Submit your post

Follow Us

हैदराबाद गैंगरेप पीड़िता के खिलाफ फेसबुक पर घटिया बातें लिखने वाला गिरफ्तार

27 नवंबर की रात हैदराबाद में एक वेटनरी डॉक्टर का गैंगरेप हुआ. हत्या हुई और शव को जला दिया गया. 28 नवंबर की सुबह हाईवे-44 के एक ब्रिज के नीचे लड़की का जला हुआ शव मिला. बवाल हुआ. लोगों ने प्रदर्शन किया. पुलिस ने चार आरोपियों को पकड़ लिया. लड़की के साथ कब क्या हुआ, ये भी सामने आ गया. अब आरोपियों को फांसी पर लटकाने की मांग हो रही है. सड़कों से लेकर सोशल मीडिया पर लोग घटना का विरोध कर रहे हैं. लड़की के लिए न्याय की मांग कर रहे हैं. इन्हीं सब मांगों के बीच कुछ लोग ऐसे हैं, जो गैंगरेप का शिकार हुई लड़की के खिलाफ घटिया बातें कहने से बाज नहीं आ रहे.

हैदराबाद साइबर क्राइम पुलिस ने 3 दिसंबर के दिन ऐसे ही एक लड़के को गिरफ्तार किया है, जिसने गैंगरेप का शिकार हुई लड़की के लिए फेसबुक पेज पर बेहूदी बातें लिखी थीं. लड़के का नाम चवान श्रीराम है. उम्र 22 साल है. गिरफ्तारी निजामाबाद ज़िले के फकीराबाद से हुई. 30 नवंबर के दिन पुलिस ने स्वत संज्ञान लेते हुए अपमानजनक पोस्ट लिखने वाले लड़के के खिलाफ केस दर्ज किया था. चवान ने लड़की के लिए कुछ ऐसा लिखा था, जिसे हम आपको बता भी नहीं सकते. बस इतना जान लीजिए कि बहुत ही अपमानजनक बातें लिखी गई थीं.

द हिंदू के मुताबिक, जॉइंट कमिश्नर ऑफ पुलिस अविनाश मोहंती ने कहा,

‘उसने फेसबुक पेज स्टालिन श्रीराम पर रेप विक्टिम के लिए अश्लील और अपमानजनक पोस्ट किया था. और वो पोस्ट सोशल मीडिया पर काफी वायरल हो रहा था.’

आपको बता दें कि 28 नवंबर के दिन जब ये घटना सामने आई थी, तब लोग लड़की का असली नाम और असली तस्वीरों का इस्तेमाल कर रहे थे. सोशल मीडिया पर कई सारे लोगों ने असली नाम लिखकर तस्वीरें डाल दी थीं. बाद में जब ये साफ हुआ कि लड़की का गैंगरेप हुआ था, तब 1 दिसंबर के दिन साइबराबाद पुलिस ने अपील की कि गैंगरेप विक्टिम को ‘दिशा’ नाम से संबोधित किया जाए. ये उसका काल्पनिक नाम है.


वीडियो देखें:

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

नॉलेज

कौन हैं ये पुष्पम प्रिया चौधरी जो बिहार की अगली CM बनने का दम भर रही हैं?

अखबार में इनकी नई पार्टी के पूरे-पूरे पन्नों के ऐड भी छपे हैं.

महिला दिवस पर इन सात महिलाओं ने चलाए पीएम मोदी के सोशल मीडिया अकाउंट

कोई बम धमाकों में बचीं तो कोई भूखों को खिलाती हैं खाना.

जानिए उन 16 महिलाओं की कहानी जिन्हें सरकार ने नारी शक्ति पुरस्कार दिया है

किसी को 'लेडी टार्जन' तो किसी को 'चंडीगढ़ का चमत्कार' कहा जाता है.

'दुनिया की बेस्ट मम्मी' का खिताब पाने वाले ये पापा कौन हैं?

आदित्य तिवारी की कहानी, जिन्होंने डाउन सिंड्रोम वाले बच्चे को गोद लेकर इतिहास रच दिया.

वो राजकुमारी जिनकी वजह से AIIMS में हम और आप अपना इलाज करवा पाते हैं

राजकुमारी अमृत कौर को Time मैगज़ीन ने 1947 के लिए वुमन ऑफ द ईयर चुना है.

कौन हैं नवनीत कौर राणा, वो सांसद जो लोकसभा में मास्क पहने दिखाई दीं?

इनके पति भी विधायक हैं.

रेलवे स्टेशन पर सामान ढोती इन महिलाओं की तस्वीर में दिक्कत क्या है?

रेल मंत्रालय ने ट्वीट कर इन तस्वीरों की तारीफ़ की है.

सत्ता में आने के बाद से अब तक PM मोदी महिला दिवस पर ये पांच चीज़ें कर चुके हैं

इस बार तो सोशल मीडिया अकाउंट महिलाओं को दे रहे हैं.

इस गाने में आलिया भट्ट, अनुष्का शर्मा, कटरीना कैफ़ सब हैं, लेकिन सबसे ख़ास बात ये है

'कुड़ी नू नचन दे' गाने में एक ऐसी चीज़ है, जो ज्यादातर गानों में नहीं मिलती.

इस बड़ी टीवी एक्ट्रेस ने बताया, 16 साल की उम्र में कास्टिंग काउच का कैसे किया सामना

मां से इंडस्ट्री छोड़ने की बात कही थी.