Submit your post

Follow Us

11 महीने का बच्चा कोरोना पॉजिटिव निकला, मां आठ दिन से अस्पताल में साथ लिए बैठी है

इंदौर का इंडेक्स मेडिकल कॉलेज. यहां पर आठ दिन से एक मां अपने 11 महीने के बच्चे के साथ एडमिट है. वजह ये है कि उसका बच्चा कोरोना वायरस पॉजिटिव पाया गया है. महिला खुद पॉजिटिव नहीं है, लेकिन अपने बच्चे को अकेले छोड़कर नहीं जा सकती.

क्या है पूरा मामला?

इंदौर के इंडेक्स मेडिकल कॉलेज में मां को उसके बच्चे के साथ क्वारंटीन किया गया. बच्चे के पिता का कोरोना टेस्ट पॉजिटिव आया था. इसके बाद गांधीनगर के रहने वाले इस परिवार के सभी सदस्यों को अलग-अलग जगहों पर आइसोलेट किया गया. बच्चे के पिता और उनके छोटे भाई को घर पर आइसोलेट किया गया है. सभी का कोरोना टेस्ट करवाया गया, तो सिर्फ बच्चा ही पॉजिटिव निकला. इसके बाद बच्चे को इंडेक्स हॉस्पिटल में भर्ती किया गया. उसे अकेले न रहना पड़े, इसलिए उसकी मां भी उसके साथ गई.

Indore Index Dainik Jaag
एडमिट होने के बाद बच्चा और उसकी मां. (तस्वीर साभार: दैनिक जागरण)

दैनिक जागरण में छपी ख़बर के मुताबिक़, बच्चे की मां ने बताया कि बच्चे को हर वक़्त गोद में या पलंग पर ही रखना होता है. उसे नीचे नहीं छोड़ सकते. उसके आस-पास घरवाले नहीं हैं तो वो चिड़चिड़ा हो गया है. अगर घर के किसी सदस्य की उसे याद आती है, तो फोन पर या वीडियो कॉल पर बात हो जाती है.

बच्चे पिता से हमने बात की. उन्होंने बताया कि 29 मार्च को उनकी कोरोना टेस्ट रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी. उसके बाद उनका इलाज चला और ठीक होने के बाद डिस्चार्ज कर दिया गया. बच्चे की 15 अप्रैल को दोबारा जांच हुई है. उसकी रिपोर्ट अभी नहीं आई है.


वीडियो: भारत में कोरोना की टेस्टिंग पर उठ रहे सवालों का जवाब ICMR ने दिया है

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

क्राइम

महिला डॉक्टर का आरोप, पेशेंट ने यौन शोषण किया, झुंड बनाकर हमला किया

जैसे तैसे कमरे में बंद कर डॉक्टर्स ने खुद को बचाया.

पिज़्ज़ा मंगवाया था, डिलीवरी बॉय ने नंबर लेकर अश्लील मैसेज भेजने शुरू कर दिए

लड़की ने ट्विटर पर बताई पूरी घटना.

इस आदमी ने बच्ची का रेप और हत्या कर जंगल में फेंका, जानवरों ने कंकाल तक न छोड़ा

बच्ची की उम्र जानकर उल्टी आती है.

दिल्ली यूनिवर्सिटी की महिला प्रोफेसरों ने बताया- ऑनलाइन क्लासों में लोग भद्दे मैसेज लिख रहे

वीडियो पर ऑनलाइन लेक्चर देने वाले टीचर्स ने की शिकायत.

कोरोना टेस्ट पॉजिटिव आने पर औरत ने कलाई की नस काट ली, डॉक्टर को पुलिस बुलानी पड़ी

अस्पताल में दो घंटे तक हंगामा करती रही महिला.

होम क्वारंटीन में रह रही लड़की भूख हड़ताल पर क्यों है?

कोयंबटूर में पढ़ती थी, केरल में अपने घर आई थी.

लॉकडाउन: मां बाजार गई थी, घर में रेप के बाद 13 साल की बेटी की हत्या हो गई

लोग सोशल मीडिया पर इंसाफ मांग रहे हैं.

दर्द से जूझ रही प्रेगनेंट महिला को अस्पताल ने भर्ती नहीं किया, पार्किंग एरिया में बच्चे को जन्म दिया!

घटना इंदौर के सबसे बड़े सरकारी अस्पताल की है.

लॉकडाउन : सरकारी हेल्पलाइन ने बताया, हर मिनट छह बच्चों का शोषण हो रहा है

अलग-अलग तरीकों से.

बिहार : गर्भपात के बाद महिला अस्पताल पहुंची, कोरोना के आइसोलेशन वॉर्ड डॉक्टर ने ही रेप कर दिया

महिला की मौत के बाद खुला मामला