Submit your post

Follow Us

शख्स ने कहा- मैं सेक्स के लिए हॉट संघियों को खोजता हूं; बवाल हो गया

क्लब हाउस. एक ऑडियो बेस्ड सोशल मीडिया ऐप है. इस पर ग्रुप्स बनते हैं. इन ग्रुप्स के बीच लाइव डिस्कशन चलते हैं. आप इन डिस्कशंस में शामिल हो सकते हैं. अपनी बात कह सकते हैं. एक ऐसे ही डिस्कशन की एक क्लिप वायरल हो गई है. खासा बवाल मच गया है.

क्या है उस क्लिप में?

डिस्कशन का टॉपिक था- क्या हम केवल हॉट लोगों को डेट करते हैं?

इसमें नीरज नाम के एक शख्स से यही सवाल पूछा जाता है. इस पर वो कहता है,

नहीं नहीं, मैं सभी तरह के लोगों को डेट करता हूं. लेकिन डेटिंग ऐप्स पर कई बार हॉट संघियों को खोजता हूं. केवल सेक्स के लिए.

इसके बाद कई लोग हंसने लगते हैं. कोई कहता है- संघी हॉट नहीं होते. फिर सब हंसते हैं.

क्लिप में वो शख्स पेपर बैग सेक्स शब्द का इस्तेमाल करता है. इसके बाद भी कई लोग हंसने लगते हैं. बीच में किसी महिला की आवाज़ आती है- ये तो हेट सेक्स जैसा है. इसके बाद एक और शख्स संघियों के बारे उल्टी-सीधी बातें करता है.

Clubhouse Screenshot
क्लबहाउस एक ऑडियो बेस्ड सोशल मीडिया ऐप है. (सांकेतिक फोटो)

यहां संघी से मतलब राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ की विचारधारा का समर्थन करने वालों से है. इनको राइट विंगर्स भी कहते हैं. उन लोगों के लिए भी संघी शब्द का इस्तेमाल किया जाता है, जो हिंदुत्व को लेकर अतिसंवेदनशील होते हैं. बहरहाल, ऑडियो क्लिप वायरल हुई और इस पर हंगामा हो रहा है.

लोगों ने इस क्लिप के विरोध में दो तरह की बातें लिखीं

– पहलाः कहा गया कि वो शख्स महिलाओं का अपमान कर रहा है. डेटिंग ऐप पर सेक्स के लिए एक खास विचारधारा की लड़की खोजने की बात कह रहा है.

– दूसराः आपकी राजनीतिक विचारधारा जो भी हो, उससे अलग विचारधारा रखने वाले किसी भी शख्स के लिए इस तरह की बात कहना गलत है. उसे सेक्स के माध्यम से नीचा दिखाने जैसी बात करना, पेपर बैग सेक्स शब्द का इस्तेमाल. ऐसी बात करना, जिससे हेट सेक्स का आभास हो.

ये पेपर बैग सेक्स और हेट सेक्स क्या हैं?

– पेपर बैग सेक्स एक अमेरिकी स्लैंग है. इस सेक्शुअल एक्ट में एक पार्टनर का चेहरा पेपर बैग से ढक दिया जाता है. ये जताने के लिए कि उनका चेहरा आकर्षक नहीं है.

– हेट सेक्स. आपने हेट क्राइम सुना होगा. धर्म, जाति, रेस और विचारधारा के आधार पर किसी के खिलाफ हिंसा करने को हेट क्राइम कहा जाता है. मतलब दलितों या बीफ के नाम पर मुस्लिमों की मॉब लिंचिंग हेट क्राइम के दायरे में आएंगे. उसी तरह अगर इस नफरत को आधार बनाकर किसी को सेक्स के लिए खोजा जाए, और सेक्स के माध्यम से उस व्यक्ति पर अपनी नफरत का प्रदर्शन किया जाए, तो वो हेट सेक्स कहलाता है.

कुशा कपिला ने क्या सफाई दी?

बोलने वाले शख्स का नाम नीरज है. क्लिप में दिख रहा है कि सोशल मीडिया इंफ्लुएंसर कुशा कपिला भी उस क्लबहाउस डिस्कशन का हिस्सा थीं. उन पर आरोप लग रहे हैं कि वैसे तो वो फेमिनिस्ट होने का दावा करती हैं लेकिन नीरज औरतों को लेकर घटिया बातें करते रहे और कुशा ने उनको रोका नहीं, उल्टे हंस रही थीं.

एक राइट विंग वेबसाइट ने कुशा को टारगेट करते हुए खबर भी लिख दी. कवर में उनकी फोटो भी लगा दी. इस पर कुशा ने उस वेबसाइट को टैग करते हुए लिखा कि क्या उनके पास इस बात का कोई सबूत है कि उन्होंने ऐसा कोई जोक मारा था जिससे औरतों का अपमान हो? या फिर क्या इस तरह के जोक्स पर उनके हंसने की कोई रिकॉर्डिंग उनके पास है? अगर नहीं है तो उनकी फोटो लगाकर उन्हें टारगेट क्यों किया जा रहा है?

वहीं स्पीकर नीरज को लेकर कुशा ने ट्वीट किया,

जिस शख्स की बात हो रही है. वो गे हैं. उन्होंने अलग राजनीतिक विचारधारा के गे पुरुष को ढूंढने की बात की. महिलाओं के खिलाफ कुछ भी नहीं बोला गया.

कुशा ने लिखा कि नीरज ने हेट सेक्स शब्द का इस्तेमाल नहीं किया. किसी और ने किया था.

हालांकि, किसने कहा, किसने नहीं कहा उससे ज्यादा मायने रखता है कि क्या कहा गया. और वायरल क्लिप में जो बातें कही गई हैं वो किसी भी लिहाज़ से स्वीकार नहीं की जा सकती हैं. आप कहने वाले को गे कहकर डिफेंड कर सकते हैं कि वो गे पुरुषों की बात कर रहे थे. लेकिन एक विचारधारा विशेष के पुरुषों को सेक्स के लिए खोजने की बात बेहद असंवेदनशील है. वो भी तब जब LGBTQ समुदाय अपने अधिकारों की अलग लड़ाई लड़ रहा है, सोशल एक्सेप्टेंस के लिए जूझ रहा है. पेपर बैग सेक्स या हेट सेक्स का हिंट देना, चाहे वो पुरुष के संदर्भ में हो, चाहे स्त्री के संदर्भ में उसे स्वीकार नहीं किया जा सकता है. और ये और भी परेशान करने वाला है कि खुद को इंफ्लुएंसर बताने वाले लोगों के बीच इस तरह की बात हो रही थी.


वीडियो: यूपी की महिला आयोग सदस्य ने बेटियों को सेलफोन से दूर रखने की घटिया सलाह क्यों दी?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

नॉलेज

रज़िया सुल्तान के बिहार की पहली मुस्लिम महिला DSP बनने की कहानी

रज़िया सुल्तान के बिहार की पहली मुस्लिम महिला DSP बनने की कहानी

नौकरी के साथ-साथ की थी एग्ज़ाम की तैयारी.

महिला आयोग की मेंबर ने पहले लड़कियों को लेकर घटिया बात कही, बवाल हुआ तो ये सफाई दी

महिला आयोग की मेंबर ने पहले लड़कियों को लेकर घटिया बात कही, बवाल हुआ तो ये सफाई दी

"बेटियों को मोबाइल न दें, दें तो पूरी निगाह रखें"

शौचालय में रहने को मजबूर 75 साल की वृद्धा, पैसे नहीं है इसलिए नहीं मिलता सरकारी घर!

शौचालय में रहने को मजबूर 75 साल की वृद्धा, पैसे नहीं है इसलिए नहीं मिलता सरकारी घर!

पति, बेटे, बहू सबकी मौत हो चुकी है.

ये पोस्टर आपको भावुक करता है तो आपको अपनी सोच बदलने की सख्त ज़रूरत है

ये पोस्टर आपको भावुक करता है तो आपको अपनी सोच बदलने की सख्त ज़रूरत है

IPS अरुण बोथरा ने सवाल किया तो लोग ज्ञान देने लगे- ये प्यार दिखाने का तरीका है.

एक रेप के आरोपी एक्टर के बचाव में क्यों खड़े हो गए हैं बड़े-बड़े सेलेब्रिटी?

एक रेप के आरोपी एक्टर के बचाव में क्यों खड़े हो गए हैं बड़े-बड़े सेलेब्रिटी?

पर्ल पर लगे रेप के आरोप के केस की पूरी कहानी.

तलाक और प्रेग्नेंसी की बातों के बीच नुसरत ने बताया, निखिल से 'शादी' कभी हुई ही नहीं

तलाक और प्रेग्नेंसी की बातों के बीच नुसरत ने बताया, निखिल से 'शादी' कभी हुई ही नहीं

जिस शादी की तस्वीरें वायरल थीं, उसका सच अब साफ़ किया.

सामंथा के काले मेकअप पर फैमिली मैन 2 वालों ने  जो सफाई दी है, असल दिक्कत उसी में है

सामंथा के काले मेकअप पर फैमिली मैन 2 वालों ने जो सफाई दी है, असल दिक्कत उसी में है

सामंथा के मेकअप न स्किन पर मौसम की मार को जस्टिफाई करता है और न ही टैनिंग को.

समलैंगिक लोगों को 'ठीक' करने का दावा करने वाले डॉक्टर्स का भंडाफोड़!

समलैंगिक लोगों को 'ठीक' करने का दावा करने वाले डॉक्टर्स का भंडाफोड़!

अब इन डॉक्टर्स को कोर्ट 'ठीक' करेगा

नवनीत कौर फर्जी कास्ट सर्टिफिकेट से सांसद बन गईं, कोर्ट ने दो लाख का जुर्माना लगाया है

नवनीत कौर फर्जी कास्ट सर्टिफिकेट से सांसद बन गईं, कोर्ट ने दो लाख का जुर्माना लगाया है

आरक्षित सीट पर सांसद हैं, छिन सकती है कुर्सी.

लोगों ने नुसरत जहां के 'गर्भ' के बारे में वो बता दिया जो अल्ट्रासाउंड रिपोर्ट भी न बता पाए

लोगों ने नुसरत जहां के 'गर्भ' के बारे में वो बता दिया जो अल्ट्रासाउंड रिपोर्ट भी न बता पाए

और ये तब है, जब नुसरत ने खुद इसके बारे में कोई जानकारी नहीं दी है.