Submit your post

Follow Us

पटना में साढ़े छह महीने के बच्चे के पेट से निकाला गया भ्रूण

बिहार. पटना मेडिकल कॉलेज अस्पताल. यहां एक बहुत ही अजीब सा मामला सामने आया. पांच फ़रवरी की शाम को साढ़े छह महीने के बच्चे का ऑपरेशन हुआ. ऑपरेशन सफ़ल रहा. बच्चे का नाम है इरफ़ान. उसके पेट में एक किलो 250 ग्राम का भ्रूण था. वहीं इरफ़ान का वज़न केवल सवा किलोग्राम है.

क्या है पूरा मामला

PMCH के शिशु रोग विभाग की टीम ने जांच के बाद नवजात का सफल ऑपरेशन कर भ्रूण निकाला. ये भ्रूण समय के साथ बड़ा होता जा रहा था. इरफ़ान जब दो महीने का हुआ तो उसका पेट बढ़ने लगा. माता-पिता ने जब डॉक्टर को दिखाया तो उन्होंने ट्यूमर होने की आशंका जताई. उसके बाद इरफ़ान को PMCH रेफ़र कर दिया गया.

डॉक्टरों का क्या कहना है?

दैनिक भास्कर में छपी ख़बर के मुताबिक, विभागध्यक्ष डॉ अमरेंद्र कुमार ने कहा-

‘करीब पांच लाख बच्चों में से एक में ऐसा मामला देखने को मिलता है. आमतौर पर ऐसे मामलों में भ्रूण ज्यादा विकसित नहीं हो पाता है, लेकिन इस भ्रूण में हाथ, पैर, पेट आदि अंग भी बन गए थे. मेरे छात्र जीवन में ऐसा मामला सामने आया था और उसके बाद अभी यह अचंभा देखने को मिला है. भ्रूण को सुरक्षित रखा गया है.’

इरफ़ान के पिता मोहम्मद नईमुद्दीन बिहार के बक्सर के रहने वाले हैं. 20 जनवरी को उन्होंने इरफ़ान को अस्पताल में भर्ती करवाया था. उसके बाद उसके पेट का सिटी स्कैन हुआ. तब जाकर अंदर भ्रूण का पता चला.

इस ख़बर के बाहर आते ही इरफ़ान को देखने के लिए अस्पताल में भीड़ उमड़ आई. फ़िलहाल इरफ़ान स्वस्थ है, पर अगले 48 घंटों तक उसकी हालत को मॉनिटर किया गया.

क्यों होता है ऐसा ?

जो इरफ़ान के साथ हुआ वो पांच लाख में से एक बच्चे के साथ होता है. अंग्रेज़ी में इस कंडीशन को ‘फीटस इन फेटू’ कहा जाता है. ये अक्सर तब होता है जब मां के पेट में जुड़वां बच्चे होते हैं. इस केस में एक अलग भ्रूण डेवेलप होने के बदले, अपने भाई या बहन के पेट में बढ़ने लगता है. हालांकि ये भ्रूण कुछ समय बाद जीवित नहीं रहता.

ये कंडीशन काफ़ी रेयर है.


वीडियो

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

क्राइम

कानपुरः शेल्टर होम में रह रही प्रेग्नेंट लड़कियों के बारे में अधिकारियों ने ये अहम बात नहीं बताई

शेल्टर होम की सात लड़कियां प्रेग्नेंट हैं. इनमें से पांच कोरोना पॉज़िटिव हैं.

लड़की की शादी होने वाली थी, इसलिए टिकटॉक स्टार ने सरेआम उसकी हत्या कर दी

लड़की से एकतरफा प्यार करता था, शादी करना चाहता था.

सरोगेसी से जन्मे बच्चों को नेपाल में बेचने वाले गिरोह की दो महिलाएं और तीन पुरुष अरेस्ट

इस गिरोह की मदद हरियाणा के दो अस्पताल और नेपाल की डॉक्टर करती थी!

गुजरात: पिता ने गर्भवती नाबालिग बेटी को 50 हजार में उसके बॉयफ्रेंड को बेचा!

और पैसे मांगने पर बॉयफ्रेंड ने अपनी गर्लफ्रेंड को घर से निकाल दिया.

रेपिस्ट को पकड़वाने के लिए इस महिला ने बेहद सूझ-बूझ वाला काम किया

लगभग पौन घंटे तक पुलिस पीछा करती रही रेपिस्ट का.

ट्रेन पकड़ने में मदद के बहाने दो RPSF आरक्षकों ने नाबालिग का रेप कर उसे सड़क पर छोड़ा

16 साल की लड़की दिल्ली में फंसी थी, अपने घर जाना चाहती थी.

नहाने का वीडियो बनाकर लड़के सेक्स की डिमांड कर रहे थे, लड़की ने खुद को जला लिया

15 साल की लड़की को ब्लैकमेल कर रहे थे लड़के.

जादू-टोने के शक में की चाची की हत्या, कटा सिर लेकर 13 किलोमीटर दूर थाने पहुंचा

घटना ओडिशा की है.

ठाणे नगर निगम के अस्पताल पर आरोप- COVID नेगेटिव गर्भवती महिला को तीन दिन कोरोना वॉर्ड में रखा

महिला के पति ने बताई पूरी कहानी.

दर्शन के लिए आई महिला से रेप के आरोप में दिगम्बर जैन मुनि गिरफ्तार

आरोपी के पास से चार हार्ड डिस्क, कई स्मार्ट फोन और कई साधारण फोन मिले.