Submit your post

Follow Us

कोविड से अपने पति खो चुकी महिलाओं के लिए ये खबर थोड़ी राहत लेकर आएगी

कोविड महामारी में अपने पति को खो चुकी महिलाओं के लिए महाराष्ट्र सरकार मिशन वात्सल्य योजना लेकर आई है. महाराष्ट्र की महिला एवं बाल विकास मंत्री यशोमती ठाकुर ने 25 अगस्त को इस योजना की घोषणा की. इस योजना के तहत अपने पति को खो चुकीं और ग्रामीण इलाकों से आने वालीं आर्थिक तौर पर कमजोर महिलाओं को 18 सेवाओं का लाभ मिलेगा. इस योजना के बारे में यशोमती ठाकुर ने मीडिया को बताया,

“कोविड संकट के दौरान अपने पति को खो देने वालीं और ग्रामीण इलाकों से वास्ता रखने वालीं गरीब महिलाएं नजरंदाज हो गईं. उनके पति ही पूरे परिवार का एकमात्र सहारा थे. उनकी मृत्यु के बाद इन महिलाओं की परेशानी और बढ़ गई है. इन सब पहलुओं को ध्यान में रखते हुए मिशन वात्सल्य को लॉन्च किया गया है.”

मंत्री ने आगे बताया कि डेढ़ साल में महाराष्ट्र में 15 हजार से अधिक महिलाओं ने कोविड की वजह से अपने पति को खोया है. अब सरकार ने एक टास्क फोर्स बनाई है, जो उन्हें 18 सेवाओं का लाभ देने के लिए काम करेगी.

महाराष्ट्र सरकार के मुताबिक, टास्क फोर्स ने अभी तक 14,661 महिलाओं की पहचान की है, जिन्हें इस योजना का लाभ मिलेगा. जिन 18 योजनाओं का फायदा इन महिलाओं को मिलेगा, उसमें संजय गांधी निराधार और घरकुल योजना भी शामिल है.

महाराष्ट्र की महिला एवं बाल विकास मंत्री Yashomati Thakur ने बताया कि पिछले डेढ़ साल में ग्रामीण इलाकों की 15 हजार से अधिक महिलाओं ने कोविड की वजह से अपने पति को खोया है. वहीं Mission Vatsalya को जमीन पर उतारने की जिम्मेदारी टास्क फोर्स की होगी. (फोटो: ट्विटर)
महाराष्ट्र की महिला एवं बाल विकास मंत्री Yashomati Thakur ने बताया कि पिछले डेढ़ साल में ग्रामीण इलाकों की 15 हजार से अधिक महिलाओं ने कोविड की वजह से अपने पति को खोया है. वहीं Mission Vatsalya को जमीन पर उतारने की जिम्मेदारी टास्क फोर्स की होगी. (फोटो: ट्विटर)

मिशन वात्सल्य योजना को जमीन पर उतारने की जिम्मेदारी अलग-अलग विभागों की होगी. महिला एवं बाल विकास मंत्रालय, बाल विकास डेवलपमेंट प्रोजेक्ट के अधिकारी, लोकर यूनिट स्टाफ और आंगनवाड़ी सेविका अलग-अलग महिलाओं के घर जाएंगे. सरकार का कहना है कि अभी तक लगभग साढ़े दस हजार महिलाओं से संपर्क साधा जा चुका है और जल्द ही उन्हें योजनाओं का लाभ मिलने लगेगा.

किस योजना में क्या है?

संजय गांधी निराधार योजना– संजय गांधी निराधार योजना कहती है कि अगर परिवार में एक से अधिक लाभार्थी हैं तो परिवार को प्रति महीने 900 रुपये मिलेंगे. योजना का लाभ पाने के लिए जरूरी है कि लाभार्थी की उम्र 65 साल के कम हो और परिवार की आय 21 हज़ार रुपये सालाना से ज्यादा ना हो. इस योजना का लाभ तब तक मिलेगा. जब तक लाभार्थी का लड़का या लड़की 25 साल का नहीं हो जाता या फिर उसे रोजगार मिल जाता है. अगर रोजगार 25 साल का होने से पहले मिल जाता है, तो इस योजना का लाभ तत्काल प्रभाव से खत्म कर दिया जाएगा. अगर लाभार्थी के घर में केवल बेटियां हैं, तो यह योजना उनके 25 साल के होने और शादी होने के बाद भी जारी रहेगी.

राष्ट्रीय कुटुंब लाभ योजना– इस योजना का लाभ गरीबी रेखा के तहत आने वाले परिवारों को मिलता है. अगर परिवार के लिए रोजी रोटी कमाने वाले व्यक्ति की मौत हो जाती है, तो इस योजना के तहत उसके परिवार को 20 हजार रुपये प्रति वर्ष की सरकारी सहायता दी जाती है. रोजी-रोटी कमाने वाले व्यक्ति की उम्र 18 से 59 साल के बीच होनी चाहिए.

श्रवणबाल योजना– इस योजना के तहत निराश्रित वृद्ध व्यक्तियों को सरकार की तरफ से हर महीने 600 रुपये मिलते हैं. शर्त यह है कि लाभार्थी की उम्र 65 साल से अधिक होनी चाहिए और वार्षिक आय 21 हजार रुपये प्रति वर्ष से अधिक नहीं होनी चाहिए.

घरकुल योजना– इस योजना के तहत राज्य सरकार ने अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति और नव बौद्ध वर्ग से आने वालीं महिलाओं को घर देने की बात कही है.

इंदिरा गांधी राष्ट्रीय विधवा पेंशन योजना– इस योजना के तहत विधवा महिलाओं को हर महीने पेंशन दी जाएगी. इसमें केंद्र सरकार भी एक हिस्सा देगी. हालांकि, अभी यह तय नहीं है कि इसके तहत लाभार्थियों को कितनी धनराशि मिलेगी.

इंदिरा गांधी राष्ट्रीय विकलांग पेंशन योजना– इस योजना के तहत विकलांग व्यक्तियों को प्रति महीने 300 रुपये दिए जाते हैं. कोई भी विकलांग व्यक्ति, जिसकी उम्र 18 वर्ष से अधिक है वो इस योजना का लाभ ले सकता है. 79 साल का हो जाने के बाद पेंशन की रकम बढ़कर 500 रुपये प्रति महीना हो जाता है.

इसी तरह से दूसरी सरकारी योजनाओं जैसे बालसंगोपन, अंत्योदय, शुभ मंगल सामूहिक योजना इत्यादि का लाभ इन महिलाओं को दिया जाएगा. हालांकि, ये सभी योजनाएं पहले से ही मौजूद हैं और इनमें कुछ नया नहीं है.

महाराष्ट्र सरकार ने जो जानकारी दी है, उसके मुताबिक अभी तक 405 महिलाओं ने श्रवणबाल पेंशन योजना के लिए आवेदन किया है. वहीं 1,209 महिलाओं ने इंदिरा गांधी राष्ट्रीय विधवा पेंशन योजना के लिए आवेदन किया है.

संजय गांधी निराधार योजना के लिए 8,661 महिलाओं ने आवेदन किया है. इंदिरा गांधी ओल्ड एज पेंशन के लिए 71 और इंदिरा गांधी डिसेबिलिटी पेंशन के लिए तीन आवेदन प्राप्त हुए हैं. जानकारी के मुताबिक, महाराष्ट्र के महिला एवं बाल विकास मंत्रालय को अभी तक 10,349 आवेदन प्राप्त हुए हैं.


 

वीडियो- पैतृक संपत्ति में बहनों से उनका हक त्याग देने की अपील वाली चिठ्ठी पर क्यों हुआ बवाल?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

क्राइम

पीट-पीटकर अपने डेढ़ साल के बच्चे को लहूलुहान कर देने वाली मां की असलियत

पीट-पीटकर अपने डेढ़ साल के बच्चे को लहूलुहान कर देने वाली मां की असलियत

ये वायरल वीडियो आप तक भी पहुंचा होगा.

महिला कॉन्स्टेबल पर भद्दे कमेंट कर रहा था शख्स, विरोध किया तो रॉड से हमला कर दिया

महिला कॉन्स्टेबल पर भद्दे कमेंट कर रहा था शख्स, विरोध किया तो रॉड से हमला कर दिया

परिवार मानसिक रूप से बीमार बताकर आरोपी को बचाने की कोशिश कर रहा.

मैसूर गैंगरेप केस: पुलिस ने 5 को गिरफ्तार किया, आरोपियों में किशोर भी शामिल

मैसूर गैंगरेप केस: पुलिस ने 5 को गिरफ्तार किया, आरोपियों में किशोर भी शामिल

DGP प्रवीण सूद ने घटना के बारे में और क्या बताया.

पति ने पत्नी का प्राइवेट पार्ट सुई-धागे से सिल दिया, वजह हैरान करने वाली

पति ने पत्नी का प्राइवेट पार्ट सुई-धागे से सिल दिया, वजह हैरान करने वाली

मध्य प्रदेश के सिंगरौली का मामला. पुलिस में शिकायत के बाद से ही फरार है आरोपी.

दो साल लिव इन में रही महिला ने लगाया पार्टनर पर रेप का आरोप, कोर्ट ने दे दी जमानत

दो साल लिव इन में रही महिला ने लगाया पार्टनर पर रेप का आरोप, कोर्ट ने दे दी जमानत

कोर्ट ने कहा, लिव इन में रहने का मतलब आपसी सहमति से बने यौन संबंध.

दक्षिण अफ्रीका: अरबों के PPE स्कैम का खुलासा करने वाली भारतीय मूल की महिला की हत्या

दक्षिण अफ्रीका: अरबों के PPE स्कैम का खुलासा करने वाली भारतीय मूल की महिला की हत्या

पिछले साल कोरोना महामारी के दौरान हुआ था घोटाला. वित्तीय अधिकारी के तौर पर तैनात महिला ने खुलासे में निभाई थी प्रमुख भूमिका.

पति ने पत्नी के साथ जबरन शारीरिक संबंध बनाए और कोर्ट ने उसे छोड़ दिया

पति ने पत्नी के साथ जबरन शारीरिक संबंध बनाए और कोर्ट ने उसे छोड़ दिया

पत्नियों के साथ होने वाली ज्यादती देखकर भी आंख क्यों बंद कर लेती है हमारी न्यायपालिका

विधायक रहते हुए नाबालिग का दो बार रेप किया, अब 25 साल की जेल हो गई है

विधायक रहते हुए नाबालिग का दो बार रेप किया, अब 25 साल की जेल हो गई है

पॉक्सो स्पेशल कोर्ट ने रेप के दोषी पूर्व विधायक पर 15 लाख का जुर्माना भी लगाया है.

मैसूर में लड़की गैंगरेप का गैंगरेप हुआ, मंत्री ने गलत बात की, फिर बोले- मज़ाक कर रहा था

मैसूर में लड़की गैंगरेप का गैंगरेप हुआ, मंत्री ने गलत बात की, फिर बोले- मज़ाक कर रहा था

लड़की अस्पताल में भर्ती है, किसी आरोपी की गिरफ्तारी नहीं हुई और राजनेता अपनी रोटियां सेकने से बाज नहीं आ रहे.

रेप के आरोपी को 'भविष्य की संपत्ति' बताकर हाई कोर्ट ने जमानत दे दी

रेप के आरोपी को 'भविष्य की संपत्ति' बताकर हाई कोर्ट ने जमानत दे दी

IIT गुवाहाटी में पढ़ता है आरोपी, विक्टिम को बेहोश करके रेप का आरोप.