Submit your post

Follow Us

साड़ी पहनने पर रेस्त्रां में एंट्री न दिए जाने के मामले में अब क्या नया मोड़ आ गया?

दिल्ली में स्थित एक रेस्टोरेंट के मैनेजमेंट द्वारा कथित तौर पर साड़ी पहनने की वजह से एक महिला को एंट्री ना देने के मामले कुछ दिन पहले सामने आया था. इस मामले में अपडेट ये है कि राष्ट्रीय महिला आयोग ने दिल्ली पुलिस से इस पूरे मामले की जांच करने के लिए कहा है. आयोग ने पुलिस से जरूरी कार्रवाई करने के लिए भी कहा है. आयोग की तरफ से कहा गया कि साड़ी भारतीय संस्कृति का अभिन्न हिस्सा है और देश की ज्यादातर महिलाएं इसे पहनती हैं. आयोग ने कहा कि अगर किसी महिला को साड़ी पहनने की वजह से किसी रेस्टोरेंट में एंट्री नहीं दी जाती है, तो यह उसके सम्मान के साथ जीने के अधिकार का हनन है.

राष्ट्रीय महिला आयोग की तरफ से जारी किए गए बयान में कहा गया कि आयोग को सोशल मीडिया के जरिए इस पूरे घटनाक्रम की जानकारी मिली है. इस बयान में यह भी बताया गया कि आयोग ने रेस्टोरेंट के मार्केटिंग डायरेक्टर को सुनवाई के लिए 28 सितंबर को बुलाया है.

क्या है पूरा मामला?

यह पूरा मामला अंसल प्लाजा स्थित अक्विला रेस्टोरेंट का है. इससे जुड़ा एक वीडियो सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हुआ है. वीडियो में एक महिला, कर्मचारियों से वो डॉक्यूमेंट दिखाने को कह रही है, जिसमें यह लिखा हो कि साड़ी पहनकर रेस्टोरेंट में नहीं आ सकते. जिसके जवाब में एक कर्मचारी कहती है कि हम सिर्फ स्मार्ट और कैजुअल पहनकर ही आने की अनुमति देते हैं और साड़ी स्मार्ट और कैजुअल के अंतर्गत नहीं आती. इस वीडियो को अनीता नाम की महिला ने पोस्ट किया था.

हमने अनीता से बात की थी. उन्होंने हमें बताया,

“हमने पहले से बुकिंग करवा रखी थी. जैसे ही हम रेस्त्रां पहुंचे तो हमें घूरकर देखा गया. फिर मेरी बेटी को किनारे ले जाकर स्टाफ ने कहा कि वो हमें अंदर नहीं जाने दे सकते, क्योंकि मैंने साड़ी पहन रखी थी और साड़ी को वो कैजुअल आउटफिट में कंसीडर नहीं करते.  मेरी बेटी एकदम रुआंसी हो गई थी क्योंकि मेरे लिए वो साड़ी उसी ने पसंद की थी.”

अनीता ने हमें यह भी बताया कि होटल स्टाफ और उनके बीच गहमागहमी हो गई. स्टाफ बहुत ऊंची आवाज़ में बात कर रहा था और हमारी भी आवाज़ ऊंची हो गई थी. उनकी तरफ से बार- बार यही कहा जा रहा था ‘saree is not allowed’. मैंने उसे ही रिकॉर्ड किया और सोशल मीडिया पर पोस्ट कर दिया. मेरा यही सवाल है कि आखिर स्मार्ट आउटफिट है क्या?

इस मामले रेस्टोरेंट का पक्ष भी सामने आ चुका है. रेस्टोरेंट की तरफ से कहा गया कि उस दिन एक इवेंट के लिए पहले से ही बुकिंग थी. इसके बाद भी महिला और उनकी बेटी अंदर आ गईं. रोकने पर उन्होंने धक्का मुक्की की और जबरदस्ती की गई.हालांकि, साड़ी को स्मार्ट आउटफिट ना कहने की अपनी कर्मचारी की बात पर रेस्टोरेंट कोई ढंग की सफाई नहीं दे पाया है. रेस्टोरेंट का कहना है कि वो हमेशा ही साड़ी पहनने वाली महिलाओं को एंट्री देता है. उसने कुछ ऐसे वीडियो इंस्टाग्राम पर डाले हैं. रेस्टोरेंट ने भी अनीता के ऊपर स्टाफ को थप्पड़ मारने के आरोप लगाए हैं. दूसरी तरफ, अनीता ने इन आरोपों को नकार दिया है,ट्विटर पर अक्विला के साथ उस बातचीत का स्क्रीनशॉट पोस्ट किया है जिसमें उन्होंने टेबल बुकिंग की बात की थी. एक और पोस्ट में उन्होंने अक्विला द्वारा दी गई सफाई को मैनीपुलेटिव बताया है.

हमें उम्मीद करते हैं कि पुलिस इस मामले की निष्पक्ष जांच करेगी और पूरी सच्चाई जल्द ही सामने आ जाएगी.


साड़ी वाली महिला को रेस्त्रां में एंट्री नहीं मिलने के दावे का सच क्या है?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

क्राइम

असम से नाबालिग को किडनैप कर राजस्थान में बेचा, जबरन शादी और फिर रोज रेप की कहानी

नाबालिग 15 साल की है और एक बच्चे की मां बन चुकी है.

डोंबिवली रेप केसः 15 साल की लड़की का नौ महीने तक 29 लोग बलात्कार करते रहे

नौ महीने के अंतराल में एक वीडियो के सहारे बच्ची का रेप करते रहे आरोपी.

यौन शोषण की शिकायत पर पार्टी से निकाला, अब मुस्लिम समाज में सुधार के लिए लड़ेंगी फातिमा तहीलिया

रूढ़िवादी परिवार से ताल्लुक रखने वाली फातिमा पेशे से वकील हैं.

रेप की कोशिश का आरोपी ज़मानत लेने पहुंचा, कोर्ट ने कहा- 2000 औरतों के कपड़े धोने पड़ेंगे

कपड़े धोने के बाद प्रेस भी करनी होगी. डिटर्जेंट का इंतजाम आरोपी को खुद करना होगा.

स्टैंड अप कॉमेडियन संजय राजौरा पर यौन शोषण के गंभीर आरोप, उनका जवाब भी आया

इस मामले पर विक्टिम और संजय राजौरा की पूरी बात यहां पढ़ें.

मध्य प्रदेश: लड़की को किडनैप किया, रेप नहीं कर पाए तो आंखों में डाल दिया एसिड

पीड़िता की आंखों की रोशनी चली गई. मामले में दो आरोपी गिरफ्तार.

दिल्ली कैंट रेप केस: आरोपी 9 साल की बच्ची को जबरन पॉर्न दिखाता था, उससे मसाज करवाता था

पुलिस का मानना है कि मौत करंट लगने से हुई ही नहीं.

बेटी को आत्मा से बचाने के नाम पर मां ने रेप के लिए तांत्रिक के हवाले कर दिया!

घटना महाराष्ट्र के ठाणे की है, विक्टिम नाबालिग है.

इंदौरः पब में हो रहा था फैशन शो, संस्कृति बचाने के नाम पर उत्पातियों ने तोड़-फोड़ कर दी

पुलिस ने आयोजकों को ही गिरफ्तार कर लिया. उत्पाती बोले- फैशन शो में हिंदू लड़कियों को कम कपड़े पहनाकर अश्लीलता फैलाई जा रही थी.

फिरोजाबाद का कपल, दिल्ली से अगवा किया, एक शव MP में तो दूसरा राजस्थान में मिला

लड़की के पिता और चाचा अब जेल की सलाखों के पीछे हैं.