Submit your post

Follow Us

बच्चियों को 'हायर' करके रेप करने का आरोपी प्यारे मियां भोपाल से भागा था, श्रीनगर में पकड़ाया

मध्य प्रदेश का भोपाल. यहां कुछ दिन पहले बरसों से चले आ रहे एक सेक्स रैकेट का भंडा फूटा था. प्यारे मियां नाम के 68 बरस के आदमी पर रेप के आरोप लगे थे. ये आदमी भोपाल में एक स्थानीय न्यूज़पेपर का मालिक था. मामला सामने आने के बाद से ही प्यारे मियां फरार था. उस पर तीस हज़ार रुपए का इनाम भी रखा गया था. अब खबर आई है कि उसकी गिरफ्तारी हो गई है. ‘इंडिया टुडे’ के पत्रकार रवीश पाल सिंह की रिपोर्ट के मुताबिक, प्यारे मियां को श्रीनगर में पकड़ा गया है.

भोपाल के ADG उपेंद्र जैन ने बताया,

“मुखबिरों से सूचना मिली थी कि प्यारे श्रीनगर में है, जिसके बाद हमने टीम को एक्टिव किया और जम्मू-कश्मीर पुलिस की मदद से उसको हिरासत में लिया. फिलहाल उसे थाने में रखा गया है और भोपाल पुलिस की टीम हवाई जहाज़ से श्रीनगर पहुंच चुकी है.”

अब तक सात पीड़ित बच्चियां सामने आईं

प्यारे मियां के खिलाफ शुरुआती जांच में पांच बच्चियों ने रेप के आरोप लगाए थे. लेकिन बाद में दो और बच्चियां सामने आईं, और बताया कि प्यारे उनका भी रेप करता था.

Pyare Mian
भोपाल में प्यारे मियां की प्रॉपर्टी को तोड़ा गया. (फोटो- PTI)

कितनी गिरफ्तारियां हुईं?

इस केस में टोटल पांच गिरफ्तारियां हुई हैं. एक तो खुद प्यारे है. दूसरा उसके काम में साथ देने वाली उसकी सेक्रेटरी, जिसकी उम्र 21 बरस है. तीसरा प्यारे का ड्राइवर अनस, चौथा प्यारे का साथी ओवैसी. पांचवीं गिरफ्तारी एक पीड़ित बच्ची की दादी की हुई है. दादी पर आरोप है कि वो बच्ची को पैसों का लालच देकर प्यारे के लिए काम करने पर मजबूर करती थी.

अब तक और क्या-क्या एक्शन लिए गए?

भोपाल पुलिस प्यारे मियां की प्रॉपर्टी पर छापेमारी कर रही है. 14 जुलाई को श्यामला हिल्स के अंसल अपार्टमेंट में प्यारे के फ्लैट पर छापा पड़ा. जहां से पुलिस ने बाहर से आयात की गई शराब की बोतले बरामद कीं. इनकी कीमत लाखों में है. साथ ही चाइल्ड पॉर्नोग्राफिक मटेरियल और सेक्स वीडियो भी मिले.

‘इंडिया टुडे’ के हेमेंद्र शर्मा की रिपोर्ट के मुताबिक, पुलिस ने मामले की जांच के लिए एक SIT (स्पेशल इन्वेस्टिगेशन टीम) भी बनाई थी. टीम ने जांच में पाया कि प्यारे करीब आठ बरस से नाबालिग लड़कियों का शोषण कर रहा था. पुलिस ने बताया कि प्यारे अपने साथियों की मदद से गरीब परिवार की लड़कियों को पैसे का लालच देता था, उनके खर्चे यहां तक की शादी कराने की भी ज़िम्मेदारी लेता था, और बदले में रेप करता था. साथ ही वो बच्चियों से कहता था कि उसे ‘अब्बू’ कहकर पुकारें.

Pyare Mian 1
सरकार के आदेश पर प्यारे मियां की प्रॉपर्टी को नष्ट किया जा रहा है. (फोटो- PTI)

ये सवाल खड़े हो रहे हैं कि इतने साल तक प्यारे ये सब करता रहा, तो क्या इसके पीछे उसे कोई राजनीतिक संरक्षण मिला था? कांग्रेस मीडिया डिपार्टमेंट हेड जीतू पटवारी ने कहा,

“अभी हाल ही में जो गिरफ्तारियां हुई हैं, उनसे इस आदमी की गलत हरकतों के बारे में हमें पता चला है. वो जो भी है, उसे लेकर ये जांच भी होनी चाहिए कि इतने बरसों से वो ये काम कैसे आसानी से कर ले रहा था.”

न्यूज़पेपर का क्या हुआ?

राज्य सरकार के आदेश पर प्यारे के अखबार के लाइसेंस को रद्द करने की प्रक्रिया शुरू कर दी गई है. उसकी प्रॉपर्टी गिराई जा रही है. एक मैरिज हॉल नष्ट कर दिया गया है. वहीं एक अपार्टमेंट, जो कथित तौर पर सरकारी ज़मीन पर बना था, जिसमें कई सारे फ्लैट्स थे, उसे भी तोड़ दिया गया है.

कैसे सामने आया था मामला?

‘इंडिया टुडे’ से जुड़े रवीश पाल सिंह की रिपोर्ट के मुताबिक, 12 जुलाई की रात करीब तीन बजे. पुलिस की टीम गश्ती पर थी. तभी पांच नाबालिग लड़कियां रातीबड़ पुलिस की टीम को सड़क पर घूमते हुए दिखीं. पांचों शराब के नशे में थीं. पुलिस ने उन्हें चाइल्ड हेल्प लाइन के हवाले कर दिया. वहां पूछताछ हुई. लड़कियों ने बताया कि वो शाहपुरा इलाके के विष्णु हाइट्स के एक फ्लैट में गई थीं. एक बर्थडे पार्टी में शामिल होने, वहीं से लौट रही थीं.

ये भी बताया कि उस पार्टी में मौजूद प्यारे मियां नाम के एक आदमी ने उन्हें शराब पिलाई और पांचों में से एक का रेप भी किया. इसके अलावा ये भी पता चला कि प्यारे मियां इस तरह की पार्टियों में पहले भी इन लड़कियों को बुला चुका है. और शराब पिलाकर इनका रेप करता रहा है.

इसे भी पढ़ें-

नाम- प्यारे, उम्र: 68, पेशा: पत्रकार, काम: नाबालिग लड़कियों को शराब पिलाकर रेप करना


वीडियो देखें: भोपाल: पत्रकार पर नाबालिग लड़कियों को शराब पिलाकर रेप करने का आरोप

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

नॉलेज

समलैंगिकता 'ठीक' करने के नाम पर शर्मिंदगी से भर देने वाली 'कन्वर्जन थेरेपी' क्या है

विदेश में भी इसे एक इलाज बताकर बेचा जाता है.

शुभम मिश्रा जैसे लड़कों से लड़कर कैसे जीतती हैं इंडिया की स्टैंड-अप कॉमिक लड़कियां?

जो पहले से ही एक ऐसे फील्ड में हैं जहां लड़कियां बेहद कम हैं

प्रवासी मजदूरों की लगातार मदद कर रही थीं, COVID-19 ने जान ले ली

पश्चिम बंगाल की सिविल सर्वेंट देबदत्ता रे की मौत.

आलिया भट्ट की बहन को मैसेज कर लोगों ने कहा, 'डिप्रेशन से मौत हो जाए, मां का रेप हो जाए'

शाहीन भट्ट ने ढेर सारे स्क्रीन शॉट्स लगाए हैं.

शादी की ये साइट गारंटी दे रही है कि इसपर मौजूद लड़के-लड़कियों ने कभी सेक्स नहीं किया?

आखिर 'वर्जिनिटी' के नाम पर ये हो क्या रहा है?

गुजरात: मंत्री के बेटे को नाइट कर्फ्यू का पालन न करने पर रोका, महिला कॉन्स्टेबल को इस्तीफा देना पड़ा

सोशल मीडिया पर वीडियो वायरल.

प्रभास-पूजा हेगड़े की 'राधे श्याम' का पोस्टर है तो उम्दा, लेकिन एक भयानक ब्लंडर कर दिया

इतने लोगों ने मिलकर बनाया होगा, ऐसी चूक कैसे हो गई?

गोवा के पूर्व मंत्री की COVID-19 से मौत हुई, तो बेटी ने PPE किट पहनकर मुखाग्नि दी

डॉक्टर सुरेश अमोनकर मनोहर पर्रिकर सरकार में स्वास्थ्य मंत्री थे.

जिस लड़की को एग्जाम दिलाने में केरल सरकार ने मदद की थी, वो गजब नंबर ले आई है

अकेली बच्ची को एग्जाम सेंटर पहुंचाया था.

लॉकडाउन में जब आप शौक पूरे कर रहे थे, आपकी मां क्या कर रही थीं?

उनसे पूछ कर देखा?