Submit your post

Follow Us

मास्क लगा रहे हैं फिर भी ये छोटी सी चूक दे देगी कोरोना, मेदांता अस्पताल की ये गाइड जरूर पढ़ें

”अरे यार नाक पर मास्क लगाने से घबराहट होती है. सांस नहीं ली जाती. इसीलिए नाक के नीचे से लगाते हैं मास्क.”

”बस मास्क दिखाने के लिए लगा लो इससे कुछ होता थोड़ी न है, कान में लटका लो ताकि पुलिस न रोके.”

ये बातें सालभर में आपने किसी न किसी से ज़रूर सुनी होंगी. ऐसे लोग मास्क सिर्फ चालान से बचने के लिए पहनते हैं. डॉक्टर्स की इतनी हिदायतों, सरकार की सख्त गाइडलाइंस और ICMR के निर्देशों के बाद भी इन्हें लगता है कि मास्क से कुछ नहीं होगा. कुछ ऐसे भी लोग हैं जो गमछा लटकाकर सड़कों पर टहलते हैं, किसी के टोकने पर वो गमछा मुंह पर लपेटकर कहते हैं-

”लो मास्क लगा लिया.”

कुछ ऐसे ही ”समझदार” लोगों के लिए मेदांता हॉस्पिटल ने एक कोविड गाइडलाइन जारी की है. इसमें मास्क लगाने से लेकर डायट और एक्सरसाइज़ सभी के बारे में बताया है. इसे पढ़कर आप ये जाने सकते हैं कि इस कोविड महामारी से कैसे निपटें.

Coronvirus Covid Lallantop Special

कैसे फैलता है कोविड-19

जब कोरोना से संक्रमित व्यक्ति खांसता है या छींकता है, इस दौरान उसके मुंह और नाक से निकले ड्रॉपलेट्स हमारे शरीर तक पहुंचती हैं. ये वायरस हमारे मुंह, नाक और आंखों से हमारे अंदर चला जाता है. और हम इन्फेक्ट हो जाते हैं.

साथ ही खासकर एयर कंडीशनर वाली जगहों पर जैसे ऑफिस, कैब्स-बस, शॉपिंग मॉल में हवा में ये ड्रॉप्लेट्स रह जाते हैं. ये ड्रॉप्लेट्स पेशेंट के सीधे संपर्क में नहीं होने पर भी आपको संक्रमित कर सकते हैं.

कोविड-19 को फैलने से कैसे रोकें

इसे रोकने के लिए कुछ चीज़ों को पूरी शिद्दत से फॉलो करना पड़ेगा. जैसे-

1. 5 साल से छोटे और 60 साल से ऊपर के लोगों को अपने घरों के अंदर रहना है. अगर आपको डायबटीज़, हाइपरटेंशन जैसी बीमारियां हैं तो घर में ही रहिए.

2. अपने हाथों को साबुन से अच्छी तरह धोएं. अगर आप बाहर हैं तो पूरे टाइम मास्क को पहनकर रखिए. सोशल डिस्टेंसिंग का पालन कीजिए. अगर कोई कहे ”बंटी तेरा साबुन स्लो है क्या”तो उसके कहे में बिल्कुल मत आइए. अच्छी तरह पूरा समय देकर हाथों को साफ कीजिए.

अपने नाज़ुक हाथों को थोड़ा समय दीजिए और पूरे संयम के साथ उसे साफ कीजिए.
अपने नाज़ुक हाथों को थोड़ा समय दीजिए और पूरे संयम के साथ उसे साफ कीजिए.

3. अपने घर में भी साफ-सफाई बनाए रखें. खासकर उन जगहों को रेग्युलर साफ करें जो हमेशा टच किए जाते हैं. जैसे दरवाज़े के हैंडिल, घर में लगे हुए नल, टीवी का रिमोट आदि.

4. उन जगहों पर जाना एवॉइड करें जहां एयर-कंडिशनिंग हो. जैसे ऑफिस, मॉल आदि.

5. खुद की इम्यूनिटी को स्ट्रॉन्ग करने के लिए प्रॉपर डाइट को फॉलो करें. अपनी रेग्युलर मेडिसिन्स भी ज़रूर लेते रहें. इसके अलावा किसी भी तरह की दवा बिना डॉक्टर की सलाह के ना लें.

मास्क कैसे पहनें?

बहुत से लोगों को आज भी ठीक तरीके से मास्क पहनना नहीं आता. अगर आता भी है तो भी वो ऐसी छोटी-छोटी गलती कर जाते हैं जिनसे इंफेक्शन होने का खतरा बना रहता है. हम बताते हैं मास्क पहनने का सही ढंग.

मास्क की इलास्टिक को कानों के पीछे थोड़ा टाइट रखना है. ताकि मास्क बार-बार गिरे नहीं. मास्क में लगे दूसरे इलास्टिक को भी सिर के पीछे टाइटली बांधना है. बस ये ध्यान में रखिए कि मास्क से आपकी पूरी नाक, पूरा मुंह और नीचे ठुड्डी ढकी होनी चाहिए.

मास्क पहनते समय क्या गलतियां करते हैं

1. अब आते हैं मास्क की पोज़िशन पर. इसे नाक के नीचे नहीं रखना है, न ही ठुड्डी पर लगाना है. क्योंकि कोरोना आपकी नाक और मुंह से फैलता है इसलिए मुंह और नाक को अच्छे से ढकें.

मास्क को बार-बार ना छुएं. इसे छूने से पहले और बाद में हाथ ज़रूर धुले.
मास्क को बार-बार ना छुएं. इसे छूने से पहले और बाद में हाथ ज़रूर धुले.

2. मास्क की लास्टिक को सिर के पीछे भी ज़रूर बांधें. वो मास्क है शेषनाग नहीं जिसे घड़ी-घड़ी गले में लटकाया जाए.

3. बहुत से लोग मास्क को मास्क कम और टोपी ज़्यादा समझते हैं. इसलिए उसे सिर पर चढ़ा लेते हैं. इस बात को समझना होगा कि मास्क आपके चेहरे के लिए बनाया गया है. वो हेयरबैंड नहीं है जिसे लगाकर आप अपने बालों की शोभा बढ़ाएं.

4. कई लोग मास्क पहनने के बाद उसे बार-बार एडजस्ट करते हैं. ये भी गलत है. क्योंकि आपके मास्क का बाहरी सरफेज़ हवा में रहता है. जिस कारण उस पर गंदगी बैठ जाती है. इसलिए ज़रूरी है कि मास्क को छूने के बाद और छूने से पहले आप हाथ को सैनेटाइज़ जरूर करें.

5. मास्क उतारते समय सिर्फ उसके लास्टिक को टच करें. पूरे मास्क को छूने की ज़रूरत नहीं है. मास्क रिमूव करने के बाद 70 प्रतिशत एल्कोहॉल वाले सैंनेटाइज़र या साबुन से अपने हाथों को अच्छी तरह धोएं.

किस तरह का मास्क यूज़ करें

उन मास्क का इस्तेमाल न करें जिसमें सांस लेने और छोड़ने के लिए गोल सी जगह छोड़ी जाती है. क्योंकि ऐसे मास्क आपको प्रदूषण से तो बचा लेंगे लेकिन आपके आस-पास जो लोग सांस ले रहे हैं या छींक रहे हैं उनसे नहीं बचा पाएंगे. ऐसे मास्क सिर्फ प्रदूषण से बचने के लिए बनाए जाते हैं. इसलिए इन्हें ना लगाएं. इसके साथ ही कपड़े वाले मास्क की जगह N-95 और KN-95 मास्क लगाएं.

Covid 19 (5)

क्या होते हैं कोविड-19 के लक्षण

शुरूआत में कोविड के कुछ लक्षण ऐसे होते हैं-

1. ड्राई कफ, कोल्ड
2. बुखार आना या ठंड लगना
3. थकान, कमज़ोरी या बॉडी और मसल्स में खिंचाव
4. हेडेक
5. नाक बहना
6. सांस लेने में तकलीफ होना
7. टेस्ट और स्मेल का गायब हो जाना

वैसे अलग-अलग केसेज़ में कोरोना के लक्षण भी अलग-अलग हो सकते हैं. बहुत से लोगों को 7-14 दिनों में ये लक्षण दिखते हैं. बहुत से लोगों में ये लक्षण नज़र भी नहीं आते. इन लक्षणों का इलाज भी पर्सन टू पर्सन डिपेंड करता है. बहुत से लोगों में कोविड-19 की रिपोर्ट नेगेटिव आने के बाद भी ये लक्षण दिखाई देते हैं.

लक्षण दिखें तो कि बातों का ख्याल रखें

1. घर पर रहें. हर समय. अगर कोई मेडिकल एमर्जेंसी है तो ही बाहर निकलें.

2. अपने हाथों को 20 या उससे ज़्यादा सेकेंड के लिए धोएं. उंगलियों के बीच और अंगूठे को भी अच्छी तरह साफ करें. अगर आप सेनेटाइज़र इस्तेमाल कर रहे हैं तो उसमें 60 प्रतिशत तक एल्कोहल होना ही चाहिए.

Covid 19 (2)

3. घर में एक अलग कमरे में रहिए. अलग वॉशरूम का इस्तेमाल कीजिए.

4. घर के स्विच बोर्ड्स, काउंटर टॉप्स, रेलिंग, और दरवाज़ों के हत्थों को साफ करते रहें. अपने फोन को भी सैनेटाइज़ ज़रूर करें.

5. आप अपने कमरे से बाहर भी निकल रहे हैं तो मास्क पहनें. अगर आपके कमरे में कोई आ रहा है तो भी मास्क पहने रहें.

6. इस बीच डॉक्टर के संपर्क में रहें और अपनी हेल्थ का रोज़ अपडेट देते रहें. जैसे आपका बॉडी टेम्प्रेचर, आपका टेस्ट और स्मेल. इस समय अपने बॉडी की बैलेंस डाइट भी ज़रूर दें.

क्या न करें

1. पैनिक न करें.
2. किसी भी पब्लिक एरिया में ना जाएं. पब्लिक ट्रांसपोर्ट का इस्तेमाल ना करें.
3. हाथ ना मिलाएं. किसी को गले ना लगाएं.
4. अपनी आंख, नाक और मुंह को बेवजह ना छूएं. अगर छूना हो भी तो हाथों को साफ करके छुएं.
5. अपने खाने के बर्तन, पीने का पानी, तौलिया, कपड़े जैसी चीज़ें अपने घरवालों के साथ शेयर ना करें.
6. जब तक डॉक्टर ना कहे खुद को क्वांरटीन ही रखें.

Covid 19

कैसे समझें कि अब मेडिकल इमरजेंसी है

1. सबसे पहले अपने अंदर के लक्षणों की जांच करें. अगर कोई भी तकलीफ या परेशानी बढ़े तो आप डॉक्टर्स की मदद लें.
2. सांस फूल रही हो या सांस लेने में तकलीफ हो रही हो.
3. अगर आप प्लस ऑक्सीमीटर का इस्तेमाल कर रहे हैं और उसमें ऑक्सीजन सैचुरेशन 95 प्रतिशत से कम दिखा रहा हो.
4. होंठ और चेहरा नीला पड़ रहा हो.
5. बार-बार आपका बुखार लौट रहा हो साथ ही आपके सीने में दर्द उठे.

ऐसी किसी भी मेडिकल इमरजेंसी में आप मेदांता की हेल्प लाइन नंबर 0124-4834566 पर कॉल कर सकते हैं.

अगर घर में है कोई कोविड पॉज़िटिव पेशेंट

अगर आपके घर में कोई कोविड पेशेंट है और आप उनका ख्याल रख रहे हैं तो आपको भी कुछ चीजों का ध्यान रखना ज़रूरी है. आप जब भी पेशेंट के पास जाएं या उनके कमरे में जाएं तो मास्क ज़रूर पहनें. अपने हाथों को लगातार साफ करते रहें. कोशिश करें की पेशेंट के डायरेक्ट कॉन्टैक्ट में न आएं. पेशेंट के बर्तनों को अलग कर दें.

अगर आप हॉस्पिटल से घर आ चुके हैं

अगर आप कोविड-19 से रिकवर हो कर घर आ चुके हैं तो भी आपको अपनी बॉडी पर कुछ लक्षण दिखाई देंगे. जैसे लो एनर्जी लेवल, फिज़िकल एक्टिविटी में प्रॉब्लम, कफ की प्रॉब्लम, हेडेक, एंगजाइटी. इन सभी से उबरने के लिए आपको क्या करना है?

कफ की समस्या है तो आप बॉडी को हाइड्रेटेड रखिए. मतलब पानी पीते रहिए. हो सके तो गर्म पानी में नींबू मिलाकर पियें. स्टीम लीजिए, नींबू के साथ गर्म पानी में शहद मिलाकर पीने से भी आराम मिलेगा. घर का बना काढ़ा भी असरदार हो सकता है.

स्मोकिंग को कहिए न

अगर आप स्मोकिंग करते हैं तो ये आपके लंग्स पर नेगेटिव इफेक्ट डालेगा. इसलिए स्मोकिंग छोड़ दीजिए. इससे आपके फेफड़े मज़बूत होंगे और स्मोकिंग के बाकी साइड इफेक्ट्स भी दूर रहेंगे. इस टाइम खुद को इमोशनली स्ट्रॉन्ग रखना भी ज़रूरी है. अगर आपको स्ट्रेस हो रहा है या अकेलापन फील हो रहा है या डिप्रेशन जैसा लग रहा है तो भी कुछ चीज़ो का ध्यान रखिए.

Covid 19 (1)

लगातार टीवी या न्यूज़ देख रहे हैं तो कुछ समय का ब्रेक लीजिए. अपने जानने वाले, दोस्तों, घरवालों से वीडियो कॉल से संपर्क में रहिए. अपनी हॉबीज़ को फिर से पूरा कीजिए. किताब पढ़िए, गिटार बजाइए, गाना सुनिए. कुछ भी. अपनी डाइट को फॉलो कीजिए. एक्सरसाइज़ करते रहिए.

अब आते हैं डाइट पर

वैसे तो एक हेल्दी डाइट हर किसी के लिए ज़रूरी है मगर कोरोना पेशेंट के लिए ये बहुत ज़्यादा ज़रूरी हो जाता है. कोविड-19 से बचने के लिए ज़रूरी है कि आपका इम्यून सिस्टम बहुत स्ट्रॉन्ग हो. इसके लिए कुछ तरीके का खाना खाना ज़रूरी है. जैसे-

1. एनर्जी-रिच फूड्स

इनमें कार्बोहाइड्रेट की मात्रा ज़्यादा होती है. ये आपके बॉडी को एनर्जी प्रोवाइड करती है. इसमें गेंहू, चावल, चीनी और तेल शामिल हैं.

2. बॉडी बिल्डिंग फूड

ये आपकी बॉडी को प्रोटीन पहुंचाती है. जिससे आपकी शरीर को ताकत मिलती है. इसमें सभी तरह की दालें, अंडे, मीट, मछली, दूध और दूध से बने कोई भी प्रोडक्ट जैसे पनीर, मक्खन, मलाई आदि आते हैं.

3. प्रोटेक्टिव फूड्स

ये आपके शरीर को विटामिन और मिनिरल्स पहुंचाते हैं. ये ही आपके इम्यून सिस्टम को बनाए रखने में सबसे ज़्यादा ज़रूरी है. इसमें आप हरी पत्तेदार सब्ज़ियां और हर रंग के फल शामिल हैं. इनसे विटामिन ए, ई और सी के साथ जिंक, कॉपर और आयरन मिलता है.

इन सभी के अलावा ड्राई फ्रूट्स जैसे काजू, बादाम, पिस्ता और अखरोट को भी अपनी डाइट में ज़रूर शामिल करें.

एक्सरसाइज़ है ज़रूरी

हेल्दी डाइट के साथ ही ज़रूरी है कि आप एक्सरसाइज़ भी ज़रूर करें. इसमें प्राणायाम सबसे ज़रूरी है. इसके अलावा आप चेस्ट और बलून एक्सरसाइज़ भी कर सकते हैं. जिसमें आप दिन में कुछ बलून फुला सकते हैं. इससे आपकी सांसों की एक्सरसाइज़ होगी.

इसके साथ ही अगर आप अभी कोविड-19 संक्रमण से उबरे हैं और अपनी फीज़िकल एक्टिविटी बढ़ाना चाहते हैं तो थोड़े-थोड़े से शुरूआत करें. रोज़ कुछ समय टहलें, जॉगिंग करें, साइकलिंग करें, वॉल पुशअप और आर्म्स रेज़ एक्सरसाइज़ भी कर सकते हैं. इसके अलावा सिट टू स्टैंड (यानी कुर्सी पर बैठने और उठने की एक्सरसाइज़) भी कर सकते हैं.

Covid 19 (6)

अगर आपको लगता है कि आपकी तबियत ठीक नहीं है या आपको अपने अंदर कोविड के कोई भी लक्षण दिखें तो आप फौरन +91 1244834566 पर कॉल कर सकते हैं.

कोविड महामारी को खत्म करना है तो हमें खुद को अंदर से स्ट्रॉन्ग रखना होगा. अपनी आउटर बॉडी के साथ इनर बॉडी का भी खूब ध्यान रखना होगा. इसलिए सेफ्टी बरतें और घर से बेवजह बाहर ना जाएं.


वीडियो: प्रेग्नेंट औरतें होने वाले बच्चे को कोरोना से कैसे बचाएं?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

क्राइम

जश्न का वीडियो बनाने पहुंची थी लड़की, भीड़ उसके कपड़े फाड़कर हवा में उछालने लगी

जश्न का वीडियो बनाने पहुंची थी लड़की, भीड़ उसके कपड़े फाड़कर हवा में उछालने लगी

लाहौर में 14 अगस्त को हुई घटना, पुलिस ने 400 लोगों के खिलाफ केस दर्ज किया है.

मुंबई के वकील पर आरोप: बेटे की चाहत में पत्नी का आठ बार गर्भपात करवाया, 1500 इंजेक्शन लगवाए

मुंबई के वकील पर आरोप: बेटे की चाहत में पत्नी का आठ बार गर्भपात करवाया, 1500 इंजेक्शन लगवाए

सेक्स डिटरमिनेशन के लिए बैंकॉक लेकर जाने का भी आरोप.

जज साहब ने अविवाहित लड़कियों के यौन संबंध पर फैसला सही सुनाया, पर बात ग़लत कर दी

जज साहब ने अविवाहित लड़कियों के यौन संबंध पर फैसला सही सुनाया, पर बात ग़लत कर दी

जज साहब बोले- भारत की अविवाहित लड़कियां केवल मजे के लिए नहीं बनातीं शारीरिक संबंध.

पत्नी का आरोप- जबरन सेक्स के चलते पैरालाइज़ हुई, कोर्ट बोला- सहानुभूति, पर पति की गलती नहीं

पत्नी का आरोप- जबरन सेक्स के चलते पैरालाइज़ हुई, कोर्ट बोला- सहानुभूति, पर पति की गलती नहीं

महिला ने दहेज प्रताड़ना का केस किया, कोर्ट ने ससुराल वालों को एंटीसिपेटरी बेल दे दी.

पसंद के लड़के के साथ जाकर शादी की तो पूरे परिवार ने मिलकर मार डाला

पसंद के लड़के के साथ जाकर शादी की तो पूरे परिवार ने मिलकर मार डाला

एक महीने पहले लड़की ने पुलिस को बताया था कि उसे डर है कि परिवार वाले उसे मार डालेंगे.

बाप ने बेटी की बलि चढ़ा दी, वजह घृणा से मन भर देगी

बाप ने बेटी की बलि चढ़ा दी, वजह घृणा से मन भर देगी

आरोपी असम के चाय बागान में काम करता था, हत्या के बाद शव नदी में बहाया.

चिट पर शायरी लिखकर लड़कियों पर फेंकते हो, तो बेट्टा! अब तुम्हारी खैर नहीं

चिट पर शायरी लिखकर लड़कियों पर फेंकते हो, तो बेट्टा! अब तुम्हारी खैर नहीं

बॉम्बे हाईकोर्ट ने साफ-साफ बोल दिया है.

दो बड़े नेताओं के सेक्स टेप, एक निर्मम हत्या: भंवरी देवी केस में आरोपियों को कैसे मिली बेल

दो बड़े नेताओं के सेक्स टेप, एक निर्मम हत्या: भंवरी देवी केस में आरोपियों को कैसे मिली बेल

10 साल पहले इस केस ने राजस्थान में भूचाल ला दिया था.

'मुस्लिम लड़के हिंदू औरतों को मेहंदी लगाएंगे तो लव जिहाद हो जाएगा!'

'मुस्लिम लड़के हिंदू औरतों को मेहंदी लगाएंगे तो लव जिहाद हो जाएगा!'

क्रांति सेना के लोग मुस्लिम कारीगर के मेहंदी लगाते दिखने पर 'अपने स्टाइल' में सबक सिखाने की बात कर रहे हैं.

"रेप केवल 11 मिनट तक चला", ये कहकर महिला जज ने रेपिस्ट की सज़ा ही कम कर दी

जज के इस फैसले के खिलाफ इस देश के लोगों का अनोखा प्रदर्शन.