Submit your post

Follow Us

महिला पर एसिड फेंका, सज़ा काटी, 17 साल बाद उसी महिला को खोजकर रेप करने का आरोप

दिल्ली पुलिस ने बेंगलुरु से एक शख्स को गिरफ्तार किया है. उस पर एक महिला के रेप का आरोप है. उस शख्स ने साल 2005 में उसी महिला पर एसिड अटैक किया था. उसे सात साल की सज़ा भी हुई थी.  आरोपी का नाम कपिल गुप्ता बताया जा रहा है. जेल से बाहर निकलकर उसने महिला को ट्रेस किया, पता चला कि उसकी शादी कपिल की रिश्तेदारी में ही किसी से हुई है. दिसंबर, 2021 में कपिल उस महिला तक पहुंचा और दिल्ली में उसका रेप किया.

Acid Attack और Rape का पूरा मामला क्या है?

साल 2005 में कपिल गुप्ता ने विक्टिम पर एसिड से हमला किया था. कानपुर में. उस केस में उसे सात साल की सज़ा भी सुनाई गई थी. घटना के बाद विक्टिम की शादी हो गई थी और वो दिल्ली शिफ्ट हो गई थी.

सज़ा पूरी करने के बाद आरोपी जेल से छूटा तो उसने महिला के बारे में जानकारी निकालनी शुरू की. उसने कानपुर में अपनी जान-पहचानवालों से महिला के बारे में पता किया. वो कहां रहती है, किसके साथ रहती है ये सारी जानकारी निकाली. इसके बाद 13 दिसंबर, 2021 को आरोपी दिल्ली में महिला के घर पहुंचा.

उसने विक्टिम के पति और बच्चों पर तेजाब से हमला करने की धमकी दी. और, कथित तौर पर उसका बलात्कार किया. आरोपी ने घटना का वीडियो भी बनाया. और महिला को सोशल मीडिया पर वीडियो डालने की धमकी देने लगा.

पुलिस के मुताबिक, महिला आरोपी की धमकियों से डरी हुई थी. घटना के तीन महीने बाद उसने शिकायत दर्ज की. 21 मार्च को कपिल गुप्ता के खिलाफ IPC की धारा 376 (बलात्कार) और 506 (आपराधिक धमकी) के तहत मामला दर्ज करवाया.

आजतक से जुड़े तनसीम हैदर की रिपोर्ट के मुताबिक़, DCP संदीप शर्मा ने कहा,

“टीम ने दिल्ली में आरोपी के ठिकानों पर छापेमारी की और कानपुर भी गई, लेकिन उसका पता नहीं चल पा रहा था, क्योंकि उसने अपना फोन बंद कर दिया था. जांच टीम ने उसका इलेक्ट्रॉनिक सर्विलांस किया और अंत में हमने उसे बेंगलुरु में ढूंढ निकाला. तीन लोगों की टीम बेंगलुरु गई और तीन दिनों तक वहां उसे ढूंढते रहने के बाद उसे पिछले हफ़्ते गिरफ्तार कर लिया गया है. अब उसे वापस दिल्ली लाया जा चुका है.”

आउटर दिल्ली पुलिस के एक अधिकारी ने कहा कि वे तेजाब हमले के मामले में कानपुर पुलिस से बात करेंगे कि आरोपी इम मामले में कब दोषी ठहराया गया था और जेल से रिहा कब हुआ. उन्होंने बताया कि पुलिस ये पता लगाने की कोशिश कर रही है कि एसिड हमले के बाद आरोपी किसी और अपराध में शामिल रहा था या नहीं.

 


यूपी के 36 जिलों की 113 महिलाओं को प्रताड़ित करने वाले को पुलिस ने धर लिया

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

नॉलेज

एक-तिहाई से ज्यादा महिलाएं घरेलू हिंसा से पीड़ित, NFHS की नई रिपोर्ट में डराने वाले खुलासे

शारीरिक हिंसा के 80% से ज़्यादा मामलों में अपराधी पति होता है.

नसबंदी के बाद पुरुषों में सेक्स करने की क्षमता कम हो जाती है?

समझा जाता है कि नसबंदी से आदमी की सेक्स करने की ताकत कम हो जाएगी या जो आदमी बच्चा नहीं पैदा कर सकता तो काहे का मर्द.

फिल्म में नुसरत कॉन्डम सेल्स गर्ल बनीं, लोगों ने घटियापने की हद पार कर दी

नुसरत बरूचा की फिल्म 'जनहित में जारी' 10 जून को रिलीज़ हो रही है.

मंदिरा बेदी को ऐसा क्या कहा गया कि उन्होंने इंस्टाग्राम तस्वीर का कमेंट बॉक्स ही बंद कर दिया?

जिस वक़्त पर मंदिरा को सपोर्ट करना चाहिए था उस वक़्त भी कुछ लोगों ने उन्हें जज किया, ओछी बातें कहीं.

राहुल गांधी जिस सहेली की शादी में नेपाल गए, उनका पूरा सच ये है!

कौन हैं सुम्निमा उदास?

पूर्व AAP पार्षद निशा सिंह कौन हैं, जिन्हें हिंसा 'भड़काने' के लिए 7 साल की सजा हुई है?

निशा सिंह गूगल की नौकरी छोड़ राजनीति में आई थीं.

ट्रंप का अकाउंट सस्पेंड करने वालीं विजया गाड्डे के पीछे क्यों पड़ गए हैं मस्क?

मस्क के मालिक बनने के बाद रो पड़ी थीं विजया.

सैमसंग के नए ऐड में दौड़ती दिखी लड़की, लोगों ने क्लास लगा दी

बवाल इतना बढ़ा कि कंपनी को मांगनी पड़ गई माफी.

अमेरिकी राइटर पद्मा लक्ष्मी की कहानी, जिन्होंने भारत के साम्प्रदायिक तनाव पर तीखी बात कही है

दिल्ली के जहांगीरपुरी और मध्य प्रदेश के खरगौन में हुई हिंसा के बीच पद्मा लक्ष्मी का पोस्ट आया है.

रूसी सैनिकों से बचने के लिए यूक्रेनी महिलाएं जो कर रही हैं, आप भी उन्हें सलाम करेंगे

रूसी सैनिकों पर आरोपः रेप और हत्या के बाद यूक्रेनी औरतों के शरीर जला दे रहे.