Submit your post

Follow Us

'सेक्स रैकेट क्वीन' सोनू पंजाबन ने सोचा भी नहीं होगा कि कोर्ट इतनी ज़्यादा सज़ा सुना देगी

दिल्ली में ‘सेक्स रैकेट क्वीन’ कहलाने वाली गीता अरोड़ा यानी सोनू पंजाबन को सज़ा सुना दी गई है. वो भी इतनी कि बड़े से बड़े क्रिमिनल के होश उड़ जाए. द्वारका कोर्ट ने सोनू को 24 साल और उसके साथी संदीप को 20 साल की सज़ा सुनाई है. दोनों को एक नाबालिग बच्ची का अपहरण, रेप और उसे देह व्यापार में धकेलने के एक मामले में दोषी पाया गया था. ‘इंडिया टुडे’ के अरविंद ओझा की रिपोर्ट के मुताबिक, दिल्ली पुलिस ने इस मामले में कोर्ट से ज्यादा से ज्यादा सज़ा देने की मांग की थी.

कुछ दिन पहले दोषी माना था

द्वारका कोर्ट ने 16 जुलाई को ही सोनू और संदीप को इस मामले में दोषी करार दिया था. ऐसा पता चला है कि दोषी करार दिए जाने के दो दिन बाद सोनू ने तिहाड़ जेल में मेडिसिन खाकर आत्महत्या करने की कोशिश भी की थी. हालांकि अस्पताल में इलाज के बाद वो ठीक हो गई.

वैसे तो सोनू के ऊपर दिल्ली-NCR समेत देश के कई हिस्सों में, हत्या और देह व्यापार के कई केस दर्ज हैं, लेकिन दोष पहली बार सिद्ध हुआ था. जिस केस में सोनू दोषी पाई गई है, वो साल 2009 का है.

कौन-सा मामला है?

साल 2009 में दिल्ली के हर्ष विहार इलाके से 12 साल की एक बच्ची गायब हो गई थी. यही बच्ची पांच साल बाद नजफगढ़ थाने पहुंची, और पुलिस को अपनी पूरी कहानी बताई.

दरसअल, साल 2006 में इस बच्ची की दोस्ती संदीप नाम के एक आदमी से हुई थी. यही संदीप 2009 के सितंबर महीने में उसे अपने साथ लेकर चला गया था. शादी करने के बहाने. दिल्ली के ही एक दूसरे इलाके लेकर गया, फिर रेप किया. उसके बाद बच्ची को अलग-अलग लोगों को दस बार बेचा. आखिर में बच्ची को सोनू पंजाबन के हवाले किया. सोनू ने बच्ची को देह व्यापार में धकेल दिया. बच्ची को नशे के इंजेक्शन दिए जाते थे. हरियाणा और पंजाब भी भेजा गया. बाद में सतपाल नाम के एक आदमी ने ज़बरन बच्ची से शादी कर ली. बच्ची किसी तरह उस आदमी के चंगुल से छूटकर भागी और नजफगढ़ थाने पहुंची.

केस दर्ज हुआ. पड़ताल शुरू हुई. मामला दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच को सौंपा गया. डीसीपी भीष्म सिंह की टीम ने सोनू और संदीप को गिरफ्तार किया. और अब इसी केस में द्वारका केस ने सज़ा सुनाई. कोर्ट में बच्ची के पिता ने बच्ची का बर्थ सर्टिफिकेट भी दिया था, जिसके मुताबिक सितंबर 2009 में बच्ची 12 साल 10 महीने और दो दिन की थी.

इसे भी पढ़ें-

सेक्स रैकेट क्वीन सोनू पंजाबन, जिसे बच्ची से रेप केस में कोर्ट ने दोषी करार दिया है

कहानी सेक्स रैकेट क्वीन सोनू पंजाबन की, जिसपर फ़िल्मी स्टाइल से जानलेवा हमला किया गया है


वीडियो देखें: सेक्स रैकेट क्वीन सोनू पंजाबन, साल 2009 के अपहरण केस में दोषी पाई गई है

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

नॉलेज

'अरेंज मैरिज' कल्चर दिखाने के बहाने इस नेटफ्लिक्स सीरीज ने कई दिक्कत भरी बातें दिखा डाली

महिलाविरोधी बातों के अलावा भी कई खामियां हैं शो में.

'शादी के लिए मैं जिस लड़के को देख रही थी, उसी ने किया यौन शोषण'

क्या क्या झेलना पड़ता है लड़कियों को अरेंज मैरिज के नाम पर

आज की ख़बरों में ये महिलाएं टॉप पर क्यों बनी रहीं, वजह जान लीजिए

किरण बेदी से लेकर नलिनी श्रीहरन तक.

लॉकडाउन खुलने के बाद सरकारी स्कूल के टीचर्स किन मुश्किलों से जूझ रहे हैं?

किसी के पास आने-जाने का साधन नहीं, तो किसी को सैनिटाइजेशन की फ़िक्र.

आज की ख़बरों में ये महिलाएं छाई रहीं, वजह भी जान लीजिए

बड़े आविष्कारों से लेकर 12वीं की परीक्षा तक.

स्कॉच ब्राइट वालों ने ढंग का काम करना चाहा, ट्विटर पर लोगों ने उल्टी गंगा बहा दी

बात थी जेंडर से जुड़ी, बिंदी लेकर उड़ चले

बीजेपी में शामिल होने वाली वीरप्पन की बेटी को पार्टी ने कौन सी जिम्मेदारी दी?

फरवरी 2020 में बीजेपी में शामिल हुई थीं.

आज पूरे दिन ख़बरों में छाई रहने वाली ये महिलाएं कौन हैं?

और इन्होंने ऐसा क्या कर दिया कि स्पॉटलाइट इन पर पड़ी है.

COVID-19: क्वारंटीन सेंटर के भीतर का ये सीन देखकर आप उम्मीद से भर जाएंगे

जहां कोरोना से ज्यादा मजबूत है इंसानी हिम्मत और न हारने का जज्बा.

समलैंगिकता 'ठीक' करने के नाम पर शर्मिंदगी से भर देने वाली 'कन्वर्जन थेरेपी' क्या है

विदेश में भी इसे एक इलाज बताकर बेचा जाता है.