Submit your post

Follow Us

हैदराबाद डॉक्टर गैंगरेप मामले पर जया बच्चन भावुक हुईं, उम्मीद नहीं थी ऐसा कहेंगी

हैदराबाद में वेटनरी डॉक्टर के गैंगरेप और हत्या के मामले को लेकर संसद में बहस हुई. राज्यसभा में 2 दिसंबर के दिन सांसदों ने इस मामले को लेकर अपनी-अपनी बात रखी. समाजवादी पार्टी से सांसद जया बच्चन ने कहा कि जिन लोगों ने भी लड़की का गैंगरेप किया है, उन्हें जनता के बीच लाकर उनकी लिंचिंग होनी चाहिए. जया बच्चन ने कहा,

‘मुझे नहीं पता कि कितनी बार मैं खड़ी हुई और इस तरह के अत्याचार के बारे में मैंने बोला. मुझे लगता है कि अब वक्त आ गया है कि जनता सरकार से एक ठोस जवाब चाह रही है. मुझे लगता है कि ये जो घटना हैदराबाद में हुई, उसके पहले दिन भी उसी जगह एक हादसा हुआ. क्या वहां के जो सिक्योरिटी इनचार्ज हैं, मैं किसी का नाम नहीं ले रही हूं, आपको भी पता है, आपको नहीं लगता कि उन्हें जवाब देना चाहिए. उन पर सवाल खड़े किए जाने चाहिए कि वो लोग उस इलाके की सुरक्षा क्यों नहीं कर सके. जहां पहले भी हादसा हो चुका था. मुझे लगता है कि उन लोगों का नाम पूरे देश के सामने आना चाहिए. उन लोगों के बारे में पता चलना चाहिए जिन्होंने अपना काम ठीक से नहीं किया. अगर इस तरह की चीज़ें कुछ देशों में होती हैं, वहां जनता न्याय करती है. मेरा सुझाव है कि इस तरह के लोगों को जनता के बीच लाना चाहिए और उनकी लिंचिंग होनी चाहिए. मुझे पता है कि ये सुझाव कठोर है. लेकिन ऐसा होना चाहिए.’

जया बच्चन की तरफ से ऐसी बात कहा जाना बड़ा अजीब है. क्योंकि एक सांसद से आप ऐसी अपेक्षा नहीं रखते हैं. लिंचिंग का अर्थ है किसी क्रिमिनल को भीड़ के हाथों बर्बरता से मार डाला जाए. मगर इंडिया जैसे देश में, जहां सभी को अपना पक्ष रखने का हक़ है. वहां किसी लॉमेकर का ऐसा कहना गैरजिम्मेदाराना है. रेपिस्ट और हत्यारों का जीवन  ख़त्म करने के न्यायपूर्ण तरीके भी हैं.

खैर. जानिए किस सांसद ने और क्या कहा. 

AIADMK सांसद विजिला सत्यानंद इस मसले पर बोलते-बोलते भावुक हो गईं. मांग रखी कि हैदराबाद गैंगरेप में शामिल सभी चारों आरोपियों को 31 दिसंबर के पहले फांसी पर चढ़ा देना चाहिए. आगे कहा,

‘फास्ट ट्रैक कोर्ट होना चाहिए. रोजाना सुनवाई होनी चाहिए. ड्रग्स की वजह से भी इस तरह के अपराध हो रहे हैं. ड्रग्स पर पूरी तरह से पाबंदी लग जानी चाहिए. निर्भया केस में हमने देखा कि लंबा ट्रायल हुआ, लेकिन इस केस ने हमें हैरान कर दिया. जल्द से जल्द एक्शन लिया जाए.’

Vijila Sathyananth
राज्यसभा में बोलतीं विजिला सत्यानंद.

बिहार बीजेपी सांसद आरके सिन्हा ने निर्भया केस से इस मामले को जोड़ते हुए बात की. कहा

‘निर्भया कांड को 7 साल हो गए हैं. लेकिन अभी तक उसके दोषियों को फांसी नहीं मिली है. कुछ नहीं कर पाए. निर्भया फंड बनाया, लेकिन राज्य सरकारें उसका इस्तेमाल नहीं कर रही हैं. ये ऐसा विषय है जिस पर गंभीरता से विचार करना चाहिए. ऐसे अपराधियों को तत्काल फांसी की सजा का प्रावधान होना चाहिए.’

TMC सांसद सुखेंदु शेखर राय ने पुलिस अधिकारियों के ऊपर सवाल खड़े किए. कहा,

‘इस घटना में जब तक थानेदार ने शिकायत दर्ज की, तब तक इस लेडी डॉक्टर का सिर्फ सामूहिक बालात्कार नहीं हुआ बल्कि उनको बड़ी बेरहमी से जिंदा जला दिया गया. पुलिस ने बोला कि हमारा अधिकार क्षेत्र नहीं है, दूसरे थाने में जाओ. अधिकार क्षेत्र को आधार बनाकर उन्होंने मामले को इग्नोर करने की कोशिश की. लेकिन सुप्रीम कोर्ट ने कई सारे मामलों में ऐसा कहा है कि अधिकार क्षेत्र कोई भी हो, जब यौन शोषण का कोई केस होता है तो उसकी शिकायत जिस भी थाने में जाए FIR होनी चाहिए. लेकिन इस बार भी नहीं हुआ. मैं अपील करता हूं कि सभी राज्यों को निर्देशिका भेजी जाए, ताकि पुलिस अगर शिकायत दर्ज नहीं करती है तो उसे तुरंत सस्पेंड किया जाए.’

आपको बता दें कि 27 नवंबर की रात हैदराबाद में वेटनरी डॉक्टर का गैंगरेप हुआ था. लड़की ने रात करीब 9.30 बजे अपनी बहन को कॉल करके बताया था कि उसे डर लग रहा है, जिसके बाद उसके घरवाले उसे खोजने निकले. राजीव गांधी इंटरनेशनल एयरपोर्ट स्टेशन गए. लड़की के मिसिंग होने की शिकायत दर्ज करवाने के लिए, जहां उनसे कहा गया कि मामला उनके अधिकार क्षेत्र का नहीं है, वो शमशाबाद पुलिस स्टेशन जाएं और वहां शिकायत दर्ज करवाएं.

लड़की के गैंगरेप और हत्या की जब जांच शुरू हुई तब पुलिस द्वारा शिकायत न दर्ज करने की बात सामने आई. 30 नवंबर के दिन तीन पुलिसवालों को सस्पेंड कर दिया गया. तीनों के ऊपर आरोप है कि उन्होंने लड़की के लापता होने की शिकायत दर्ज करने में देरी की थी.


वीडियो देखें:

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

नॉलेज

वायरल वीडियो में ये लड़की जो कह रही है वो सुन लेंगे तो दिमाग के परदे खुल जाएंगे

मुस्कान मेलबर्न में रहती हैं, लेकिन उनके वीडियो भारत में गजब पॉपुलर हो रहे हैं.

पति को माओवादियों से छुड़ाने के लिए चार दिन तक जंगल में भटकती रही महिला

कभी मोटरसाइकल के सहारे तो कभी पैदल चलती रही.

टीवी एक्टर को ट्रोल ने 'महिला' कहा, जवाब ने इंटरनेट पर लोगों का दिल जीत लिया

करण कुंद्रा ने अपने इंस्टाग्राम पर आए कमेंट पर जवाब दिया था.

ये एक्ट्रेसेस सोशल मीडिया पर अपना नाम क्यों बदल रही हैं?

इंस्टाग्राम और ट्विटर पर तस्वीरें शेयर करते हुए एक मैसेज दे रहे हैं

'चूड़ी जो खनकी' वाली फाल्गुनी पाठक इतने साल बाद फिर से क्यों वायरल हो रही हैं

ट्विटर पर लोगों की ख़ुशी देखते बनती है.

160 साल पहले इस नर्स ने जो किया, वो आज कोरोना से लड़ने में कैसे काम आ सकता है?

फ्लोरेंस नाइटिंगेल की कहानी, जिनकी याद में इंटरनेशनल नर्सेज डे मनाया जाता है

इंटरनेट पर वायरल हो रही इस पापा-बेटी की तस्वीर के पीछे की प्यारी कहानी

पिता बड़े प्रेम से बेटी की यूनिफ़ॉर्म निहार रहे हैं

गोद में नवजात को उठाकर धूप में चलती, थककर मरती ये महिलाएं कौन हैं?

जो एक दिन अख़बार के पन्नों पर दिखती हैं, फिर गायब हो जाती हैं हमेशा के लिए.

नर्स को लगा कि उन्हें अपेंडिक्स का दर्द है, पर बाद में जो हुआ, उससे खुशी से झूम उठीं

दुनियाभर में ऐसा तो कभी-कभी ही होता है.

मदर्स डे: मिलिए दुनिया की सबसे 'लीचड़', 'घटिया', 'कपटी' मांओं से

और जानिए कि वो ऐसी कैसे बन गईं.