Submit your post

Follow Us

रज़िया सुल्तान के बिहार की पहली मुस्लिम महिला DSP बनने की कहानी

सोशल मीडिया पर जब-तब इस बात पर बहस होती रही है कि क्या मुस्लिम औरतों को बुर्का पहनना चाहिए या नहीं? पर्दा करना चाहिए या नहीं? कुछ लोग इसे सही बताते हैं, कहते हैं कि ये आपके सभ्य परिवार से आने की निशानी है, तो कुछ इसका विरोध करते हैं. हाल ही में भी फेसबुक पर इस मुद्दे पर कई सारे पोस्ट किए गए थे, जिन्हें आप अभी अपनी स्क्रीन पर देख रहे हैं. ये बहस चलती रहेगी. लेकिन एक तरफ जहां कुछ लोग पर्दे के मुद्दे पर बहस कर रहे हैं, तो वहीं दूसरी तरफ एक मुस्लिम महिला इसी बहस के बीच बहुत अहम मुकाम पर पहुंच चुकी है. महिला का नाम है रज़िया सुल्तान.

क्या है रज़िया की कहानी?

भारत के इतिहास में आपने ये नाम कई बार सुना होगा. रज़िया सुल्तान पहली महिला मुस्लिम शासक थीं, जिन्होंने दिल्ली सल्तनत को संभाला था. सदियों बाद अब जिस रज़िया सुल्तान का हम ज़िक्र कर रहे हैं, वो भी कुछ ऐसा ही करने वाली हैं. नहीं-नहीं. दिल्ली की गद्दी पर नहीं बैठ रहीं, बल्कि बिहार की DSP बनी हैं. बिहार पब्लिक सर्विस कमिशन (BPSC) के नतीजे हाल ही में आए. इसमें रज़िया डायरेक्ट DSP बनीं. BPSC के ज़रिए सीधे बिहार की DSP बनने वाली पहली मुस्लिम महिला रज़िया ही हैं

रज़िया बिहार के गोपालगंज की हैं, लेकिन पिता की सेल में नौकरी करते थे, तो स्कूलिंग बोकारो से हुई है. कॉलेज की पढ़ाई राजस्थान के जोधपुर से की. इलेक्ट्रिकल एंड इलेक्ट्रॉनिक इंजीनियर हैं. कॉलेज के बाद बिहार स्टेट पावर ट्रांसमिशन कंपनी में इलेक्ट्रिकल इंजीनियर के तौर पर काम करना शुरू किया. 2017 से यहां पर रज़िया नौकरी कर रही हैं, 2018 अगस्त में उन्होंने BPSC का फॉर्म भरा था, और तैयारी शुरू की थी. बिना कोचिंग के ही पढ़ाई की. क्योंकि नौकरी के कारण कोचिंग का टाइम नहीं मिलता था, दूसरा ज्यादातर कोचिंग हिंदी मीडियम से थीं और रज़िया ने इंग्लिश मीडियम में पेपर दिया है.

‘आज तक’ के पत्रकार रोहित कुमार सिंह ने रज़िया से बात की, जहां उन्होंने अपने इस सफर के बारे में बताया. सुनिए क्या कहती हैं रज़िया-

“प्री के बाद तो मैं काफी श्योर थी कि मेन्स में हो जाएगा. उसके बाद मैंने तैयारी शुरू कर दी थी इंटरव्यू की. रिज़ल्ट आने में एक साल का टाइम लगा. प्री का एग्ज़ाम 2018 में हुआ था, जुलाई 2019 में मेन्स हुआ था, अभी फरवरी 2021 में इंटरव्यू हुआ था मेरा. मेन्स के बाद मैं काफी कॉन्फिडेंट थी कि मुझे ज़रूर कॉल आएगा. मैं औरतों को ये मैसेज देना चाहती हूं कि बहुत कठिनाइयां आएंगी, लोग रोकेंगे. समाज में लोग बहुत कुछ कहेंगे. न केवल महिलाओं से, बल्कि उनके माता-पिता से भी मेरा निवेदन है कि वो अपनी बेटियों को पढ़ाएं.”

रज़िया बताती हैं कि उनके परिवार का हमेशा से उन्हें काफी सपोर्ट मिला. अपने काम को लेकर कहती हैं कि उनकी प्राथमिकता क्राइम को कंट्रोल करने की रहेगी. महिलाओं के साथ जो भी उत्पीड़न होता है, उसे कम करने की कोशिश करेंगी, और इन मामलों को रिपोर्ट किया जाए, इसे बढ़ावा देने का भी प्रयास करेंगी.


वीडियो देखें: यूपी की महिला आयोग सदस्य ने बेटियों को सेलफोन से दूर रखने की घटिया सलाह क्यों दी?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

क्राइम

BJP नेता की दो दिन से लापता बेटी की लाश जंगल में मिली, परिवार को गैंगरेप का शक

लाश की एक आंख भी बाहर निकली थी. मौके से एक लड़के का मोबाइल फोन मिला है.

ऑपरेशन थिएटर में 'गैंगरेप' मामले में विक्टिम की मौत, परिवार ने हत्या का आरोप लगाया

अस्पताल प्रशासन को बिना जांच क्लीट चिट दे चुकी पुलिस ने पीड़िता की मौत के बाद दर्ज की FIR. अस्पताल के बाहर विरोध प्रदर्शन.

मैट्रिमोनियल साइट की मदद से 12 लड़कियों का रेप करने वाला धरा गया है, आप ये सावधानियां ज़रूर बरतें

कितना गहरा है मैट्रिमोनियल साइट फ्रॉड का यह जाल? कैसे खुद को बचाएं?

छत्तीसगढ़: जवानों पर आरोप, आदिवासी युवती को किडनैप कर रेप किया, स्तन काटे, फिर गोली मार दी

पुलिस ने कहा- युवती दो लाख रुपये की ईनामी नक्सली थी. एनकाउंटर में हुई मौत.

महिला का आरोप, दूसरा पति पहले पति से हुए बच्चों का जबरन खतना करवाना चाहता है

पुलिस ने केस दर्ज कर आरोपी को अरेस्ट किया.

झारखंड: दबंगों ने 19 साल की लड़की को दीवार में चुनवा दिया, समय रहते पुलिस ने बचाया

एक महिला अरेस्ट पांच फरार आरोपियों की तलाश जारी.

यूपी: ऑनलाइन मीटिंग के दौरान दलित महिला प्रधान को कुर्सी से नीचे बैठने को कहा!

दबंगों ने जाति सूचक शब्द कहे, पुलिस ने दर्ज किया केस, एक आरोपी गिरफ्तार.

बीमार महिला पर भूत का साया बताकर तांत्रिक गर्म चिमटे पीटता रहा, ससुराल वाले देखते रहे

घायल हालत में पीड़िता अस्पताल में भर्ती. पति गिरफ्तार, तांत्रिक फरार.

चार डॉक्टरों पर ऑपरेशन थियेटर में युवती से रेप का आरोप, पुलिस ने जांचे बिना क्लीन चिट दे दी

प्रयागराज के स्वरूप रानी अस्पताल का मामला. शिकायत के बाद भी FIR दर्ज नहीं हुई.

बड़े पुलिस अधिकारी पर नाबालिग के रेप का आरोप, चार साल पहले पत्नी ने ही की थी शिकायत

पत्नी की मदद की बात कहकर लड़की को अपने घर बुलाया था!