Submit your post

Follow Us

जयपुर में महिला ने रेप का केस दर्ज करवाया, तो आरोपी ने उसे केमिकल से जला दिया

राजस्थान की राजधानी जयपुर. यहां बलात्कार का केस दर्ज कराने वाली एक महिला को जिंदा जला दिया गया. महिला का शरीर 50 फ़ीसद से ज़्यादा जल चुका है. और जयपुर के सवाई मानसिंह अस्पताल के बर्न वार्ड में महिला का ट्रीटमेंट चल रहा है. पुलिस ने इस मामले में चार आरोपियों की शिनाख्त की है. उन्हें गिरफ़्त में लिया गया है. आरोपियों के खिलाफ IPC की धारा 452, 34, 307 के तहत केस दर्ज कर लिया गया है. मजिस्ट्रेट के सामने महिला का बयान भी दर्ज किया जा चुका है. 

पूरा मामला जानिए

महिला ने आरोप लगाया था कि दीवाली के दिन उसके घर लेखराज नाम का व्यक्ति आया. लेखराज ने महिला पर कोई ज्वलनशील पदार्थ डाला और आग लगा दी. इसके पहले अप्रैल महीने में महिला ने लेखराज के खिलाफ़ शहर के कोतवाली थाने में रेप की FIR दर्ज करवाई थी. तब महिला ने आरोप लगाया था कि लेखराज ने नशीला पदार्थ खिलाकर उसके साथ रेप किया था. और रेप के वीडियो बनाकर उसे ब्लैकमेल करता था. इस मामले में ये बात भी सामने आ रही है कि उस वक़्त आरोपी लेखराज की गिरफ़्तारी नहीं हुई थी.

पुलिस के मुताबिक, महिला के खिलाफ़ हुई मौजूदा हिंसा में कुल चार आरोपी हैं. एक लेखराज, उसके दो भाई मनोहर और रमेश और लेखराज के पिता कन्हैया लाल.

इस मामले में पुलिस पर लापरवाही बरतने के आरोप हैं. मामले का ब्यौरा देते हुए महिला के रिश्तेदार ने बताया, 

“पहले इन दोनों में भाभी देवर जैसा रिश्ता था. बोलचाल का. उसके बाद ये ब्लैकमेल करने लगा. वो (लेखराज) कह रहा था कि उसके पास क्लिपिंग है. लेखराज महिला को लॉकडाउन के दौरान बुलाता था. कहता था कि अगर नहीं आई तो ये कर दूंगा, वो कर दूंगा. सबको दिखा दूंगा. महिला थाने में गयी. थाने में FIR दर्ज करवाई और कोर्ट में बयान हुए. कोर्ट से गिरफ़्तारी का वारंट भी जारी हुआ. लेकिन अब तक पुलिस ने कोई ध्यान नहीं दिया.”

इस मामले पर पुलिस की सफ़ाई भी आयी है. कोतवाली पुलिस थाने के SHO यशवंत सिंह ने कहा है, 

“FIR दर्ज होते ही आरोपी फरार हो गया. इसको पता चल गया कि एफआईआर दर्ज हो गई. उसके बाद से यह अपने घर पर नहीं था. आसपास के इसके जो रिश्तेदार हैं, उनके यहां भी नहीं था. अभी अचानक कल कहीं से आया और पीड़िता के घर पर गया. वहां कोई ज्वलनशील पदार्थ लाया और उसके ऊपर डाल दिया.”

उन्होंने बताया कि घटना की जानकारी मिलते ही वो अपनी टीम के साथ मौके पर पहुंचे. आरोपी को हिरासत में लिया. महिला के बयान के आधार पर चार लोगों को गिरफ्तार किया गया है.


 वीडियो देखेंः रेप और हत्या के दोषी गुरमीत राम रहीम को मिली एक दिन की पैरोल, किसी को खबर तक नहीं लगी

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

नॉलेज

प्रेगनेंट और स्तनपान करा रही औरतें कोरोना का टीका लगवाएं या नहीं?

प्रेगनेंट और स्तनपान करा रही औरतें कोरोना का टीका लगवाएं या नहीं?

सरकार का गोलमोल जवाब बड़ा डाउट पैदा करता है.

एक बार टली शादी, दूसरी बार दूल्हे को कोरोना हुआ तो PPE किट में शादी करने पहुंची दुल्हन

एक बार टली शादी, दूसरी बार दूल्हे को कोरोना हुआ तो PPE किट में शादी करने पहुंची दुल्हन

अस्पताल के कोविड वॉर्ड में हुई शादी.

थाने में ही क्यों करनी पड़ी हल्दी की रस्म, महिला कॉन्स्टेबल ने बताया

थाने में ही क्यों करनी पड़ी हल्दी की रस्म, महिला कॉन्स्टेबल ने बताया

30 अप्रैल को आशा की शादी होने वाली है.

नदी पार कर उस गांव में कोरोना का टीका लगा आईं जहां सड़क भी नहीं जाती

नदी पार कर उस गांव में कोरोना का टीका लगा आईं जहां सड़क भी नहीं जाती

नक्सलियों के खतरे के बीच अपना फ़र्ज़ निभाने वाली डॉक्टर से मिलिए.

क्या औरतों को पीरियड के दौरान कोरोना वैक्सीन नहीं लगवानी चाहिए?

क्या औरतों को पीरियड के दौरान कोरोना वैक्सीन नहीं लगवानी चाहिए?

कहा जा रहा है कि पीरियड के दौरान और उसके पांच दिन पहले, पांच दिन बाद वैक्सीन न लगवाएं.

शादी की जल्दी मची है तो ये गलती बिलकुल न करें, इस लड़की जैसा हाल न हो!

शादी की जल्दी मची है तो ये गलती बिलकुल न करें, इस लड़की जैसा हाल न हो!

दिल तो टूटेगा ही, बैंक अकाउंट भी खाली हो जाएगा.

35 साल बाद घर में बेटी पैदा हुई तो उसे हेलिकॉप्टर से घर लाए, रास्ते में फूल बिछाए

35 साल बाद घर में बेटी पैदा हुई तो उसे हेलिकॉप्टर से घर लाए, रास्ते में फूल बिछाए

पूरे सीन का वीडियो गजब है.

PPE किट पहनकर कोविड ड्यूटी करने वाली डॉक्टर्स डायपर पहनने पर मजबूर हैं

PPE किट पहनकर कोविड ड्यूटी करने वाली डॉक्टर्स डायपर पहनने पर मजबूर हैं

पीरियड्स के दौरान किसी ने डबल पैड इस्तेमाल किया, किसी ने डायपर के ऊपर सैनिटरी नैपकिन लगाई.

चार महीने प्रेग्नेंट हैं फिर भी रोज़े रखते हुए कोविड ड्यूटी कर रही हैं ये नर्स

चार महीने प्रेग्नेंट हैं फिर भी रोज़े रखते हुए कोविड ड्यूटी कर रही हैं ये नर्स

वो मानती हैं कि रमज़ान के महीने में सेवा सबसे पावन काम है.

अमेरिकी डॉक्टर्स ने बताया, कोरोना हुआ तो बिना अस्पताल गए इस तरह बचाएं खुद को

अमेरिकी डॉक्टर्स ने बताया, कोरोना हुआ तो बिना अस्पताल गए इस तरह बचाएं खुद को

घर पर देखभाल के साथ ही रेमडेसिविर पर वो बात बताई कि चिंता कम होगी.