Submit your post

Follow Us

इस राज्य की 70 लाख आम औरतों ने बता दिया कि कोरोना के आगे कभी हार नहीं मानेंगी

सविता (काल्पनिक नाम) 40 बरस की है. दो बच्चे हैं. ओडिशा के एक छोटे से गांव में परिवार के साथ रहती है. पिछले कुछ दिनों से वो रोज़ सुबह उठकर सिलाई मशीन पर बैठ जाती है. अपनी बाकी साथियों के साथ. सब मिलकर ढेर सारे मास्क सिलते हैं. फिर बांट देते हैं. ताकि लोग कोरोना वायरस से सुरक्षित रह सकें.

नीलम (काल्पनिक नाम) 35 बरस की है. परिवार में पति, बच्चे सास-ससुर सब हैं. छोटे से गांव में रहते हैं. पिछले कुछ दिनों से नीलम रोज़ सुबह उठकर अपनी कुछ साथियों के साथ, लॉकडाउन में बंद लोगों को सब्ज़ियां बांटने निकल जाती है.

रानी (काल्पनिक नाम) 45 बरस की है. बड़ा परिवार है. छोटे से गांव में रहता है. पिछले कुछ दिनों से रानी अपनी साथियों के साथ बड़ी-बड़ी कढ़ाई में खाना पका रही है, और जरूरतमंद लोगों को खिला रही है.

कौन हैं ये औरतें? क्यों ये सारा काम कर रही हैं?

‘आज तक’ से जुड़े रिपोर्टर मोहम्मद सुफियान ने इसकी जानकारी दी. ये औरतें ओडिशा की हैं. राज्य सरकार के ‘मिशन शक्ति’, जिसे 2001 में शुरू किया गया था, उसके तहत राज्यभर में छह लाख सेल्फ हेल्प ग्रुप्स (SHGs) हैं. इन ग्रुप्स में नीलम, सविता और रानी जैसी करीब 70 लाख औरतें काम कर रही हैं.

Mission Shakti 3
सब्ज़ियों की होम डिलीवरी करती SHGs की औरतें. फोटो क्रेडिट- रिपोर्टर मोहम्मद सुफियान.

इन औरतों में से कई ओडिशा के एकदम दूर-दराज के गांवों में रहती हैं, तो कुछ किसी तहसील में रहती हैं. कोरोना से लड़ने के लिए ये सब साथ मिलकर काम कर रही हैं. कहीं-कहीं पर ऑक्सीलरी नर्स मिडवाइव्स (ANM) और आंगनबाड़ी कार्यकर्ता भी SHGs की औरतों का साथ देती हैं.

‘मिशन शक्ति’ डिपार्टमेंट की डायरेक्टर हैं सुजाता कार्तिकेयन. IAS ऑफिसर हैं. 2017 से इस मिशन को लीड कर रही हैं. हमने उनसे बात की. उन्होंने बताया,

‘ये औरतें खुद मास्क बना रही हैं. 20 लाख से ज्यादा मास्क बन चुके हैं. वो इन्हें बहुत ही कम रेट 10-15 रुपए में बेचती हैं. साथ ही डोनेट भी करती हैं, जिनके पास पैसे नहीं है उन्हें और लोकल अस्पतालों को भी.’

और क्या काम कर रही हैं?

डायरेक्टर सुजाता कार्तिकेयन ने बताया कि सीएम नवीन पटनायक के निर्देश पर SHGs काम कर रहे हैं. जरूरतमंद लोगों को, खासतौर पर माइग्रेंट वर्कर्स को खाना मुहैया करवा रहे हैं. खाना बनाने से लेकर बांटने तक का काम SHGs के ज़िम्मे है.

Mission Shakti
ज़रूरतमंद लोगों के लिए खाना बनातीं SHGs की औरतें. और खाना खाते लोग. फोटो क्रेडिट- मिशन शक्ति ट्विटर.

सब्ज़ियों और राशन की होम डिलीवरी का काम शुरू कर दिया है. फोन के जरिए उन्हें ऑर्डर मिलता है, वो घर-घर पहुंचकर सामान दे आती हैं. खुद अपने खेतों की ताज़ी सब्ज़ियां भी बेच रही हैं.

आंगनबाड़ी के बच्चों को मिलने वाला ड्राई फूड, जिसे छटुआ कहते हैं, उसे बनवाया. उसकी भी होम डिलीवरी की.

चीफ मिनिस्टर रिलीफ फंड में भी डोनेट किया है. डायरेक्टर सुजाता ने बताया,

‘SHGs जो पैसा मुश्किल से जोड़ पाते हैं, उन्हें वो सीएम रिलीफ फंड में भी दे रहे हैं. जब भी सामुदायिक स्तर पर लीडरशिप की ज़रूरत होती है, SHGs आगे आते हैं.’

पहले भी कई बार आगे आई हैं

डायरेक्टर सुजाता ने बताया कि राज्य में जब भी कोई संकट पड़ा, कोई आपदा आई, तो ये औरतें लीडरशिप के लिए आगे आई हैं. जैसे खाना बनाना हो, किसी बड़े समूह तक कोई मैसेज पहुंचाना हो, ये सारा काम करती हैं.

कोरोना के सारे प्रोटोकॉल फॉलो होते हैं

मास्क सिलना हो, बांटना हो या सब्ज़ियां पहुंचानी हो या खाना बनाना हो, ये सारे काम करते वक्त SHGs की महिलाएं पूरी सावधानियां बरत रही हैं. बाकायदा सोशल डिस्टेंसिंग का ख्याल रखा जा रहा है, साफ-सफाई भी चकाचक रखी जा रही है.

Mission Shakti 1
मास्क सिलती महिलाएं.

ओडिशा में औरतें कोरोना फाइटर्स

ओडिशा में कोरोना से लड़ने के लिए औरतें फाइटर्स बनी हुई हैं. केवल SHGs की औरतें ही नहीं, बल्कि ANMs, आशा वर्कर्स, आंगनबाड़ी वर्कर्स भी डोर-टू-डोर जाकर लोगों की हेल्थ का जायजा ले रही हैं.

ओडिशा में कोविड-19 के टेस्ट और ट्रीटमेंट का सेंटर रीजनल मेडिकल रिसर्च सेंटर (RMRC), भुवनेश्वर बना हुआ है. इसकी हेड भी एक महिला ही हैं. संघमित्रा पति. और उनका साथ दे रही हैं साइंटिस्ट ज्योतिर्मई तुरुक.

भुवनेश्वर एम्स और श्रीराम चंद्र भांजा मेडिकल कॉलेज, कटक को भी डॉक्टर गीतांजली और डॉ जयश्री मोहंती हेड कर रही हैं. दोनों डॉक्टर्स ने इन अस्पतालों को वक्त रहते टेस्टिंग सेंटर्स में कन्वर्ट कर दिया.

ओडिशा में दवाओं, सर्जिकल उपकरण का जिम्मा ओडिशा स्टेट मेडिकल कॉर्पोरेशन (OSMC) के पास है. इसकी मैनेजिंग डायरेक्टर भी यामिनी सारंगी हैं. राज्य के नेशनल हेल्थ मिशन (NHM) की डायरेक्टर भी शालिनी पंडित हैं. NHM हेल्थ डिपार्टमेंट की काफी अहम टीम है. यही टीम लोगों के सैंपल कलेक्ट करके टेस्ट कंडक्ट करवा रही है.


वीडियो देखें: डॉक्टर शोभना चौकसे शादी के 22 साल बाद मां बनीं लेकिन कोरोना की वजह से बच्चों से दूर हैं

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

क्राइम

वेब सीरीज में काम दिलाने के बहाने तस्वीरें मंगवाता, फिर ब्लैकमेल करता था

वेब सीरीज में काम दिलाने के बहाने तस्वीरें मंगवाता, फिर ब्लैकमेल करता था

आरोपी ने सोशल मीडिया पर कई फेक प्रोफाइल्स बना रखी थीं.

आरोप-लड़का है या लड़की, पता करने के लिए आठ महीने की गर्भवती का पेट चीर दिया

आरोप-लड़का है या लड़की, पता करने के लिए आठ महीने की गर्भवती का पेट चीर दिया

आरोपी की पांच बेटियां हैं.

जिस किशोरी की हत्या के आरोप में छह लोगों को जेल हुई, वो 12 साल बाद जिंदा मिली है!

जिस किशोरी की हत्या के आरोप में छह लोगों को जेल हुई, वो 12 साल बाद जिंदा मिली है!

उस समय मां ने ही शव की पहचान की थी.

कैब ड्राइवर कर रहा था गंदे इशारे, सांसद-एक्ट्रेस ने ऐसे सिखाया सबक

कैब ड्राइवर कर रहा था गंदे इशारे, सांसद-एक्ट्रेस ने ऐसे सिखाया सबक

पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है.

झारखंड: परिवार का आरोप- क्लीनिक में पहले बेटी का यौन शोषण हुआ, फिर मां को 40 लोगों ने पीटा

झारखंड: परिवार का आरोप- क्लीनिक में पहले बेटी का यौन शोषण हुआ, फिर मां को 40 लोगों ने पीटा

रसूखदार डॉक्टर और कम्पाउंडर पर लगे गंभीर आरोप.

पाकिस्तान में विदेशी महिला से गैंगरेप के बाद जनता सड़कों पर उतर आई है

पाकिस्तान में विदेशी महिला से गैंगरेप के बाद जनता सड़कों पर उतर आई है

इस गैंगरेप के बाद जांच अधिकारी के दिए बयान से लोग गुस्से में हैं.

उत्तराखंड: परिवार की मर्जी के खिलाफ शादी की, तो घर के सामने ही गोलियों से भून डाला!

उत्तराखंड: परिवार की मर्जी के खिलाफ शादी की, तो घर के सामने ही गोलियों से भून डाला!

उधम सिंह नगर जिले से आया ऑनर किलिंग का खौफनाक मामला.

झारखंड : फेसबुक पर दोस्त बने लड़के से मिलने गई, घर जिंदा नहीं लौटी!

झारखंड : फेसबुक पर दोस्त बने लड़के से मिलने गई, घर जिंदा नहीं लौटी!

पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट में लड़की के साथ रेप की पुष्टि हुई है.

पार्क में एक्ट्रेस और उनकी दोस्तों से मारपीट के आरोप पर क्या बोलीं कांग्रेस नेता?

पार्क में एक्ट्रेस और उनकी दोस्तों से मारपीट के आरोप पर क्या बोलीं कांग्रेस नेता?

एक्ट्रेस सम्युक्ता हेगड़े ने लाइव वीडियो बनाया था. अब कविता रेड्डी ने भी अपना पक्ष रखा है.

मैट्रिमोनियल साइट पर दोस्ती की और फिर झूठ बोल-बोलकर 6.19 लाख रुपये ठग लिए

मैट्रिमोनियल साइट पर दोस्ती की और फिर झूठ बोल-बोलकर 6.19 लाख रुपये ठग लिए

पैसे न देने पर प्राइवेट फोटो पब्लिक करने की धमकी देता था.