Submit your post

Follow Us

नौ दिन की बच्ची कोरोना पॉजिटिव निकली, डिलिवरी कराने वाली जूनियर डॉक्टर से हुआ इंफेक्शन!

भोपाल में नौ दिन की बच्ची कोरोना वायरस पॉजिटिव पाई गई है. रिपोर्ट के मुताबिक़, सिजेरियन डिलिवरी कराने वाली डॉक्टर्स में से एक कोरोना पॉजिटिव थी. और उसी से ये इन्फेक्शन बच्ची तक पहुंचा है.

मामला क्या है?

दैनिक भास्कर में छपी रिपोर्ट के मुताबिक़, घटना सुल्तानिया जनाना अस्पताल की है. यहां पर 6-7 अप्रैल की रात को बरखेड़ी की रहने वाली एक महिला को भर्ती किया गया था. 7 अप्रैल की सुबह उसकी सिजे़रियन डिलिवरी हुई. डिलिवरी करवाने के लिए मौजूद जूनियर डॉक्टर्स में से एक की कोरोना रिपोर्ट उसी दिन बाद में पॉजिटिव आई.

Baby Reuters
हालांकि इस बात की पुष्टि अभी तक नहीं हुई है कि बच्ची का संक्रमण जूनियर डॉक्टर से ही हुआ है. कंफर्मेशन के लिए किए गए कॉल्स पर कोई जवाब नहीं मिला. (सांकेतिक तस्वीर: Reuters)

इस रिपोर्ट के मुताबिक़, 16 अप्रैल को जब मां को टांके कटवाने के लिए अस्पताल बुलाया गया, तब कोरोना के लिए सैम्पल लिए गए थे. मां की रिपोर्ट नेगेटिव आई, लेकिन बच्ची की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है. कहा ये जा रहा है कि संक्रमित जूनियर डॉक्टर से नवजात को इंफेक्शन हुआ. लेकिन इस बात को लेकर कोई कंफर्मेशन नहीं आई है.

दी लल्लनटॉप ने महिला का केस देख रही डॉक्टर भारती परिहार और सुल्तानिया अस्पताल में डिपार्टमेंट के हेड से संपर्क करने की कोशिश की गई, लेकिन उनके उपलब्ध नंबरों में से किसी पर कोई रिस्पांस नहीं मिला. इस मामले में और कोई भी जानकारी सामने आती है, तो वो हम इस खबर में जोड़ देंगे.

ये पहला मामला नहीं है जब किसी छोटे बच्चे में कोरोनावायरस का संक्रमण पाया गया है. मध्यप्रदेश के ही इंदौर में 11 महीने के बच्चे का कोरोना वायरस टेस्ट पॉजिटिव आया. जबकि मां नेगेटिव थी. उसे ये इंफेक्शन अपने पिता से लगा. उसके साथ उसकी मां के अस्पताल के कोरोना वार्ड में रहने की ख़बर पिछले दिनों वायरल हुई थी.


वीडियो: उत्तर प्रदेश का पहला कोरोना वायरस फ्री जिला कैसे बना पीलीभीत?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

क्राइम

लखनऊ: दलित युवती से गैंगरेप का आरोप, पुलिस ने केस दर्ज करने में एक महीने लगा दिए!

लखनऊ: दलित युवती से गैंगरेप का आरोप, पुलिस ने केस दर्ज करने में एक महीने लगा दिए!

हाथरस मामले के तूल पकड़ने के बाद जागी पुलिस.

राजस्थान: नाबालिग बहनों का आरोप- तीन दिन तक गैंगरेप हुआ, पुलिस ने कहा कि बयान तो ऐसा नहीं दिया था

राजस्थान: नाबालिग बहनों का आरोप- तीन दिन तक गैंगरेप हुआ, पुलिस ने कहा कि बयान तो ऐसा नहीं दिया था

राजस्थान की तीन घटनाएं, जो झकझोर देंगी.

बलरामपुर: गैंगरेप के बाद लड़की की हत्या का आरोप,  आधी रात को हुआ अंतिम संस्कार

बलरामपुर: गैंगरेप के बाद लड़की की हत्या का आरोप, आधी रात को हुआ अंतिम संस्कार

परिवार का कहना है कि ऑफिस से लौट रही लड़की को किडनैप कर दो लोगों ने उसका रेप किया.

हाथरस केस: जिस परिवार ने बेटी खोई, पुलिस उसे अंतिम संस्कार पर ज्ञान दे रही थी

हाथरस केस: जिस परिवार ने बेटी खोई, पुलिस उसे अंतिम संस्कार पर ज्ञान दे रही थी

परिवार चाहता था कि अंतिम विदाई से पहले बेटी एक बार घर आ जाए. पुलिस नहीं मानी.

हाथरस केस: परिवार का आरोप, 'जबरन जला दिया बेटी का शरीर, हमें आखिरी बार देखने भी न दिया'

हाथरस केस: परिवार का आरोप, 'जबरन जला दिया बेटी का शरीर, हमें आखिरी बार देखने भी न दिया'

अंतिम संस्कार के वक्त परिवार वाले मौजूद नहीं थे.

हाथरस: कथित गैंगरेप के बाद लड़की को इतना पीटा कि रीढ़ टूट गई, 15 दिन तड़पने के बाद मौत

हाथरस: कथित गैंगरेप के बाद लड़की को इतना पीटा कि रीढ़ टूट गई, 15 दिन तड़पने के बाद मौत

गर्दन, स्पाइनल कॉर्ड, सब जगह गहरी चोट लगी थी.

वेब सीरीज में काम दिलाने के बहाने तस्वीरें मंगवाता, फिर ब्लैकमेल करता था

वेब सीरीज में काम दिलाने के बहाने तस्वीरें मंगवाता, फिर ब्लैकमेल करता था

आरोपी ने सोशल मीडिया पर कई फेक प्रोफाइल्स बना रखी थीं.

आरोप-लड़का है या लड़की, पता करने के लिए आठ महीने की गर्भवती का पेट चीर दिया

आरोप-लड़का है या लड़की, पता करने के लिए आठ महीने की गर्भवती का पेट चीर दिया

आरोपी की पांच बेटियां हैं.

जिस किशोरी की हत्या के आरोप में छह लोगों को जेल हुई, वो 12 साल बाद जिंदा मिली है!

जिस किशोरी की हत्या के आरोप में छह लोगों को जेल हुई, वो 12 साल बाद जिंदा मिली है!

उस समय मां ने ही शव की पहचान की थी.

कैब ड्राइवर कर रहा था गंदे इशारे, सांसद-एक्ट्रेस ने ऐसे सिखाया सबक

कैब ड्राइवर कर रहा था गंदे इशारे, सांसद-एक्ट्रेस ने ऐसे सिखाया सबक

पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है.