Submit your post

Follow Us

जिस महिला के जबरन धर्म परिवर्तन की बात पर बवाल हुआ, अब उनका वीडियो सामने आया है!

जम्मू कश्मीर में दो महिलाओं के कथित अपहरण और जबरन धर्म परिवर्तन की बात को लेकर बवाल मचा हुआ है. इसके खिलाफ वहां प्रदर्शन भी चल रहे हैं. अब हालांकि, कथित तौर पर उनमें से एक महिला का वीडियो सामने आया है. वीडियो में महिला का कहना है कि उन्होंने बिना किसी दबाव के अपनी मर्ज़ी से अपना धर्म बदला था.

वायरल वीडियो में महिला पूरे मामले को गलत तरीके से पेश करने की बात कह रही हैं. महिला ने वीडियो में कहा कि वो 29 साल की हैं और साल 2012 में ही अपना धर्म परिवर्तन कर चुकी हैं. उनका दावा है कि धर्म बदलने के दो साल बाद यानी 2014 में उन्होंने अपने एक बैचमेट से शादी की थी. अपनी मर्ज़ी से. महिला का कहना है कि इस पूरे मामले में धर्म और अल्पसंख्यकों को बीच में नहीं लाना चाहिए और वो सुप्रीम कोर्ट से मिले अपने अधिकार जानती हैं.

पति के खिलाफ बयान देने का दबाव बनाया गया

दूसरी तरफ सिख समुदाय के लोगों का आरोप है कि दो लड़कियों को किडनैप किया गया और फिर उनका जबरन धर्मांतरण कराया गया. जिसके बाद दोनों की शादी कर दी गई. सिख समुदाय के लोगों ने आरोप लगाया कि लड़कियों की जिन लोगों से जबरन शादी कराई गई, वो उम्र में काफी बड़े थे और उनमें से एक तो पहले से ही शादीशुदा था.

महिला ने अपने वीडियो में कथित तौर पर यह भी कहा कि पुलिस ने पकड़कर उसे उसके परिवार को सौंप दिया. जबकि वो पुलिस से कहती रही कि वो अपनी मर्जी से अपने पति के साथ रह रही है. महिला ने आगे कहा कि उसने पुलिस को कागजात भी दिखाए, लेकिन कोई फायदा नहीं हुआ. पुलिस ने जब उसे उसके परिवार को सौंप दिया, तो उसे पंजाब ले जाया गया. महिला का आरोप है कि पंजाब में कई संगठनों ने उसके ऊपर अपने पति के खिलाफ बयान देने का दबाव डाला.

इससे पहले इस पूरे मामले को लेकर 27 जून को सिख समुदाय के लोगों ने श्रीनगर में प्रदर्शन किया. दिल्ली सिख गुरुद्वारा कमेटी के सदस्य भी इसमें शामिल हुए. इन लोगों ने आरोप लगाया कि सिख समुदाय की दो नहीं बल्कि तीन लड़कियों का अपहरण किया गया. इनमें से पुलिस केवल एक लड़की को ही वापस सौंप पाई है. आरोप यह भी लगाए गए कि पहले भी सिख लड़कियों को किडनैप कर जबरन उनका धर्म परिवर्तन कराया गया.

इस बीच सिख गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी के अध्यक्ष और अकाली दल के प्रवक्ता मनजिंदर सिंह सिरसा का भी बयान सामने आया. उन्होंने इस पूरे मामले में एक के बाद एक कई आरोप लगाए. सिरसा ने कहा-

“दो बच्चियों को गन पॉइंट पर अगवा किया गया. उनका निकाह पढ़ाया गया, 50-50 साल के आदमियों के साथ. उसके बाद कोर्ट के अंदर बच्चियों के मां-बाप तक को जाने नहीं दिया गया. हमारे नौजवानों ने जब इकट्ठे होकर प्रदर्शन किया, तब रात को साढ़े 10 बजे एक बेटी को परिवार के हवाले किया गया. दूसरी बेटी को अभी भी सुपुर्द नहीं किया गया है. यह जबरन निकाह किया गया है. यह लव जिहाद है. जिनके 10-10 बच्चे हैं, उनके साथ शादी करवाई गई. हम केंद्र सरकार से आग्रह करते हैं कि इस मामले में तुरंत कार्रवाई की जाए”

सिरसा ने इस पूरे मामले में केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह से भी बात करने का दावा किया. उन्होंने कहा कि अमित शाह ने घाटी में अल्पसंख्यक सिख लड़कियों की सुरक्षा का भरोसा दिलाया है और कहा है कि लड़कियों को जल्द ही उनके परिवार वालों तक पहुंचा दिया जाएगा.


इस पूरे मामले को लेकर सिरसा के नेतृत्व में दूसरे सिख नेताओं ने जम्मू कश्मीर के उप राज्यपाल मनोज सिन्हा से मुलाकात की. सिरसा ने ट्वीट करके बताया कि मनोज सिन्हा ने आश्वासन दिया है कि इस तरह की घटनाओं पर सख़्त क़ानूनी कार्रवाई की जाएगी. राजभवन से जारी बयान में बताया गया कि उपराज्यपाल ने सिख प्रतिनिधियों की बात सुनी और भरोसा दिलाया कि उनके द्वारा उठाए गए मसलों पर सरकार विचार करेगी. प्रशासन द्वारा उचित कदम उठाए जाएंगे.

जम्मू-कश्मीर के लोगों को बांटने की कोशिश!

इस घटना पर राजनीतिक दलों की प्रतिक्रियाएं भी आ रही हैं. अकाली दल के नेता सुखबीर सिंह बादल ने ट्वीट करके कहा कि सिख बेटी के अपहरण और उससे कहीं बड़े व्यक्ति के साथ जबरन शादी कराए जाने की खबर से हैरान हूं. वहीं, जम्मू कश्मीर की पूर्व सीएम महबूबा मुफ़्ती ने ट्वीट में लिखा कि कश्मीर में दो सिख लड़कियों से जुड़ी घटना के बारे में सुनकर चिंतित हूं. जम्मू कश्मीर में मुस्लिम और सिख शांति और मिलजुलकर रहते हैं. उम्मीद है कि जांच एजेंसियां जल्द ही इस मामले की तह तक पहुंचेंगी.


द हिंदू की रिपोर्ट के मुताबिक, महबूबा मुफ्ती और उमर अब्दुल्ला ने जम्मू-कश्मीर के लोगों को बांटने की कोशिश का भी आरोप लगाया है. रिपोर्ट के मुताबिक नेशनल कॉन्फ्रेंस के नेता और राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला ने कहा कि इस पूरे मामले की जल्दी से जल्दी जांच होनी चाहिए और अगर किसी ने कानून के खिलाफ काम किया है, तो उसे सजा मिलनी चाहिए. अब्दुल्ला ने यह भी कहा कि सिख और मुस्लिम समुदाय के बीच खटास पैदा करने की कोई भी कोशिश जम्मू-कश्मीर को अपूरणीय क्षति पहुंचाएगी.

श्री अकाल तख्त साहिब के जत्थेदार ज्ञानी हरप्रीत सिंह ने इस मामले में जम्मू कश्मीर के उपराज्यपाल मनोज सिन्हा को पत्र लिखा है. इसमें उन्होंने अंतर धार्मिक विवाह और जबरन धर्मांतरण के खिलाफ उसी तरह का कानून प्रदेश में लागू करने की मांग की है, जैसा यूपी और एमपी में लागू है. जत्थेदार ने अपने पत्र में लिखा है कि बार-बार हो रही इस तरह की घटनाओं से दुनिया भर के सिखों में नाराजगी है.

इस बीच जम्मू-कश्मीर के मुस्लिम संगठनों ने महिलाओं के कथित जबरन धर्म परिवर्तन की निंदा की है. द हिंदू की रिपोर्ट के मुताबिक जम्मू कश्मीर के दिग्गज मुफ्ती नसीर-उल-इस्लाम ने कहा कि सिख समुदाय के लोग हमेशा से ही कश्मीर के समाज का हिस्सा रहे हैं और इस्लाम में जबरन धर्मांतरण की कोई जगह नहीं है. बंदूक की नोक पर सिख लड़कियों का इस्लाम में जबरन धर्मांतरण कभी भी स्वीकार नहीं किया जा सकता. नसीर ने इस मामले में निष्पक्ष जांच करने की भी बात कही.

दूसरी तरफ मुताहिदा मजलिस-ए-उलेमा के कुछ सदस्य सिख लड़कियों के घर भी गए. द हिंदू की रिपोर्ट के मुताबिक इस संगठन के प्रवक्ता ने कहा कि उन्होंने इस पूरे मामले का पूरी गंभीरता से संज्ञान लिया है और साथ ही साथ सिख समुदाय के साथ पूरी मजबूती से खड़े होने की बात कही है. प्रवक्ता की तरफ से यह भी कहा गया कि इस्लाम जोर-जबरदस्ती में विश्वास नहीं रखता.


 

वीडियो- इलाहाबाद हाईकोर्ट ने UP धर्मांतरण कानून के तहत आरोप झेल रहे व्यक्ति को बेल दे दी

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

नॉलेज

असली चुनौती के लिए तैयार हैं गोल्ड की हैटट्रिक मारने वाली दीपिका

असली चुनौती के लिए तैयार हैं गोल्ड की हैटट्रिक मारने वाली दीपिका

फिर से नंबर वन हुईं दीपिका कुमारी.

जिस फेमिनिस्ट लड़की के शादी के ऐड पर बवाल हुआ, उसने इस पर क्या कहा है?

जिस फेमिनिस्ट लड़की के शादी के ऐड पर बवाल हुआ, उसने इस पर क्या कहा है?

ऐड में लिखा थाः 30 साल की सोशलिस्ट लड़की 25-28 साल का बिजनेसमैन खोज रही है.

टेनिस स्टार सेरेना विलियम्स ने टोक्यो ओलंपिक को दिया बड़ा झटका

टेनिस स्टार सेरेना विलियम्स ने टोक्यो ओलंपिक को दिया बड़ा झटका

नडाल की राह पर निकलीं सेरेना.

पहले वनडे में इंग्लैंड से बुरी तरह हारी भारतीय महिला क्रिकेट टीम

पहले वनडे में इंग्लैंड से बुरी तरह हारी भारतीय महिला क्रिकेट टीम

किसी काम नहीं आया मिताली का पचासा.

महिला के एक साथ दस बच्चों को जन्म देने की खबर में झोल सुनकर सिर चकरा जाएगा

महिला के एक साथ दस बच्चों को जन्म देने की खबर में झोल सुनकर सिर चकरा जाएगा

यह भी जानिए किसके नाम है एक समय में सर्वाधिक बच्चे जन्म देने का रिकॉर्ड और एक से अधिक बच्चों को जन्म देने पर स्वास्थ्य पर क्या असर पड़ता है.

16 देशों में कंपनी चलाने वाले सोहन रॉय ने दहेज पर क्या कर दिया कि तारीफ हो रही है?

16 देशों में कंपनी चलाने वाले सोहन रॉय ने दहेज पर क्या कर दिया कि तारीफ हो रही है?

Aries Group of Companies के मालिक हैं.

पंजाब: कीर्ति चक्र अवॉर्डी की विधवा को दूसरी शादी के बाद भत्ता नहीं मिलने का पूरा मामला है क्या?

पंजाब: कीर्ति चक्र अवॉर्डी की विधवा को दूसरी शादी के बाद भत्ता नहीं मिलने का पूरा मामला है क्या?

अब CM कैप्टन अमरिंदर सिंह ने दख़ल दिया है.

नीतीश कुमार की पार्टी ने औरतों के लिए वो कर दिया जो किसी ने सोचा नहीं था

नीतीश कुमार की पार्टी ने औरतों के लिए वो कर दिया जो किसी ने सोचा नहीं था

ऐसा करने वाली पहली पार्टी बनी JDU

शबाना आज़मी ने ऑनलाइन शराब खरीदी, गज़ब बवाल मच गया

शबाना आज़मी ने ऑनलाइन शराब खरीदी, गज़ब बवाल मच गया

एक ने कहा- "औरतों के लिए क्या उदाहरण सेट करना चाहती हैं शबाना"

केरल CM विजयन ने शादी के सिस्टम पर खरी-खरी सुनाई, सभी नेताओं को सीख लेनी चाहिए

केरल CM विजयन ने शादी के सिस्टम पर खरी-खरी सुनाई, सभी नेताओं को सीख लेनी चाहिए

लोगों ने तारीफों की झड़ी ही लगा दी.