Submit your post

Follow Us

प्रिया रमानी ने कोर्ट में जो कुछ कहा वो हर किसी को ध्यान से सुनना चाहिए

एमजे अकबर-प्रिया रमानी मामले से जुड़ी एक अहम खबर आई है. प्रिया ने कोर्ट में पेशी के दौरान कहा कि निजी तौर पर उन्हें इस केस की बहुत बड़ी कीमत चुकानी पड़ी है. मामला दिल्ली के एक कोर्ट में चल रहा है.

मामला क्या था?

पिछले साल मीटू मूवमेंट के दौरान, अक्टूबर-नवंबर के महीने में एमजे अकबर के ऊपर यौन शोषण के आरोप लगे थे. उनके ऊपर करीब 15 औरतों ने सेक्सुअल हैरेसमेंट के आरोप लगाए थे. प्रिया भी उनमें से एक थीं. उन्होंने सोशल मीडिया के जरिए एमजे अकबर पर आरोप लगाया था कि उन्होंने उनका यौन शोषण किया. साथ ही यह भी आरोप लगाया था कि अकबर दर्जनों महिला पत्रकारों का यौन शोषण कर चुके हैं. और वह अकेली नहीं हैं.

इस मामले की सुनवाई काफी हाई प्रोफाइल रही है, और हर सुनवाई के दौरान मीडिया की नज़र इस पर बनी रही है.
इस मामले की सुनवाई काफी हाई प्रोफाइल रही है, और हर सुनवाई के दौरान मीडिया की नज़र इस पर बनी रही है.

सोशल मीडिया पर प्रिया रमानी के इस बयान के बाद एमजे अकबर के ऊपर  कई और महिलाओं ने इसी तरह के आरोप लगाए. 2 दर्जन से अधिक महिला पत्रकारों ने यौन शोषण की बात सोशल मीडिया के जरिए कही. बात बढ़ती चली गई. आखिरकार एमजे अकबर को मंत्री के पद से इस्तीफा देना पड़ा. उसके बाद अकबर ने प्रिया रमानी पर मानहानि का केस ठोक दिया.

9 सितंबर को एडिशनल चीफ मेट्रोपोलिटन मजिस्ट्रेट समर विशाल  के कोर्ट में  इस मामले की सुनवाई हुई. प्रिया रमानी की पेशी में एमजे अकबर की तरफ से सीनियर एडवोकेट गीता लूथरा ने प्रिया रमानी से सवाल-जवाब किए. प्रिया ने अपने बचाव में कहा,

 

‘जब मैंने वोग मैगजीन में अपने पहले जॉब इंटरव्यू के अनुभव के बारे बताया और ट्वीट किया, तो मैंने  सच कहा था. हममें से बहुतों को ये विश्वास दिलाते हुए पाला-पोसा जाता है कि चुप्पी एक गुण है.’

‘एमजे अकबर को लेकर मैंने जितनी भी बातें कहीं हैं, सब लोगों की भलाई और पब्लिक इंटरेस्ट में कही हैं. मुझे ये आशा थी कि मी टू मूवमेंट के तहत किए गए ये खुलासे महिलाओं को सशक्त करेंगे, और काम की जगह पर उनके अधिकारों को बेहतर तरीके से समझने में मदद करेंगे.

मुझे इस केस से कुछ मिलने वाला नहीं है. चुप रहकर मैं इस पूरी निशानेबाजी से (जो मुझपर की जा रही है) बच सकती थी, लेकिन वो सही काम नहीं होता.’

रमानी के समर्थन में कई पत्रकार भी पहुंचे थे जब उन पर मानहानि का केस किया गया था. तस्वीर: ट्विटर
रमानी के समर्थन में कई पत्रकार भी पहुंचे थे जब उन पर मानहानि का केस किया गया था. तस्वीर: ट्विटर

प्रिया से सवाल-जवाब में पूछा गया कि उन्होंने द एशियन एज में कितने आर्टिकल लिखे. उन आर्टिकल्स की हेडलाइन भी पूछी गई. इन के जवाब में प्रिया ने बताया कि उन्होंने स्टॉक एक्सचेंज पर आर्टिकल्स लिखे थे, लेकिन हेडलाइंस उन्हें याद नहीं हैं. मामले की अगली सुनवाई 24 अक्टूबर को होगी.


वीडियो: बच्चे ने इसरो को लेटर लिखकर वो बात कह दी, जिसका ख्याल किसी को नहीं आया

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

क्राइम

'गर्ल्स लॉकर रूम': लड़कियों की चैट वायरल, जिसमें लड़कों की नग्न तस्वीरें शेयर होती थीं

पहले 'बॉयज़ लॉकर रूम' के चैट्स वायरल हुए थे.

बिहार: तीन बूढ़ी औरतों को पंचायत ने वो 'सज़ा' दी, जिसे सुनकर इंसानियत शर्मसार हो जाए!

तीन बूढ़ी औरतें घर छोड़ने पर मजबूर हुईं.

बनारस में महिला पत्रकार ने सुसाइड किया, नोट में स्थानीय SP नेता को ज़िम्मेदार बताया

आरोपी SP नेता इस वक्त पुलिस की हिरासत में है.

बॉयज लॉकर रूम: गैंगरेप का प्लान बना रहे लड़के दिल्ली के नामी स्कूलों में पढ़ते हैं

इंस्टाग्राम के इस ग्रुप में लड़कियों से जुड़ी और भी भद्दी बातें होती थीं.

'बॉयज़ लॉकर रूम': नाबालिग स्कूली लड़कों का ग्रुप, जहां गैंगरेप के प्लान बनते हैं

ये कोई गुंडे नहीं, साउथ दिल्ली के स्कूली बच्चे हैं.

डॉक्टर ने कोरोना पेशेंट का यौन शोषण किया, लेकिन उसे गिरफ्तार नहीं कर पाई पुलिस

घटना के एक दिन पहले ही डॉक्टर ने नौकरी जॉइन की थी.

कोरोना का इलाज कराकर घर लौटी महिला को पड़ोसी 'तबलीगी जमात' कहने लगे

पुलिस ने पड़ोसियों को समझाया, महिला की मदद की.

16 साल की लड़की का शव खेतों में पड़ा मिला, ऑनर किलिंग या फिर रेप और हत्या?

घरवाले चार दिन से थाने में बंद हैं. पुलिस कह रही सब जांच के तहत है.

पहले भाई को कुएं में फेंका, फिर सात लोगों ने एक-एक कर लड़की का रेप किया

पेट्रोल भराकर लड़की अपने भाई के साथ घर लौट रही थी.

लड़की घर से चली गई थी, तो घरवालों ने एक झटके में उसका किस्सा ही खत्म कर दिया!

पंजाब के होशियारपुर का मामला सामने आया है.