Submit your post

Follow Us

मेरठ: परिवार का आरोप चार लड़कों ने गैंगरेप कर जहर पिलाया, पुलिस बोली- लड़की ने सुसाइड किया

मेरठ के सरधना की रहने वाली 10वीं की एक छात्रा गुरुवार एक अप्रैल को ट्यूशन के लिए घर से निकली थी. जब लौटी तो उसकी हालत खराब थी. उसने परिवार को बताया कि चार लड़कों ने उसके साथ गैंगरेप किया और फिर जहर पिला दिया. परिवार वाले उसे अस्पताल ले गए जहां उसकी मौत हो गई. वहीं पुलिस का दावा है कि लड़की ने आत्महत्या की है और उसका लिखा सुसाइड नोट बरामद कर लिया गया है. वहीं परिवार के लोगों का दावा है कि लड़की की हत्या, गैंगरेप करने वालों ने की है.

पीड़ित परिवार का क्या कहना है?

इंडिया टुडे ग्रुप के मेरठ संवाददाता उस्मान चौधरी ने बताया कि 1 अप्रैल को छात्रा रोजाना की तरह ट्यूशन के लिए वक्त पर निकली थी, लेकिन काफी देर तक नहीं लौटी. उसके परिवार के लोगों का आरोप है कि गांव में ही चार लड़कों ने उसके साथ गैंगरेप की वारदात को अंजाम दिया. इसके बाद आरोपियों ने लड़की को जहर पिला दिया. लड़की जैसे-तैसे घर तक पहुंची जहां उसने पूरी बात बताई. एक अप्रैल की शाम में ही उसे अस्पताल ले जाया गया जहां उसे बचाया नहीं जा सका. परिवार वालों ने इस पूरी बात की जानकारी पुलिस को दी. पुलिस ने शव का पोस्टमॉर्टम कराया और परिजनों को सौंप दिया.

Post Martem House
पोस्टमार्टम के बाद शव परिजनों को दे दिया गया.

पुलिस का क्या कहना है?

मेरठ के एसपी देहात केशव कुमार ने कहा कि,

“पुलिस ने परिवार वालों की शिकायत पर सुसंगत धाराओं में केस दर्ज किया, मौका मुआयना किया और आरोपियों की तलाश शुरू कर दी. शुक्रवार 2 अप्रैल को दो आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया. एक आरोपी, लड़की के साथ ही ट्यूशन में पढ़ता था. लड़की के घर से एक सुसाइड नोट भी बरामद हुआ है. विवेचना प्रचलित है. अग्रिम वैधानिक कार्रवाई की जा रही है.”

Sardhana Kotwali
इस मामले की जांच सरधना थाने की पुलिस कर रही है.

उन्होंने ये भी कहा कि प्रथम दृष्टया लगता है कि गैंगरेप से आहत छात्रा ने सुसाइड कर लिया लेकिन सुसाइड नोट की सत्यता जांचने के लिए इसे फॉरेंसिक जांच के लिए भेजा जाएगा.

पुलिस के दावे पर सवाल

पुलिस के इस दावे पर सवाल भी उठ रहे हैं. आजतक के साथ बातचीत में पीड़ित परिवार का कहना है कि ऐसा कोई सुसाइड नोट था ही नहीं तो पुलिस को क्या बरामद हुआ है, ये हमें भी दिखाया जाए. छात्रा के परिजनों ने कहा कि छात्रा का मर्डर हुआ है ना कि उसने आत्महत्या की है. आरोपियों ने ही छात्रा को जहर पिलाया था और यह बात छात्रा ने घर आकर खुद से बताई थी. लड़की के चाचा ने कहा,

“पुलिस कह रही है कि सुसाइड नोट मिला है. हमें भी वो देखना है. कैसी हैंडराइटिंग है ये तो हम पहचानेंगे. सब फर्जी है. ये राजनीति बनाई जा रही है. जब कोई सुसाइड नोट है ही नहीं. किसने दिया. किसको दिया. सब फर्जी है ये बात. घर से पुलिस को कुछ नहीं मिला है. हमें तो दिखाए पुलिस.”

आरोपी और पुलिस के बीच एनकाउंटर

एसपी ग्रामीण केशव कुमार ने बताया कि,

पुलिस ने गैंगरेप के इस मामले में दो आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया. इन दोनों को 3 अप्रैल को कोर्ट में पेश किया जाना था. इसी बीच मुख्य आरोपी ने हेड कॉन्सटेबल की पिस्टल छीन ली और पुलिस हिरासत से फरार हो गया. पुलिस ने उसकी तलाश में कॉम्बिंग शुरू कर दी. काफी तलाश के बाद वो पुलिस को दिखा, लेकिन उसने पुलिस पर फायरिंग शुरू कर दी. पुलिस ने भी फायरिंग की. आरोपी के पैर में गोली लगी है और उसे इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया है.

राजनीति भी हो रही है

मेरठ के इस गैंगरेप केस में अब राजनीति भी हो रही है. सरधना से बीजेपी के विधायक संगीत सोम भी पीड़ित परिवार से मिले हैं. वहीं समाजवादी पार्टी के नेताओं ने भी परिवार के लोगों से मुलाकात की है. समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने ट्वीट कर राज्य सरकार पर निशाना साधा है.

उन्होंने लिखा, “उप्र के सरधना (मेरठ) में एक छात्रा के अपहरण, गैंगरेप व ज़हर देकर मारे जाने का समाचार बेहद दुःखद और समाज में ख़ौफ़ पैदा करने वाला है. श्रद्धांजलि! स्टार प्रचारक जी को प्रचार से फ़ुरसत मिले तो कृपा कर इस पर भी विचार करें. बहुत हुआ महिलाओं पर अत्याचार, नहीं चाहिए भाजपा सरकार!”


वीडियो- लिव-इन रिलेशनशिप वाले कपल्स की सुरक्षा के लिए सुप्रीम कोर्ट ने कौन से फैसले सुनाए हैं?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

नॉलेज

महिलाओं के लिए सीट आरक्षित हुई तो पिता ने मॉडल-एक्ट्रेस बेटी को यूपी पंचायत चुनाव में उतार दिया

साल 2015 में फेमिना मिस इंडिया की रनरअप रह चुकी हैं.

शादी के बाद पति का सरनेम लगाना आपकी तरह कानून को भी क्यूट लगता है क्या?

पति का सरनेम नहीं लगाने पर क्या होता है, सुप्रीम कोर्ट की वकील से जानिए.

दिया मिर्ज़ा के होने वाले बच्चे को 'नाजायज़' ठहराने वालों के दिमाग में कूड़ा भरा है

बेहद घटिया बातें लिख रहे हैं लोग.

बिना शादी के लड़का-लड़की साथ रहें तो क्या मां-बाप उन्हें जेल भिजवा सकते हैं?

लिव इन रिलेशनशिप में रहने वालों की प्रोटेक्शन के लिए कानून में कौन से प्रावधान किए गए हैं?

क्यों पुरुष नेताओं पर अटैक करते हुए भी औरतों को घसीट लेते हैं नेता?

तमिलनाडु के सीएम पर ए राजा का कमेंट इसका लेटेस्ट उदाहरण है.

अपराधियों को धूल चटाने वाली लेडी अफसर ने सुसाइड क्यों किया?

सुसाइड के बाद लोग SC/ST एक्ट को खत्म करने की मांग क्यों कर रहे हैं?

समलैंगिक जोड़े के लिए मद्रास हाईकोर्ट ने जो रास्ता निकाला वो इस वक्त की सबसे बड़ी ज़रूरत है

परिवार वाले अलग होने का दबाव बना रहे थे.

केरल में चुनाव लड़ने वाली पहली ट्रांसजेंडर जो मुस्लिम लीग के गढ़ में कद्दावर नेता को टक्कर दे रहीं

18 की उम्र में घर छोड़ा, पेट के लिए सीवर तक साफ किया. अब जानी-मानी मेकअप आर्टिस्ट और एंकर हैं अनन्या कुमारी एलेक्स.

BJP कार्यकर्ता की बूढ़ी मां की मौत के बाद बंगाल की राजनीति में फैली गंदगी!

शोवा मजूमदार की मौत के बाद पीएम मोदी और अमित शाह ने ममता बनर्जी को क्या चेतावनी दी?

कच्ची उम्र में बाल विवाह के बाद पति के शोषण से ऐसे लड़ी छोटा देवी

14 की उम्र में हो गई थी शादी. आठ साल की लड़ाई के बाद मिला न्याय.