Submit your post

Follow Us

टॉप पाक मॉडल की प्लेन क्रैश में मौत हुई, लोग बहस कर रहे कि उन्हें जन्नत नसीब होगी या नहीं

पाकिस्तान का कराची. 22 मई के दिन यहां एक विमान हादसा हुआ. पाकिस्तान इंटरनेशनल एयरलाइन्स की फ्लाइट 8303 रिहायशी इलाके में क्रैश हो गई. हादसे में 97 लोग मारे गए. घटना के बाद सोशल मीडिया पर लोगों ने दुख जताना शुरू कर दिया. फिर देखते ही देखते इन सबके बीच एक नई बहस भी छिड़ गई. पाकिस्तान की टॉप मॉडल ज़ारा आबिद को लेकर. क्योंकि ज़ारा भी उस विमान में सवार थीं और हादसे में उनकी भी मौत हो गई थी. जैसे ही उनके मारे जाने की खबर सामने आई, लोग इस पर बहस करने लगे कि ज़ारा को जन्नत नसीब होगी या नहीं?

चूंकि हादसा रमज़ान के महीने में हुआ, वो भी आखिरी शुक्रवार को. इसलिए कुछ लोग कहने लगे कि ज़ारा को अब जन्नत नसीब होगी. क्योंकि इस पवित्र महीने में उनका निधन हुआ है. फिर कुछ लोग इसका विरोध करने आ गए. ज़ारा के पेशे पर सवाल उठाने लगे.

पेशे पर सवाल इसलिए, क्योंकि मॉडलिंग में पेशे के हिसाब से कपड़े पहने जाते हैं. जो कट्टरपंथी सोच के लिए परेशानी की वजह बनते हैं. यही बात ज़ारा के केस में भी लागू हुई. वो टॉप मॉडल थीं, एक्टिंग भी करती थीं और अपनी शर्तों पर जीती थीं. इसलिए लोगों की नज़रों में वो ‘पाप’ करती थीं. ‘इस्लाम के नियमों’ के खिलाफ काम करती थीं. ऐसे में जब रमज़ान के महीने में उनकी मौत हुई, तो लोग कन्फ्यूज़ हो गए. ये सोचने लगे कि ज़ारा ने तो सारी ज़िंदगी ‘पाप’ किए हैं, फिर उन्हें जन्नत कैसे मिल सकती है? एक ने लिखा,

‘सबक ये है कि हम किसी की लाइफ स्टाइल और कपड़ों से उसे जज नहीं कर सकते. वो बहुत लकी थीं कि इतने खास महीने में उनकी मौत हुई. अब वो अच्छी जगह पर हैं.’

इसी पोस्ट पर एक ने कमेंट किया,

‘रमज़ान में वफात पाने वाला (जिसकी मौत हो) हर कोई जन्नत नहीं जाता. मेरे ख्याल से अमल करना भी ज़रूरी होता है.’

एक दूसरे व्यक्ति ने कमेंट किया,

‘इसका ये मतलब नहीं है कि हर मुस्लिम लड़की को अब अश्लील कपड़े पहनने शुरू कर देने चाहिए? ये इस्लाम में प्रतिबंधित है. और मुस्लिम होने के नाते हमें इसे फॉलो करना होगा. नहीं तो फिर हमें जन्नत नहीं मिलेगी. अल्लाह उसे (ज़ारा) को शांति दे और माफ करे.’

इसी तरह के कई सारे ट्वीट किए जाने लगे. फिर एक यूज़र सामने आया. उसने ज़ारा की मॉडलिंग की कुछ तस्वीरें पोस्ट कीं. लिखा,

‘वो लोग जो ये कह रहे हैं कि विमान हादसे के बाद ज़ारा को जन्नत नसीब होगी, तो उन लोगों से मुस्लिम होने के नाते मैं ये कहना चाहूंगा कि अल्लाह ऐसी औरतों को पसंद नहीं करते जो हर किसी को अपने शरीर के अंग दिखाती हों. जन्नत केवल पवित्र आदमी और औरतों के लिए हैं.’

कुछ लोग तो ज़ारा के एक पुराने इंस्टाग्राम पोस्ट पर पहुंच गए और गंद मचा दी. दरअसल, इस पोस्ट में ज़ारा एक हेलीकॉप्टर में बैठी दिख रही थीं. कैप्शन था ‘ऊंचा उड़ो, ये अच्छा है’.

तस्वीर किसी फोटोशूट की ही लग रही थी. इसी पोस्ट पर ज़ारा की मौत के बाद एक ने लिखा, ‘ये बहुत ही ज्यादा ऊंचा उड़ गई’. दूसरे ने लिखा, ‘गई सीधे जहन्नुम (नर्क) में शायद’. कुछ ने हंसने वाली इमोजी बनाई.

इन सबके बीच कुछ लोग ऐसे हैं जो ज़ारा के लिए शांति की दुआ तो मांग रहे हैं, लेकिन साथ ही उनके पेशे को ‘हराम’ भी कह रहे हैं. एक ने लिखा,

‘मैं ये करना तो नहीं चाहता था, लेकिन कुछ लोग ऐसे हैं जो ज़ारा आबिद की मौत के बाद उसके पेशे और लाइफ स्टाइल का बचाव कर रहे हैं. सॉरी, ये कुछ ऐसा है जिसका बचाव नहीं किया जा सकता. जो प्रतिबंधित है. और जो ये कह रहे हैं कि ज़ारा जो करती थीं वो ‘हराम’ है, वो लोग सही हैं. फिर भी उनके लिए (ज़ारा के लिए) दुआ मांगता हूं.’

Zara Abid
ज़ारा आबिद के लिए किया गया ट्वीट.

कुछ यूज़र्स ऐसे भी हैं, जिन्हें इस पूरी बहस पर शर्म महसूस हो रही है. जो कि सही भी है.

28 साल की एक लड़की जो बहुत कुछ करना चाहती थी, उसकी मौत हो गई. और लोग इस पर बहस कर रहे हैं कि वो जन्नत जाएगी या नहीं. गज्जब व्यंग्य है. मरने के बाद क्या होता है, किसी को ठीक से नहीं पता. फिर भी अपने-अपने दावों के साथ बहुत ‘दिमाग’ वाली बहस चल रही है.

ज़ारा थीं कौन?

मॉडल और एक्ट्रेस थीं, ये तो बता दिया है. लेकिन एक ऐसी औरत थीं, जो सोशल मीडिया की ट्रोलिंग से नहीं डरती थीं. जो कहना और करना होता था खुलकर करती थीं. पिछले साल उन्होंने एक फोटोशूट किया था, जिसमें उनके चेहरे के रंग को काफी डार्क दिखाया गया था. लोगों ने उन्हें ट्रोल किया था, ये कहकर कि उन्होंने ज़बरन ब्लैकफेस को प्रमोट किया. इस पर ज़ारा ने अपनी इंस्टाग्राम स्टोरी पर लिखा,

‘मैं ज़ारा आबिद हूं. और डार्क स्किन वाली मॉडल होने पर मुझे गर्व है. मैंने जब मॉडलिंग शुरू की थी, लोग मुझे हायर नहीं करते थे, क्योंकि मेरा रंग सांवला था. शरीर के रंग के आधार पर मेरे साथ बहुत भेदभाव हुआ. लेकिन मैं लड़ी. मुझे खुशी है कि मेरे टैलेंट की वजह से मुझे मौके मिले. जिस शूट की तस्वीरें फैल रही हैं, उसे लेकर गलतफहमी बनाई जा रही है. हां, ये सच है कि शूट में मेरे कलर को और डार्क किया गया क्योंकि मैं सांवले रंग वाली जनता को सशक्त करना चाहती हूं. क्योंकि इस इंडस्ट्री में सांवले रंग की लड़कियां बहुत कम हैं. क्योंकि लोग गोरे रंग को देखना पसंद करते हैं. कई बार मेरे रंग को फेयर करने के लिए मेकअप किया जाता है, तब किसी ने उसका विरोध नहीं किया. थोड़ा डार्क रंग कर दिया गया, तो हर कोई बोलने लगा.’

ज़ारा समय-समय पर बोलती थीं, अब चली गईं. लेकिन जाने से पहले उन्होंने एक शॉर्ट फिल्म शूट की थी- ‘सिक्का’. जिसे 26 मई को रिलीज़ किया गया है. इसमें भी औरतों की दिक्कतें और हालात पर फोकस किया गया है.


वीडियो देखें: क्या पाकिस्तान एयरलाइन क्रैश का जिम्मेदार इस वजह से बच जाएगा?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

क्राइम

अलका लांबा ने 2 साल पहले मोदी को अपशब्द कहे, अब उनके चरित्र पर हमला किया जा रहा

कोई किसी को 'नपुंसक' कहता है, कोई किसी को 'वेश्या': नेताओं की क्रिएटिविटी के क्या कहने.

सुसाइड करने वाली एक्ट्रेस के आखिरी शब्द, 'सब ठीक है' वाली मानसिकता को हिलाकर रख देंगे

काम न मिलने की वजह से परेशान टीवी एक्ट्रेस प्रेक्षा मेहता ने सुसाइड कर लिया था.

केरल: पत्नी की जान लेने के लिए अजीब वारदात को अंजाम दिया, यूट्यूब से मिला आइडिया!

चार महीने में दूसरी बार किया ऐसा काम.

बेटी से रेप की कोशिश कर रहा था, पत्नी, बेटे और बेटी ने गला दबाकर मार डाला

महिला ने की थी दूसरी शादी, पुलिस ने हत्या का मामला दर्ज किया.

झारखंड में महिलाओं ने महिला को चप्पल की माला पहनाई, कपड़े उतारकर गांव में घुमाया

वीडियो वायरल होने के बाद पुलिस ने की कार्रवाई, 200 के खिलाफ केस दर्ज.

राजस्थान में कोरोना टेस्ट के नाम पर महिला से गैंगरेप, आरोपी अरेस्ट

राजस्थान के चुरु से अपने मायके पश्चिम बंगाल के हावड़ा जाने के लिए पैदल ही निकली थी.

छह लोगों ने सड़क किनारे महिला की बेरहमी से पिटाई की, पुलिस वाले देखते रहे

वीडियो वायरल होने के बाद दो पुलिसवाले सस्पेंड.

शादी में 5 लाख कैश मिला था, लेकिन स्कॉर्पियो के लिए ससुराल वालों ने बहू को मार डाला!

आखिरी बार खाने की थाली तक छीन ली.

नग्न फोटो भेजकर सेक्स चैट करने को कहता था लड़का, लड़के की उम्र मत पूछिए

टेलीग्राम इस्तेमाल करने वाले सतर्क हो जाएं.

दो लड़कियां रिलेशनशिप में थीं, घरवाले खिलाफ थे, तो मजबूर होकर भयानक फैसला कर लिया!

कुछ महीने पहले करीबी दोस्ती की वजह से काम से निकाल दिया गया था.