Submit your post

Follow Us

जींस पहनने को लेकर ऐसी बहस हुई कि रिश्तेदारों ने लड़की को पीट-पीटकर मार डाला!

उत्तर प्रदेश के देवरिया ज़िला. यहां महुआडीह थाना क्षेत्र के तहत एक गांव आता है, नाम है सवरेजी खरग. यहां रहने वाली 17 बरस की एक लड़की की केवल इसलिए हत्या कर दी गई, क्योंकि वो जीन्स-टॉप पहनना पसंद करती थी. ‘आज तक’ से जुड़े पत्रकार राम प्रताप सिंह की रिपोर्ट के मुताबिक, बच्ची का नाम नेहा था. उसके पिता अमर पासवान बाहर रहकर नौकरी करते हैं. अमर की पत्नी शकुंतला, अपनी दो बेटी और एक बेटे के साथ गांव में बाकी के परिवार के साथ रहती थीं. बाकी का परिवार माने शकुंतला के सास-ससुर, दो देवर, दो देवरानियां. शकुंतला की बेटी नेहा को जीन्स-टॉप पहनना पसंद था, लेकिन घर के बाकी लोग इसका विरोध करते थे.

मां ने क्या शिकायत की?

पुलिस को दी गई शिकायत में शकुंतला ने बताया कि 19 जुलाई की शाम घर पर नेहा के जीन्स-टॉप पहनने की वजह से जमकर बहस हुई. शकुंतला ने आरोप लगाया कि उनके ससुर परमहंस पासवान, सास, दोनों देवर व्यास पासवान और अरविंद पासवान और दोनों देवरानियां मिलकर नेहा पर चिल्लाने लगीं. शकुंतला ने बताया कि ये सभी लोग उन्हें और उनके बच्चों को गाली देने लगे और भद्दी-भद्दी बातें कहने लगे. नेहा ने जब गाली देने से रोता, तब सबने मिलकर शकुंतला और उनके बच्चों को मारना शुरू कर दिया. जिससे नेहा को गंभीर चोट लगी. व्यास और अरविंद ने मिलकर नेहा का गला दुपट्टे से दबाया, जिससे वो बेहोश हो गई. इस पर नेहा के दोनों चाचा और दादा ने टैम्पो बुलाया. शकुंतला से कहा कि नेहा को कुछ नहीं हुआ है, वो ठीक है, उसे अस्पताल लेकर जा रहे हैं. और फिर उसे बेसुध अवस्था में टैम्पो से लेकर चले गए. शकुंतला बताती हैं कि जब वो और उनकी दूसरी बेटी ने टैम्पो में बैठना चाहा, तो उन्हें धक्का देकर गिरा दिया गया.

शकुंतला ने आगे बताया कि 20 जुलाई की सुबह उन्हें जानकारी मिली की एक शव पटनवा पुल पर मिला है, जब उन्होंने जाकर देखा तो पता चला कि ये शव उनकी बेटी का ही है. उनका कहना है कि उन्हें पूरा यकीन है कि उनके सासुर, देवर-देवरानियों ने मिलकर उनकी बेटी को मारा है. और सबूत मिटाने के लिए लाश को पटनवा पुल से गंडक नदी में फेंकना चाहा, लेकिन शव अटक गया और सच्चाई सामने आ गई. इस मामले में पुलिस ने कुल 10 लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया है. इन लोगों में वो चार व्यक्ति भी शामिल हैं, जिन्होंने नेहा के शव को ठिकाने लगाने में मदद की थी.

रिपोर्ट्स के मुताबिक, पटनवा पुल से नेहा का शव करीब चार घंटे तक लटकता रहा, सुबह होने पर जब लोगों ने देखा, तो पुलिस को जानकारी दी और शव को ऊपर लाया गया. इस मामले में कुछ आरोपियों की गिरफ्तारी हो गई है और कुछ अभी फरार हैं. नेहा की बहन साफ ये कह रही हैं कि जीन्स पहनने की वजह से मारा गया. वहीं मां ने भी यही कारण बताया.

एक लड़की जो मेहनत-मज़दूरी करती थी, हमेशा खुश रहना चाहती थी, अपने मन से आज़ादी के साथ जीना चाहती थी, उसकी हत्या कर दी गई. केवल इसलिए क्योंकि वो जीन्स पहनना चाहती थी. आज भी कुछ लोगों की नज़र में जीन्स पहनना नैतिकता के दायरे से बाहर आता है, लेकिन उन्हीं लोगों की नज़र में किसी को मरते दम तक पीटना शायद नैतिकता है.


वीडियो देखें: दिल्ली: हौज़ खास में नॉर्थ-ईस्ट की लड़कियों से बदतमीज़ी का वीडियो वायरल!

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

नॉलेज

पेगासस लिस्ट में जिन महिलाओं का नाम आया, उन्होंने इस पर क्या कहा?

लिस्ट में उस महिला का भी नाम है जिसने पूर्व CJI पर यौन शोषण के आरोप लगाए थे.

पूर्व CJI रंजन गोगोई पर यौन शोषण के आरोप लगाने वाली महिला की जासूसी हो रही थी?

पेगासस वाली लिस्ट में महिला और उसके परिवारवालों के 11 फोन नबंर शामिल हैं.

राज कुंद्रा के अरेस्ट होने पर शिल्पा के बारे में अश्लील बातें लिखने वाले कहां रुकेंगे?

लोग योग संभोग वाले जोक्स लिख रहे हैं.

स्कूली किताबों में कब तक केवल राम स्कूल जाता रहेगा, सीता रोटी बनाती रहेगी?

आपके बच्चों की टेक्स्टबुक्स इस तरह उनके दिमाग में ज़हर भर रही हैं.

पुराना माल, नया पैकेट: 'बालिका वधू' के फर्स्ट लुक से और क्या पता चलता है?

कितना अलग होगा बाल विवाह पर बना ये शो

महामारी की तरह फैली दहेज़ प्रथा को रोकने ने लिए केरल सरकार ने लगाया ये आइडिया

क़ानून काम नहीं आ रहे, देखें ये फैसला कितना काम आता है.

ओलंपिक में पदक जीतने वाली ये भारतीय एथलीट्स अब क्या कर रही हैं?

दो खिलाड़ी तो इस बार के ओलंपिक में भी खेलेंगी.

सब्जी बेचकर परिवार का पेट पालने वाली महिला बनीं ब्लॉक प्रमुख

पैसों से होने वाले चुनावों के बीच गरीब महिला के हौसलों की जीत

हाथ-पैर काम नहीं करते, 'रेंगते' हुए कोरोना को रोकने में लगीं ये बहादुर महिला

जन्म से ही चलने और खड़े होने में असमर्थ हैं जयंती.

मंत्री जी के साथ सेल्फी चाहिए तो जेब से 100 रुपए निकालो!

मध्य प्रदेश की मंत्री ऊषा ठाकुर का सेल्फी प्लान.