Submit your post

Follow Us

कीटाणुओं के डर से दिन भर हाथ धोने वाले लोग इस कंडीशन से जूझ रहे हैं

अमन को बार बार हाथ धोने की आदत थी. वो कहीं बाहर जाता और गलती से दरवाजे का हैंडल छू लेता, तो फौरन हाथ धोता. यही नहीं, पब्लिक रेस्टरूम में जाने के नाम से ही उसके पसीने छूट जाते. उसे लगता कि वहां न जाने कितने कीटाणु होंगे, जो उसके शरीर से चिपक जाएंगे. फिर कभी नहीं छूटेंगे. इस वजह से वो कई बार बहुत बुरी हालत होने पर भी पब्लिक वॉशरूम में नहीं जाता था. घर पहुंचने का इंतज़ार करता. प्लेन में घंटों पेशाब रोके बैठा रहता.  कीटाणुओं के डर से बार-बार जब हाथ धोता, तो कई दोस्त उसका मज़ाक बनाते. कहते,

‘तुझे तो OCD है यार’.

लेकिन अमन को OCD नहीं था.

अमन को जर्माफोबिया (Germaphobia) था. यानी कीटाणुओं को लेकर मन में गहरे पैठा हुआ डर.

फोबिया और OCD

OCD का  मतलब होता है ऑब्सेसिव कम्पल्सिव डिसऑर्डर. ये एक ऐसी कंडीशन होती है जिसमें व्यक्ति किसी एक चीज को लेकर जुनूनी हो जाता है. इसे ऑब्सेशन कहते हैं. बार-बार वही काम करता है. जैसे बार-बार घर का ताला चेक करना. चेक करते रहना कि लाइट बंद है याय नहीं. बार-बार नहाना.

फोबिया का मतलब डर होता है. ये किसी भी चीज़ को लेकर हो सकता है. पानी को लेकर, उंचाई को लेकर, या फिर आग को लेकर. जिस इंसान को जर्माफोबिया होता है, वो इंसान कीटाणुओं (बैक्टीरिया, फंगस कुछ भी) से डरता है. बार बार अपने हाथ-पैर धोता रहता है. या उन्हें सैनिटाइज करता या पोछता रहता है.

क्या होते हैं जर्माफोबिया के लक्षण?

Psycom एक मेंटल हेल्थ रिसोर्स पोर्टल है. इसके मुताबिक़, जर्माफोबिया के निम्न लक्षण हो सकते हैं:

# उन जगहों को अवॉयड करना जहां कीटाणु होने की आशंका हो.

# चीजों की सफाई और उनको कीटाणुरहित करने में काफी ज्यादा समय लगाना

# बार बार हाथ धोना

# निजी सामान किसी के साथ शेयर करने से इनकार कर देना

# दूसरों के साथ किसी भी तरह का फिजिकल कॉन्टैक्ट बनाने से बचना

# भीड़ या जानवरों से बचना

वहीं OCD के कई लक्षण हो सकते हैं, जो इस बात पर निर्भर करते हैं कि ये कंडीशन किस टाइप की है. जैसे कुछ लोग अपनी चमड़ी नोचे बिना नहीं रह पाते. तो वो लगातार अपनी चमड़ी नोचते रहते हैं. या किसी को स्टोव चेक करने की आदत  हो तो वो चूल्हे को एक बार बंद कर देने के बाद भी उसे बार-बार चेक करते रहेंगे. धूल साफ करने के लिए बार-बार डस्टिंग करते रहते हैं. इस तरह से OCD अलग-अलग रूपों में अभिव्यक्त होता है.

दोनों में क्या अंतर है?

इसे क्लियर करने के लिए हमने बात की डॉक्टर रचना खन्ना सिंह से. डॉक्टर रचना मेंटल हेल्थ एक्सपर्ट हैं और आर्टेमिस हॉस्पिटल में 14 साल से प्रैक्टिस कर रही हैं. इन्होंने बताया,

OCD एक ऐसी कंडीशन है जो सोच के स्तर पर होती है और फिर एक्शन में बदलती है. OCD बहुत बड़ा टॉपिक है. इसके कई लक्षण और टाइप होते हैं. एक तरह का OCD होता है जिसमें लोग सफाई को लेकर बहुत ज्यादा जुनूनी हो जाते हैं. लेकिन OCD के अधिकतर मामलों में ये एंग्जायटी की वजह से होता है. डर की वजह से नहीं. जिनको जर्माफोबिया होता है, वो भी सफाई को लेकर बहुत चिंतित रहते हैं, लेकिन इसके पीछे वजह होती है उनका डर.

इलाज क्या है?

डॉक्टर खन्ना ने बताया,

ऐसी कंडीशंस में प्रॉपर थेरेपी की ज़रूरत होती है, जिसे CBT (कॉग्निटिव बिहेवियरल थेरेपी) कहा जाता है. दवाइयां लेने की भी ज़रूरत पड़ सकती है.

CBT में साइकोलॉजिस्ट आपसे बात करते हैं. आपके दिमाग में आ रहे निगेटिव विचारों और और उनके पैटर्न्स को समझने की कोशिश करते हैं. इन पैटर्न्स को स्टडी करके ही साइकोलॉजिस्ट्स पता लगाते हैं कि पेशेंट कौन सी कंडीशन से जूझ रहा है.

इसलिए इन दोनों कंडीशंस को एक दूसरे के साथ कन्फ्यूज नहीं करना चाहिए. अगर आपकी जानकारी में कोई ऐसा व्यक्ति हो, जो इन कंडीशंस से जूझ रहा हो, तो उन्हें थेरेपी लेने और एक अच्छे मनोचिकित्सक के पास जाने की सलाह जरूर दें.


वीडियो: दुति चंद ने अपनी BMW कार बेचने के लिए फेसबुक पर पोस्ट करके डिलीट क्यों किया?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

क्राइम

नाम- प्यारे, उम्र: 68, पेशा: पत्रकार, काम: नाबालिग लड़कियों को शराब पिलाकर रेप करना

उनसे कहता था कि उन्हें 'हायर' कर रहा है.

छत्रपति शिवाजी की मूर्ति के मुद्दे पर महिला कॉमेडियन को रेप की धमकी दी थी, धरा गया

लड़का पब्लिक में कॉमिक आर्टिस्ट के साथ यौन हिंसा की बात कर हीरो बनना चाह रहा था.

छत्रपति शिवाजी की उस मूर्ति का सच क्या है, जिसके लिए लोग कॉमेडियन लड़की का रेप करना चाहते हैं?

लड़की के एक कॉमिक एक्ट के बाद लोग उसे और उसकी मां को यौन हिंसा की धमकी दे रहे हैं.

दहेज़ के लिए पति और ससुर ने महिला के प्राइवेट पार्ट में ब्लेड डाल दिया!

लड़की की हालत गंभीर, आरोपी गिरफ्तार.

चित्रकूट में 200 रुपये के बदले गरीब नाबालिग लड़कियों का बलात्कार हो रहा है

लड़कियों ने बताया- खदान के पीछे टीले पर ठेकेदारों ने बिस्तर लगा रखे हैं.

बाराबंकी में सूटकेस से युवती का कटा हुआ धड़, पॉलीथीन में लिपटा सिर मिला

बदबू आने की वजह से ही स्थानीय लोगों को पता लगा, तो उन्होंने पुलिस को सूचना दी.

'चेन मैन', जो साइकिल की चेन से लड़कियों की हत्या करता था, कोर्ट ने फांसी की सज़ा सुना दी

जिसके खिलाफ औरतों के रेप, मर्डर और हत्या की कोशिश के 15 मामले दर्ज थे.

मेकअप कराने गई दुल्हन को बॉयफ्रेंड ने चाकू से गोदकर मार डाला

चार साल से रिलेशन में थे, लड़की की शादी कहीं और तय हो गई थी.

लावारिस कुत्तों की मदद के लिए गए NGO स्टाफ को पीटने का आरोप

वीडियो वायरल होने के बाद केस दर्ज.

रेप केस को हल्का करने के बदले मोटी रकम लेने वाली सब इंस्पेक्टर गिरफ्तार

पासा एक्ट के तहत केस न करने का लालच दिया था. तीन दिन की रिमांड पर चली गईं.