Submit your post

Follow Us

नुसरत जहां अगर बच्चे के पिता का नाम बता देंगी, तो क्या आप रातोंरात करोड़पति बन जाएंगे?

आप सबसे एक सवाल है. आपका पसंदीदा काम क्या है? आपमें से कुछ लोगों का जवाब होगा घूमना, सोना, खाना खाना, ऑफिस का काम करना, दोस्तों से मिलना, फिल्म देखना… वगैरह-वगैरह. लेकिन हमारे और आपके बीच ही कुछ ऐसे लोग भी हैं, जिनका पसंदीदा काम है दूसरों की व्यक्तिगत ज़िंदगी में टांग अड़ाना. कैसे? बताती हूं. आज हुआ क्या कि मैंने सुबह-सुबह जब ट्विटर खोला, तो देखा कि कुछ यूज़र्स एक महिला और उसके नवजात बच्चे को लेकर तरह-तरह की बातें लिख रहे हैं. उस बच्चे का पिता कौन है? ये जानने की भरसक कोशिश कर रहे हैं और अपने मन से अजीब-अजीब अंदाज़ा लगा रहे हैं. कोई उस बच्चे के जन्म की बात करते-करते काबुल अटैक पर पहुंच रहा है, तो कोई ‘संस्कारी नारी’ वाला सिद्धांत याद दिला रहा है. अब तक तो आप समझ गए होंगे कि हम किसकी बात कर रहे हैं. यहां बात हो रही है एक्ट्रेस और TMC सांसद नुसरत जहां की. जिन्होंने कल यानी 26 अगस्त को एक बेटे को जन्म दिया है. वो इस वक्त अस्पताल में ही हैं और इधर हमारी प्यारी जनता के बीच जैसे होड़ लग चुकी है कि कौन कितना लीचड़पना दिखा सकता है. आज हम इसी मुद्दे पर डिटेल में बात करेंगे. साथ ही ये भी बताएंगे कि एक महिला को मां के तौर पर कानून ने क्या अधिकार दिए हैं.

क्या है मामला?

नुसरत जहां को 25 अगस्त की रात कोलकाता के नियोटिया अस्पताल में भर्ती कराया गया था. 26 अगस्त की दोपहर उन्होंने सी-सेक्शन से एक बेटे को जन्म दिया. ‘इंडिया टुडे’ के इंद्रजीत कुंडू की रिपोर्ट के मुताबिक, इस बात का कन्फर्मेशन नुसरत के दोस्त और एक्टर यश दासगुप्ता ने दिया. साथ ही ये भी बताया कि मां और बच्चा, दोनों हेल्दी हैं. इसके बाद निखिल जैन, जिनके साथ नुसरत ने जून 2019 में टर्की में शादी की थी, उनका भी बयान सामने आया. ‘आज तक बांग्ला’ से बात करते हुए निखिल ने कहा कि उन्हें बच्चे के जन्म की जानकारी है, लेकिन उस बच्चे से उनका कोई लेना-देना नहीं है. आगे कहा-

“नुसरत से जो मेरे मतभेद चल रहे हैं, वो मुझे उनके नवजात बच्चे के जन्म की बधाई देने से नहीं रोक सकते. मैं उन्हें उनके बच्चे के लिए बधाई देता हूं. उनके अच्छे जीवन की कामना करता हूं. दुआ करता हूं कि उनका बच्चा सुपर हेल्दी हो और उसका भविष्य बेहद उज्ज्वल हो.”

Nusrat Jahan And Nikhil Jain
नुसरत और निखिल ने जून 2019 में टर्की में शादी की थी. (फोटो- PTI)

दरअसल, नुसरत और निखिल अब अलग हो चुके हैं. कुछ महीनों पहले नुसरत ने एक स्टेटमेंट जारी कर बताया था कि चूंकि उनकी शादी टर्किश मैरिज रेगुलेशन के तहत हुई थी, तो वो शादी भारत में मान्य नहीं है. इसलिए तलाक का सवाल नहीं उठता. और वो निखिल से काफी महीनों से अलग रह रही हैं. इसके बाद निखिल का भी बयान सामने आया था, उन्होंने भी कहा कि वो और नुसरत 5 नवंबर 2020 से अलग रह रहे हैं. इसी बीच नुसरत की प्रेग्नेंसी की खबर भी मीडिया में आई थी. कुछ मीडिया पोर्टल्स ने निखिल के हवाले से था कि उन्हें बच्चे के बारे में कुछ नहीं पता है और न ही वो बच्चे के पिता हैं.

इन सारे विवादों के बाद 26 अगस्त को जब नुसरत मां बनीं, तो हमारी ट्रोल सेना एक्टिव हो गई. चूंकि नुसरत ने बच्चे के पिता के सवाल पर अभी तक चुप्पी साधी हुई है, इसी वजह से लोग उन्हें बुरी तरह से ट्रोल कर रहे हैं. वो भी तब जब निखिल ने ऑलरेडी बड़ा संजीदा सा और सधा हुआ स्टेटमेंट जारी कर दिया है. लोग बहुत कुछ लिख रहे हैं. एक यूज़र ने लिखा-

“जो कोई भी इससे संबंधित है उसके लिए- नुसरत जहां के साथ बच्चा पैदा करने के लिए बधाई!”

एक यूज़र ने लिखा-

“अगर किसी बच्चे के पालन-पोषण के लिए एक पैरेंट नहीं है, तो वो अपनी ज़िंदगी का काफी कीमती अनुभव मिस करता है. ये उसकी बदकिस्मती है, उसकी गलती नहीं. इसलिए इस बदकिस्मती को सेलिब्रेट करने का कोई कारण नहीं है.”

इस यूज़र ने ये ट्वीट उन लोगों के जवाब में लिखा था जो नुसरत के मां बनने पर बधाई दे रहे थे.

Tweet For Nusrat Jahan 1

कुछ लोगों ने एक्ट्रेस सायरा बानो से नुसरत को कंपेयर कर दिया. ‘देन एंड नाऊ’ लिखकर जो दो तस्वीरें लगाई जाती हैं न, उसी तरह से. देन शब्द के नीचे सायरा बानो की दिलीप कुमार के साथ की एक तस्वीर लगी थी, नाऊ में नुसरत की. कहने का मतलब पत्नियां पहले आखिरी दम तक पति का साथ देती थीं, और अब बीच में ही छोड़ देती हैं.

Tweet For Nusrat Jahan 2

ये तो हमने ट्रोल्स के कुछ ठीक-ठाक से कमेंट्स बताए हैं. अब बारी है असल गंदगी की. राजीव चौधरी नाम के यूज़र ने लिखा-

“ममता की सांसद नुसरत जहां ने बेटे को जन्म दिया है, पर बच्चे के बाप को लेकर सस्पेंस बना हुआ है. हम तो बस इतना कह सकते हैं कि ऐसी महान हस्तियों को आप किसी एक व्यक्ति से नहीं बांध सकते, इन पर पूरे देश का अधिकार है.”

इसी ट्वीट के लास्ट में लिखा था #Mughals. कितना डबल मीनिंग ट्वीट था ये, आप समझ ही गए होंगे.

एक यूज़र ने लिखा-

“नुसरत ने बेटे को जन्म दिया, लेकिन बाप की ज़िम्मेदारी अभी तक किसी ने नहीं ली. उम्मीद है कि तहरीक-ए-तालिबान जल्द ही सामने आएगा और इसकी ज़िम्मेदारी लेगा.”

Tweet For Nusrat Jahan 3

हर्ष द्विवेदी नाम के यूज़र ने लिखा-

“पिता की ज़िम्मेदारी अभी तक किसी ने नहीं ली, इनसे अच्छे तो ISIS वाले हैं, ब्लास्ट करते ही ज़िम्मेदारी लेते हैं.”

इस यूज़र ने एक बच्चे के जन्म की तुलना दर्दनाक आतंकी हमले से कर डाली. जिन्हें नहीं मालूम उन्हें बता दें कि काबुल में कल एक के बाद एक कई ब्लास्ट हुए थे, जिनमें 100 से भी ज्यादा लोग मारे गए, इस ब्लास्ट की ज़िम्मेदारी ISIS ने ली है.

कुछ लोगों ने सफूरा ज़रगर को भी अपनी ट्रोलिंग का हिस्सा बना लिया. काफिर देव नाम के यूज़र ने लिखा-

“सफूरा ज़रगर की फिल्म बिन ब्यारी मां की अपार सफलता के बाद पेश है नुसरत जहां की एक और नई फिल्म बिन बाप का बच्चा.”

Tweet For Nusrat Jahan 4

इसी तरह के कई ट्वीट हमें दिखे. एक में तो ये कहा गया कि सफूरा की पहेली तो अभी तक सुलझी नहीं है, नई पहेली सामने आ गई कि नुसरत के बच्चे के पिता का क्या नाम है?

और गंदगी मचाने वालों के बारे में बताते हैं. एक यूज़र ने लिखा-

“24 घंटे बीत चुके हैं अब तक नुसरत के बच्चे के बाप का पता नहीं लगा. तकरीबन 250 लोगों ने जांच के लिए अपना सैंपल दिया है.”

Tweet For Nusrat Jahan 5

लोग तो धड़ल्ले से डिमांड कर रहे हैं कि नुसरत सामने आएं और बताएं कि बच्चे का पिता कौन है. ‘संस्कारी नारी’ कहकर नुसरत पर तंज कसा जा रहा है. कुछ ट्वीट्स तो इतने भद्दे हैं कि हम उनके बारे में आपको बता तक नहीं सकते. “नुसरत के बच्चे का पिता कौन है?” ये सवाल तो लोग अपने-अपने अंदाज़ से पूछ रहे हैं. और इसी क्रम में, नुसरत को नीचा दिखाने के चक्कर में अपने ट्वीट्स में ऐसी भाषा का इस्तेमाल कर रहे हैं जो हर नज़रिए से अपमानजनक है. कुछ लोग नुसरत को दिल से बधाई भी दे रहे हैं, उन्हें स्ट्रॉन्ग वुमन भी कह रहे हैं, लेकिन उनकी संख्या हमें कम ही नज़र आई सोशल मीडिया पर.

पहले भी औरतें हुई हैं ट्रोल

अब ऐसा नहीं है कि इस तरह की ट्रोलिंग का शिकार केवल नुसरत ही हुई हों. उनके पहले भी कई औरतें अपनी प्रेग्नेंसी के चलते ट्रोलिंग का सामना कर चुकी हैं. पिछले साल की बात है जामिया मिल्लिया इस्लामिया की एक स्टूडेंट सफूरा ज़रगर को दिल्ली हिंसा मामले में आरोपी बनाते हुए दिल्ली पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया था. गिरफ्तारी के बाद खबर आई थी कि सफूरा प्रेगनेंट हैं. उनकी प्रेग्नेंसी पर भी लोगों ने भयंकर गंदगी मचाई थी. लोगों ने कहा था कि शाहीन बाग अय्याशी का अड्डा है और सफूरा वहां गईं और प्रेगनेंट हो गईं. उनके बच्चे को तथाकथित नाजायज़ बच्चा कहा गया. ये बोला गया कि वो शादीशुदा नहीं हैं और प्रेगनेंट हो गईं. खैर. इस केस में तथ्य ये था कि सफूरा शादीशुदा थीं. और अगर नहीं भी रहतीं और मर्ज़ी से प्रेगनेंट होतीं, तो भी इसमें कुछ बुराई नहीं थी.

एक्ट्रेस कल्की केकला ने भी जब प्रेग्नेंसी की बात बताई थी, तब भी कुछ लोगों ने उनके अविवाहित होने पर सवाल उठाया था. हालांकि कल्की ने अच्छी तरह से इसका जवाब दिया था. इसी तरह एक्ट्रेस नीना गुप्ता की बेटी डिज़ाइनर मसाबा गुप्ता की बात करें, तो उन्हें भी लोगों ने ‘नाजायज़’ कहकर ट्रोल किया था. दरअसल, नीना बिना शादी के मां बनी थीं और उन्होंने अपने दम पर मसाबा को पाला था. नीना के पिता वेस्ट इंडीज़ के पूर्व क्रिकेटर विवियन रिचर्ड्स हैं. हालांकि मसाबा अपने ट्रोल्स को अच्छा-खासा जवाब देती आई हैं.

एक्सपर्ट क्या कहते हैं?

नुसरत जहां का केस भी कुछ इसी तरह का है. हां ये सच है कि उन्होंने अपने बच्चे के पिता का नाम नहीं बताया है, लेकिन हम और आप होते कौन हैं उनकी व्यक्तिगत ज़िंदगी में दखल देने वाले. वो पिता का नाम बताएं या न बताएं, उनकी मर्ज़ी है. नाम बताने से या न बताने से, आपकी ज़िंदगी में कोई फर्क नहीं पड़ेगा. नुसरत को पूरा हक है अपनी प्राइवेसी मेंटेन करके रखने का. वो बाध्य नहीं हैं कि वो सामने आकर बच्चे के पिता के मुद्दे पर कुछ बोलें. अभी के सिनेरियो को देखें तो नुसरत एक सिंगल मदर हैं. ये उनकी पसंद है. कानूनी तौर पर भी हमारे देश में सिंगल मदर्स को कई सारे अधिकार मिले हुए हैं. इनकी ज्यादा जानकारी के लिए हमारे साथी नीरज ने बात की वकील दानिश चौधरी से. वो कहते हैं-

“हमारे देश में एक महिला को पूरा अधिकार है सिंगल पैरेंट के तौर पर बच्चे पालने का. सिंगल मदर अपने बच्चे को पाल सकती हैं, कोई ऑब्जेक्शन इसमें क्रिएट नहीं कर सकता है. वो अपने बच्चे का कोई भी ऐशा डॉक्यूमेंट बना सकती हैं जो उस बच्चे के लिए ज़रूरी होगा, उसके वेलफेयर के लिए होगा. तो मुझे कहीं भी कोई रुकावट नहीं दिखती. संविधान का आर्टिकल 141 कहता है कि सुप्रीम कोर्ट से पास किया हुआ फैसला, वो वैसे ही एक कानून होगा और ऑपरेट करेगा, जैसे आपका पार्लियामेंट से बना हुआ लॉ करता है. सुप्रीम कोर्ट जो कहता है वो कानून है. और कोर्ट ने तो अपने फैसलों में सिंगल मदर्स को अधिकार दे ही रखे हैं.”

अब जब इतना बवाल हो ही रखा है बच्चे के पिता के मुद्दे पर. तो हमने सोचा कि एक्सपर्ट से ही पूछ लिया जाए कि क्या महिला की इच्छा पर निर्भर करता है कि बच्चे के पिता नाम बताए या नहीं बताए. इस पर दानिश कहते हैं कि हां पूरी तरह से ये महिला पर ही निर्भर करता है. कोई उसे बाध्य नहीं कर सकता.

कानून और अधिकार पर तो बात हो गई. अब थोड़ी बात असल नैतिकता पर भी कर लेते हैं. ट्विटर पर लोग संस्कारी नारी जैसे कई सारे टर्म्स इस्तेमाल करके नैतिकता का हवाला देने की कोशिश करते हैं. हमारा उनसे सवाल ये है कि एक बच्चा, जिसने अभी जन्म लिया है, उसके जन्म की तुलना आप दर्दनाक ब्लास्ट से कैसे कर सकते हैं. आप ये कैसे कह सकते हैं कि इस जन्म को सेलिब्रेट न किया जाए. सोचिए और अपने अंदर झांकिए, कि आप किस दिशा में जा रहे हैं?


वीडियो देखें: मैरिटल रेप केस में पति को आरोपमुक्त करते हुए छत्तीसगढ़ हाईकोर्ट ने क्या कहा?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

क्राइम

श्वेता सिंह गौर की बेटी बोली- पापा ने कहा था, स्कूल से लौटोगी तो मां मरी मिलेगी

श्वेता सिंह गौर की बेटी बोली- पापा ने कहा था, स्कूल से लौटोगी तो मां मरी मिलेगी

पुलिस ने 29 अप्रैल को श्वेता के पति दीपक को गिरफ्तार किया है. श्वेता की मौत के बाद से ही दीपक फरार चल रहे थे.

रूसी सैनिक ने नाबालिग को रेप से पहले धमकाया- मेरे साथ सोओ नहीं तो 20 और ले आऊंगा

रूसी सैनिक ने नाबालिग को रेप से पहले धमकाया- मेरे साथ सोओ नहीं तो 20 और ले आऊंगा

विक्टिम 16 साल की है और घटना के वक्त छह महीने की प्रेग्नेंट थी.

UP: BJP की जिला पंचायत सदस्य श्वेता सिंह गौर की मौत, घर पर मिला शव, पति फरार

UP: BJP की जिला पंचायत सदस्य श्वेता सिंह गौर की मौत, घर पर मिला शव, पति फरार

मौत से कुछ घंटे पहले फेसबुक पोस्ट में खुद को बताया था घायल शेरनी.

राजस्थानः लिफ्ट देने के बहाने महिला को कार में बैठाया, फिर रेप और मर्डर के बाद कुएं में फेंकने का आरोप

राजस्थानः लिफ्ट देने के बहाने महिला को कार में बैठाया, फिर रेप और मर्डर के बाद कुएं में फेंकने का आरोप

कार की नंबर प्लेट से हुई आरोपी की पहचान.

पेरू की सरकार ऐसा बिल ले आई कि रेपिस्ट को नपुंसक बना दिया जाएगा

पेरू की सरकार ऐसा बिल ले आई कि रेपिस्ट को नपुंसक बना दिया जाएगा

तीन साल की बच्ची का रेप हुआ, लोग इतने नाराज़ हुए कि सरकार को इतना बड़ा कदम उठाना पड़ा.

13 साल की लड़की का इतनी बार गैंगरेप हुआ कि पुलिस ने 80 लोगों को आरोपी बनाया

13 साल की लड़की का इतनी बार गैंगरेप हुआ कि पुलिस ने 80 लोगों को आरोपी बनाया

कोरोना से मां की मौत हुई, विक्टिम को अस्पताल से उठा ले गई औरत.

शक था कि पत्नी पॉर्न एक्ट्रेस है, बच्चों के सामने दिल दहलाने वाली क्रूरता की

शक था कि पत्नी पॉर्न एक्ट्रेस है, बच्चों के सामने दिल दहलाने वाली क्रूरता की

कर्नाटक के बेंगलुरु की घटना.

'तुम तलाकशुदा, मेरी बीवी के ब्रेस्ट्स नहीं, हम दोनों एक-दूसरे के काम आ जाएंगे'

'तुम तलाकशुदा, मेरी बीवी के ब्रेस्ट्स नहीं, हम दोनों एक-दूसरे के काम आ जाएंगे'

हॉस्टल वॉर्डन का आरोप, प्रिंसिपल सेक्स करने का दबाव बना रहा था.

उस शाम नदिया रेप पीड़िता के साथ क्या हुआ था? जमीनी हकीकत आई सामने

उस शाम नदिया रेप पीड़िता के साथ क्या हुआ था? जमीनी हकीकत आई सामने

इस मामले को लेकर पश्चिम बंगाल सरकार सवालों के घेरे में है.

पत्नी जेल अधिकारी, पति ने कैदियों से मिलाने के बहाने महिला का यौन शोषण किया?

पत्नी जेल अधिकारी, पति ने कैदियों से मिलाने के बहाने महिला का यौन शोषण किया?

यूपी के बाराबंकी का मामला, घटना का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल है.