तरह मोटी हो गई हैं. पहले औरतों के कूल्हे आठ नंबर जैसे होते थे. वो अपने बच्चों को अपने कूल्हों के ऊपर टांग लेती थीं. लेकिन अब अगर वो बच्चे वैसे पकड़ती हैं तो वो फिसल जाते हैं. क्योंकि अब वो पीपे जैसी हो गई हैं. आजकल के बच्चे भी काफी मोटे हो गए हैं.”

चुनावी रैली में एक नेता औरतों के कूल्हों के परफेक्ट शेप पर बात कर रहा है. और परफेक्ट शेप होता क्या है? पीरियड से लेकर, बच्चा पैदा करने और उसके ऊपर तमाम तरह को हॉर्मोनल बदलावों के बीच औरत के शरीर के अंदर क्या-क्या होता है, इसका ज़ाहिर तौर पर इन नेता जी को अंदाज़ा नहीं है.

लेकिन ये तो हर बार का है. जैसे ही कोई चुनाव आता है नेता औरतों के बारे में अपनी घटिया सोच की उल्टी चुनावी रैलियों में करने लगते हैं. कुछ और उदाहरण देख लेते हैंः

‘रामपुर के लोगों की शामें रंगीन होंगी”

मार्च, 2019. लोकसभा चुनाव की तैयारियां ज़ोरों पर थी. जया प्रदा ने समाजवादी पार्टी छोड़कर बीजेपी जॉइन की. तब बीजेपी ने जया को रामपुर से टिकट दिया था और सपा की तरफ से इस सीट पर आज़म खान चुनाव लड़ रहे थे. जया प्रदा के एक्टिंग और डांस करियर को लेकर कमेंट करते हुए सपा नेता फिरोज़ खान ने कहा,

“एक दिन मैं बस में जा रहा था. जया प्रदा का काफिला था. काफी जाम लगा था. मैं उतरकर ये देखने लगा कि कहीं जाम खुलवाने के लिए वो ठुमके न लगा दें… चुनावी माहौल में रामपुर की शामें रंगीन हो जाएंगी… जीतेंगे तो हम ही लेकिन वहां के लिए लोग मज़ा लूटने में कोई कसर नहीं छोड़ेंगे. वो यही कहेंगी कि पैरों में घुंघरू बंधा लो और फिर मेरी चाल और ठुमके देख लो.”

इस पर जब विवाद बढ़ा तो फिरोज़ खान ने खुद का बचाव करते हुए कहा था कि वो तो एक कलाकार के तौर पर जया प्रदा की तारीफ कर रहे थे.

“अंडरवियर का रंग खाकी है”

जया प्रदा के बीजेपी जॉइन करने पर आज़म खान ने कहा था,

“जिसको हम उंगली पकड़कर रामपुर लाए, आपने 10 साल जिससे अपना प्रतिनिधित्व कराया… उनकी असलियत समझने में आपको 17 बरस लगे, मैं 17 दिन में पहचान गया कि इनके नीचे का अंडरवियर खाकी रंग का है.”

आज़म खान के इस बयान पर केंद्रीय महिला आयोग की तरफ से उन्हें नोटिस भेजा गया था. उनके खिलाफ एफआईआर भी दर्ज की गई थी. इस पर आज़म खान ने कहा था कि उन्होंने किसी का नाम नहीं लिया और वो किसी और की बात कर रहे थे. वहीं जया प्रदा ने कहा था कि इस बयान के बाद आज़म खान को चुनाव लड़ने की अनुमति नहीं दी जानी चाहिए.

हेमा मालिनी के गाल जितने चिकने रोड

हेमा मालिनी के गालों से सड़क की तुलना किसी एक नेता ने, किसी एक मौके पर नहीं की. ये कमेंट लालू प्रसाद यादव से लेकर राज्यों के मंत्री पदों पर रहे दूसरे नेताओं ने भी किया है.

2005 में लालू प्रसाद यादव देश के रेल मंत्री थे. तब उन्होंने कहा था कि वो बिहार की सड़कों को हेमा मालिनी के गाल जितने चिकने बनाएंगे. जब इस पर विवाद हुआ तो उन्होंने कहा था कि ये बात असल में अटल बिहारी वाजपेयी ने कही थी और बेहद चालाकी से उस बयान को उनके मत्थे मढ़ दिया गया.

हेमा मालिनी के गाल न हुए चिकनाई का पैमाना हो गए. कोई भी नेता मुंह उठाकर उनके गाल जैसी सड़क बनाने का दावा कर देता है.
हेमा मालिनी के गाल न हुए चिकनाई का पैमाना हो गए. कोई भी नेता मुंह उठाकर उनके गाल जैसी सड़क बनाने का दावा कर देता है.

अक्टूबर, 2019 में मध्य प्रदेश के कानून मंत्री रहे पीसी शर्मा ने कहा था कि भोपाल की सड़कें अभी कैलाश विजयवर्गीय के गाल जैसी हैं. इसे हेमा मालिनी के गाल जैसी चिकनी बनाएंगे.

अप्रैल, 2013 में यूपी अखिलेश यादव की सरकार थी. राजा राम पांडे उनकी कैबिनेट का हिस्सा थे. उन्होंने हेमा मालिनी के गाल जैसी सड़क बनाने का दावा किया. उनके इस बयान के बाद उन्हें कैबिनेट से निकाल दिया गया था.

“रोज़ फेशियल करवाती हैं मायावती”

2019 में लोकसभा चुनाव के लिए प्रचार जारी था. तब बीजेपी विधायक सुरेंद्र नारायण सिंह ने मायावती पर आपत्तिजनक टिप्पणी की थी. उन्होंने कहा था,

“मायावती रोज़ फेशियल करवाती हैं. उनके बाल सफेद हो गए हैं लेकिन युवा दिखने के लिए वो उनमें कलर करवाती हैं. 60 साल की हो गई हैं, लेकिन अभी भी उनके बाल काले कैसे हैं?”

मायावती या कोई भी महिला फेशियल करवाती हों, बाल रंगवाती हों इससे किसी और को क्या लेना-देना होना चाहिए?

और महिलाओं का मोटापा तो जैसे इनसे बर्दाश्त ही नहीं होता

अखिलेश ने मायावती पर कमेंट किया

2017 की बात है. उत्तर प्रदेश में विधानसभा चुनाव होने थे. अखिलेश यादव की समाजवादी पार्टी ने कांग्रेस के साथ गठबंधन किया था. राहुल गांधी के साथ अखिलेश यादव एक जॉइंट प्रेस कॉन्फ्रेंस कर रहे थे. इस दौरान एक पत्रकार ने सवाल पूछा कि उनके गठबंधन में मायावती की बसपा को जगह क्यों नहीं मिली? इस पर अखिलेश यादव ने कहा था,

“कैसे जगह दे देते उन्हें? कितनी जगह लेती हैं वो. उनका तो चुनाव चिह्न भी हाथी है.”

अखिलेश और माया 2018 के लोकसभा उपचुनावों के दौरान साथ आए थे.
अखिलेश और माया 2018 के लोकसभा उपचुनावों के दौरान साथ आए थे.

वसुंधरा के वज़न पर शरद यादव ने कमेंट किया था

2018 में राजस्थान विधानसभा चुनाव के दौरान, जदयू नेता शरद यादव ने वसुंधरा राजे सिंधिया पर आपत्तिजनक कमेंट किया था. उन्होंने कहा था,

“वसुंधरा को आराम दो. बहुत थक गई हैं. बहुत मोटी हो गई हैं. पहले पतली थीं. हमारे मध्य प्रदेश की बेटी थीं. “

हमने नहीं सुना कि कभी किसी नेता ने किसी पुरुष नेता के मोटापे पर चिंता जताई हो.

“प्रियंका गांधी से सुंदर कई महिलाएं हैं जो स्टार कैम्पेनर हैं”

यूपी विधानसभा चुनाव से पहले की बात है. बीजेपी सांसद विनय कटियार ने प्रियंका गांधी कैसी दिखती हैं, इसे लेकर टिप्पणी की. उन्होंने कहा,

“उनसे ज्यादा बहुत सी सुंदर महिलाएं हैं. जो स्टार कैम्पेनर हैं. हीरोइन हैं, कलाकार हैं.”

इस पर प्रियंका गांधी ने उन्हें जवाब दिया. प्रियंका ने लिखा,

“हाहाहा. वो सही कह रहे हैं. वो मुझसे ज्यादा सुंदर महिलाएं हैं. और मेरी हर कलीग मजबूत, बहादुर और खूबसूरत है, जिन्होंने हर तरह की मुश्किलों को झेलकर अपनी जगह बनाई है. अगर वो उनमें यही देखते हैं तो मुझे इस पर हंसी आती है. क्योंकि ये देश की आधी आबादी को लेकर उनकी मानसकिता का परिचय देती है.”

औरतों को लेकर नेताओं के विष-वमन के इतने उदाहरण देखकर हमारे दिमाग में दर्द होने लगा है. ये घटिया मानसिकता वाले नेता महिलाओं को उनके कपड़े, उनके शरीर और उनके चेहरे के आगे देख ही नहीं पाते. और दुखद ये है कि एक भी पार्टी ऐसी नहीं है जिसके लिए कहा जा सके कि इसके नेता 100 प्रतिशत मिसोजिनी प्रूफ हैं.


मुस्लिम लड़की से लव मैरिज करने वाले सुमित को हिंदू शेर बताने वाले किस मानसिकता के हैं?

 

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

क्राइम

पति ऑक्सीजन सपोर्ट पर था, पत्नी पास खड़ी थी, पीछे से नर्सिंग स्टाफ उसका दुपट्टा खींच रहा था

पति ऑक्सीजन सपोर्ट पर था, पत्नी पास खड़ी थी, पीछे से नर्सिंग स्टाफ उसका दुपट्टा खींच रहा था

पटना की महिला का आरोप, अस्पताल बदला तो वहां डॉक्टर गंदे इशारे करता था.

किसान आंदोलनः टिकरी बॉर्डर पर युवती से रेप का आरोप, कोरोना से मौत के 9 दिन बाद FIR हुई

किसान आंदोलनः टिकरी बॉर्डर पर युवती से रेप का आरोप, कोरोना से मौत के 9 दिन बाद FIR हुई

पिता का आरोप, 'मुझ पर दबाव बनाया - बेटी का शव चाहिए तो स्टेटमेंट दो कि वो कोरोना से मरी.'

महिला थाना प्रभारी की मौत के बाद हंगामा, परिवार ने साथी सब-इंस्पेक्टर पर टॉर्चर के आरोप लगाए

महिला थाना प्रभारी की मौत के बाद हंगामा, परिवार ने साथी सब-इंस्पेक्टर पर टॉर्चर के आरोप लगाए

आत्महत्या या हत्या? जानिए पूरा मामला

कोरोना ग्रस्त लड़कियों का रेप करने वालों को अपनी जान का डर क्यों नहीं लगता?

कोरोना ग्रस्त लड़कियों का रेप करने वालों को अपनी जान का डर क्यों नहीं लगता?

ये महज़ सेक्शुअल उत्तेजना का मामला नहीं, बात और गहरी है.

असम: परिवार से दूर रहकर दूसरे के घर में 'झाड़ू-पोछा' करती थी, अब इस बच्ची का जला हुआ शव मिला

असम: परिवार से दूर रहकर दूसरे के घर में 'झाड़ू-पोछा' करती थी, अब इस बच्ची का जला हुआ शव मिला

रेप, सेक्शुअल असॉल्ट और प्रेग्नेंसी के आरोपों पर पुलिस चुप क्यों?

आठ महीने की प्रेग्नेंट 'ड्रग क्वीन' साइना को उसके पति ने गोलियों से क्यों भून डाला?

आठ महीने की प्रेग्नेंट 'ड्रग क्वीन' साइना को उसके पति ने गोलियों से क्यों भून डाला?

जुड़वा बच्चों की मां बनने वाली थी साइना.

कपड़ा फैक्ट्री में 19 महिलाओं से जबरन काम कराया जा रहा था, पुलिस ने बचा लिया

कपड़ा फैक्ट्री में 19 महिलाओं से जबरन काम कराया जा रहा था, पुलिस ने बचा लिया

तीन महीने की ट्रेनिंग के लिए बुलाया, फिर बंधक बना लिया.

ग्वालियर: COVID सेंटर में वॉर्ड बॉय पर मरीज से रेप की कोशिश का आरोप, गिरफ्तार

ग्वालियर: COVID सेंटर में वॉर्ड बॉय पर मरीज से रेप की कोशिश का आरोप, गिरफ्तार

आरोपी को नौकरी से निकाला.

बाप पर आरोपः दो साल तक बेटी का रेप किया, दांतों से चबाकर उसकी नाक काट ली

बाप पर आरोपः दो साल तक बेटी का रेप किया, दांतों से चबाकर उसकी नाक काट ली

पैसे देकर दूसरे लड़के से रेप करवाने का भी आरोप है.

सुसाइड कर रहे पति को रोकने की जगह पत्नी उसका वीडियो क्यों बना रही थी?

सुसाइड कर रहे पति को रोकने की जगह पत्नी उसका वीडियो क्यों बना रही थी?

पति की मौत हो गई है.