Submit your post

Follow Us

महिला क्रिकेट टीम के करोड़ों रुपये दबाकर क्यों बैठा है BCCI?

भारत एक क्रिकेट प्रधान, सॉरी पुरुष क्रिकेट प्रधान देश है. टीमें भले ही महिला और पुरुष दोनों की हैं. लेकिन अंदर की बात तो सभी को पता है. कि भौकाल पूरा पुरुषों के हिस्से है. तभी तो पुरुषों के लिए अपना खजाना खोले बैठा BCCI महिलाओं का नाम आते ही सुट्ट हो जाता है. ऐसे तमाम मामलों में से सबसे ताजा मामला 2020 विमेंस वर्ल्ड कप से जुड़ा है. 8 मार्च, 2020 को इस वर्ल्ड कप का फाइनल खेला गया था.

भारतीय टीम को इस फाइनल में हार मिली. पर वर्ल्ड कप रनर अप होने के नाते मिली पांच लाख डॉलर यानी लगभग पौने चार करोड़ की इनामी राशि. अब आप सोच रहे होंगे कि ये पैसे लेकर पूरी स्क्वॉड ने खूब मजे किए होंगे. लेकिन ऐसा नहीं है. हमारे-आपके जैसे इंक्रीमेंट का इंतजार कर रहे लोगों की तरह हमारी महिला क्रिकेट टीम को भी अभी तक इन पैसों का इंतजार ही है. अभी तक उन्हें एक कौड़ी भी नहीं मिली है.

# क्या बोला BCCI?

इंग्लैंड के अख़बार टेलीग्राफ की एक रिपोर्ट का दावा है कि 14 महीने से ज्यादा का वक्त बीतने के बावजूद भारतीय महिलाओं को अभी तक इनाम के पैसे नहीं मिले हैं. अख़बार ने यह दावा फेडरेशन ऑफ इंटरनेशनल क्रिकेटर्स असोसिएशन (FICA) के एक ऑफिशल के हवाले से किया. इस ख़बर के सामने आते ही लोग BCCI पर टूट पड़े. फैंस इस दोहरे व्यवहार से गुस्सा थे. हालांकि कई लोग BCCI के सपोर्ट में भी थे. इस पूरे मसले ने सोशल मीडिया पर खूब चर्चा बटोरी.

शाम होते-होते इस पर BCCI का पक्ष भी आ गया. BCCI के एक सीनियर मेंबर ने PTI से कहा,

‘भारतीय महिला क्रिकेट टीम के सदस्यों को इस हफ्ते के अंत तक इनामी राशि से उनका हिस्सा मिल जाएगा. ट्रांजैक्शन हो चुके हैं और मुझे उम्मीद है कि वे इस हफ्ते के अंत तक इनामी राशि से अपना हिस्सा प्राप्त कर लेंगे.’

इनामी राशि देने में हुई देरी के बारे में सवाल करने पर जवाब मिला,

‘हमें इनामी राशि पिछले साल ही देरी से मिली.’

इस बारे में अभी स्टेट असोसिएशन के साथ काम कर रहे BCCI के एक पूर्व सदस्य ने कहा,

‘यह सिर्फ महिलाओं के पेमेंट की बात नहीं है. चाहे यह पुरुषों की टीम का सेंट्रल कॉन्ट्रैक्ट हो, इंटरनेशनल मैच फीस, पुरुष और महिला टीमों की डोमेस्टिक फीस, मौजूदा हालात के चलते सारी चीजों में वक्त लग रहा है. यहां तक कि कोविड से हालात बिगड़ने से पहले भी मार्च में खत्म होने वाले सीजन की पेमेंट्स सितंबर तक ही क्लियर होती थीं.

इस मामले में देखना होगा कि BCCI को पेमेंट कब मिली. अगर उन्हें टूर्नामेंट के तुरंत बाद पैसे मिल गए तो यह निश्चित तौर पर लेट है लेकिन प्रोसेसिंग में भी वक्त लगता है. और जहां तक मुझे पता है, यह पुरुष और महिला दोनों के लिए बराबर है.’

ख़ैर, BCCI और उससे जुड़े लोग कुछ भी कहें लेकिन सच यही है कि भारतीय महिला क्रिकेट टीम को उनका हक़ दिलाने के लिए एक विदेशी अख़बार को आगे आना पड़ा. अब देखने वाली बात ये है कि BCCI का यह दावा कितना सच्चा है. और हमारी महिला क्रिकेट टीम को उनके पैसे कब तक मिलते हैं.


क्या है ‘बैम्बू बैट’ जिससे यॉर्कर गेंद को भी होगी बाउंड्री के पार पंहुचा सकेंगे?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

क्राइम

इंदौरः पब में हो रहा था फैशन शो, संस्कृति बचाने के नाम पर उत्पातियों ने तोड़-फोड़ कर दी

पुलिस ने आयोजकों को ही गिरफ्तार कर लिया. उत्पाती बोले- फैशन शो में हिंदू लड़कियों को कम कपड़े पहनाकर अश्लीलता फैलाई जा रही थी.

फिरोजाबाद का कपल, दिल्ली से अगवा किया, एक शव MP में तो दूसरा राजस्थान में मिला

लड़की के पिता और चाचा अब जेल की सलाखों के पीछे हैं.

औरतों के खिलाफ होने वाले अपराधों के कम होते आंकड़ों के पीछे का झोल

NCRB ने पिछले साल देश में हुए अपराधों की बहुत बड़ी रिपोर्ट जारी की है.

जिस रेप आरोपी का एनकाउंटर करने की बात मंत्री जी कह रहे थे, उसकी लाश मिली है

हैदराबाद में छह साल की बच्ची के रेप और मर्डर का मामला.

यूपी: गैंगरेप का आरोपी दरोगा डेढ़ साल से फरार, इंस्पेक्टर बनने की ट्रेनिंग लेते हुआ गिरफ्तार

2020 में महिला ने वाराणसी पुलिस के दरोगा समेत चार लोगों के खिलाफ केस दर्ज कराया था.

खो-खो प्लेयर की हत्या करने वाले का कुबूलनामा- "उसे देख मेरी नीयत बिगड़ जाती थी"

बिजनौर पुलिस ने बताया कि आरोपी महिला प्लेयर का रेप करना चाहता था.

LJP सांसद प्रिंस राज के खिलाफ दर्ज रेप की FIR में चिराग पासवान का नाम क्यों आया?

तीन महीने पहले हुई शिकायत पर अब दर्ज हुई FIR.

साकीनाका रेप केस: महिला को इंसाफ दिलाने के नाम पर राजनेताओं ने गंदगी की हद पार कर दी

अपनी सरकार पर उंगली उठी तो यूपी के हाथरस रेप केस को ढाल बनाने लगी शिवसेना.

सलमान खान को धमकी देने वाले गैंग की 'लेडी डॉन' गिरफ्तार, पूरी कहानी जानिए

एक सीधे-सादे परिवार की लड़की कैसे बन गई डॉन?

मिलने के लिए 300 किलोमीटर दूर से फ्रेंड को बुलाया, दोस्तों के साथ मिलकर किया गैंगरेप!

आरोपी और पीड़िता सोशल मीडिया के जरिए फ्रेंड बने थे.