Submit your post

Follow Us

बस कंडक्टर ने नाबालिग से पूछा-'सेक्स के बारे में कुछ जानती हो' कोर्ट ने एक साल की सजा सुनाई

13 साल की नाबालिग से बस में सेक्स के बारे में बात करने के मामले में मुंबई की एक विशेष अदालत ने एक बस कंडक्टर को एक साल जेल और 15 हजार जुर्माने की सजा सुनाई है. चंद्रकांत सुदाम कोली को कोर्ट ने POCSO एक्ट की धारा 12 के तहत दोषी पाया है और सजा सुनाई. कोर्ट ने कहा है कि अगर उसने जुर्माने की रकम का भुगतान तीन महीने के अंदर नहीं किया तो उसे तीन महीने और जेल में रहना होगा.

पूरा मामला क्या है?

इंडिया टुडे की पत्रकार विद्या की रिपोर्ट के मुताबिक, मामला 2018 का है. 13 साल की नाबालिग ने कोर्ट में बताया कि  वह रोज सुबह सरकारी बस से स्कूल जाती थी. केवल एक ही बस थी जो उसके घर के पास आती थी. जब एक दिन वह बस में चढ़ी और उसने देखा कि बस के आगे की तरफ दो या तीन और लोग बैठे हैं.

लड़की के मुताबिक, उसने खिड़की वाली पीछे की सीट पर बैठने का फैसला किया. बस कंडक्टर कोली उसके पास आया. लड़की ने अपना बस पास दिखा दिया. उसके बाद वो वहां से चला गया. पर बाद में वो फिर से आया. और लड़की के बगल में बैठ गया. और पूछा कि क्या वो ‘सेक्स’ के बारे में कुछ भी जानती है. लड़की ने उससे कहा कि वो उससे इस तरह के सवाल न पूछे. इसके बाद फिर कोली वापस चला गया और अपनी सीट पर बैठ गया. थोड़ा वक्त बीतने के बाद वह फिर लड़की के पास आया और उससे वही सवाल करने लगा. और लड़की ने फिर जवाब देने से मना कर दिया.

दोस्तों ने लड़की की मां को बताया

बस स्टॉप पर पहुंचते ही लड़की उतर गई. उसने अपने दोस्तों को इस घटना की जानकारी दी. उन्होंने उसकी मां को सारी बातें बता दीं. इस घटना के कई दिनों बाद एक दिन लड़की ने बस से स्कूल जाने से मना कर दिया. मां ने पूछा क्या कुछ बात हुई है? तो लड़की ने मां को कुछ नहीं बताया. फिर लड़की की मां उन दोस्तों के पास पहुंची, जिन्होंने उन्हें कंडक्टर की हरकतों के बारे में बताया था. इसके बाद वह अपनी बेटी को लेकर बस डिपो गईं. वहां आरोपी की पहचान की. मां ने पुलिस को कॉल किया और नेहरू पुलिस स्टेशन में केस दर्ज हुआ.

आरोपी 12 दिन जेल में रहा

केस दर्ज होने के बाद कोली 12 दिन जेल में रहा और उसके बाद उसे जमानत दे दी गई. पर मामला कोर्ट गया. अब स्पेशल कोर्ट ने कोली को एक साल जेल की सजा सुनाई है. हालांकि वकील ने सजा पर रोक लगाने की अर्जी दायर कर दी. कोर्ट ने अपील स्वीकारते हुए सजा को 30 दिन के लिए निलंबित कर दिया है. कोली 30 दिन के अंदर हाईकोर्ट में अपील दायर कर सकता है.


वीडियो देखें: सेक्शुअली असॉल्ट हुई सिमोन बाइल्स अब टोक्यो ओलंपिक्स की तैयारी कर रही हैं

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

नॉलेज

मुस्लिम औरतों ने बताया कि तीन तलाक कानून से उन्हें क्या दिक्कत हो रही

मुस्लिम औरतों ने बताया कि तीन तलाक कानून से उन्हें क्या दिक्कत हो रही

बिना पति के बेराजगार मुस्लिम महिलाओं को बच्चे पालने के लिए सरकार भी नहीं दे रही भत्ता.

इंदौर सरीखे चूड़ी वाले कांड दोबारा न होंगे, अगर धर्म रक्षक ये तीन बातें गांठ बांध लें

इंदौर सरीखे चूड़ी वाले कांड दोबारा न होंगे, अगर धर्म रक्षक ये तीन बातें गांठ बांध लें

इंदौर में मुस्लिम चूड़ी वाले को पीटकर उसे धमकाया गया- हिंदू इलाके में वापस दिख मत जाना.

इंडियन आर्मी ने पहली बार इन ब्रांच की महिला अधिकारियों को कर्नल बनाया है

इंडियन आर्मी ने पहली बार इन ब्रांच की महिला अधिकारियों को कर्नल बनाया है

परमानेंट कमीशन, सैनिक स्कूलों में भर्ती और NDA का रास्ता खुलने के बाद अब ये अहम फैसला.

दिल्ली से पढ़ी वो लड़की जो अफगानिस्तान में तालिबान की आंख से आंख मिलाकर खड़ी है

दिल्ली से पढ़ी वो लड़की जो अफगानिस्तान में तालिबान की आंख से आंख मिलाकर खड़ी है

24 साल की क्रिस्टल बयात ने काबुल में तालिबान के खिलाफ सैकड़ों लोगों का मार्च निकाला था.

अफगानिस्तान: गर्ल्स बोर्डिंग स्कूल की को-फाउंडर ने छात्राओं के डॉक्यूमेंट्स क्यों जला दिए?

अफगानिस्तान: गर्ल्स बोर्डिंग स्कूल की को-फाउंडर ने छात्राओं के डॉक्यूमेंट्स क्यों जला दिए?

ऐसा 20 साल पहले भी हुआ था.

तालिबान के आने से अफगानी औरतों की हालत क्या है, इस कलाकार ने चित्रों से बता दिया!

तालिबान के आने से अफगानी औरतों की हालत क्या है, इस कलाकार ने चित्रों से बता दिया!

हसनी के तालिबानी आतंक पर बनाए गए चित्र सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहे हैं.

RJ मलिष्का ने नीरज चोपड़ा के साथ जो वीडियो पोस्ट किया, उसमें दिक्कत क्या है?

RJ मलिष्का ने नीरज चोपड़ा के साथ जो वीडियो पोस्ट किया, उसमें दिक्कत क्या है?

मलिष्का की खूब आलोचना हो रही है.

बार-बार बुरी तरह पीटने वाला पति अगर माफ़ी मांगे तो क्या पत्नी को मान जाना चाहिए?

बार-बार बुरी तरह पीटने वाला पति अगर माफ़ी मांगे तो क्या पत्नी को मान जाना चाहिए?

काउंसलिंग के नाम पर घरेलू हिंसा को प्रमोट कर रहा ये टीवी शो.

तालिबान की तरह ईरान के खोमेनी ने भी किया था महिलाओं की आजादी का वादा, लेकिन हुआ उल्टा!

तालिबान की तरह ईरान के खोमेनी ने भी किया था महिलाओं की आजादी का वादा, लेकिन हुआ उल्टा!

ईरान की महिलाएं पहले अपने पसंद के कपड़ों में आजादी से घूमती थीं. फिर खोमेनी ने 'इस्लाम' का हवाला देकर उन्हें बुर्का और हिजाब पहनने के लिए मजबूर कर दिया.

आर्मी की महिला अफसरों ने केंद्र सरकार को नोटिस क्यों भेज दिया?

आर्मी की महिला अफसरों ने केंद्र सरकार को नोटिस क्यों भेज दिया?

मामला परमानेंट कमीशन को लेकर सुप्रीम कोर्ट के अहम फैसले से जुड़ा है.