Submit your post

Follow Us

कपड़ा फैक्ट्री में 19 महिलाओं से जबरन काम कराया जा रहा था, पुलिस ने बचा लिया

तमिलनाडु के तिरुप्पूर जिले में पुलिस ने 19 महिलाओं को रेस्क्यू किया है. बताया जा रहा है कि इन महिलाओं से एक प्राइवेट गारमेंट फैक्ट्री (Private Garment Factory) में जबरन काम कराया जा रहा था. ये प्राइवेट फैक्ट्री तिरुप्पूर के वेलमपलायम में है. तिरुप्पूर सिटी पुलिस ने इस ऑपरेशन को अंजाम दिया है.

अंग्रेजी अखबार द हिंदू ने अपने सूत्रों के हवाले से बताया कि सभी 19 महिलाएं बालिग हैं और ओडिशा के रायगडा जिले ताल्लुक रखती हैं. रिपोर्ट के मुताबिक, सभी महिलाएं पिछले साल दिसंबर में तिरुप्पूर आई थीं. और गारमेंट फैक्ट्री में तीन महीने के ट्रेनिंग प्रोग्राम में शामिल हुई थीं. आरोप है कि ट्रेनिंग पीरियड खत्म होने के बाद उन्हें जबरन फैक्ट्री में रोक लिया गया. न सिर्फ रोका गया, बल्कि जबरन काम भी कराया गया. उन्हें किसी भी तरह का वेतन भी नहीं दिया जा रहा था.

द हिंदू की रिपोर्ट के मुताबिक, इन महिलाओं ने रायगडा में अपने पैरेंट्स के पास फोन किया और अपनी हालत के बारे में बताया. जिसके बाद उनके परिवार वालों ने प्रशासन से गुहार लगाई और इन महिलाओं को रेस्क्यू करने के लिए मदद मांगी. इनपुट के आधार पर तिरुप्पूर शहर के पुलिस कमिश्ननर जी कार्तिकेयन ने राजस्व विभाग और इंडस्ट्रियल सेफ्टी डिपार्टमेंट से संपर्क किया. इसके बाद एक पुलिस टीम बनाई गई. जिसने 18 अप्रैल की सुबह फैक्ट्री में छापा मारा.

पुलिस टीम को फैक्ट्री में 19 महिलाएं मिलीं. बाद में इन सभी महिलाओं को शहर के ही एक वेडिंग हॉल में कोविड-19 प्रोटोकॉल्स के तहत रखा गया. पुलिस का कहना है कि जल्द ही इन महिलाओं को ट्रेन के जरिए घर पहुंचा दिया जाएगा. दूसरी तरफ फैक्ट्री मालिक के खिलाफ जांच शुरू हो गई है. जांच के बाद आरोपियों के खिलाफ FIR दर्ज की जाएगी.


 

वीडियो- प्रेग्नेंट औरतें होने वाले बच्चे को कोरोना से कैसे बचाएं?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

नॉलेज

प्रेगनेंट औरतों को कोरोना का नया रूप इतना क्यों सता रहा है?

क्या मां से गर्भ में पल रहे बच्चे में जा रहा है वायरस?

'पॉज़िटिव' शब्द से डर के माहौल में ये ऐड आपको सकारात्मकता से भर देगा

आज की तारीख में यूट्यूब पर ये न देखा, तो कुछ नहीं देखा.

वो औरत जो दो साल दुनिया की सबसे बड़ी धर्म गुरु रहीं, गर्भवती हुईं फिर भी किसी को खबर न हुई

वो औरत जिसका नाम इतिहास से मिटा दिया गया.

केरल हाईकोर्ट का फैसला-महिलाओं को नाइट शिफ्ट की वजह से जॉब देने से मना नहीं कर सकते

एक फैक्ट्री ने सिर्फ पुरुषों के लिए जॉब निकाली थी.

घुंघराले बाल वाली लड़कियों के साथ चल रहा इतना बड़ा फ्रॉड और किसी को खबर तक नहीं

एक बार में हज़ारों का चूना लग जाता है.

'द ग्रेट इंडियन किचन': स्वादिष्ट भोजन के पीछे की इस सच्चाई को देख हमारा सर शर्म से झुक जाना चाहिए

पुरुष का खाना बनाना क्यों सबसे बड़ा छलावा है.

क्रिकेट वेबसाइट ने एक अच्छी पहल की लेकिन स्त्री विरोधियों को छरछर क्यों लगा?

अपने अंदर का गंद लेकर ट्विटर पर डालने लगे लोग.

महिला जजों को लेकर CJI की हल्की बात पर महिला वकील का दो टूक जवाब पढ़ लीजिए

इतनी गैर-ज़िम्मेदार टिप्पणी भारत के प्रधान न्यायाधीश को शोभा नहीं देती!

क्यों छोटे बच्चे गुस्से में आकर हत्या जैसे अपराधों में शामिल हो रहे हैं?

बच्चा गुस्सैल, चिड़चिड़ा, तोड़-फोड़ करने वाला है, तो ये ज़रूर पढ़ें.

बॉलीवुड की वो बेटियां, जो कुछ किए बिना ही ख़बरों में बनी रहती हैं

फॉलोअर्स देखकर ही हालत खराब हो जाए.