Submit your post

Follow Us

रात के 3 बजे घने जंगलों में मीट के टुकड़े लेकर बाघ पकड़ने वाली अफ़सर से मिलिए

2 नवंबर 2018. महाराष्ट्र के यवतमाल ज़िले के बोराती गांव के पास देर रात एक शेरनी को जान से मारा गया. नाम था अवनी. सुप्रीम कोर्ट ने महाराष्ट्र के फॉरेस्ट डिपार्टमेंट को अवनी पर गोली चलाने की परमिशन दी थी. उसके ऊपर दो साल के अंदर 13 लोगों की जान लेने का आरोप था. और ज्यादा लोगों की जान न जाए, इसलिए उसे खोजकर मार दिया गया. अवनी तो चली गई, लेकिन पीछे छूट गए थे उसके दो बच्चे. एक मेल और एक फीमेल. दोनों जंगल में कहीं गुम थे.

फिर आई दोनों बच्चों को खोजने की बारी. फॉरेस्ट डिपार्टमेंट की जूनियर फॉरेस्ट अधिकारी सिदाम प्रमीला इस्तारी को ये जिम्मेदारी मिली. वो अपनी टीम के साथ निकल पड़ीं यवतमाल के घने जंगलों में. 45 दिन की कड़ी खोजबीन के बाद एक छोटी शेरनी मिल गई, लेकिन अभी तक छोटा शेर गायब है. उसे खोजा जा रहा है. प्रमीला अभी तक इस ऑपरेशन में जुटी हुई हैं.

Avni
अवनी का शव. आरोप था कि इस शेरनी ने 13 लोगों की जान ली है. इसलिए मारने का आदेश दिया गया.

अवनी के बच्चों को खोजने के लिए प्रमीला ने दिन-रात एक कर दिया था. आखिरकार डेढ़ साल बाद उनके इस काम बड़े अधिकारियों की नज़र पड़ी. पिछले हफ्ते ही नेशनल टाइगर कंजर्वेशन अथॉरिटी (NTCA) ने प्रमीला को सम्मानित करने का फैसला लिया है. देशभर से 6 जूनियर फॉरेस्ट अधिकारियों को चुना गया है. सबको उनके काम के लिए एक-एक लाख रुपए और प्रमाण पत्र मिलेगा. इन 6 अधिकारियों में इकलौती महिला अधिकारी प्रमीला ही हैं. पिछले साल सितंबर में NTCA ने राहत और बचाव कार्य में जुटे जूनियर फॉरेस्ट अधिकारियों को सम्मान देने की बात कही थी.

Sidam Pramila Istari
NTCA 6 लोगों को सम्मानित कर रहा है, इनमें एक अकेली महिला प्रमीला हैं. (फोटो- @ParveenKaswan)

जब प्रमीला घने अंधेरे में घने जंगल गईं

TOI की रिपोर्ट के मुताबिक, प्रमीला बताती हैं कि उन्होंने और उनकी टीम ने 45 दिन तक लगातार सर्च ऑपरेशन किया. वो कहती हैं,

‘मैं घने जंगल में घनघोर अंधेरे में दूर तक जाती थी. इस उम्मीद से कि अवनी के बच्चे मिल जाएं. मुझे पता था कि मेरी जान को खतरा था, लेकिन फिर भी मैं जंगलों में जाती थी. कई बार रात के 3 बजे भी. अवनी के बच्चे वैसे भी एक साल के हो चुके थे और कमज़ोर थे. वो गांववालों को नुकसान न पहुंचाएं. मैं एक हाथ में लाठी और दूसरे में लालच देने के लिए मीट लेकर चलती थी. हमने चार किलोमीटर का इलाका मार्क करके रखा था, उसमें हमें सर्च करना था. हम 11 कैमरा, मैमोरी कार्ड्स लेकर चलते थे. लेकिन कुछ नहीं हो रहा था. फिर दिसंबर के दूसरे हफ्ते हमें वो दिखे. छोटी शेरनी तो पकड़ाई गई, लेकिन छोटा शेर नहीं.’

छोटी शेरनी को पेंच टाइगर रिजर्व भेज दिया गया, लेकिन शेर को खोजना अभी बाकी है. प्रमीला कहती हैं,

‘मेरे दिमाग में बस यही चल रहा है कि कैसे उसे खोजूं.’

खैर, इस वक्त NTCA से सम्मानित होने पर प्रमीला खुश हैं. उन्हें उम्मीद है कि अब और भी ज्यादा महिलाएं इस जॉब को करने के लिए आगे आएंगी.


वीडियो देखें: क्या है सिस्टर अभया का केस, जो केरल की अब तक कि सबसे लम्बी मर्डर इन्वेस्टिगेशन है

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

क्राइम

रेपिस्ट को पकड़वाने के लिए इस महिला ने बेहद सूझ-बूझ वाला काम किया

लगभग पौन घंटे तक पुलिस पीछा करती रही रेपिस्ट का.

ट्रेन पकड़ने में मदद के बहाने दो RPSF आरक्षकों ने नाबालिग का रेप कर उसे सड़क पर छोड़ा

16 साल की लड़की दिल्ली में फंसी थी, अपने घर जाना चाहती थी.

नहाने का वीडियो बनाकर लड़के सेक्स की डिमांड कर रहे थे, लड़की ने खुद को जला लिया

15 साल की लड़की को ब्लैकमेल कर रहे थे लड़के.

जादू-टोने के शक में की चाची की हत्या, कटा सिर लेकर 13 किलोमीटर दूर थाने पहुंचा

घटना ओडिशा की है.

ठाणे नगर निगम के अस्पताल पर आरोप- COVID नेगेटिव गर्भवती महिला को तीन दिन कोरोना वॉर्ड में रखा

महिला के पति ने बताई पूरी कहानी.

दर्शन के लिए आई महिला से रेप के आरोप में दिगम्बर जैन मुनि गिरफ्तार

आरोपी के पास से चार हार्ड डिस्क, कई स्मार्ट फोन और कई साधारण फोन मिले.

एक्ट्रेस के बेटे ने ट्रांस महिला के साथ जो शर्मनाक हरकत की, उस पर बवाल बढ़ रहा है

इस एक्ट्रेस ने कहा, 'बेटे का साथ नहीं दूंगी.'

महिला डॉक्टर का आरोप, 'नेताओं ने प्रताड़ित किया, तस्वीरें वायरल करने की धमकी दी'

उत्पीड़न का वो केस, जिसने आंध्र प्रदेश की सरकार को बुरी तरह घेर लिया है.

दूसरी जाति के लड़के से प्रेम किया, तो मां-बाप ने बेटी के खिलाफ इतना बर्बर कदम उठा लिया!

मामला तेलंगाना का है.

जब अनन्या पांडे की बहन से एक औरत ने कहा, 'बिकनी पहनती हो, तुम्हारा गैंगरेप होना चाहिए'

इस तरह के बहुत से कमेंट्स अलाना को अक्सर आते हैं.