Submit your post

Follow Us

नेहा धूपिया ने बताया, साउथ की फिल्मों में हुए भद्दे अनुभव के बारे में

नेहा धूपिया बॉलीवुड एक्ट्रेस हैं. लेकिन हिंदी के अलावा उन्होंने तमिल और तेलुगू फिल्मों में भी काम किया है. नेहा का डेब्यू भी एक मलयालम फिल्म ‘मिन्नारम’ (Minnaram) से बतौर चाइल्ड आर्टिस्ट हुआ था. हाल ही में उन्होंने न्यूज वेबसाइट पिंकविला से बात करते हुए साउथ की इंडस्ट्री में एक्ट्रेस के साथ होने वाले भेदभाव पर बात की. बकौल नेहा-

बहुत पहले, जब मैं साउथ की फिल्मों में काम कर रही थी, तो सेट पर सब कोशिश करते थे कि पहले हीरो खाना खाए. तब मेरी हालत भूख से मरने वाली होती थी. लेकिन वो लोग मुझे नहीं खाने देते थे. वो लोग कहते, पहले वो (हीरो) प्लेट उठाएंगे. लेकिन वो अभी शॉट कर रहे हैं. ये बहुत ही अजीब सा था. हालांकि ये बहुत सालों पहले की बात है. तब ऐसा होता था. लेकिन अब ऐसा कुछ नहीं होता. मेरे साथ भी ऐसा सिर्फ एक बार हुआ और मुझे बहुत हंसी आई. मुझे इससे बहुत ज्यादा परेशानी नहीं हुई क्योंकि मैं बोल देती थी, ठीक है और वहीं बैठ जाती थी.

Villain
तेलुगू फिल्म विलेन के एक सीन में नेहा धूपिया.

नेहा धूपिया से पहले भी कई एक्ट्रेस ने साउथ की इंडस्ट्री में होने वाले उत्पीड़न पर बात की है. मसलन, एक्ट्रेस श्रुति हरिहरन. 2018 में हुई इंडिया टुडे कॉन्क्लेव में उन्होंने कास्टिंग काउच से जुड़ा एक अनुभव शेयर किया था. तब वह सिर्फ 18 साल की थीं. बकौल श्रुति –

मैं डांसर थी. एक दिन में रोते हुए अपने कोरियोग्राफर के पास पहुंची और उन्हें एक प्रोड्यूसर की हरकत के बारे में बताया तो उन्होंने कहा- अगर तुम ये हैंडल नहीं कर सकती तो इंडस्ट्री छोड़कर चली जाओ. मेरे साथ फिर कुछ वैसा ही हुआ. मैंने कन्नड़ भाषा की एक फिल्म की थी. इसके तमिल रीमेक के लिए एक प्रोड्यूसर ने मुझे कॉल किया. फोन पर उसने मुझसे कहा हम पांच प्रोड्यूसर हैं. आपको हम पांचों के बीच में एक्सचेंज किया जाएगा. जब हम चाहेंगे आपको बुला लिया करेंगे. लेकिन एक-एक करके. तबतक मैं जवाब देना सीख चुकी थी. मैंने जवाब में कहा- मैं साथ में चप्पल लेकर आऊंगी, जिसे इस्तेमाल करने में मुझे कोई झिझक नहीं होगी. उस दिन के बाद से मुझे तमिल फिल्मों में अच्छे रोल ऑफर नहीं हुए. लेकिन उस दिन के बाद से मेरे सामने ऐसी दिक्कतें नहीं आईं.

शोषण सिर्फ प्रेफरेंस या सेक्स की मांग जैसा ही नहीं होता. कैमरा भी कई बार आपको महज एक मांस के टुकड़े में तब्दील कर दिखाता है. ये बात शेयर की थी एक्ट्रेस परिणीता सुभाष ने तेलुगू फिल्म ‘जरासंधा’ (Jaraasandha) से जुड़ा वाकया बताते हुए. परिणीता के मुताबिक-

Ss

फिल्म ‘जरासंधा’ के एक सीन में परिणीता सुभाष

मैं एक फिल्म कर रही थी, जिसमें मुझे एक नक्सली की पत्नी का किरदार करना था. मेरा किरदार इंटेंस और नॉन ग्लैमरस था. फिल्म में मेरा एक इंट्रोडक्शन सीन था, जिसमें मैं सीढ़ियां उतर रही हूं. शूटिंग के दौरान कैमरा मेरे चेहरे पर फोकस था. लेकिन प्रीमियर पर जब मैंने फिल्म देखी तो बहुत शर्मिंदा हुई. कैमरा एंगल ऐसा था कि वो बेवॉच का रनिंग सीन लग रहा था. और मेरे साथ में पेरेंट थे. फिल्म मेकिंग के प्रोसेस में हीरोइन का मत सबसे आखिर में आता है. बात चाहें खुद हीरोइन के कैरेक्टर की हो, डिसीजन मेकिंग में एक्ट्रेस की राय मायने नहीं रखती है.

तीन एक्सपीरियंस. जो बोले गए. करोड़ों चुप्पियां. किसी मी टू मूवमेंट के इंतजार में.


Video : अपारशक्ति खुराना की मूवी ‘हेलमेट’ उस चीज़ पर बात करेगी जिसका नाम लेते लोग शर्माते हैं

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

क्राइम

पत्नी नेता थी, कई लोगों से मिलना-जुलना था, शक में पति ने गोली मार दी

बीजेपी नेता ने दम तोड़ने से पहले फोन पर पति के गोली चलाने के बारे में बताया था.

छात्राओं का आरोप, DU के इस कॉलेज फेस्ट में लड़के आए, 'जय श्री राम' के नारे लगाए और यौन शोषण किया

स्टूडेंट्स अब इंस्टाग्राम पेज बनाकर अपना-अपना बैड एक्सपीरियंस शेयर कर रहे हैं.

दिल्ली: सब इंस्पेक्टर ने शादी से मना किया तो गोली मार दी, फिर सुसाइड कर लिया

दोनों ने 2018 में दिल्ली पुलिस जॉइन किया था.

रेलवे पुल पर औरतों को पकड़कर चूमने की कोशिश करता था, लेकिन केस चोरी का दर्ज हुआ

CCTV में गंदी हरकत करता दिखा आरोपी.

दिल्ली: अमेरिकी दूतावास कैंपस में 5 साल की बच्ची से रेप, आरोपी एंबेसी का कर्मचारी

बच्ची के माता-पिता भी दूतावास के कर्मचारी.

कांग्रेसी नेता ने FB पर महिला IAS के अश्लील वीडियो के बारे में पोस्ट डाली, मुकदमा हो गया

राजस्थान के अजमेर का मामला है.

पुराने दोस्त थे, लड़की की शादी तय हुई तो लड़के ने ज़िंदा जला दिया

लड़का खुद शादीशुदा है और एक बच्चे का पिता भी है.

चिन्मयानंद को ज़मानत, कोर्ट ने कहा: 'वर्जिनिटी दांव पर लगी, पर लड़की एक शब्द नहीं बोली'

लड़की की चुप्पी पर सवाल खड़े किए.

देहरादून: स्कूल की बच्ची से गैंगरेप, गर्भपात करवाया गया, अब कोर्ट ने सख्त सज़ा सुनाई है

बोर्डिंग स्कूल में पढ़ती थी बच्ची.

TMC नेता ने दो महिलाओं के पैर बांधकर बुरी तरह पीटा, बाद में सस्पेंड हो गए

जमीन को लेकर विवाद हुआ और अब वीडियो वायरल हो रहा है.