Submit your post

Follow Us

कोरोना टेस्ट पॉजिटिव आने पर औरत ने कलाई की नस काट ली, डॉक्टर को पुलिस बुलानी पड़ी

महाराष्ट्र का रत्नागिरी. यहां ज़िला अस्पताल में भर्ती एक औरत को जब ये पता चला कि वो कोरोना पॉजिटिव है, तो वो डॉक्टर्स और नर्स के ऊपर गुस्सा निकालने लगी. ‘इंडियन एक्सप्रेस’ की रिपोर्ट के मुताबिक, महिला ने अपनी कलाई की नस काट ली. अस्पताल से कूदकर सुसाइड करने की धमकी देने लगी. घटना 10 अप्रैल की है. महिला 48 बरस की है.

रत्नागिरी के सब-डिविजनल पुलिस ऑफिसर हैं गणेश इंगले. उन्होंने बताया कि कोरोना पॉजिटिव होने की रिपोर्ट ने महिला को शॉक में डाल दिया था. महिला रत्नागिरी के सखरतार गांव की रहने वाली है. उसे तेज़ बुखार की शिकायत के बाद अस्पताल में भर्ती कराया गया था. साथ ही परिवार के 13 अन्य लोगों को आइसोलेशन में रखा गया था. कोरोना टेस्ट किया गया, दो औरतों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई. गणेश इंगले ने कहा,

’48 साल की महिला और उनकी एक रिश्तेदार, जो कि 49 साल की हैं. इनकी रिपोर्ट पॉजिटिव आई. दोनों महिलाओं को हैरानी हुई कि केवल उन्हीं दोनों की रिपोर्ट पॉजिटिव कैसे आई? दोनों डॉक्टर्स और नर्स से कहती रहीं कि उन्हें कुछ नहीं हुआ है.’

महिला को शांत करने में दो घंटे लगे 

दोनों में से एक महिला ने हंगामा शुरू कर दिया. अस्पताल प्रशासन को पुलिस बुलानी पड़ी. महिला को शांत करने में करीब दो घंटे लग गए.

गणेश इंगले ने बताया कि उन्होंने महिला को समझाया कि उनका इलाज होगा. इसके अलावा परिवार वालों को भी बताया कि ठीक से देख-रेख की जाएगी. साथ ही ये चेतावनी भी देनी पड़ी कि अगर वो दोबारा हंगामा करके अस्पताल वालों को परेशान करेंगी, तो उनके खिलाफ केस दर्ज कर लिया जाएगा.

सखरतार गांव रत्नागिरी के उन 10 गांवों में शामिल है, जिन्हें कॉन्टैमिनेटेड ज़ोन घोषित किया गया है.


वीडियो देखें: लॉकडाउन: पत्नी की कीमोथेरेपी कराने के लिए व्यक्ति 130 किमी साइकिल चलाकर अस्पताल पहुंचा

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

नॉलेज

11 महीने का बच्चा कोरोना पॉजिटिव निकला, मां आठ दिन से अस्पताल में साथ लिए बैठी है

इंदौर के इंडेक्स मेडिकल कॉलेज में वहां का सबसे कम उम्र का कोरोना पेशेंट.

इस राज्य की 70 लाख आम औरतों ने बता दिया कि कोरोना के आगे कभी हार नहीं मानेंगी

20 लाख मास्क बनाये. लोगों के घर तक सब्ज़ियां पहुंचा रही हैं.

भारत के सबसे अमीर आदमी मुकेश अंबानी को पछाड़ने वाली ये महिला कौन हैं?

मैकेंजी बेज़ोस कौन सी रेस में आगे निकल गई हैं?

बोल-सुन नहीं सकतीं, लेकिन लॉकडाउन में लोगों की मदद कर रही हैं ये महिला

नसीमा बेगम ने फैसला लिया था कि जो उनके बस में होगा, वो करेंगी.

लॉकडाउन के बीच बॉयफ्रेंड से शादी करने ऐसे पहुंची लड़की कि जानकर मुंह खुला रह जाए

पुलिस भी इम्प्रेस है.

हैकर्स ने फोटो के साथ खिलवाड़ किया तो इस एक्ट्रेस ने लथेड़कर रख दिया

अनुपमा अक्सर सिर्फ इंडियन कपड़ों में दिखती हैं, लेकिन हैकर्स ने तस्वीरें बदल दीं.

22 साल बाद आखिर मां बनीं ये डॉक्टर, लेकिन कोरोना पेशेंट्स के लिए घर छोड़ दिया

ड्यूटी को सबसे ऊपर रखते हुए अपने जुड़वां बच्चों से वीडियो कॉल पर मिलती हैं.

छह महीने के बच्चे ने कोरोना को हराया, मां ने बताया कैसे जीती जंग

'तनाव से भरे उस वार्ड में बच्चे की हंसी राहत देती थी.'

22 दिन के बच्चे को लेकर ड्यूटी पर पहुंच गईं IAS अफसर, कोरोना के चलते मैटरनिटी लीव छोड़ दी

विशाखपटनम नगर निगम की कमिश्नर हैं सृजना गुम्मला.

97 साल की महिला कोरोना पॉज़िटिव निकलीं, फिर वो हुआ जिसकी किसी को उम्मीद नहीं थी

1 अप्रैल को अस्पताल में एडमिट हुई थीं.